Aditi Singh Sharma लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
Aditi Singh Sharma लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

सूरज डूबा है - Sooraj Dooba Hai (Arijit Singh, Aditi Singh Sharma, Roy)



Movie/Album: रॉय (2015)
Music By: अमाल मलिक
Lyrics By: कुमार
Performed By: अरिजीत सिंह, अदिति सिंह शर्मा

मतलबी हो जा ज़रा मतलबी
दुनिया की सुनता है क्यों
ख़ुद की भी सुन ले कभी
कुछ बात ग़लत भी हो जाए
कुछ देर ये दिल भी खो जाए
बेफिकर धड़कनें, इस तरह से चले
शोर गूंजे यहाँ से वहाँ

सूरज डूबा है यारों
दो घूँट नशे के मारो
रस्ते भुला दो सारे घरबार के
सूरज डूबा है यारों
दो घूँट नशे के मारो
ग़म तुम भुला दो सारे संसार के

Ask me for anything
I can give you everything
रस्ते भुला दे सारे संसार के
Ask me for anything
I can give you everything
ग़म तुम भुला दो सारे संसार के

अता-पता रहे ना किसी का हमें
यही कहे ये पल ज़िन्दगी का हमें
के ख़ुदग़र्ज़ सी, ख्वाहिश लिए
बे-सांस भी हम तुम जियें
है गुलाबी गुलाबी समां 
सूरज डूबा है यारों...

चले नहीं, उड़े आसमां पे अभी
पता न हो, है जाना कहाँ पे अभी
कि बेमंज़िलें, हो सब रास्ते
दुनिया से हो ज़रा फासले
कुछ खुद से भी हो दूरियां
सूरज डूबा है यारों...


मीत - Meet (Arijit Singh, Aditi Singh Sharma, Simran)



Movie/Album: सिमरन (2017)
Music By: सचिन-जिगर
Lyrics By: प्रिया सरैय्या
Performed By: अरिजीत सिंह, अदिति सिंह शर्मा

कोरे से पन्ने जैसे ये दिल ने
कोई गज़ल पायी
पहली बारिश इस ज़मी पे
इश्क ने बरसाई
हर नज़र में ढूँढी जो थी
तुझमें पाई वफ़ा
जान मेरी बन गया तू
जान मैंने लिया
तू ही मेरा मीत है जी
तू ही मेरी प्रीत है जी
जो लबों से हो सके ना जुदा
ऐसा मेरा गीत है जी
तू ही मेरा मीत है...

खोलूँ जो आँखें सुबह को मैं
चेहरा तेरा ही पाऊँ
ये तेरी नर्म सी धूप में अब से
जहां ये मेरा सजाऊँ
ज़रा सी बात पे जब हँसती(ता) है तू
हँसती है मेरी ज़िन्दगी
तू ही मेरा मीत है...


छूमंतर - Choomantar (Aditi Singh Sharma, Benny Dayal, Mere Brother Ki Dulhan)



Movie/Album: मेरे ब्रदर की दुल्हन (2011)
Music By: सोहेल सेन
Lyrics By: इरशाद कामिल
Performed By: अदिती सिंह शर्मा, बेन्नी दयाल

छूमंतर, छूमंतर, छूमंतर, छूमंतर
छूमंतर हो आजा चल गुम हो जाएँ
छूमंतर हो खुद से ही खुद खो जाएँ
छूमंतर हो नज़रो में हम ना आएँ
ढूंढे जहां, हम भी ना जाने हम है कहाँ
छू ले ज़मीं से वो आसमाँ
चलो रे ओ रे लो रे ओ रे, चलो रे ओ रे

थोड़ी सी यारी यारा राहों से निभा ले
अपने पे भी तो कभी अपनी चला ले
हम चलें कहीं, आवारा हो कर नापें ज़मीं
हम ढूँढे कहीं, कुछ ऐसा जो खोया ही नहीं
छूमंतर हो आजा...

पलकों की डाली पे जो सपने लगे हैं
ख्वाइशों की गर्मी से वो पकने लगे हैं
रुको ज़रा, देखें तो क्या है ये माजरा
सभी तरह ख्वाइशों से है ये दिल भरा
छूमंतर हो आजा...


All lyrics are property and copyright of their owners. All the lyrics are provided for educational purposes only. Copyright © Lyrics In Hindi | Powered by Blogger Design by ronangelo | Blogger Theme by NewBloggerThemes.com