1999 लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
1999 लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

अपनी धुन में रहता हूँ - Apni Dhun Mein Rehta Hoon (Ghulam Ali, Ghazal)



Movie/Album: रंग तरंग (1999)
Music By:
गुलाम अली
Lyrics By:
नासिर काज़मी
Performed By: गुलाम अली

अपनी धुन में रहता हूँ
मैं भी तेरे जैसा हूँ

ओ पिछली रुत के साथी
अब के बरस मैं तनहा हूँ
अपनी धुन में...

तेरी गली में सारा दिन
दुख के कंकर चुनता हूँ
अपनी धुन में...

मेरा दीया जलाये कौन
मैं तेरा खाली कमरा हूँ
अपनी धुन में...

अपनी लहर है अपना रोग
दरिया हूँ और प्यासा हूँ
अपनी धुन में...

आती रुत मुझे रोयेगी
जाती रुत का झोँका हूँ
अपनी धुन में...


मुसु मुसु हासी - Musu Musu Haasi (Shaan, Pyar Mein Kabhi Kabhi)



Movie/Album: प्यार में कभी कभी (1999)
Music By: विशाल शेखर
Lyrics By: विशाल ददलानी
Performed By: शान

मुसू मुसू हासी देओ मलाय लाय, मुसू मुसू हासी देओ
ज़रा मुस्कुरा दे, मुस्कुरा दे, ज़रा मुस्कुरा दे, ऐ ख़ुशी
ग़म बाँट ले तू अपने, हमसे तू ले हँसी
हो गये अब हम तेरे, तू हो गयी अपनी
मुसू मुसू हासी...

जवां दिल की राहों में, जैसे खिलती है कली
तेरे होंठों पे बसी, ऐसी हलकी सी हँसी
फिर क्यों छुप रही हो दिल की बातें तो बताओ
गुमसुम सी ना रहो तुम, अब जाना मुस्कुराओ
मुसू मुसू हासी...

माना हमसे हो गयी, इक छोटी सी ख़ता
हँस दो ना तुम ज़रा, दो ना हमको तुम सज़ा
तुम जो हँस पड़े तो, अब हम भी मुस्कुराये
आओ मिलके साथ गायें, दिल से दिल भी मिलायें
मुसू मुसू हासी...


ज़िन्दगी मौत ना बन जाए - Zindagi Maut Na Ban Jaaye (Sonu Nigam, Roop Kumar Rathod, Sarfarosh)



Movie/Album: सरफ़रोश (1999)
Music By: जतिन-ललित
Lyrics By: इसरार अंसारी
Performed By: सोनू निगम, रूप कुमार राठोड़

ज़िन्दगी मौत ना बन जाए, संभालो यारों
खो रहा चैन-ओ-अमन, खो रहा चैन-ओ-अमन
मुश्किलों में है वतन, मुश्किलों में है वतन
सरफरोशी की शमा दिल में जला लो यारों
ज़िन्दगी मौत ना बन जाए, संभालो यारों

एक तरफ प्यार है, चाहत है, वफादारी है
एक तरफ देश में धोखा है, गद्दारी है
बस्तियां सहमी हुई, सहमा चमन सारा है
ग़म में क्यूं डूबा हुआ आज सब नज़ारा है
आग पानी की जगह अब्र जो बरसाएंगे
लहलाते हुए सब खेत झुलस जायेंगे, जायेंगे, जायेंगे
खो रहा चैन-ओ-अमन...

चन्द सिक्कों के लिए, तुम ना करो काम बुरा
हर बुराई का सदा होता है अंजाम बुरा

जुर्म वालों की कहाँ उम्र बड़ी है यारों
इनकी राहों में सदा मौत खड़ी है यारों
ज़ुल्म करने से सदा ज़ुल्म ही हासिल होगा
जो न सच बात कहे वो कोई बुज़दिल होगा
सरफरोशों ने लहू दे के जिसे सींचा है
ऐसे गुलशन को उजड़ने से बचा लो यारों
सरफरोशी की शमा दिल में जला लो यारों यारों यारों
ज़िन्दगी मौत ना बन जाए...


धीमी धीमी - Dheemi Dheemi (Hariharan, 1947 Earth)



Movie/Album: 1947 अर्थ (1999)
Music By: ए.आर.रहमान
Lyrics By: जावेद अख्तर
Performed By: हरिहरन

धीमी धीमी, भीनी भीनी
खुशबू है तेरा बदन
सुलगे महके पिघले दहके
क्यों ना बहके मेरा मन
वो चली हवा, के नशा घुला
हैं समा भी जैसे धुआँ-धुआँ
तेरा रुप है, की ये धूप है
खुले बाल है, के है बदलियाँ
तू जो पास है, मुझे प्यास है
तेरे जिस्म का एहसास है

सांस भी जैसे रुक सी जाती है
तू जो पास आये तो आँच आती है
दिल की धड़कन भी, मेरे सीने में लडखडाती है
ये तेरा तन बदन, कैसी है ये अगन
ठंडक है जिस्म तू वो आग है
बलखाती है जो तू, लहराती है जो तू
लगता है ये बदन, इक राग है
वो चली हवा...


ये जो ज़िन्दगी है - Ye Jo Zindagi Hai (Sukhwinder, Sujata, Srinivas, 1947 Earth)



Movie/Album: 1947 अर्थ (1999)
Music By: ए.आर.रहमान
Lyrics By: जावेद अख्तर
Performed By: सुखविंदर सिंह, सुजाता त्रिवेदी, श्रीनिवास

जो अफ़साने दिल ने बुने
उनको कोई दिल ही सुने
हम हौले हौले प्यार की धुंधली फ़िज़ाओं में आये
गहरे गहरे हैं ख़्वाब की नीली घटाओं के साये
हम-तुम दोनों खोये खोये, सपने देखें जागे सोये
गुमसुम हैराँ

ये जो ज़िन्दगी है कोई दास्ताँ है
कब होगा क्या ये खबर कहाँ है
ये जो ज़िन्दगी है कोई कारवाँ है
कहाँ जायेगी ये खबर कहाँ है

सुजाता
बहती हैं चिंगारियाँ जैसे, सर से पाँव तक नस नस में
हल्का हल्का होश है लेकिन, कुछ भी नहीं अब मेरे बस में
मेरे अंग अंग में बेचैनी बिजली बनके लहराये
एक मीठे मीठे दर्द का बादल तन मन पर छाये
साँसें उलझे धड़के ये दिल, जाने कैसे मेरी मुश्किल
होगी आसाँ
ये जो ज़िंदगी है कोई दास्ताँ है...

सुखविंदर
अरे काश मेरी इन आँखों की अब रोशनी बुझ जाये
मैंने देखा था जो ख़्वाब वो मुझको न कभी याद आये
ऐसे बरसे ग़म के तीशे, टूटे दिल के सारे शीशे
दिल है वीराँ
ये जो ज़िंदगी है...


इश्वर अल्लाह तेरे जहां में - Ishwar Allah Tere Jahan Mein (1947 Earth)



Movie/Album: 1947 अर्थ (1999)
Music By: ए.आर.रहमान
Lyrics By: जावेद अख्तर
Performed By: सुजाता मोहन, अनुराधा सरगम

ईश्वर अल्लाह तेरे जहां में
नफ़रत क्यों है जंग है क्यों
तेरा दिल तो इतना बड़ा है
इन्साँ का दिल तंग है क्यों

क़दम क़दम पर सरहद क्यों है, सारी जमीं जो तेरी है
सूरज के फेरे करती है, फिर क्यों इतनी अंधेरी है
इस दुनिया के दामन पर, इन्साँ के लहू का रंग है क्यों
ईश्वर अल्लाह तेरे जहाँ में...

गूँज रही है कितनी चीखें, प्यार की बातें कौन सुने
टूट रहे हैं कितने सपने, इनके टुकड़े कौन चुने
दिल के दरवाज़ों पर ताले, तालों पर ये ज़ंग है क्यों
ईश्वर अल्लाह तेरे जहाँ में...


हम तो दीवाने हुए यार - Hum To Deewane Hue Yaar (Abhijeet, Alka Yagnik, Badhshah)



Movie/Album: बादशाह (1999)
Music By: अनु मलिक
Lyrics By: समीर
Performed By: अभिजीत, अलका याग्निक

दिल क्यो धक धक करता है
क्यों ये तुझपे मरता है
दिल तुझको ही चाहे बार बार
अरे ओये ओये ओये ओये
हम तो दीवाने हुए यार
तेरे दीवाने हुए यार
कि अब क्या करे हम (हे हे)
कैसे जीयें हम (हे हे)
इतना बता दे ओ मेरे यार
हम तो दीवाने हुए यार
तेरे दीवाने हुए यार

रख लूँ नज़र में चेहरा तेरा, दिन रात इसपे मरता रहूँ
जब तक ये सांसे चलती रहे, तुझसे मोहब्बत करता रहूँ
इतना जो चाहोगे मेरी कसम, सब कुछ लुटा दूँगी तुझपे सनम
तुमने किया है बेकरार, बेकरार बेकरार बेकरार
अरे ओये ओये ओये ओये
हम तो दीवाने हुए...

भरके मुझे अपनी आगोश में, सो जा मेरे गेसुओं के तले
तेर सिवा कुछ नज़र आये ना, ऐसे लगा ले मुझको गले
तेरी वफाओं पे भरोसा करूँ, तुझसे कभी ना धोखा करूँ
तुने किया है ऐतबार, ऐतबार ऐतबार ऐतबार
अरे ओये ओये ओये ओये
हम तो दीवाने हुए...


वो लड़की जो सबसे अलग है - Wo Ladki Jo Sabse Alag Hai (Abhijeet, Badshah)



Movie/Album: बादशाह (1999)
Music By: अनु मलिक
Lyrics By: समीर
Performed By: अभिजीत

कहीं ज़ुल्फ़ का बादल ओहो, कहीं रंगीं आँचल आहा
कहीं होंठ गुलाबी ओहो, कहीं चाल शराबी आहा
कहीं आँख में जादू ओहो, कहीं जिस्म की ख़ुश्बू आहा
कहीं नर्म निगाहें ओहो, कहीं गोरी बाहें आहा
हाँ यहाँ कदम कदम पर लाखों हसीनाएँ हैं
हम मगर ये दिल का तोहफ़ा देने उसे आए हैं
वो लड़की जो सबसे अलग है

कितने ही जलवे हैं
आँखों में घुलती है जिनसे चाँदनी
कितनी ही बातें हैं
कानों में घुलती है जिनसे रागिनी
ये चले जैसे ज़रा बलखा के
वो चले जैसे ज़रा इठला के
ये मिले जैसे ज़रा शरमा के
वो मिले जैसे ज़रा इतरा के
हाँ यहाँ कदम कदम...

गुलशन की है वो कली
जो सारे फूलों से बिल्कुल है जुदा
क्या कहिये, हो देखा है
इन आँखों ने उसमें ऐसा रूप क्या
क्या अजीब सी ताज़गी है
क्या हसीन सी सादगी है
क्या अजीब सी दिलकशी है
क्या हसीन सी दिलबरी है
हाँ यहाँ कदम कदम...


ढोली तारो ढोल बाजे - Dholi Taaro Dhol (Hum Dil De Chuke Sanam)



Movie/Album: हम दिल दे चुके सनम (1999)
Music By: इस्माईल दरबार
Lyrics By: महबूब
Performed By: कविता कृष्णामूर्ति, विनोद राठोड, करसन सरगाथिया

हे खा ना ना ना ना खनखना....
झनननन झंझनाट झांझर बाजे रे आज, टनननन टनटनाट मंजीरा बाजे
खनननन खनखनाक गोरी के कंगना आज, छनननन छ्ननाक पायल संग बाजे
सर पर चुनर ओढ़े निकलेगी आज राधे, लहरा, लहरा के गोपियों संग
कान्हां भी पीछे पीछे, टाँग कोई खींचे खींचे, मुरली से बरसाएगा सुर तरंग
धरती और वो गगन, झूमेंगे संग संग, सब पे चढ़ेगा आज प्रेम रंग
रंगीं गुलाल होगा, सोचो क्या हाल होगा, नाचेंगे प्रेम रोगी दम दमा दम दम
धम धम धातीलाल धातीलाल धिरकिट धिरकिट धिलाल
बाजे मृदंग धनाधन, धन धनाधन बाजे
छम छम छम छम छ्माक, झांझर झमझमाक
घुँघरू घम घम घमाक, चमक चम चमाके
हे बाजे रे बाजे रे बाजे रे बाजे रे, ढोल बाजे

हे बाजे रे बाजे रे बाजे रे
ढोली तारो ढोल बाजे, ढोल बाजे, ढोल बाजे, ढोल
के ढम ढम बाजे ढोल
कि ढोली तारो ढोल बाजे, ढोल बाजे, ढोल बाजे, ढोल
तो ढम ढम बाजे ढोल
हे हे, छोरी बड़ी अनमोल, मीठे मीठे इसके बोल
आँखें इसकी गोल गोल, गोल गोल, तो ढम ढम बाजे ढोल
हाँ हाँ छोरा छोरा है नटखट, बोले है पटपट
अरे छेड़े मुझे बोले ऐसे बोल, तो ढम ढम बाजे ढोल

रसीलो ये रूप तारो छूं लूं ज़रा
अरे ना, अरे हाँ
अरे हाँ हाँ हाँ हाँ
रात की रानी जैसे रूप मेरा, महका सा, महका सा, महका सा, महका सा
उड़ेगी महक मुझे छूना ना, तू क्यों बहका सा, बहका सा, बहका सा सा सा सा सा सा सा सा
पास आजा मेरी रानी, सुनूँ नहीं मैं दिवानी
करूँगा मैं मनमानी, मत कर शैतानी
अरे रेरेरेरे, सरे रेरेरे, परेरेरेरे
कि ढोली तारो....


निम्बुड़ा - Nimbooda (Kavita Krishnamurthy, Hum Dil De Chuke Sanam)



Movie/Album: हम दिल दे चुके सनम (1999)
Music By: इस्माईल दरबार
Lyrics By: महबूब
Performed By: कविता कृष्णामूर्ति, करसन सरगाथिया

निम्बुड़ा, निम्बुड़ा, निम्बुड़ा
निम्बुड़ा, निम्बुड़ा, निम्बुड़ा
अरे काचा काचा, छोटा छोटा, निम्बुड़ा लाई दो...
जा खेत से हरियाला निम्बूड़ा लायी दो
निम्बूड़ा, निम्बूड़ा, निम्बूड़ा

दीवानों की बुरी नज़र से बचना हो तो सुन लो
अरे खट्टो खट्टी निम्बू तेज़ छुरी से सर पे काटो
फिर छोटा छोटा निम्बुड़ा क्या जादू करेगा देखो
कि बुरी नज़र वो, खट्टी होएगी, फिर चौरस्ते पे, वो उतर गिरेगी
ओ लाई दो...

इत्ता सा है, पर है तो रसीला, निम्बुड़ा
चखा रा था बड़ा है छबीला, निम्बूड़ा
इसकी खुशबू से भी ललचा जाता है ये मन
रखदे जुबां पर दो बस, अई अई...

लेकिन चाहत में सजना सजनी को
लगती है एक दूजे की नज़र
तब उनमें अक्सर होती है मीठी तकरार
निम्बुड़ा बोले है यही प्यार
हुर्र, तो लाई दो लाई दो...
मेरी सोणी सहेलियों जा के ज़रा लाई दो, छोटा निम्बूड़ा, लाई दो
निम्बुड़ा, निम्बुड़ा...


बादशाह हो बादशाह - Baadshah O Badshah (Abhijeet, Baadshah)



Movie/Album: बादशाह (1999)
Music By: अनु मलिक
Lyrics By: समीर
Performed By: अभिजीत

आशिक़ हूँ मैं क़ातिल भी हूँ
सबके दिलों में शामिल भी हूँ
दिल को चुराना नींदें उड़ाना बस यही मेरा क़ुसूर
वादों से अपने मुकरता नहीं, मरने से मैं कभी डरता नहीं
बादशाह ओ बादशाह, बादशाह ऐ बादशाह
बादशाह ओ बादशाह, बादशाह

चारों तरफ़ हैं मेरे ही चर्चे, होंठों पे है बस मेरा नाम
रंगों भरी सुबह मेरी, मस्ती में डूबी है मेरी शाम
झूठी कहानी सच्ची लगे, आवारगी मुझे अच्छी लगे
नग़में सुनाना, सबको नचाना, बस यही मेरा क़ुसूर
वादों से अपने मुकरता नहीं, मरने से मैं कभी डरता नहीं
बादशाह ओ बादशाह...

 है ये मोहब्बत कमज़ोरी मेरी, चाहत की दुनिया पे मेरा राज
बस रब के आगे झुकता मेरा सर, झुकते मेरे सामने तख्त-ओ-ताज
अंदाज़ मेरा सबसे जुदा, मैं बादशाहों का बादशाह
सपने सजाना हँसना-हँसाना, बस यही मेरा क़ुसूर
वादों से अपने मुकरता नहीं, मरने से मैं कभी डरता नहीं
बादशाह ओ बादशाह...


इस दीवाने लड़के को - Iss Deewane Ladke Ko (Alka Yagnik, Aamir Khan, Sarfarosh)



Movie/Album: सरफ़रोश (1999)
Music By:
जतिन-ललित
Lyrics By: समीर
Performed By: अलका याग्निक, आमिर खान

अर्ज़ है...
दवा भी काम न आए, कोई दुआ न लगे
दवा भी काम न आए, कोई दुआ न लगे
मेरे ख़ुदा किसी को प्यार की हवा न लगे, आदाब। 

इस दीवाने लड़के को कोई समझाए
प्यार मोहब्बत से न जाने क्यूँ ये घबराए
दर्द-ए-दिल, जाने ना
पास में जितना आऊं, उतनी दूर ये जाए, जाए, हाँ जाए
इस दीवाने लड़के को...

रंग ना देखे, रूप ना देखे
ये जवानी की, धूप ना देखे
अर्ज़ है...
कुछ मजनूँ बने, कुछ रांझा बने
कुछ रोमियो, कुछ फरहाद हुए
इस रंग रूप की चाहत में
जाने कितने बर्बाद हुए, वो देखो

इश्क़ में इसके, बावरी हूँ मैं
ये भला है तो, क्या बुरी हूँ मैं
ये लड़का, है फिर भी, जाने क्यूँ शरमाये, जाने क्यूँ शरमाये, हाय शरमाये
इस दीवाने लड़के को...

जानती हूँ मैं, ये तड़पता है
प्यार में इसका दिल धड़कता है

जिसे देखो दिल की धुनी रमाता
अरे ये मंदिर नहीं है, शिवाला नहीं है
हसीनों से कह दो कहीं और जाएँ
मेरा दिल है दिल, धर्मशाला नहीं है
ये अकेले में, आह भरता है
फिर भी कहने से, ये क्यूँ डरता है
सच कुछ भी, बोले ना, झूठी बात बनाए, झूठी बात बनाए, हाँ बनाए
इस दीवाने लड़के को...


फूल खिलते हैं, बहारों का समां होता है
ऐसे मौसम में ही तो, प्यार जवां होता है
दिल की बातों को, होठों से नहीं कहते
ये फसाना तो, निगाहों से बयां होता है


जो हाल दिल का - Jo Haal Dil Ka (Kumar Sanu, Alka Yagnik, Sarfarosh)



Movie/Album: सरफ़रोश (1999)
Music By:
जतिन-ललित
Lyrics By: समीर
Performed By: कुमार सानू, अलका याग्निक

जो हाल दिल का इधर हो रहा है
वो हाल दिल का उधर हो रहा है
जान-ए-जां दिलों पे प्यार का
अजब सा असर हो रहा है

गले से लगा लूं, लबों पे सजा लूँ
तेरे अफसानों को मैं अपना बना लूँ
दर्द है हल्का सा, मगर हो रहा है
जान-ए-जां दिलों पे प्यार का...

ये मुझको खबर है, ये तुझको पता है
जो छाया धड़कन पे चाहत का नशा है
दीवाना तेरा बेखबर हो रहा है
जान-ए-जां दिलों पे प्यार का...


कहीं आग लगे - Kahin Aage Lage (Asha, Richa, Aditya, Taal)



Movie/Album: ताल (1999)
Music By: ए.आर.रहमान
Lyrics By: आनंद बक्षी
Performed By: आशा भोंसले, ऋचा शर्मा, आदित्य नारायण

जाए ना ना ना
पीड़ सहा नहीं जाए

जंगल में बोले कोयल कू कू कू...

कहीं आग लगे लग जावे, कोई नाग डसे डस जावेकभी गगन गिर जावे, चाहे कुछ भी हो जाए
इस टूटे दिल की पीड़ सही ना जाए

आओ सईयाँ आओ सईयाँ...

जाए जां, ना जाए जिया
जाए जिया, ना जाए जिया
हर वक़्त गुज़र जाता है, पर दर्द ठहर जाता है
सब भूल भी जाए कोई, कुछ याद मगर आता है
जिस पेड़ को बेल ये लिपटी, वो सूखे टूटे सिमटी
फूलों के बाग का वादा, पर काटें बड़े ज़ियादा
ना दवा लगे, ना दुआ लगे, ये प्रेम रोग है कु कु कु
कहीं आग लगे...

प्यार बड़ा हरजाई है, पर प्यार बिना तन्हाई है
दिल मत देना कहते हैं, सब दिल देते रहते हैं
जब नींद चुरा लेते हैं, रत जगे मज़ा देते हैं
खुशियाँ किसी के गम से, रौनक किसी के दम से
कोई वचन नहीं चलता है, कोई जतन नहीं चलता है
ना हो ये रोग, तो सारे लोग, ले लेवें जोग, कु कु कु
जंगल में बोले कोयल...


मेरी दुनिया है तुझ में - Meri Duniya Hai Tujh Mein (Sonu Nigam, Kavita Krishnamurthy, Vaastav)



Movie/Album: वास्तव (1999)
Music By:
जतिन-ललित
Lyrics By:
समीर
Performed By: सोनू निगम, कविता कृष्णमूर्ति

मेरी दुनियाँ है तुझमें कहीं
तेरे बिन मैं क्या, कुछ भी नहीं
मेरी जान में तेरी जान है, ओ साथी मेरे

पलकों में तेरे रूप का सपना सजा दिया
पहली नज़र में ही तुझे, अपना बना लिया
है यही आरज़ू, हर घड़ी बैठी रहो मेरे सामने
मेरी दुनिया है तुझ में...

आँखों के रास्ते मेरे दिल में उतर गई
साँसों में तेरे जिस्म की खुशबू बिखर गई
हर जगह रात दिन, प्यार से मैं जानेमन, तेरा नाम लूँ
मेरी दुनिया है तुझ में...

ऐसा लगा मेरे सनम, हम जो यहाँ मिले
सेहरा में जैसे शबनमी, चाहत के गुल खिले
ये ज़मीं, आसमां, कह रहे, हम तो कभी ना होंगे जुदा
मेरे दुनिया है तुझ में...


हर तरफ है ये शोर - Har Taraf Hai Ye Shor (Vinod Rathod, Vaastav)



Movie/Album: वास्तव (1999)
Music By:
जतिन-ललित
Lyrics By:
समीर
Performed By: विनोद राठोड़

तुझा घरात नाहीं पानी घाघर उतानी रे गोपाळ
अरे गोविंदा रे गोपाला गोविंदा रे गोपाला
यशोदे चा कान्यावादा यशोदे चा कान्यावादा

अरे टोली बना के निकले ग्वाले, करने को हुड़दंग
गोविंदा के दिन सब हो गए हैं, गोविंदा के संग
अरे समझे
हर तरफ है ये शोर, आया गोकुल का चोर
आज हम लोग मस्ती करेगा
कहीं मटकी तोड़े, कहीं नैना जोड़े
आज गड़बड़ घोटाला चलेगा
हर तरफ है ये शोर...

आला रे आला गोविंदा आला
छत के ऊपर खड़ी देखना फुलझड़ी
हम करेंगे कोई छेड़खानी
ओ हम चलें झूमने, आसमान चूमने
आज मस्ती में है ज़िन्दगानी
हाँ दे दो दुआएं माँ-जी, मारेंगे हम तो बाजी
दुश्मन ज़माना जलेगा
हर तरफ है ये शोर...

दगडू मामा, दगडू मामा, पेटी वाज़व, मामा पेटी वाज़व
दोन कोंबड्या दीन नाहीतर पथावूँ सोडाव
इस गली उस गली, बात अपनी चली
हो गया अपना ही बोलबाला रे
हो जोश में होश का, दोस्तों काम क्या
हमसे टक्कर न ले कोई साला
हम सब हैं दिल के राजे, अपना ही डंका बाजे
अपना ही सिक्का चलेगा
हर तरफ है ये शोर...


प्यार हमें प्यार तुम कितना - Pyar Humein Pyar Tum Kitna (Alka, Udit, Daag)



Movie/Album: दाग - द फायर (1999)
Music By:
राजेश रोशन
Lyrics By: समीर
Performed By: अलका याग्निक, उदित नारायण

चल बाँध ले पैरों में घुँघरू
इश्क इश्क इश्क ओ तेरा इश्क

प्यार हमें, प्यार तुम कितना करते हो
ओ हो हो...
प्यार हमें, प्यार तुम कितना करते हो
यार मेरे यार हम पे कितना मरते हो
ओ हो हो...
बोल रहा तेरी आँख का काजल
दिल है मेरा तेरे इश्क में पागल
और ज्यादा मैं क्या बोलूँ रे
प्यार हमें प्यार तुम...

शांवा शांवा...
मैं तेरे हुस्न का मस्ताना, तेरी इस चाल पे मर जाना
नशा तुझे सौ बोतल का, तेरी मस्ती का मैं प्यासा
है मेरे पीछे ये सारा ज़माना, डाल न मुझपे तु ऐसे दाना
देखो जी देखो तुम यूँ ना बहको, होश में आ जाओ
ओ पहले नच कुड़िये मेरे नाळ, नच कुड़िये मेरे नाळ
प्यार हमें प्यार तुम...

समझती हूँ मैं दिलजानी, तेरी नियत में बेईमानी
बना के झूठे अफ़साने, छेड़ ना मुझको दीवाने
है तेरे दम से ये मेरी कहानी, तेरे सिवा क्या ये ज़िन्दगानी
तु जो कहे तो तुझपे ऐ जाना, जान लुटा दूँ मैं
ओ पहले नच माहिया मेरे नाळ, नाच सोणेया मेरे नाळ
प्यार हमें प्यार तुम...


मुझे रंग दे - Mujhe Rang De (Asha Bhosle, Takshak)



Movie/Album: तक्षक (1999)
Music By: ए.आर.रहमान
Lyrics By: महबूब
Performed By: आशा भोंसले

मुझे रंग दे, हाँ रंग दे
हाँ अपनी प्रीत विच रंग दे

मैं बण के सवेरा जाग उठी
मैं जाग उठी, जी जाग उठी
मैं बण के मोरणी नाच उठी
मैं नाच उठी, चन्नो नाच उठी
तेरे नैना, मेरे नैना
मेरे नैनो में रंग दे
हाँ रंग दे...

तेरे सपनों के आँगन में चम-चम चलूँ
मैं चलूँ, मैं चलूँ, तेरे संग-संग चलूँ
आजा-आजा वे आजा, तू बन के हवा
तेरे सद के जावां, तेरे वारे जावां
मुझे रंग दे, मुझे रंग दे...

मैं भी तनहाँ हूँ, तू भी है तनहाँ कहीं
मैं अधूरी यहाँ, तू अधूरा कहीं
एक आहट सी होती है मुझको यहाँ
तू कहाँ है, कहाँ है, कहाँ है, कहाँ
मुझे ले चल, तू ले चल, तू ले चल, वहाँ
जहाँ तक आसमां, आसमां, आसमां
हो मोहब्बत की दुनिया नशेमन जहाँ
मुझे ले चल...
मुझे रंग दे...


All lyrics are property and copyright of their owners. All the lyrics are provided for educational purposes only. Copyright © Lyrics In Hindi | Powered by Blogger Design by ronangelo | Blogger Theme by NewBloggerThemes.com