Amit Khanna लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
Amit Khanna लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

जब छाये मेरा जादू - Jab Chhaye Mera Jaadu (Asha Bhosle, Loot Maar)



Movie/Album: लूट मार (1980)
Music By:
राजेश रोशन
Lyrics By:
अमित खन्ना
Performed By: आशा भोंसले

जब छाये मेरा जादू
कोई बच न पाये, हाय!

फूलों की नरमी हूँ मैं
शोलों की गर्मी हूँ मैं
तूफ़ानों की हलचल हूँ
हवाओं का आँचल हूँ मैं
जो ढूँढे वो पाये
फिर भी हाथ न आये, हा!
जब छाये मेरा जादू...

कभी मैं दर्द जगाती हूँ
कभी मैं ज़ख़्म मिटाती हूँ
कभी मैं राज़ छुपाती हूँ
कभी ख़ुद राज़ बन जाती हूँ
दुल टूटे, हाँ साथ छूटे
फिर भी तू पीछे आये, हा!
जब छाए मेरा जादू...

मुझसे तुम टकराना ना
आके यहाँ पछताना ना
मेरा बदन पिघला सोना
जान भी जाये खबर हो न
ये मस्ती, नहीं सस्ती
दिलवाला ही बोली लगाये, हाय!
जब छाए मेरा जादू...


का करूँ सजनी - Ka Karun Sajni (Yesudas, Swami)



Movie/Album: स्वामी (1977)
Music By: राजेश रोशन
Lyrics By: अमित खन्ना
Performed By: येसुदास

का करूँ सजनी, आए न बालम
खोज रही हैं पिया परदेसी अँखियाँ
आए न बालम

जब भी कोई, आहट होए, मनवा मोरा भागे
देखो कहीं, टूटे नहीं, प्रेम के ये धागे
है मतवारी प्रीत हमारी, छुपे न छुपाए, छुपे न छुपाए
सावन हो तुम, मैं हूँ तोरी बदरिया
आये न बालम
का करूँ सजनी...

भोर भई और, साँझ ढली रे, समय ने ली अंगड़ाई
ये जग सारा, नींद से हारा, मोहे नींद न आई
मैं घबराऊँ, डर डर जाऊँ, आए वो न आए, आए वो न आए
राधा बुलाए कहाँ खोए हो कन्हैय्या
आए न बालम
का करूँ सजनी...


मधुबन खुशबू देता है - Madhuban Khushboo Deta Hai (Yesudas, Anuradha, Hemlata)



Movie/Album: साजन बिन सुहागन (1978)
Music By:
उषा खन्ना
Lyrics By:
अमित खन्ना
Performed By: येसुदास, अनुराधा पौडवाल, हेमलता

मधुबन खुशबू देता है, सागर सावन देता है
जीना उसका जीना है, जो औरों को जीवन देता है
मधुबन खुशबू देता है...

सूरज न बन पाए तो, बन के दीपक जलता चल
फूल मिले या अँगारे, सच की राहों पे चलता चल
प्यार दिलों को देता है, अश्कों को दामन देता है
जीना उसका जीना है, जो औरों को जीवन देता है
मधुबन खुशबू देता है...

चलती है लहरा के पवन, के साँस सभी की चलती रहे
लोगों ने त्याग दिये जीवन, के प्रीत दिलों में पलती रहे
दिल वो दिल है जो औरों को, अपनी धड़कन देता है
जीना उसका जीना है, जो औरों को जीवन देता है
मधुबन खुशबू देता है...


सा रे ग म प म ग रे - Sa Re Ga Ma Pa Ma Ga Re (Kishore, Lata, Man Pasand)



Movie/ Album: मन पसंद (1980)
Music By: राजेश रोशन
Lyrics By: अमित खन्ना
Performed By: किशोर कुमार, लता मंगेशकर

सा रे ग म प म ग रे सा, गाओ
सा रे ग म प म ग रे सा
सा रे ग म प म ग रे सा ग, सा ग, फिर से गाओ
सा रे ग म प म ग रे सा ग, सा ग
शाब्बास!

सा रे ग म प म ग रे सा ग, सा ग
रे ग म प म ग रे स, रे प, रे प
प ध नी स नी ध प म, म ध, ग ध प, नी स

आवाज़ सुरीली का, जादू ही निराला है
संगीत का जो प्रेमी, वो किस्मत वाला है
तेरे-मेरे, मेरे-तेरे सपने-सपने
सच हुए देखो सारे अपने-सपने
फिर मेरा मन ये बोला, बोला, बोला
क्या?
सा रे ग म प म ग रे...

चारु चंद्र की चंचल चितवन बिन बदरा बरसे सावन
मेघ मल्हार मधुर मन भावन पवन पिया प्रेमी पावन
चल, चाँद-सितारों को, ये गीत सुनाते हैं
हम धूम मचाकर आज, सोया जहां जगाते हैं
हम-तुम, तुम-हम गुमसुम-गुमसुम
झिलमिल-झिलमिल, हिलमिल-हिलमिल
तू मोती मैं माला, माला, ला ला

अरमान भरे दिल की धड़कन भी बधाई दे
अब धुन मेरे जीवन की कुछ सुर में सुनाई दे
रिमझिम-रिमझिम, छमछम-गुनगुन
तिल-तिल, पल-पल, रुमझुम-रुमझुम
मनमंदिर में पूजा, पूजा, आहा
सा रे ग म प म ग रे...


वो बीते दिन याद हैं - Wo Beete Din Yaad Hain (Asha Bhosle, Ajit Singh, Purana Mandir)



Movie/Album: पुराना मंदिर (1984)
Music By: अजित सिंह
Lyrics By: अमित खन्ना
Performed By: आशा भोंसले, अजित सिंह

अजित सिंह

वो बीते दिन याद हैं, वो पल छिन याद हैं
गुज़ारे तेरे संग जो, लगाके तुझे अंग जो
वो मुस्काना तेरा, वो शरमाना तेरा
दिसम्बर का समां, वो भीगी-भीगी सर्दियाँ
वो मौसम क्या हुआ, ना जाने कहाँ खो गया
बस यादें बाकी...

वो बातें सब याद हैं, वो रातें सब याद हैं
बिताई तेरे संग जो, लगा के तुझे अंग जो
मुझसे लिपटना तेरा, पलकें झुकाना तेरा
अभी है दिल में मेरे होठों की वो नर्मियां
आग लगा के तुम ना जाने कहाँ खो गए
बस यादें बाकी...

आशा भोंसले
वो बीते दिन याद हैं, वो पल छिन याद हैं
गुज़ारे तेरे संग जो, लगा के तुझे अंग जो
बाहों में तेरी सिमटना वो मेरा
ज़ुल्फों में मेरी लिपटना वो तेरा
समय सब ले गया, बस यादें दे गया
क्यों टूटे सपनें

वो गुज़री ज़िन्दगी, तेरी-मेरी ख़ुशी
मोहब्बत का जहां, वो चाहत का समां
सरकती चिलमनें, दहकती धड़कनें
वो नगमें साथ-साथ, जो हमने थे बुने
वो थक के सो गये, हवा में खो गये
क्यों टूटे सपनें

वो बीते दिन याद हैं, वो पल छिन याद हैं
गुज़ारे तेरे संग जो, लगा के तुझे अंग जो
दूरी भी नहीं, मगर हम दूर हैं
यादों से बंधे हम मजबूर हैं
क्या खोया क्या मिला, करें अब क्या गिला
क्यों टूटे सपनें


All lyrics are property and copyright of their owners. All the lyrics are provided for educational purposes only. Copyright © Lyrics In Hindi | Powered by Blogger Design by ronangelo | Blogger Theme by NewBloggerThemes.com