1989 लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
1989 लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

आगे सुख तो पीछे दुःख है - Aage Sukh To Peeche Dukh Hai (Kavita, Nitin, Eeshwar)



Movie/Album: ईश्वर (1989)
Music By: लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल
Lyrics By: अनजान
Performed By: कविता कृष्णमूर्ति, नितिन मुकेश

आगे सुख तो पीछे दुःख है
पीछे दुःख तो आगे सुख है
अरे दुःख में कोई सुख है
ओह आस-निरास के रंग-रंगी है
सारी उमरिया मितवा रे...

कह गए जोगी ज्ञानी-ज्ञानी
इस जीवन की अजब कहानी
ज़िन्दगी के कई रंग
कई रंग, कई रूप
कहीं छाँव, कहीं धूप
कोई जाने ना, पहचाने ना
कभी सुख तो कभी दुःख है...

अपना सोचा कब होता है
वो जब सोचे तब होता है
ना ना ना
वो जब सोचे सब होता है
कोई लाख करे शोर
जिसके हाथ में है डोर
उसपर कहाँ चले जोर
कोई जाने ना, हाँ पहचाने ने
थोड़ा सुख तो, थोड़ा दुःख है
थोड़ा दुःख तो, थोड़ा सुख है

जो भी दुखों से हार न माने
उसका जीवन ही जीवन है
दुःख सीता की अग्नि परीक्षा
सुख सीता संग राम मिलन है
जीवन दुःख ही दुःख है
आगे सुख तो पीछे...


तिरछी टोपी वाले - Tirchi Topi Wale (Sapna, Amit, Tridev)



Movie/Album: त्रिदेव (1989)
Music By: कल्याणजी-आनंदजी
Lyrics By: आनंद बक्षी
Performed By: सपना मुख़र्जी, अमित कुमार

भाग - १
ओये ओये ओये ओ आ
तिरछी टोपी वाले
ओ बाबू भोले-भाले
तू याद आने लगा है
दिल मेरा जाने लगा है

ओ तिरछे नैनों वाली
ओ बीबी भोली-भाली
तू याद आने लगी है
जाँ मेरी जाने लगी है

अँखियाँ मिला, मुझे दिल में बसा, पलकों पे बिठा
इस बात का, साफ़ मतलब बता, तेरी मर्ज़ी है क्या
मेरा चैन उड़ा दे ज़ुल्मी, मेरी नींद चुरा ले
तिरछी टोपी वाले...

झूठा सही तेरा वादा मगर, मुझे सच्चा लगा
ये तो बता तुझे मुझमें भला, क्या अच्छा लगा
ये गोरा-गोरा मुखड़ा तेरा, ऑंखें काली-काली
तिरछे नैनों वाली...

भाग - २
तिरछे नैनों वाली
ओ बीबी भोली-भाली
तू याद आने लगी है
जाँ मेरी जाने लगी है

तिरछी टोपी वाले
ओ बाबू भोले-भाले
तू याद आने लगा है
दिल मेरा जाने लगा है

मैं गाँव का सीधा-साधा बलम, कहाँ मैं आ गया
इस शहर में मेरा जानम भला, आ के घबरा गया
ओ मेरी दुनिया से ये तेरी दुनिया है निराली
तिरछी नैनों वाली...

लगता है डर कलियाँ प्यार की, यहाँ खिलती नहीं
मिलते हैं दिल तकदीरें मगर, सदा मिलती नहीं
मोहब्बत के दुश्मन होते हैं दुनिया वाले
तिरछी टोपी वाले...


लगी आज सावन की - Lagi Aaj Sawan Ki (Suresh Wadkar, Anupama Deshpande, Chandni)



Movie/Album: लगी आज सावन की (1989)
Music By: शिव-हरी
Lyrics By: आनंद बक्षी
Performed By: सुरेश वाडकर, अनुपमा देशपांडे

लगी आज सावन की फिर वो झड़ी है
वही आग सीने में फिर जल पड़ी है
लगी आज सावन की...

कुछ ऐसे ही दिन थे वो जब हम मिले थे
चमन में नहीं, फूल दिल में खिले थे
वही तो है मौसम मगर रुत नहीं वो
मेरे साथ बरसात भी रो पड़ी है
लगी आज सावन की...

कोई काश दिल पे ज़रा हाथ रख दे
मेरे दिल के टुकड़ों को एक साथ रख दे
मगर ये है ख़्वाबों-ख्यालों की बातें
कभी टूट कर चीज़ कोई जुड़ी है
लगी आज सावन की...


कभी ख़्वाब में - Kabhi Khwab Mein (Talat Aziz, Dilraj Kaur, Daddy)



Movie/ Album: डैडी (1989)
Music By: राजेश रोशन
Lyrics By: सूरज सनीम
Performed By: तलत अज़ीज़, दिलराज कौर

कभी ख़्वाब में या ख़याल में
कभी ज़िंदगानी की धार पे
मैं अधूरा-सा एक गीत हूँ
मुझे अर्थ दे तू सँवार के
कभी ख़्वाब में...

वो बेनाम-सी कोई जुस्तजू
वो अपने आप से गुफ़्तगू
तुझे छू लिया तो मुझे लगा
दिन आ गए हैं क़रार के
कभी ख़्वाब में...

मेरे दिल की नगरी में बस भी जा
तुझे बख्श दूँ ज़मीं-आसमाँ
मुझे डर है तेरी आवारगी
कहीं दो जहां न उजाड़ दे
कभी ख़्वाब में...

न मिली थी तुम तो था जी रहा
न मिलोगी तो न जी पाऊँगा
मेरी तिश्नगी को जगा दिया
तेरे साथ ने, तेरे प्यार ने
कभी ख़्वाब में...

गो, आज पहली ये रात है
तेरे हाथ में मेरा हाथ है
था बहुत दिनों से ये फ़ैसला
तुझे जीत लूँगी मैं हार के
कभी ख़्वाब में...


All lyrics are property and copyright of their owners. All the lyrics are provided for educational purposes only. Copyright © Lyrics In Hindi | Powered by Blogger Design by ronangelo | Blogger Theme by NewBloggerThemes.com