2010s लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
2010s लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

हुसना - Husna (Piyush Mishra, Hitesh Sonik, Coke Studio MTV)



Movie/Album: कोक स्टूडियो एम.टीवी (2012)
Music By:
पियूष मिश्रा, हितेश सोनिक
Lyrics By:
पियूष मिश्रा
Performed By: पियूष मिश्रा

लाहौर के उस
पहले जिले के
दो परगना में पहुँचे
रेशम गली के
दूजे कूचे के
चौथे मकां में पहुँचे
और कहते हैं जिसको
दूजा मुल्क उस
पाकिस्तां में पहुँचे
लिखता हूँ ख़त में
हिन्दोस्तां से
पहलू-ए हुसना पहुँचे
ओ हुसना

मैं तो हूँ बैठा
ओ हुसना मेरी
यादों पुरानी में खोया
पल-पल को गिनता
पल-पल को चुनता
बीती कहानी में खोया
पत्ते जब झड़ते
हिन्दोस्तां में
यादें तुम्हारी ये बोलें
होता उजाला हिन्दोस्तां में
बातें तुम्हारी ये बोलें
ओ हुसना मेरी
ये तो बता दो
होता है, ऐसा क्या
उस गुलिस्तां में
रहती हो नन्हीं कबूतर सी
गुमसुम जहाँ
ओ हुसना

पत्ते क्या झड़ते हैं
पाकिस्तां में वैसे ही
जैसे झड़ते यहाँ
ओ हुसना
होता उजाला क्या
वैसा ही है
जैसा होता हिन्दोस्तां यहाँ
ओ हुसना

वो हीरों के रांझे के नगमें
मुझको अब तक, आ आके सताएं
वो बुल्ले शाह की तकरीरों के
झीने झीने साये
वो ईद की ईदी
लम्बी नमाजें
सेंवैय्यों की झालर
वो दिवाली के दीये संग में
बैसाखी के बादल
होली की वो लकड़ी जिनमें
संग-संग आंच लगाई
लोहड़ी का वो धुआं जिसमें
धड़कन है सुलगाई
ओ हुसना मेरी
ये तो बता दो
लोहड़ी का धुंआ क्या
अब भी निकलता है
जैसा निकलता था
उस दौर में हाँ वहाँ
ओ हुसना

क्यों एक गुलसितां ये
बर्बाद हो रहा है
एक रंग स्याह काला
इजाद हो रहा है

ये हीरों के, रांझों के नगमे
क्या अब भी, सुने जाते है हाँ वहाँ
ओ हुसना
और
रोता है रातों में
पाकिस्तां क्या वैसे ही
जैसे हिन्दोस्तां
ओ हुसना


सांस - Saans (Shreya Ghoshal, Mohit Chauhan, Jab Tak Hai Jaan)



Movie/Album: जब तक है जान (2012)
Music By: ए.आर.रहमान
Lyrics By: गुलज़ार
Performed By: श्रेया घोषाल, मोहित चौहान

साँस में तेरी साँस मिली तो
मुझे साँस आई
रूह ने छू ली जिस्म की खुश्बू
तू जो पास आई

कब तक होश संभाले कोई
होश उड़े तो उड़ जाने दो
दिल कब सीधी राह चला है
राह मुड़े तो मुड़ जाने दो
तेरे ख़याल में डूबके अक्सर
अच्छी लगी तन्हाई
साँस में तेरी...

रात तेरी बाँहों में कटे तो
सुबह बड़ी हलकी लगती है
आँख में रहने लगे हो क्या तुम
क्यूँ छलकी-छलकी लगती है
मुझको फिर से छू के बोलो
मेरी कसम क्या खाई
साँस में तेरी...


हीर - Heer (Harshdeep Kaur, Jab Tak Hai Jaan)



Movie/Album: जब तक है जान (2012)
Music By: ए.आर.रहमान
Lyrics By: गुलज़ार
Performed By: हर्षदीप कौर

हीर हीर ना आँखों अड़ियो
मैं ते साहेबा होई
घोड़ी ले के आवे लै जाए
हो मैनू लै जाए मिर्ज़ा कोई

ओहदे जे ही मैं, ते ओह मेरे वरगा
हंसदा-ए सजर-सवेरे वरगा
अन्खां बंद कर लै ते
ठन्डे हनेरे वरगा
ओहदे जे ही मैं, ते ओह मेरे मिर्ज़ा वरगा
हीर हीर ना...

नाल नाल टुर ना ते विथ रखणा
हद रख लेणा विच दिल रखणा
छाँवे-छाँवे पावे असी तेरी
पर छाँवे टुर ना
ओहदे जे ही मैं ते ओ मिर्ज़ा मेरे वरगा
हीर हीर ना...


जिया रे - Jiya Re (Neeti Mohan, Sofia Ashraf, Jab Tak Hai Jaan)



Movie/Album: जब तक है जान (2012)
Music By: ए.आर.रहमान
Lyrics By: गुलज़ार
Performed By: नीति मोहन, सोफ़िया अशरफ

चली रे, चली रे
जुनूं को लिए
कतरा, कतरा
लम्हों को पीये
पिंजरे से उड़ा
दिल का शिकरा
खुदी से मैंने इश्क किया रे
जिया, जिया रे जिया रे

छोटे-छोटे लम्हों को
तितली जैसे पकड़ो तो
हाथों में रंग रह जाता है
पंखों से जब छोडो तो
वक़्त चलता है
वक़्त का मगर रंग
उतरता है अक्किरा
उड़ते-उड़ते फिर एक लम्हा
मैंने पकड़ लिया रे
जिया जिया रे जिया रे...

हलके-हलके पर्दों में
मुस्कुराना अच्छा लगता है
रौशनी जो देता हो तो
दिल जलाना अच्छा लगता है
एक पल सही, उम्र भर इसे
साथ रखना अक्किरा
ज़िन्दगी से फिर एक वादा
मैंने कर लिया रे
जिया जिया रे जिया रे...


यारियाँ - Yaariyaan (Mohan, Shilpa, Sunidhi, Arijit, Cocktail)



Movie/Album: कॉकटेल (2012)
Music By: प्रीतम चक्रबर्ती
Lyrics By: इरशाद क़ामिल
Performed By: मोहन कन्नन, शिल्पा राव, सुनिधि चौहान, अरिजीत सिंह

अलविदा यारा अलविदा
हो रहे तुमसे हम जुदा
ले चले सारे गम तेरे
खुश रहे यारा तू सदा
तुमसे भी ज्यादा होंगी
अब यादें प्यारियाँ
हम दोनों की हैं अपनी-अपनी लाचारियाँ
अब हँसते-हँसते तुम पे ले खुशियाँ वारियाँ

मर्ज़ भी हैं देती
चैन भी हैं देती
दर्द भी हैं देती
जान भी हैं लेती
यारियाँ
ना छोड़े यारियाँ

अब जीने को जाने को ना कोई रास्ता
तन्हाईयों से होगा अब दिल का वास्ता
हम खुद ही खुद को अब तो कर देंगे लापता

मान ले तू ऐसे
हैं ज़रा भोले से
जानते हैं वैसे
है निभानी कैसे
यारियाँ
ना छोड़े यारियाँ

यारी यारी हर कोई करदा वे
यारों दे बस जो पहि जावे
वो पगला या झल्ला है


गुस्ताख दिल - Gustakh Dil (Amit Trivedi, Shilpa Rao, English Vinglish)



Movie/Album: इंग्लिश विन्ग्लिश (2012)
Music By: अमित त्रिवेदी
Lyrics By: स्वानंद किरकिरे
Performed By: अमित त्रिवेदी, शिल्प राव

गुस्ताख दिल, दिल में मुश्किल, मुश्किल में दिल
गुस्ताख दिल, थोड़ा संगदिल, थोड़ा बुजदिल
दर्द के दर पे, ठहरा है क्यूँ
सज़ा-सज़ा ये खुद को क्यूँ देता नहीं
हँसने की धुन में, रोता है क्यूँ
सही क्या, गलत क्या, ये कुछ भी समझता नहीं
गुस्ताख दिल...

है बर्फ सी सांसों में, आँखों में धुआं-धुआं
ये हर पल क्यूँ, खेले है, ग़म का, ख़ुशी का, जुआ-जुआ
ये उम्मीदों भरा, ये खुद से ही डरा
सुलझे धागों में, उलझा है क्यूँ
सलाहें-सलाहें ये खुद की भी सुनता नहीं
गुस्ताख दिल...

क्यूँ बातों ही बातों में फिसलती है, ज़ुबां-ज़ुबां
किसी शय ना, ठहरती है, बहकती है, निगाह निगाह
ये कैसे कब हुआ, ये कह दूँ क्यूँ हुआ
गिरता नहीं तो, संभालता है क्यूँ
झुकाए-झुकाए ये मगरूर झुकता नहीं
गुस्ताख दिल...


धाक धूक - Dhak Dhuk (Amit Trivedi, English Vinglish)



Movie/Album: इंग्लिश विन्ग्लिश (2012)
Music By: अमित त्रिवेदी
Lyrics By: स्वानंद किरकिरे
Performed By: अमित त्रिवेदी

पिया बिन दिल लगे ना
एक पल को मन मा लागे ठेस
कैसे जाऊं मैं पराये देस
पिया मोरे निठुरा, पिया न समझे
मन का ये संदेस
कैसे जाऊं मैं पराये देस
जियरा जियरा
जियरा धाक धूक होए
खामखां खामखां
खामखां धाक धूक होए
जियरा धाक धूक होए

कभी दिल धड़के, बायीं आँख फड़के
तु न हमें भूल जाए रे
तुझे दिल जाने, पूरा पहचाने
नैना ये फिसल ना जाए रे
सहमी सी पलकें, मोती एक छलके
के तेरा ज़िक्र जब भी आये
थोड़ी फ़िक्र छू के जाए
हाय होये हाय
जियरा धाक धूक...

ये दिन रातें, तीखी तेरी बातें
क्या करे जो याद आये रे
तेरे ताने बाने, छूने के बहाने
दिल को बड़ा सताए रे
क्यों न हमें रोके, एक बार टोके
के तेरा ज़िक्र जब भी आये
थोड़ी फ़िक्र छू के जाए
हाय होये हाय
जियरा धाक धूक...


खामखां - Khamakha (Matru Ki Bijlee Ka Mandola, Vishal Bhardwaj)



Movie/Album: मटरू की बिजली का मंडोला (2013)
Music By: विशाल भारद्वाज
Lyrics By: गुलज़ार
Performed By: विशाल भारद्वाज, प्रेम देहाती

हलकी हलकी आहें भरना
तकिये में सर दे के धीमे धीमे
सरगोशी में बातें करना
पागलपन है ऐसे तुमपे मरना
उबला उबला क्यूँ लगता है?
ये बदन, ये जलन तो खामखां नहीं
खामखां नहीं
ये खलिश जो है, वो खामखां नहीं
हाँ तपिश तो है, पर खामखां नहीं
जो नहीं किया, कर के देखना
सांस रोक के, मर के देखना
ये बेवजह, बेसबब, खामखां नहीं
ये खामखां नहीं...

सारी सारी रात का जगना
खिड़की पे सर रखके उंघते रहना
उम्मीदों का जलना-बुझना
पागलपन है ऐसे तुमपे मरना
खाली खाली दो आँखों में
ये नमक, ये चमक, तो खामखां नहीं
खामखां नहीं
फ़िक्र रहती है, जो खामखां नहीं
ज़िक्र रहता है, जो खामखां नहीं
अश्क आँखों में, भर के देखना
आइना कभी, डर के देखना
ये बेवजह, बेसबब, खामखां नहीं
दीवानगी सही, ये खामखां नहीं
हाँ जुनूं तो है, पर खामखां नहीं...

सदा भवानी ताही जय हो प्यारा
गौरी पुत्र गणेश
पांच देव रक्षा करे हो प्यारा
ब्रह्मा विष्णु महेश
कसम यो देस मेरा से हरया भरया हरियाणा
सीधे साधे लोग अड़े के, दूध दही का खाना
बोलो राम राम...


जिया लागे ना - Jiya Lage Na (Sona Mohapatra, Ravindra Upadhyay, Talaash)



Movie/Album: तलाश (2012)
Music By: राम संपत
Lyrics By: जावेद अख्तर
Performed By: सोना मोहापात्रा, रविन्द्र उपाध्याय

मन तेरा जो रोग है, मोहे समझ ना आये
पास हैं जो सब छोड़ के, दूर को पास बुलाये
जिया लागे ना तुम बिन मोरा

क्या जाने क्यों हैं, क्या जाने कैसी
अनदेखी सी डोर
जो खैंचती है, जो ले चली है
अब यूँ मुझे तेरी ओर

मैं अंजानी, हूँ वो कहानी
होगी ना जो पूरी
पास आओगे, तो पाओगे
फिर भी है इक दूरी
जिया लागे ना...

मन अब तक जो, बूझ ना पाया
तुम वो पहेली हो
कोई ना जाने, क्या वो रहस है
जिसकी सहेली हो

मैं मुस्काऊं, सबसे छुपाऊं
ब्याकुल हूँ दिन रैन
कब से ना आयी, नैनों में निंदिया
मन में ना आया चैन
जिया लागे ना...


रूठे ख़्वाबों को मना लेंगे - Roothe Khwabon Ko Mana Lenge (Amit Trivedi)



Movie/Album: काई पो छे (2013)
Music By: अमित त्रिवेदी
Lyrics By: स्वानंद किरकिरे
Performed By: अमित त्रिवेदी

रूठे ख़्वाबों को मना लेंगे
कटी पतंगों को थामेंगे
हो हो है जज़्बा, हो हो है जज़्बा
सुलझा लेंगे उलझे रिश्तों का मांझा

सोयी तकदीरें जगा देंगे
कल को अम्बर भी झुका देंगे
हो हो है जज़्बा, हो हो है जज़्बा
सुलझा लेंगे उलझे रिश्तों का मांझा

हो हो बर्फीली आँखों में
पिघला सा देखेंगे हम कल का चेहरा
हो हो पथरीले सीने में
उबला सा देखेंगे हम लावा गहरा
अगन लगी, लगन लगी
टूटे ना टूटे ना जज़्बा ये टूटे ना
मगन लगी, लगन लगी
कल होगा क्या
कह दो किसको है परवाह
रूठे ख़्वाबों को मना लेंगे..


मुख़्तसर - Mukhtasar (Wajid, Teri Meri Kahani)



Movie/Album: तेरी मेरी कहानी (2012)
Music By: साजिद-वाजिद
Lyrics By: प्रसून जोशी
Performed By: वाजिद अली

मुख़्तसर मुलाक़ात है
अनकही कोई बात है
फिर रात की शैतानियाँ
या अलग, ये जज़्बात है
मुख़्तसर...

मौसम ये कहता है, भीगे अंधेरों में
डुबकी लगाते हैं ना
पर मुझको लगता है, मैं रोक लूं खुद को
एहसास है ये नया
क्या हुआ, मैं हूँ बेखबर
है नया सा, सुहाना असर
जीत है या मात है
मुख़्तसर मुलाकात है...

ये तो सुना था, के कुछ ऐसा होता है
पर मुझको भी हो गया
मेरी तो दुनिया बिलकुल अलग थी
अंदाज़ वो खो गया
देखना, डूबना हो गया
डूबना, तैरना हो गया
क्या असर मेरे साथ है
मुख़्तसर मुलाक़ात है...


तुम ही हो - Tum Hi Ho (Aashiqui 2, Arijit Singh)



Movie/Album: आशिकी २ (2013)
Music By: मिथुन
Lyrics By: मिथुन
Performed By: अरिजीत सिंह

हम तेरे बिन अब रह नहीं सकते
तेरे बिना क्या वजूद मेरा
तुझसे जुदा गर हो जाएँगे
तो खुद से ही हो जाएंगे जुदा
क्योंकि तुम ही हो
अब तुम ही हो
ज़िन्दगी अब तुम ही हो
चैन भी, मेरा दर्द भी
मेरी आशिकी अब तुम ही हो

तेरा मेरा रिश्ता है कैसा
इक पल दूर गंवारा नहीं
तेरे लिए हर रोज़ हैं जीते
तुझको दिया मेरा वक़्त सभी
कोई लम्हा मेरा न हो तेरे बिना
हर सांस पे नाम तेरा
क्योंकि तुम ही हो...

तेरे लिए ही जिया मैं
खुद को जो यूँ दे दिया है
तेरी वफ़ा ने मुझको संभाला
सारे ग़मों को दिल से निकाला
तेरे साथ मेरा है नसीब जुड़ा
तुझे पा के अधूरा ना रहा
क्योंकि तुम ही हो...


बड़ी धीरे जली - Badi Dheere Jali (Rekha Bhardwaj, Ishqiya)



Movie/Album: इश्किया (2010)
Music By: विशाल भारद्वाज
Lyrics By: गुलज़ार
Performed By: रेखा भारद्वाज

बड़ी धीरे जली रैना, धुआं धुआं नैना
रातों से हौले हौले, खोली है किनारी
अँखियों ने तागा तागा भोर उतारी
खारी अँखियों से धुआं जाए ना

पलकों पे सपनों की अग्नि उठाये
हमने दो अँखियों के आलने जलाये
दर्द ने कभी लोरियाँ सुनाई तो
दर्द ने कभी नींद से जगाया रे
बैरी अँखियों से ना जाए धुआं जाए ना
बड़ी धीरे जली...

जलते चरागों में अब नींद ना आये
फूँकों से हमने सब तारे बुझाए
जाने क्या खली रात की पिटारी से
खोले तो कोई भोर की किनारी रे
सूजी अँखियों से ना जाए धुआं जाए ना
बड़ी धीरे जली...


तुझ संग लगी - Tujh Sang Lagi (MM Kreem, KK, Special 26)



Movie/Album: स्पेशल २६ (2013)
Music By: एम.एम.क्रीम
Lyrics By: इरशाद कामिल
Performed By: के.के., एम.एम.क्रीम

रब रूठे या जग छूटे
जां रूठे या ज़हन ये छूटे
यार मेरे, ऐतबार मेरे
पर तुझ संग लगी
तुझ संग लगी
लगी  ना छूटे
तुझ संग लगी

मांग लिया है सब कुछ मैंने
मांग लिया है जब तुझको
प्यार वफ़ा का काशी काबा
मान लिया है अब तुझको
ये भी पता है सच तु ही है
लोग हैं सारे बस झूठे
यार मेरे, ऐतबार मेरे...

ख़ाक बना दे अब तु चाहे
पाक बना दे चाहे तु
उफ़ ना करूँगा भूले से भी
अब मैं हवाले तेरे हूँ
हो ईद सा होगा वो पल जब तु
प्यार से मेरा सब लुटे
यार मेरे, ऐतबार मेरे...


कौन मेरा - Kaun Mera (Chaitra, Sunidhi, Papon, Special 26)



Movie/Album: स्पेशल २६ (2013)
Music By: एम.एम.क्रीम
Lyrics By: इरशाद कामिल
Performed By: चैत्रा अम्बदिपुदी, सुनिधि चौहान, पैपॉन

Male:
कौन मेरा, मेरा क्या तु लागे
क्यूँ तू बांधे, मन के मन से धागे
बस चले ना क्यूँ मेरा तेरे आगे
कौन मेरा...

ढूंढ ही लोगे मुझे तुम हर जगह अब तो
मुझको खबर है
हो गया हूँ तेरा जब से मैं हवा में हूँ
तेरा असर है
तेरे पास हूँ एहसास में, मैं याद में तेरी
तेरा ठिकाना बन गया अब सांस में मेरी
कौन मेरा...

Female:
कौन मेरा, मेरा क्या तु लागे?
क्यूँ तू बांधे, मन के मन से धागे
बस चले ना क्यूँ मेरा तेरे आगे
कौन मेरा...

छोड़ कर ना तु कहीं भी
दूर अब जाना, तुझको कसम है
साथ रहना जो भी है तु
झूठ या सच है, या भरम है
अपना बनाने का जतन कर ही चुके अब तो
बैय्याँ पकड़ कर आज चल, मैं दूं बता सबको
कौन मेरा...


मुझ में तु - Mujh Mein Tu (Keerthi Sagathia, Special 26)



Movie/Album: स्पेशल २६ (2013)
Music By: एम.एम.क्रीम
Lyrics By: इरशाद कामिल
Performed By: कीर्ती सगाथिया

मुझ में तु, तु ही तु बसा
नैनों में जैसे ख़्वाब सा
जो तु ना हो तो पानी पानी नैना
जो तु ना हो तो मैं भी हूँगा मैं ना
तुझी से मुझे सब अता
मुझ में तु...

इश्क आशिकी में, कुछ लोग छांटता है
ज़ख्म बांटता है, उन्हें दर्द बांटता है
तोड़ देता है ख़्वाब सारे देखते देखते
कर दे बर्बाद सा
जो तु ना हो तो...

सफर दो कदम है, जिसे इश्क लोग कहते
मगर इश्क वाले, सब सफर में ही रहते
खत्म होता न उम्र भर ही, इश्क का रास्ता
है ये बेहिसाब सा
जो तु न हो तो...


सुन रहा है ना तू - Sun Raha Hai Na Tu (Aashiqui 2, Ankit Tiwari, Shreya Ghoshal)



Movie/Album: आशिकी २ (2013)
Music By:अंकित तिवारी
Lyrics By: संदीप नाथ
Performed By: अंकित तिवारी, श्रेया घोषाल

अपने करम की कर अदाएं
यारा...
मुझको इरादे दे
कसमें दे, वादे दे
मेरी दुआओं के इशारों को सहारे दे
दिल को ठिकाने दे
नए बहाने दे
ख़्वाबों की बारिशों को मौसम के पैमाने दे
अपने करम की कर अदाएं
कर दे इधर भी तू निगाहें

सुन रहा है ना तू
रो रहा है ना तू
सुन रहा है ना तू
क्यूँ रो रहा हूँ मैं

मंजिलें रुसवा हैं
खोया है रास्ता
आये ले जाए
इतनी सी इल्तेजा
ये मेरी ज़मानत है
तू मेरी अमानत है
अपने करम की...
सुन रहा है ना तू...

वक़्त भी ठहरा है
कैसे क्यूँ ये हुआ
काश तू ऐसे आये
जैसे कोई दुआ
तू रूह की राहत है
तू मेरी इबादत है
अपने करम की...
सुन रहा है ना तू...


बादळ उठ्या - Badal Uthiya (Rekha Bhardwaj, Matru Ki Bijlee Ka Mandola)



Movie/Album: मटरू की बिजली का मंडोला (2012)
Music By: विशाल भरद्वाज
Lyrics By: गुलज़ार
Performed By: रेखा भरद्वाज

बादळ उठ्या री सखी
मेरे सासरे की ओढ़ पानी
बरसेगा सिरतोर
बादळ उठ्या...

मोटी मोटी बूँद भटा-भट
कुटण लगे गोड़े से
पाणी के बहा के अगे
बह ग्ये नल के तोड़े से
उत्तर दक्षिण पूरब पश्चिम
हवा के चकोड़े से
जंग्ड़्या के के वाड़ मूंदे
खुल ग्ये ओड़े सोड़े से
किसा पुल टूट्या री सखी
बह ग्ये नदी नाले जोड़ पाणी
बरसेगा सिरतोर
बादळ उठ्या...


संवार लूं - Sawaar Loon (Lootera, Monali Thakur)



Movie/Album: लूटेरा (2013)
Music By: अमित त्रिवेदी
Lyrics By: अमिताभ भट्टाचार्य
Performed By: मोनाली ठाकुर


हवा के झोंके आज मौसमों से रूठ गए
गुलों की शोखियाँ जो भँवरे आके लूट गए
बदल रही है आज ज़िन्दगी की चाल ज़रा
इसी बहाने क्यूँ ना मैं भी दिल का हाल ज़रा
संवार लूं, हाय संवार लूं

बरामदे पुराने हैं नयी सी धुप है
जो पलके खटखटा रहा है किसका रूप है
शरारतें करे जो ऐसे भूलके हिजाब
कैसे उसको नाम से, मैं पुकार लूं
संवार लूं, संवार लूं…

ये सारी कोयलें बनी हैं आज डाकिया
कुहू-कुहू में चिट्ठियां पढ़े मजाकिया
इन्हें कहो की ना छुपाये
किसने है लिखा बताए
उसकी आज मैं नज़र उतार लूं
संवार लूं, संवार लूं…



दरमियाँ - Darmiyaan (Shafqat Amanat Ali Khan, Jodi Breakers)



Movie/Album: जोड़ी ब्रेकर्स (2012)
Music By: सलीम-सुलैमान
Lyrics By: इरशाद क़ामिल
Performed By: शफ्कत अमानत अली खान, क्लिंटन सेरेजो

लफ़्ज़ों से जो था परे
खालीपन को जो भरे
कुछ तो था तेरे मेरे
दरमियाँ
रिश्ते को क्या मोड़ दूं
नाता ये अब तोड़ दूं
या फ़िर यूँ ही छोड़ दूं
दरमियाँ
बेनाम रिश्ता वो
बेचैन करता जो
हो ना सके जो बयां
दरमियाँ
कुछ तो था तेरे मेरे
दरमियाँ

आँखों में तेरे साये
चाहूँ तो हो ना पाए
यादों से तेरी फासला
जा के भी तु ना जाये
ठहरी तू दिल में हाय
हसरत सी बन के क्यूँ भला
क्यूँ याद करता हूँ
मिटता हूँ, बनता हूँ
मुझको तू लायी ये कहाँ
बेनाम रिश्ता...
दरमियाँ...

चलते थे जिनपे हम-तुम
रास्ते वो सारे हैं गुम
अब ढूँढूँ कैसे मंजिलें
रातें हैं जैसे मातम
आते हैं दिन भी गुमसुम
रूठी हैं सारी महफ़िलें
इतना सताओ ना
यूँ याद आओ आना
बन जाये आँसू ही जुबां
बेनाम रिश्ता...
दरमियाँ...


All lyrics are property and copyright of their owners. All the lyrics are provided for educational purposes only. Copyright © Lyrics In Hindi | Powered by Blogger Design by ronangelo | Blogger Theme by NewBloggerThemes.com