1980 लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
1980 लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

चंदा रे मेरे भईया से - Chanda Re Mere Bhaiya Se (Lata Mangeshkar, Chambal Ki Kassam)



Movie/Album: चम्बल की कसम (1980)
Music By: खय्याम
Lyrics By: साहिर लुधियानवी
Performed By: लता मंगेशकर

चंदा रे मेरे भईया से कहना
बहना याद करे
चँदा रे मेरे भईया...

क्या बतलाऊँ कैसा है वो
बिलकुल तेरे जैसा है वो
तू उसको पहचान ही लेगा
देखेगा तो जान ही लेगा
तू सारे सँसार में चमके
हर बस्ती हर गाँव में दमके
कहना अब घर वापस आ जा
तू है घर का गहना
बहना याद करे
चंदा रे...

राखी के धागे सबलाएँ
कहना अब न राह दिखाए
माँ के नाम की कसमें देना
भेंट मेरी के रसमें देना
पूछना उस रूठे भाई से
भूल हुई क्या माँ-जाई से
बहन पराया धन है कहना
उस संग सदा नहीं रहना
बहना याद करे
चंदा रे मेरे भईया...


जब छाये मेरा जादू - Jab Chhaye Mera Jaadu (Asha Bhosle, Loot Maar)



Movie/Album: लूट मार (1980)
Music By:
राजेश रोशन
Lyrics By:
अमित खन्ना
Performed By: आशा भोंसले

जब छाये मेरा जादू
कोई बच न पाये, हाय!

फूलों की नरमी हूँ मैं
शोलों की गर्मी हूँ मैं
तूफ़ानों की हलचल हूँ
हवाओं का आँचल हूँ मैं
जो ढूँढे वो पाये
फिर भी हाथ न आये, हा!
जब छाये मेरा जादू...

कभी मैं दर्द जगाती हूँ
कभी मैं ज़ख़्म मिटाती हूँ
कभी मैं राज़ छुपाती हूँ
कभी ख़ुद राज़ बन जाती हूँ
दुल टूटे, हाँ साथ छूटे
फिर भी तू पीछे आये, हा!
जब छाए मेरा जादू...

मुझसे तुम टकराना ना
आके यहाँ पछताना ना
मेरा बदन पिघला सोना
जान भी जाये खबर हो न
ये मस्ती, नहीं सस्ती
दिलवाला ही बोली लगाये, हाय!
जब छाए मेरा जादू...


ऐ खुदा हर फ़ैसला - Aye Khuda Har Faisla (Kishore Kumar, Abdullah)



Movie/Album: अब्दुल्ला (1980)
Music By: आर.डी.बर्मन
Lyrics By: आनंद बक्षी
Performed By: किशोर कुमार

ऐ खुदा, हर फ़ैसला तेरा मुझे मंजूर है
सामने तेरे तेरा बंदा बहुत मजबूर है

हर दुआ मेरी किसी दीवार से टकरा गयी
बेअसर होकर मेरी फ़रियाद वापस आ गयी
इस ज़मीं से आसमां शायद बहुत ही दूर है
ऐ खुदा, हर फ़ैसला...

एक गुल से तो उजड़ जाते नहीं फूलों के बाग
क्या हुआ तूने बुझा डाला मेरे घर का चिराग
कम नहीं है रोशनी, हर शय में तेरा नूर है
ऐ खुदा, हर फ़ैसला...


तू इस तरह से - Tu Iss Tarah Se (Md.Rafi, Manhar Udhas, Hemlata, Aap To Aise Na The)



Movie/Album: आप तो ऐसे ना थे (1980)
Music By: उषा खन्ना
Lyrics By: इन्दीवर
Performed By: मो.रफ़ी, मनहर उदास, हेमलता

तू इस तरह से मेरी ज़िन्दगी में शामिल है
जहाँ भी जाऊँ ये लगता है तेरी महफ़िल है

ये आसमान, ये बादल, ये रास्ते, ये हवा
हर एक चीज़ हैं अपनी जगह ठिकाने से
कई दिनों से शिकायत नहीं ज़माने से
ये ज़िन्दगी है सफ़र, तू सफ़र की मंज़िल है
जहाँ भी जाऊँ...

तेरे बगैर जहां में, कोई कमी सी थी
भटक रही थी जवानी अँधेरी राहों में
सुकून दिल को मिला आके तेरी बाहों में
मैं एक खोयी हुई मौज हूँ तू साहिल है
जहाँ भी जाऊँ...

तेरे जमाल से रोशन है कायनात मेरी
मेरी तलाश तेरी दिलकशी रहे बाकी
खुदा करे के ये दीवानगी रहे बाकी
तेरी वफ़ा ही मेरी हर ख़ुशी का हासिल है
जहाँ भी जाऊँ...

हर एक फूल किसी याद सा महकता है
तेरे ख़याल से जागी हुई फिजायें है
ये सब्ज़ पेड़ हैं, या प्यार की दुआएं है
तू पास हो के नहीं फिर भी तू मुक़ाबिल है
जहाँ भी जाऊँ...

हर एक शय है मोहब्बत के नूर से रोशन
ये रोशनी जो ना हो, ज़िन्दगी अधूरी है
रह-ए-वफ़ा में, कोई हमसफ़र ज़रूरी है
ये रास्ता कहीं तन्हाँ कटे तो मुश्किल है
जहाँ भी जाऊँ...


दो और दो पाँच - Do Aur Do Paanch (Kishore Kumar)



Movie/Album: दो और दो पाँच (1980)
Music By:
राजेश रोशन
Lyrics By:
अनजान
Performed By: किशोर कुमार

अरे तूने अभी देखा नहीं, देखा है तो जाना नहीं
जाना है तो माना नहीं, मुझे पहचाना नहीं
दुनिया दीवानी मेरी, मेरे पीछे पीछे भागी
किसमें है दम यहाँ, ठहरे जो मेरे आगे
मेरे आगे आना नहीं, देखो टकराना नहीं
किसी से भी हारे नहीं हम

जो सोचें, जो चाहें वो करके दिखा दें
हम वो हैं जो दो और दो पाँच बना दें
तूने अभी देखा नहीं...

हम आते जाते राहों में कब कैसे क्या गुल खिलाएं
जो उलझें, वो समझें, हम क्या कमाल कर जाएँ
फूलों की राहों से काटों को हटा दें
हम वो हैं जो दो और दो पाँच बना दें
जो सोचें जो चाहें...

हम आग लगा दें पानी में, पत्थर पे फूल खिलायें
बिन मौसम, बिन बादल, रिमझिम सावन बरसायें
पूरब के सूरज को पश्चिम से उगा दें
हम वो हैं जो दो और दो पाँच बना दें
जो सोचें जो चाहें...

जब हम मनमौजी मस्ताने मस्ती के साज बजायें
तो झूमें ये धरती वो चाँद सितारे गाएँ
हम नाचें तो यारों को साथ नचा दें
हम वो हैं जो दो और दो पाँच बना दें
जो सोचें जो चाहें...


किसकी सदाएँ मुझको बुलाएँ - Kiski Sadaein Mujhko Bulaaein (Asha Bhosle, Kishore Kumar, Red Rose)



Movie/Album: रेड रोज़ (1980)
Music By: आर.डी.बर्मन
Lyrics By:
निदा फाज़ली
Performed By: किशोर कुमार, आशा भोंसले

किसकी सदाएँ मुझको बुलाएँ
अंजान सपने नींदें चुराएँ
तेरी अदाएं जादू जगाये
धरती सँवारे मौसम सजाये

ऐसी कहाँ थी ये रूत सुहानी
कबसे तुझे ढूंढे मेरी जवानी
आने से तेरे महकी हवाएँ
जागी हुई है सारी फिजाएँ
किसकी सदाएँ मुझको बुलाये...

तेरे सिवा दिल को कोई ना भाये
प्यार कहीं मेरा खो ना जाये
फूलों से रंगीं, तारों से उजली
सागर से गहरी मेरी वफ़ाएं
किसकी सदाएं मुझको बुलाये...


पिया बावरी पिया बावरी - Piya Bawri Piya Baawri (Asha Bhosle, Ashok Kumar, Khubsoorat)



Movie/Album: ख़ूबसूरत (1980)
Music By:
आर.डी.बर्मन
Lyrics By: गुलज़ार
Performed By: आशा बोंसले, अशोक कुमार

पिया बावरी, पिया बावरी
पिया बावरी, पिया बावरी
पी कहाँ, पी कहाँ
पिया पिया बोले रे
पिया बावरी, पिया बावरी
पिया बावरी

ता धिक ता ता धिक ता
ता टिक ता ता धिक ता
थिरकत नंदन बनछुम, छननननन
तच्छूं तच्छूं तक तिरकट धा
लिये मंग सब सखा संग
मन में उमंग अति उमंगता
खेलत भुज मेलत, लपट-झपट
राधा ललिता चन्‍द्रा
डली दियो भोर, रंग भोर, सरबोर
बनवारी
मैं हारी जा जा री -3

डारी डारी पिया फूलों की चादर बुनी
फूलों की चादर, रंगों की झालर बुनी
भई बावरी हुई बावरी
बावरी हाँ हाँ
पिया बावरी पिया बावरी...

काले-काले पिया सावन के बादल चुने
बादल चुन के आँखों में काजल घुले
हुई बावरी, हुई सांवरी
ह्म ह्म ह्म
पिया बावरी, पिया बावरी...



ठन्डे ठन्डे पानी से - Thande Thande Paani Se (Mahendra Kapoor, Asha Bhosle)



Movie/Album: पति पत्नी और वो (1980)
Music By: रविन्द्र जैन
Lyrics By: आनंद बक्षी
Performed By: महेंद्र कपूर, आशा भोंसले

ठंडे ठंडे पानी से नहाना चाहिये
गाना आये या ना आये गाना चाहिये
ओ पुत्तरा
ठंडे ठंडे पानी से...

बेटा बजाओ ताली, गाते हैं हम क़व्वाली
बजने दो एक तारा, छोड़ो ज़रा फव्वारा
ये बाल्टी उठाओ, ढोलक इससे बनाओ
बैठे हो क्या ये लेकर, ये घर है या है थिएटर
पिक्चर नहीं है जाना, बाहर नहीं है आना
मम्मी को भी अंदर बुलाना चाहिये
तेरी, मम्मी को भी अंदर बुलाना चाहिये
गाना आये या ना आये गाना चाहिये
धत्त, अरे गाना आये या ना आये गाना चाहिये

तुम मेरी हथकड़ी हो, तुम डोर क्यूं खड़ी हो
तुम भी ज़रा नहालो, दो चार गीत गा लो
दामन हो क्यूं बचाती, अरे दुख सुख के हम हैं साथी
छोड़ो हटो अनाड़ी, मेरी भिगोड़ी साड़ी
तुम कैसे बेशरम हो, बच्चों से कोई कम हो
मम्मी को तो लड़ने का बहाना चाहिये
चुप बे शैतान
मम्मी को तो लड़ने का बहाना चाहिये
गाना आये या ना...

लम्बी ये तान छोड़ो, तौबा है जान छोड़ो
ये गीत है अधूरा, करते हैं काम पूरा
अब शोर मत करो जी, सुनते हैं सब पड़ोसी
हे कह दो पड़ोसियों से
क्या
झाँकें ना खिड़कियों से
दरवाज़ा खटखटाया, लगता है कोई आया
अरे कह दो के आ रहे हैं, साहब नहा रहे हैं
मम्मी को तो डैडी से छुड़ाना चाहिये
अब तो मम्मी को डैडी से छुड़ाना चाहिये
गाना आये या ना...


मौसम मौसम लवली मौसम - Mausam Mausam Lovely Mausam (Sulakshana, Anwar, Thodi Si Bewafai)



Movie/Album: थोड़ी सी बेवफाई (1980)
Music By: खय्याम
Lyrics By: गुलज़ार
Performed By: सुलक्षणा पंडित, अनवर

मौसम मौसम लवली मौसम
कसक अंजानी है मद्धम मद्धम
चलो घुल जाएँ मौसम में हम
मौसम मौसम लवली मौसम...

हवा के झोंकों मे तेरी खुश्बू सी है
बेवजह लगता है कोई खुशखबरी है
मौसम मौसम लवली मौसम...

कली के होठों पे मुस्कुराहट सी है
कहो तो सुनती है, सुनो तो कहती है
मौसम मौसम लवली मौसम...

न जाने ऐसे में क्यों बदन जलते हैं
ज़मीं पे उड़ते हैं, हवा में चलते हैं
मौसम मौसम लवली मौसम...


हरि ॐ हरि - Hari Om Hari (Usha Uthup, Pyaara Dushman)



Movie/Album: प्यारा दुश्मन (1980)
Music By: बप्पी लाहिड़ी
Lyrics By: अनजान
Performed By: उषा उथुप

हरि ॐ हरि, हरि ॐ हरि
हरि ॐ हरि, हरि ॐ हरि
हरि ॐ हरि, हरि ॐ हरि
ऊ ऊ ऊ ऊ...

ग़म है कोई तो दम मारो यारों
दम की दुआ से ग़म भी ख़ुशी है
चूर नशे में, ये ज़िन्दगी है
हरि ॐ हरि...

चढ़ती लहर जैसे चढ़ती जवानी
खिलती कली सा खिला रूप
जाने कब कैसे कहाँ
हाथों से फिसल जाये जैसे
ढल जाए चढ़ी धूप
Once in every lifetime
Comes a love like this
I Need you, you need me
Oh my honey, can't you see
हरि ॐ हरि...

प्यासे-प्यासे दिल में हैं अरमाँ हज़ारों
साँसों में हैं सपने हज़ार
एक-एक पल यहाँ झूम के जी ले
जीने के हैं दिन बस चार
Dreams are so many
Desires never ending
Life's too short, let's live
Love every moment
Make your life worth living
हरि ॐ हरि...


दिल्लगी ने दी हवा - Dillagi Ne Di Hawa (Kishore, Asha, Dostana)



Movie/Album: दोस्ताना (1980)
Music By: लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल
Lyrics By: आनंद बक्षी
Performed By: किशोर कुमार, आशा भोंसले

दिल्लगी ने दी हवा, थोड़ा सा धुआँ उठा
और आग जल गई
तेरी-मेरी दोस्ती, प्यार में बदल गई
दिल्लगी ने दी हवा...

पहले-पहले कम मिले, फिर तो ख़ूब हम मिले
एक मुलाक़ात में, हँस के बात-बात में
जाने तूने क्या कहा, जाने मैंने क्या सुना
तूने किया मज़ाक़, मेरी जान निकल गई
तेरी-मेरी दोस्ती प्यार...

दो दिलों के मेल में, इस नज़र के खेल में
ऐसे दिल धड़क गया, शोर दूर तक गया
क्या ये ख़ून माफ़ है, ये कोई इन्साफ़ है
आँखों का था कुसूर, छुरी दिल पे चल गई
तेरी-मेरी दोस्ती प्यार...

तेरी भी ख़ता नहीं, मेरी भी ख़ता नहीं
दोनों पे शबाब है, उम्र ये ख़राब है
शौक़ शायरी का है, शेर ये किसी का है
देखा जो हुस्न-ए-यार तबीयत मचल गई
तेरी-मेरी दोस्ती प्यार...


पल दो पल का - Pal Do Pal Ka (Rafi, Asha, The Burning Train)



Movie/Album: द बर्निंग ट्रेन (1980)
Music By: आर.डी.बर्मन
Lyrics By: साहिर लुधियानवी
Performed By: मो.रफ़ी, आशा भोंसले

पल दो पल का साथ हमारा
पल दो पल के याराने हैं
इस मंज़िल पर मिलने वाले
उस मंज़िल पर खो जाने हैं
पल दो पल का...

दो पल, पल दो पल का साथ हमारा, हमारा
पल दो पल का...

नज़रों के शोख़ नज़राने, होंठों के गर्म पैमाने
हैं आज अपनी महफ़िल में, कल क्या हो कोई क्या जाने
ये पल ख़ुशी की जन्नत है, इस पल में जी ले दीवाने
आज की खुशियाँ एक हक़ीकत, कल की खुशियाँ अफ़साने हैं
पल दो पल का...

हर ख़ुशी कुछ देर की मेहमान है
पूरा कर ले दिल में जो अरमान है
ज़िन्दगी इक तेज़-रौ तूफ़ान है
इसका जो पीछा करे नादान है
गुमशुदा खुशियों पे क्यूँ हैरान है
वक़्त लौटे इसका कब इम्कान है
झूम जब तक झूम
झूम जब तक धड़कनों में जान है
झूमना ही ज़िन्दगी की शान है
झूम जब तक झूम
अव्वल-आख़िर हर कोई अनजान है
ज़िन्दगी बस, राह की पहचान है
झूम जब तक झूम
झूम जब तक धड़कनों में...
दोस्तों, अपना तो ये ईमान है
जो भी जितना साथ दे, एहसान है
उम्र का रिश्ता जोड़ने वाले
अपनी नज़र में दीवाने हैं
पल दो पल का...


सा रे ग म प म ग रे - Sa Re Ga Ma Pa Ma Ga Re (Kishore, Lata, Man Pasand)



Movie/ Album: मन पसंद (1980)
Music By: राजेश रोशन
Lyrics By: अमित खन्ना
Performed By: किशोर कुमार, लता मंगेशकर

सा रे ग म प म ग रे सा, गाओ
सा रे ग म प म ग रे सा
सा रे ग म प म ग रे सा ग, सा ग, फिर से गाओ
सा रे ग म प म ग रे सा ग, सा ग
शाब्बास!

सा रे ग म प म ग रे सा ग, सा ग
रे ग म प म ग रे स, रे प, रे प
प ध नी स नी ध प म, म ध, ग ध प, नी स

आवाज़ सुरीली का, जादू ही निराला है
संगीत का जो प्रेमी, वो किस्मत वाला है
तेरे-मेरे, मेरे-तेरे सपने-सपने
सच हुए देखो सारे अपने-सपने
फिर मेरा मन ये बोला, बोला, बोला
क्या?
सा रे ग म प म ग रे...

चारु चंद्र की चंचल चितवन बिन बदरा बरसे सावन
मेघ मल्हार मधुर मन भावन पवन पिया प्रेमी पावन
चल, चाँद-सितारों को, ये गीत सुनाते हैं
हम धूम मचाकर आज, सोया जहां जगाते हैं
हम-तुम, तुम-हम गुमसुम-गुमसुम
झिलमिल-झिलमिल, हिलमिल-हिलमिल
तू मोती मैं माला, माला, ला ला

अरमान भरे दिल की धड़कन भी बधाई दे
अब धुन मेरे जीवन की कुछ सुर में सुनाई दे
रिमझिम-रिमझिम, छमछम-गुनगुन
तिल-तिल, पल-पल, रुमझुम-रुमझुम
मनमंदिर में पूजा, पूजा, आहा
सा रे ग म प म ग रे...


सुन सुन सुन दीदी - Sun Sun Sun Didi (Asha Bhosle, Khubsoorat)



Movie/Album: सुन सुन सुन दीदी (1980)
Music By: आर.डी.बर्मन
Lyrics By: गुलज़ार
Performed By: आशा भोंसले

सुन सुन सुन दीदी तेरे लिए
एक रिश्ता आया है
सुन सुन सुन लड़के में क्या गुण
सुन सुन दीदी सुन
हे सुन सुन सुन दीदी...

अच्छे घर का लड़का है पर हक-हकलाता है
प-प-प्यारी अंजू, ज़रा पा-पा-पास तो आ
अच्छे घर का लड़का है पर हक-हकलाता है
मुँह पर दाग हैं चेचक के और पान चबाता है
पान चबाता है जब थोड़ी पी कर आता है
पीता है जब जुए में वो हार के आता है
ताश भी रोज़ कहाँ बस कभी-कभी ही होती है
अच्छा डाका पड़े तभी तो रम्मी होती है
रोज़ कहाँ ऐसा होता है डाके पड़ते हैं
आधे दिन तो बेचारे के जेल में कटते हैं
सुन सुन सुन लड़के में...

उसका बस चले तो जेल भी तोड़ के आएगा
सीटी एक बजा दोगी तो दौड़ के आएगा
सास ज़रा कम सुनती है पर बोलती ऊँचा है
ससुरा ठीक ही सुनता है पर मुँह से गूंगा है
सुन सुन सुन लड़के में...


शीशा हो या दिल हो - Sheesha Ho Ya Dil Ho (Lata Mangeshkar, Aasha)



Movie/Album: आशा (1980)
Music By: लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल
Lyrics By: आनंद बक्षी
Performed By: लता मंगेशकर

शीशा हो या दिल हो
आख़िर, टूट जाता है
लब तक आते-आते, हाथों से
साग़र छूट जाता है
शीशा हो या दिल...

काफी बस अरमान नहीं
कुछ मिलना आसान नहीं
दुनिया की मजबूरी है
फिर तक़दीर ज़रूरी है
ये दो दुश्मन हैं ऐसे
दोनों राज़ी हों कैसे
एक को मनाओ तो दूजा
रूठ जाता है
शीशा हो या दिल...

बैठे थे किनारे पे
मौजों के इशारे पे
हम खेलें तूफ़ानों से
इस दिल के अरमानों से
हमको ये मालूम न था
कोई साथ नहीं देता
माँझी छोड़ जाता है साहिल
छूट जाता है
शीशा हो या दिल...

दुनिया एक तमाशा है
आशा और निराशा है
थोड़े फूल हैं काँटे हैं
जो तक़दीर ने बाँटे हैं
अपना-अपना हिस्सा है
अपना-अपना किस्सा है
कोई लुट जाता है कोई
लूट जाता है
शीशा हो या दिल...


तेरे नाम के हम दीवाने हैं - Tere Naam Ke Hum Deewane Hain (Amit, Anuradha, Shailendra, Chandrani, Judaai)



Movie/Album: जुदाई (1980)
Music By: लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल
Lyrics By: आनंद बक्षी
Performed By: अमित कुमार, चंद्राणी मुखर्जी, अनुराधा पौडवाल, शैलेंद्र सिंह

तेरे नाम के हम दीवाने हैं
ये तेरे प्यार के दिन सुहाने हैं
होठों पे दिल के जो फ़साने हैं
जीने के मरने के ये बहाने हैं
तेरे नाम के हम...

तेरे बिन इतने दिन, हम थे बड़े अकेले
एक तेरे मिलने से खिलने लगे हैं मेले
अरमां हैं, वादे हैं, तराने हैं
तेरे नाम के हम...

आँखों ही आँखों में, अब तो कटेंगी रातें
कहने को सुनने को, जाने है कितनी बातें
ये किस्से, सुनने हैं, सुनाने हैं
तेरे नाम के हम...

लहरा के छाया है, कैसा समां ना जाने
कुछ हमसे मत पूछो, हम है कहाँ न जाने
कुछ ऐसी मस्ती में मस्ताने हैं
तेरे नाम के हम...


मार गयी मुझे - Maar Gayi Mujhe (Asha Bhosle, Kishore Kumar, Judaai)



Movie/Album: जुदाई (1980)
Music By: लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल
Lyrics By: आनंद बक्षी
Performed By: आशा भोंसले, किशोर कुमार

मार गयी मुझे तेरी जुदाई
डस गयी ये तन्हाई
तेरी याद जो आई फिर आँखो में
नींद नहीं आई
मार गयी मुझे तेरी जुदाई...

लाज का घूँघट, चुप के ताले
मैंने आख़िर तोड़ ही डाले
होती है तो हो जाए
अब दुनिया में रुसवाई
मार गयी मुझे...

फिर ना कहीं ये गम मिल जाए
आज ही क्यों ना हम मिल जाएँ
क्या साथी क्या बाराती
क्या डोली क्या शहनाई
मार गयी मुझे...

हर मुश्किल आसाँ हो जाती
पहले अगर ये हाँ हो जाती
हमने हाँ करने में तौबा
कितनी देर लगाई
मार गयी मुझे...
नस-नस में काँटे चुभे
ली जब मैंने अंगड़ाई


मुझे छू रही हैं - Mujhe Chhu Rahi Hain (Md.Rafi, Lata Mangeshkar, Swayamvar)



Movie/Album: स्वयंवर (1980)
Music By: राजेश रोशन
Lyrics By: गुलज़ार
Performed By: मोहम्मद रफ़ी, लता मंगेशकर

मुझे छू रही हैं तेरी गर्म साँसें
मेरे रात और दिन महकने लगे हैं
तेरी नर्म साँसों ने ऐसे छुआ है
कि मेरे तो पाँव बहकने लगे हैं

लबों से अगर तुम बुला ना सको तो
निगाहों से तुम नाम ले कर बुला लो
तुम्हारी निगाहें बहुत बोलती हैं
ज़रा अपनी आँखों पे पलकें गिरा दो
मुझे छू रही हैं...

पता चल गया है कि मंज़िल कहाँ है
चलो दिल के लंबे सफर पे चलेंगे
सफर खत्म कर देंगे हम तो वहीं पर
जहाँ तक तुम्हारे कदम ले चलेंगे
मुझे छू रही हैं...


थोड़ी सी ज़मीं थोड़ा आसमां - Thodi Si Zameen Thoda Aasmaan (Lata Mangeshkar, Bhupinder Singh, Sitara)



Movie/Album: सितारा (1980)
Music By: राहुल देव बरमन
Lyrics By: गुलज़ार
Performed By: लता मंगेशकर, भूपेंद्र सिंह

थोड़ी सी ज़मीं थोड़ा आसमां
तिनकों का बस एक आशियाँ
थोड़ी सी ज़मीं...

माँगा है जो तुमसे वो ज़्यादा तो नहीं है
देने को तो जाँ दे दें, वादा तो नहीं है
कोई तेरे वादों पे जीता है कहाँ
तिनकों का बस एक...

मेरे घर के आँगन में छोटा सा झूला हो
सोंधी-सोंधी मिट्टी होगी, लिपा हुआ चूल्हा हो
थोड़ी-थोड़ी आग होगी, थोड़ा सा धुआँ
तिनकों का बस एक...

रात कट जाएगी तो कैसे दिन बिताएँगे
बाजरे के खेतों में कौए उड़ायेंगे
बाजरे के सिट्टों जैसे बेटे हो जवां
तिनकों का बस एक...


होठों पे जान चली आएगी - Hothon Pe Jaan Chali Ayegi (Kishore Kumar, Patita)



Movie/Album: पतिता (1980)
Music By: बप्पी लाहिरी
Lyrics By: आनंद बक्षी
Performed By: किशोर कुमार

होंठों पे जान चली आएगी
नैनों में नींद नहीं आएगी
रैना नहीं ये नागिन है
ऐसा लगे
हम दोनों को ये एक साथ डस जाएगी
होठों पे जान चली...

तेरी आधी जागी आधी सोई-सोई आँखें
ऐसे पलकों के झरोखों से झाँके
जैसे मेरी तू, दुल्हन है
ऐसा है तो
मेरे सपनों की सूनी सेज सज जाएगी
होठों पे जान चली...

कोई दूजा नहीं खाली घर लगता है
खाली घर में भी थोड़ा डर लगता है
दुनिया दिलों की दुश्मन है
ऐसे हमें
किसी ने जो देखा तो कहानी बन जाएगी
होठों पे जान चली...

तुझे इस नैनों वाली डोली में बिठा दूँ
अंग छू के कली से मैं फूल बना दूँ
ये लट मगर एक उलझन है
तू ही बता
इसे मेरी प्रीत भला कैसे सुलझाएगी
होठों पे जान चली...


All lyrics are property and copyright of their owners. All the lyrics are provided for educational purposes only. Copyright © Lyrics In Hindi | Powered by Blogger Design by ronangelo | Blogger Theme by NewBloggerThemes.com