Aap Ki Kasam लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
Aap Ki Kasam लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

करवटें बदलते रहे - Karvatein Badalte Rahe (Lata Mangeshkar, Kishore Kumar, Aap Ki Kasam)



Movie/Album: आप की कसम (1974)
Music By:
आर.डी.बर्मन
Lyrics By: आनंद बक्षी
Performed By: लता मंगेशकर, किशोर कुमार

करवटें बदलते रहे सारी रात हम
आप की क़सम
ग़म न करो दिन जुदाई के बहुत हैं कम
आप की क़सम

याद तुम आते रहे, इक हूक़ सी उठती रही
नींद मुझसे, नींद से मैं, भागती छुपती रही
रात भर बैरन निगोड़ी चाँदनी चुभती रही
आग सी जलती रही, गिरती रही शबनम
आप की क़सम...

झील सी आँखों में आशिक़, डूब के खो जायेगा
ज़ुल्फ़ के साये में, दिल अरमां भरा सो जायेगा
तुम चले जाओ नहीं तो, कुछ न कुछ हो जायेगा
डगमगा जायेंगे ऐसे हाल में क़दम
आप की क़सम...

रूठ जायें हम तो तुम हमको मना लेना सनम
दूर हों तो पास हमको, तुम बुला लेना सनम
कुछ गिला हो तो गले हमको लगा लेना सनम
टूट न जाये कभी ये प्यार की क़सम
आप की क़सम...


सुनो कहो कहा सुना - Suno Kaho Kaha Suna (Kishore Kumar, Lata Mangeshkar, Aap Ki Kasam)



Movie/Album: आप की कसम (1974)
Music By:
आर.डी.बर्मन
Lyrics By: आनंद बक्षी
Performed By: लता मंगेशकर, किशोर कुमार

सुनो, कहो
कहा, सुना
कुछ हुआ क्या?
अभी तो नहीं, कुछ भी नहीं
चली हवा
झुकी घटा
कुछ हुआ क्या?
अभी तो नहीं, कुछ भी नहीं

तेरी क़सम ये दिलकश नज़ारे
करते हैं इशारे जो समझे कोई
मेरे सनम ये खमोश आँखें
भी करती हैं बातें जो समझे कोई
समझा नहीं तुम समझा दो
अरे सुनो, कहो, कहा, सुना...

बस जो चले तो सुबह से लेकर
रहूं शाम तक मैं तेरे संग में
गर हो सके तो मैं अपने दिलबर
तेरा नाम लिख दूँ हर इक रंग में
बातों में ना उलझाओ
अरे सुनो, कहो, कहा, सुना...

अच्छा कभी फिर बात छेड़ेंगे
मर्ज़ी नहीं है तुम्हारी अभी
कुछ हो गया तो बड़ी होगी मुशकिल
कि छोटी उमर है हमारी अभी
मैं क्या करूँ, बतला दो
सुनो, कहो, कहा, सुना...

(ज़रा सा कुछ हुआ तो है...)


चोरी चोरी चुपके चुपके - Chori Chori Chupke Chupke (Lata Mangeshkar, Aap Ki Kasam)



Movie/Album: आप की कसम (1974)
Music By: आर.डी.बर्मन
Lyrics By: आनंद बक्षी
Performed By: लता मंगेशकर

चोरी चोरी चुपके चुपके
पलकों के पीछे से छुपके
कह गई सारी बतियाँ
अँखियाँ, दो अँखियाँ
ये अँखियाँ, दो अँखियाँ

होंठों पर था लाज का पहरा
धड़क गया ये दिल न ठहरा
बन गई प्रेम की पतियाँ
अँखियाँ, हो अखियाँ...

लाख छुपाये मीरा रानी
मनमोहन की प्रेम दीवानी
जान गई, जान गई, जान गई
जान गई सब सखियाँ
अँखियाँ, हो अँखियाँ...

आने को तो नींद भी आई
कुछ न पूछो राम दुहाई
जागी सारी रतियाँ
अँखियाँ, हो अँखियाँ...


All lyrics are property and copyright of their owners. All the lyrics are provided for educational purposes only. Copyright © Lyrics In Hindi | Powered by Blogger Design by ronangelo | Blogger Theme by NewBloggerThemes.com