Amit Trivedi लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
Amit Trivedi लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

गुस्ताख दिल - Gustakh Dil (Amit Trivedi, Shilpa Rao, English Vinglish)



Movie/Album: इंग्लिश विन्ग्लिश (2012)
Music By: अमित त्रिवेदी
Lyrics By: स्वानंद किरकिरे
Performed By: अमित त्रिवेदी, शिल्प राव

गुस्ताख दिल, दिल में मुश्किल, मुश्किल में दिल
गुस्ताख दिल, थोड़ा संगदिल, थोड़ा बुजदिल
दर्द के दर पे, ठहरा है क्यूँ
सज़ा-सज़ा ये खुद को क्यूँ देता नहीं
हँसने की धुन में, रोता है क्यूँ
सही क्या, गलत क्या, ये कुछ भी समझता नहीं
गुस्ताख दिल...

है बर्फ सी सांसों में, आँखों में धुआं-धुआं
ये हर पल क्यूँ, खेले है, ग़म का, ख़ुशी का, जुआ-जुआ
ये उम्मीदों भरा, ये खुद से ही डरा
सुलझे धागों में, उलझा है क्यूँ
सलाहें-सलाहें ये खुद की भी सुनता नहीं
गुस्ताख दिल...

क्यूँ बातों ही बातों में फिसलती है, ज़ुबां-ज़ुबां
किसी शय ना, ठहरती है, बहकती है, निगाह निगाह
ये कैसे कब हुआ, ये कह दूँ क्यूँ हुआ
गिरता नहीं तो, संभालता है क्यूँ
झुकाए-झुकाए ये मगरूर झुकता नहीं
गुस्ताख दिल...


धाक धूक - Dhak Dhuk (Amit Trivedi, English Vinglish)



Movie/Album: इंग्लिश विन्ग्लिश (2012)
Music By: अमित त्रिवेदी
Lyrics By: स्वानंद किरकिरे
Performed By: अमित त्रिवेदी

पिया बिन दिल लगे ना
एक पल को मन मा लागे ठेस
कैसे जाऊं मैं पराये देस
पिया मोरे निठुरा, पिया न समझे
मन का ये संदेस
कैसे जाऊं मैं पराये देस
जियरा जियरा
जियरा धाक धूक होए
खामखां खामखां
खामखां धाक धूक होए
जियरा धाक धूक होए

कभी दिल धड़के, बायीं आँख फड़के
तु न हमें भूल जाए रे
तुझे दिल जाने, पूरा पहचाने
नैना ये फिसल ना जाए रे
सहमी सी पलकें, मोती एक छलके
के तेरा ज़िक्र जब भी आये
थोड़ी फ़िक्र छू के जाए
हाय होये हाय
जियरा धाक धूक...

ये दिन रातें, तीखी तेरी बातें
क्या करे जो याद आये रे
तेरे ताने बाने, छूने के बहाने
दिल को बड़ा सताए रे
क्यों न हमें रोके, एक बार टोके
के तेरा ज़िक्र जब भी आये
थोड़ी फ़िक्र छू के जाए
हाय होये हाय
जियरा धाक धूक...


रूठे ख़्वाबों को मना लेंगे - Roothe Khwabon Ko Mana Lenge (Amit Trivedi)



Movie/Album: काई पो छे (2013)
Music By: अमित त्रिवेदी
Lyrics By: स्वानंद किरकिरे
Performed By: अमित त्रिवेदी

रूठे ख़्वाबों को मना लेंगे
कटी पतंगों को थामेंगे
हो हो है जज़्बा, हो हो है जज़्बा
सुलझा लेंगे उलझे रिश्तों का मांझा

सोयी तकदीरें जगा देंगे
कल को अम्बर भी झुका देंगे
हो हो है जज़्बा, हो हो है जज़्बा
सुलझा लेंगे उलझे रिश्तों का मांझा

हो हो बर्फीली आँखों में
पिघला सा देखेंगे हम कल का चेहरा
हो हो पथरीले सीने में
उबला सा देखेंगे हम लावा गहरा
अगन लगी, लगन लगी
टूटे ना टूटे ना जज़्बा ये टूटे ना
मगन लगी, लगन लगी
कल होगा क्या
कह दो किसको है परवाह
रूठे ख़्वाबों को मना लेंगे..


संवार लूं - Sawaar Loon (Lootera, Monali Thakur)



Movie/Album: लूटेरा (2013)
Music By: अमित त्रिवेदी
Lyrics By: अमिताभ भट्टाचार्य
Performed By: मोनाली ठाकुर


हवा के झोंके आज मौसमों से रूठ गए
गुलों की शोखियाँ जो भँवरे आके लूट गए
बदल रही है आज ज़िन्दगी की चाल ज़रा
इसी बहाने क्यूँ ना मैं भी दिल का हाल ज़रा
संवार लूं, हाय संवार लूं

बरामदे पुराने हैं नयी सी धुप है
जो पलके खटखटा रहा है किसका रूप है
शरारतें करे जो ऐसे भूलके हिजाब
कैसे उसको नाम से, मैं पुकार लूं
संवार लूं, संवार लूं…

ये सारी कोयलें बनी हैं आज डाकिया
कुहू-कुहू में चिट्ठियां पढ़े मजाकिया
इन्हें कहो की ना छुपाये
किसने है लिखा बताए
उसकी आज मैं नज़र उतार लूं
संवार लूं, संवार लूं…



मोन्टा रे - Monta Re (Swanand Kirkire, Amitabh Bhattacharya, Lootera)



Movie/Album: लूटेरा (2013)
Music By: अमित त्रिवेदी
Lyrics By: अमिताभ भट्टाचार्य
Performed By: स्वानंद किरकिरे, अमिताभ भट्टाचार्य

कागज़ के दो पंख लेके, उड़ा चला जाए रे
जहाँ नहीं जाना था ये, वहीँ चला हाय रे
उमर का ये ताना-बाना समझ ना पाए रे
जुबां पे जो मोह-माया, नमक लगाये रे
के देखे ना, भाले ना, जाने ना दाये रे
दिशा हारा कैमोन बोका, मोन्टा रे! (Foolish Mind Has Lost Its Direction)

फ़तेह करे किले सारे, भेद जाए दीवारें
प्रेम कोई सेंध लागे
अगर मगर बारी बारी, जिया को यूँ उछाले
जिया नहीं गेंद लागे
माटी को ये चंदन सा, माथे पे सजाये रे
जुबां पे जो मोह-माया...


मनमर्ज़ियाँ - Manmarziyan (Amit Trivedi, Amitabh Bhattacharya, Shilpa Rao, Lootera)



Movie/Album: लूटेरा (2013)
Music By: अमित त्रिवेदी
Lyrics By: अमिताभ भट्टाचार्य
Performed By: अमिताभ भट्टाचार्य, अमित त्रिवेदी, शिल्पा राव

यूँ तो सोलह सावन आये गये
गौर नहीं किया हमने
भीगा मन का आँगन इस मर्तबा
क्या जाने क्या किया तुमने

दिल में जागी, इश्क वाली
मनमर्ज़ियाँ, मनमर्ज़ियाँ
ज़िद्द की मारी, भोली भाली
मनमर्ज़ियाँ, मनमर्ज़ियाँ

अब तलक से, कुछ अलग सी
मनमर्ज़ियाँ, मनमर्ज़ियाँ
हम ज़मीन पे, तो फलक से
मनमर्ज़ियाँ, मनमर्ज़ियाँ

सिक्कों जैसे, है उछाली
मनमर्ज़ियाँ, मनमर्ज़ियाँ
ज़िद्द की मारी, भोली भाली
मनमर्ज़ियाँ, मनमर्ज़ियाँ

बे-अदब सी, पर गज़ब सी
मनमर्ज़ियाँ, मनमर्ज़ियाँ
होश खोया, पर संभाली
मनमर्ज़ियाँ, मनमर्ज़ियाँ


ज़िन्दा हूँ यार - Zinda Hoon Yaar (Amit Trivedi, Lootera)



Movie/Album: लूटेरा (2013)
Music By: अमित त्रिवेदी
Lyrics By: अमिताभ भट्टाचार्य
Performed By: अमित त्रिवेदी

मुझे छोड़ दो मेरे हाल पे
जिंदा हूँ यार, काफी है

हवाओं से जो माँगा हिस्सा मेरा
तो बदले में हवा ने सांस दी
अकेलेपन से छेड़ी जब गुफ्तगू
मेरे दिल ने आवाज़ दी
मेरे हाथों, हुआ जो किस्सा शुरू
उसे पूरा तो करना है मुझे
कब्र पर मेरे सर उठा के खड़ी हो ज़िन्दगी
ऐसे मरना है मुझे
कुछ माँगना बाक़ी नहीं
जितना मिला काफी है
जिंदा हूँ यार...


शिकायतें - Shikayatein (Amitabh Bhattacharya, Mohan Kannan, Lootera)



Movie/Album: लूटेरा (2013)
Music By: अमित त्रिवेदी
Lyrics By: अमिताभ भट्टाचार्य
Performed By: अमिताभ भट्टाचार्य, मोहन कन्नन

शिकायतें मिटाने लगी
<सुबह बेदाग़ है, सुबह बेदाग़ है>
जो बर्फ को गलाने लगी
<कहीं तो आग है, कहीं तो आग है>

ना उड़ने की इस दफा ठानी
परिंदों ने भी वफ़ा जानी
अँधेरे को बाहों में लेके
उजाले ने घर बसाया है
चुराया था जो चुकाया है
शिकायतें मिटाने लगी...

<एक जीत तू है, एक हार मैं हूँ
हार जीत जोड़े, जो तार मैं हूँ>

बताएँ बिन गलतियां गिनाएँ
सितारे जब भी सदा सुलाएँ
लुटेरों को बागबां बनाएँ
नसीबों की बात है

ज़मीर की कहानी है ये
<यही बैराग है, यही बैराग है>
शिकायतें मिटाने लगी...


किनारे - Kinaare (Mohan Kannan, Queen)



Movie/Album: क्वीन (2014)
Music By: अमित त्रिवेदी
Lyrics By: अन्विता दत्त गुप्तन
Performed By: मोहन कन्नन

ढूंढे हर इक सांस में, डुबकियों के बाद में
हर भंवर के पास
किनारे
बह रहे जो साथ में, जो हमारे खास थे
कर गये अपनी बात
किनारे

गर माझी सारे साथ में
गैर हो भी जायें
तो खुद ही तो पतवार बन
पार होंगे हम
जो छोटी सी हर इक नहर
सागर बन भी जाये
कोई तिनका लेके हाथ में
ढूंढ लेंगे हम किनारे
किनारे, किनारे...

खुद ही तो हैं हम, किनारे
कैसे होंगे कम, किनारे
हैं जहाँ हैं हम, किनारे
खुद ही तो हैं हम
हाँ, खुद ही तो हैं हम

औरों से क्या, खुद ही से पूछ लेंगे राहें
यहीं कहीं, मौज़ों में ही, ढूंढ लेंगे हम
बूँदों से ही तो है वहीं, बांध लेंगे लहरें
पैरों तले जो भी मिले, बाँध लेंगे हम
किनारे, किनारे, किनारे...


सुईयां सुईयां सी - Sooiyan Sooiyan Si (Arijit, Chinmayi, Guddu Rangeela)



Movie/Album: गुड्डू रंगीला (2015)
Music By: अमित त्रिवेदी
Lyrics By: इरशाद कामिल
Performed By: अरिजीत सिंह, चिन्मयी श्रीपद

दिल मर्द ज़ात है, बदमाश बात है
सोचो क्या, सोचूँ मैं
सर्दी की रात है, एक आग साथ है
सोचो क्या, सोचूँ मैं
दो लफ़्ज़ों की चिंगारियां, होठों से ना छोड़ो
यूँ बेशर्मी की राह पे, बातों को ना मोड़ो हाय
हो तन में सुईयां सुईयां सी, सुईयां सुईयां सी
अब तो लगी चुभने
हो तन में सुइयां सुइयां सी, सूइयां सूइयां सी
लगी लगी चुभने

तुझे बहती हवा जो सहलाए रे, हाय
दिल जल के धुआँ हो जाए रे
मैं तो खुद से खफ़ा हूँ
मेरी जवानी तेरे ज़रा भी क्यूँ ना
काम आये रे, हाय रे
तरसाए रे, हाय रे
यूँ गलत पते पे चिट्ठियाँ, भेजो ना नैनों की
तुझे महंगा पड़ेगा जो ये, हरकत ना तूने रोकी
हो तन में सुईयां सुईयां सी...

बदमाश साथ है, आगे हवालात है
सोचो क्या, सोचूँ मैं
सर्दी की रात है, एक आग साथ है
सोचो क्या, सोचूँ मैं


साहेबां - Sahebaan (Chinmayi Sripada, Shahid Mallya, Guddu Rangeela)



Movie/Album: गुड्डू रंगीला (2015)
Music By: अमित त्रिवेदी
Lyrics By: इरशाद कामिल
Performed By: चिन्मयी श्रीपद, शाहिद माल्या

मेरा है जो भी तू, साहेबा
था भी तू, है भी तू

चलते चलते उड़ना चाहूँ तुमको लेकर
तुमको ले लूं इस दुनिया से खुद को देकर
मेरा है जो भी तू साहेबां...

जब तक मैं तेरा ना हुआ था
जैसे की हारा सा जुआ था
माटी ये मेरी हुई सोना
तूने जब आँखों से छुआ था
तेरा गहना पहना, तेरे हो के रहना
झूठा है वो इश्का, जिसकी कोई तह ना
तुमसा मैं हुबहू
मेरा है जो भी तू साहेबां...


शुभारम्भ - Shubhaarambh (Shruti Pathak, Divya Kumar, Kai Po Che)



Movie/Album: काई पो छे (2013)
Music By: अमित त्रिवेदी
Lyrics By: स्वानंद किरकिरे, श्रुति पाठक
Performed By: श्रुति पाठक, दिव्या कुमार

रंगी पर उड़ आवे
खुशियों संग लावे
हरखाये हइयो हाय हाय

आशा नी किरणों विखराए
उमंगें वी छलकाए
मन हळवे थी गुनगुनाए
हाय हाय हाय हाय...

हे शुभारंभ, हो शुभारंभ, मंगल बेला आई
सपनों की डेहरी पे दिल की बाजी रे शहनाई
शहनाई, शहनाई...

ख़्वाबों के बीज, कच्ची ज़मीं पे
हमको बोना है
आशा के मोती, साँसों की माला
हमें पिरोना है
अपना बोझ हाँ मिल के साथी, हमको ढोना है
शहनाई...

रास रचील्यो, साज़ सजिल्यो
शुभ घड़ी छे आवी
आजा आजा टमटमाता
शमणा ओ जलावी
ओ लावी...
रंगी पर उड़ आवे
खुशियों संग लावे...

हाँ मज़ा है ज़िन्दगी, नशा है ज़िन्दगी
धीरे-धीरे चढ़ेगी, हो
दुआ दे ज़िन्दगी, बता दे ज़िन्दगी
बात अपनी बनेगी, हो
ख़्वाबों के बीज...
हे रंग लो म्हाराना ए थाई थाई
हे शुभारंभ हो शुभारंभ...


शाम शानदार - Shaam Shaandaar (Amit Trivedi, Shaandaar)



Movie/Album: शानदार (2015)
Music By: अमित त्रिवेदी
Lyrics By: अमिताभ भट्टाचार्य
Performed By: अमित त्रिवेदी

सर झुका के, कर सलाम है
शाम शानदार
आसमां से आ गिरी है
शाम शानदार

चक दे अँधेरा, चाँद जला दे
बल्ब बना के
फ़िक्र ना करियो, करना भी क्या है
बिजली बचा के
सरेआम पिला ख़ुशी के जाम शानदार
आसमां से आ गिरी ये शाम शानदार

जज़्बात के चिल्लर, को नोट बना के
मेहंदी रात पे खुल के लूटा
चिंगारियों को, विस्फोट बना के
अय्याशी के तू रॉकेट छुड़ा
कैसा डर, तू कर गुज़र, ये काम शानदार
आसमां से आ गिरी ये शाम शानदार
ये शाम शानदार...


लव यू ज़िन्दगी - Love You Zindagi (Jasleen, Amit, Alia, Dear Zindagi)



Movie/Album: डिअर ज़िन्दगी (2016)
Music By:
अमित त्रिवेदी
Lyrics By: कौसर मुनीर
Performed By: जसलीन कौर, अमित त्रिवेदी, आलिया भट

जो दिल से लगे
उसे कह दो Hi Hi Hi Hi
जो दिल न लगे
उसे कह दो Bye Bye Bye Bye
आने दो आने दो
दिल में आ जाने दो
कह दो मुस्कुराहट को
Hi Hi...
जाने दे जाने दो
दिल से चले जाने दो
कह दो घबराहट को
Bye Bye...
लव यू ज़िन्दगी
लव यू ज़िन्दगी
लव यू ज़िंदगी
लव मी ज़िंदगी

कभी हाथ पकड़ के तू मेरा
चल दे, चल दे
कभी हाथ छुड़ा के मैं तेरा
चल दूँ, चल दूँ
मैं थोड़ी सी मूडी हूँ
तू थोड़ी सी टेढ़ी है
क्या खूब ये जोड़ी है, तेरी-मेरी
आने दो आने दो...


हंगामा हो गया - Hungama Ho Gaya (Asha, Arijit, Queen)



Movie/Album: क्वीन (2014)
Music By: अमित त्रिवेदी, लक्ष्मीकांत प्यारेलाल
Lyrics By: अन्विता दत्त गुप्तन, वर्मा मलिक
Performed By: आशा भोंसले, अरिजीत सिंह

हाँ हाँ जाम भी है, हाँ हाँ शाम भी है
अरे चोरी नहीं, सारा आम भी है
सबने पी है, मुझपे इल्ज़ाम क्यूँ है
खाम-खाँ मेरा नाम बदनाम क्यूँ है
देखो न लोगों ने, बोतलों की बोतलें
ख़त्म कर दी तो कुछ न हुआ
मगर मगर
मैंने होठों से लगाई तो, हंगामा हो गया
हंगामा हो गया, हंगामा, हंगामा हो गया
मुझे यार ने पिलाई तो, हंगामा हो गया...

गोरों का तूफाँ ये कहता
हमें भी बता क्यूँ रहता
गुफ़ाओं में ये दिल तेरा
शीशे में कहाँ बंद रहता
जुबां पे लगे और कहता है
इस गम को भी पी ले ज़रा
जाने क्यूँ, तू कल दोहराती
कैसी बरफ में तू डूब जाती
O no, you loving me, leaving me
baby will hurt no moon


नवराई माझी - Navraai Maajhi (Sunidhi, Swanand, Natalie, Neelambari, English Vinglish)



Movie/ Album: इंग्लिश विंग्लिश (2012)
Music By: अमित त्रिवेदी
Lyrics By: स्वानंद किरकिरे
Performed By: सुनिधि चौहान, स्वानंद किरकिरे, नताली डी लुशियो, नीलाम्बरी किरकिरे

नवराई माझी लाडाची-लाडाची ग
आवड़ हिला चंद्राची चंद्राची ग
नवराई माझी नवसाची-नवसाची ग
अप्सरा ज(स)शी इंद्राची-इंद्राची ग
नवराई माझी...

बौराई चली शरमाती, घबराती वो
पिया के घर इठलाती, बलखाती वो
सुरमई नैना छलकाती-छलकाती वो
पिया के घर भरमाती, सकुचाती वो

चुनर में इसकी, सितारे
सारे चमकीले, चमकीले, चमकीले
कंगन में इसके, बहारें
पाजेब हरियाले, हरियाले, हरियाले
नवराई माझी...

सुनियो जी इसको रखियो जतन से
ओ बड़ी नाज़ुक है, नाज़ुक है, नाज़ुक
कली ये अनमोल, कली ये अनमोल
आओ जी आओ, ठुमका लगाओ
ज़रा बहको जी, बहको जी, बहको
खुशियों के बाजे ढोल, खुशियों के बाजे ढोल

आँखों में इसके इशारे
बड़े नखरीले, नखरीले, नखरीले
सपनों के लाखों नज़ारें
सारे रंगीले, रंगीले, रंगीले
बौराई चली शरमाती, घबराती वो
पिया के घर...


आज से तेरी - Aaj Se Teri (Arijit Singh, Padman)



Movie/Album: पैडमैन (2018)
Music By: अमित त्रिवेदी
Lyrics By: कौसर मुनीर
Performed By: अरिजीत सिंह

आज से तेरी, सारी गलियाँ मेरी हो गयी
आज से मेरा, घर तेरा हो गया
आज से मेरी, सारी खुशियाँ तेरी हो गयी
आज से तेरा, ग़म मेरा हो गया

ओ तेरे काँधे का जो तिल है
ओ तेरे सीने में जो दिल है
ओ तेरी बिजली का जो बिल है
आज से मेरा हो गया

ओ मेरे ख्वाबों का अम्बर
ओ मेरी खुशियों का समंदर
ओ मेरे पिन कोड का नंबर
आज से तेरा हो गया

तेरे माथे के कुमकुम को
मैं तिलक लगा के घूमूँगा
तेरी बाली की छुन छुन को
मैं दिल से लगा के झूमूँगा
मेरी छोटी सी भूलों
को तू नदिया में बहा देना
तेरे जुड़े के फूलों को
मैं अपनी शर्ट में पहनूँगा
बस मेरे लिए तू मालपूवे
कभी-कभी बना देना
आज से मेरी, सारी रतियाँ तेरी हो गयीं
आज से तेरा, दिन मेरा हो गया
ओ तेरे काँधे का...

तू माँगे सर्दी में अमिया
जो माँगे गर्मी में मूँगफलियाँ
तू बारिश में अगर कह दे
जा मेरे लिए तू धूप खिला
तो मैं सूरज को झटक दूँगा
तो मैं सावन को गटक लूँगा
तो सारे तारों संग चन्दा
मैं तेरी गोद में रख दूँगा
बस मेरे लिए तू खिल के कभी
मुस्कुरा देना
आज से मेरी, सारी सदियाँ तेरी हो गयीं
आज से तेरा, कल मेरा हो गया
हो तेरे काँधे...


मैं कौन हूँ - Main Kaun Hoon (Meghna Mishra, Secret Superstar)



Movie/Album: सीक्रेट सुपरस्टार (2017)
Music By: अमित त्रिवेदी
Lyrics By: कौसर मुनिर
Performed By: मेघना मिश्रा

कोई ये बता दे मैं हूँ कहाँ
कोई तो बता दे मेरा पता
सही है के नहीं मेरी ये डगर
लूँ के नहीं मैं अपना ये सफ़र
डर लगता है सपनों से, कर दे ना ये तबाह
डर लगता है अपनों से, दे दे ना ये दग़ा
मैं चाँद हूँ या दाग हूँ
मैं राख़ हूँ या आग हूँ
मैं बूँद हूँ या हूँ लहर
मैं हूँ सुकूँ या हूँ कहर

कोई ये बता दे मैं कौन हूँ
क्यूँ हूँ मैं क्या हूँ मैं कौन हूँ
यकीं है के नहीं, खुद पे मुझको क्या
हूँ के नहीं मैं, है फरक पड़ता क्या
किसके कंधों पे रोऊँ, हो जाये जो खता
किसको राहों में ढूँढूँ, खो जाये पता
मैं चाँद हूँ...

मैं सच कहूँ या चुप रहूँ
दिल खोल दूँ या तोड़ दूँ
मैं हद करूँ या बस करूँ
मैं ज़िद करूँ या छोड़ दूँ
मैं चाँद हूँ...


ये फ़ितूर मेरा - Ye Fitoor Mera (Arijit Singh, Fitoor)



Movie/Album: फ़ितूर (2016)
Music By: अमित त्रिवेदी
Lyrics By: स्वानंद किरकिरे
Performed By: अरिजीत सिंह

ज़िन्दगी ने की हैं कैसी साजिशें
पूरी हुई दिल की वो फरमाईशें
माँगी दुआ एक तुझ तक जा पहुँची
परवर दिगारा, परवर दिगारा
कैसी सुनी तूने मेरी ख़ामोशी
परवर दिगारा
ये फ़ितूर मेरा लाया मुझको है तेरे करीब
ये फ़ितूर मेरा रहमत तेरी
ये फ़ितूर मेरा मैंने बदला रे मेरा नसीब
ये फ़ितूर मेरा चाहत तेरी
परवर दिगारा, परवर दिगारा

धीमे-धीमे जल रही थी ख्वाहिशें
दिल में दबी घुट रही फरमाईशें
बन के दुआ वो तुझ तक जा पहुँची
परवर दिगारा, परवर दिगारा
दीवानगी की हद मैंने नोची
ये फ़ितूर मेरा लाया मुझको है तेरे करीब
ये फ़ितूर मेरा रहमत तेरी
ये फ़ितूर मेरा मैंने बदला रे मेरा नसीब
ये फ़ितूर मेरा चाहत तेरी
परवर दिगारा, परवर दिगारा


तेरे लिए - Tere Liye (Jubin Nautiyal, Sunidhi Chauhan, Fitoor)



Movie/Album: फ़ितूर (2016)
Music By: अमित त्रिवेदी
Lyrics By: स्वानंद किरकिरे
Performed By: जुबिन नौटियाल, सुनिधि चौहान

मैंने पूछा ये दिल से
मैं क्यों हूँ जहां में
एक धड़कन बोली तेरे लिये
मैंने यादें तराशी
और ख़्वाब बना दी
नयी दुनिया बसा दी तेरे लिये
तेरे लिये, तेरे लिए...

जो मैं कहता हूँ, जो सुनता हूँ
जो सहता हूँ, तेरे लिये
मैं गिरता हूँ, संभलता हूँ
फिर चलता हूँ, तेरे लिये

कोई दर्द हूँ गहरा
कोई अक्स हूँ पिसरा
मैं क्या हूँ बता दे, तेरे लिये
यादों का चेहरा
कोई ख़्वाब सुनहरा
मैं क्या हूँ बता दे, तेरे लिये
तेरे लिये, तेरे लिए...

मैं खोया-सा इक लम्हां हूँ
बस इस पल हूँ तेरे लिये
मैं आवारा बादल हूँ
बस इस पल हूँ तेरे लिये

मेरे हर मर्ज़ की तू ही दवा है
हुई है जो क़ुबूल वो दुआ है
ये उल्फ़त है या कोई नशा है
जिसे छूना चाहे तू वो धुआँ है
तेरे लिये, तेरे लिए...


All lyrics are property and copyright of their owners. All the lyrics are provided for educational purposes only. Copyright © Lyrics In Hindi | Powered by Blogger Design by ronangelo | Blogger Theme by NewBloggerThemes.com