Audio Video Mp3 Songs Download लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
Audio Video Mp3 Songs Download लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

बस एक चुप सी लगी है - bas ek chup sii lagii hai


बस एक चुप सी लगी है नहीं उदास नहीं
कहीं पे साँस रुकी है नहीं उदास नहीं
बस एक चुप सी लगी है

कोई अनोखी नहीं ऐसी ज़िंदगी लेकिन
खूब न हो
मिलि जो -
खूब मिली है.
नहीं उदास नहीं
बस एक चुप सी लगी है ...

सहर भी ये रात भी दोपहर भी मिली लेकिन
हमीं ने शाम चुनी
हमीं ने -
शाम चुनी है
नहीं उदास नहीं
बस एक चुप सी लगी है ...

वो दासताँ जो हमने कही भी
हमने लिखी
आज वो -
खुद से सुनी है
नहीं उदास नहीं
बस एक चुप सी लगी है

bas ek chup sii lagii hai nahii.n udaas nahii.n
kahii.n pe saa.Ns rukii hai nahii.n udaas nahii.n
bas ek chup sii lagii hai

ko_ii anokhii nahii.n aisii zi.ndagii lekin
khuub na ho
mili jo -
khuub milii hai.
nahii.n udaas nahii.n
bas ek chup sii lagii hai ...

sahar bhii ye raat bhii dopahar bhii milii lekin
hamii.n ne shaam chunii
hamii.n ne -
shaam chunii hai
nahii.n udaas nahii.n
bas ek chup sii lagii hai ...

vo daasataa.N jo hamane kahii bhii
hamane likhii
aaj vo -
khud se sunii hai
nahii.n udaas nahii.n
bas ek chup sii lagii hai




भरम तेरी वफ़ाओं का मिटा देते तो क्या होता - bharam terii vafaao.n kaa miTaa dete to kyaa hotaa


भरम तेरी वफ़ाओं का मिटा देते तो क्या होता
तेरे चेहरे से हम पदर्आ उठा देते तो क्या होता
भरम तेरी वफ़ाओं का ...

मुहब्बत भी तिजारात हो गयी है इस ज़माने में
अगर ये राज़ दुनिया को बता देते तो क्या होता
भरम तेरी वफ़ाओं का ...

तेरी उम्मीद पर जीने से हासिल कुच नहीं लेकिन
अगर यूँही न दिल को आसरा देते तो क्या होता
भरम तेरी वफ़ाओं का ...

bharam terii vafaao.n kaa miTaa dete to kyaa hotaa
tere chehare se ham pad.raa uThaa dete to kyaa hotaa
bharam terii vafaao.n kaa ...

muhabbat bhii tijaaraat ho gayii hai is zamaane me.n
agar ye raaz duniyaa ko bataa dete to kyaa hotaa
bharam terii vafaao.n kaa ...

terii ummiid par jiine se haasil kuch nahii.n lekin
agar yuu.Nhii na dil ko aasaraa dete to kyaa hotaa
bharam terii vafaao.n kaa ...




बाँसुरिया काहे बजाई - baa.Nsuriyaa kaahe bajaa_ii


लता:
बाँसुरिया काहे बजाई बिन सुने रहा नहीं जाये रे

सुधा:
मीठी नज़र काहे मिलाई बिन देखे रहा नहीं जाये रे

लता:
बाँसुरिया काहे बजाई बिन सुने रहा नहीं जाये रे

लता:
जाने अन्जाने जब मुख पे किसी के आये तेरा नाम, तेरा नाम
जाने अन्जाने
सर से सरक जाये चुनरी सहेली करे बदनाम, बदनाम
होवे रे हमरी जगत हँसाई रे कान्हा
बाँसुरिया काहे बजाई बिन सुने रहा नहीं जाये रे

सुधा:
मीठी नज़र काहे मिलाई बिन देखे रहा नहीं जाये रे

सुधा:
हँस हँस जादू कर जावें दो नैन तेरे, नैन तेरे
ये दो नैन तेरे
तुम जित जावो उत जावें दो नैन मेरे, नैन मेरे
ये दो नैन मेरे
हो गई हमरी निंदिया पराई हो राधा
मीठी नज़र काहे मिलाई बिन देखे रहा नहीं जाये रे

लता:
बाँसुरिय काहे बजाई बिन सुने रहा नहीं जाये रे

लता:
छोड़ो छोड़ो हमरी बैन बिहारी हमें छेड़ो ना, छेड़ो ना

सुधा:
बतियाँ बनाके
बतियाँ बनाके हमें अपना बनाके मुख फेरो ना, फेरो ना
प्रेम डगरिया बड़ी दुखदाई रे ...

लता:
कान्हा बाँसुरिया काहे बजाई बिन सुने रहा नहीं जाये रे

सुधा:
मीठी नज़र काहे मिलाई बिन देखे रहा नहीं जाये रे

लता:
बिन सुने रहा नहीं जाये रे

सुधा:
ओ बिन देखे रहा नहीं जाये रे

lataa:
baa.Nsuriyaa kaahe bajaa_ii bin sune rahaa nahii.n jaaye re

sudhaa:
miiThii nazar kaahe milaa_ii bin dekhe rahaa nahii.n jaaye re

lataa:
baa.Nsuriyaa kaahe bajaa_ii bin sune rahaa nahii.n jaaye re

lataa:
jaane an_jaane jab mukh pe kisii ke aaye teraa naam, teraa naam
jaane an_jaane
sar se sarak jaaye chunarii sahelii kare badanaam, badanaam
hove re hamarii jagat ha.Nsaa_ii re kaanhaa
baa.Nsuriyaa kaahe bajaa_ii bin sune rahaa nahii.n jaaye re

sudhaa:
miiThii nazar kaahe milaa_ii bin dekhe rahaa nahii.n jaaye re

sudhaa:
ha.Ns ha.Ns jaaduu kar jaave.n do nain tere, nain tere
ye do nain tere
tum jit jaavo ut jaave.n do nain mere, nain mere
ye do nain mere
ho ga_ii hamarii ni.ndiyaa paraa_ii ho raadhaa
miiThii nazar kaahe milaa_ii bin dekhe rahaa nahii.n jaaye re

lataa:
baa.Nsuriya kaahe bajaa_ii bin sune rahaa nahii.n jaaye re

lataa:
chho.Do chho.Do hamarii bain bihaarii hame.n chhe.Do naa, chhe.Do naa

sudhaa:
batiyaa.N banaake
batiyaa.N banaake hame.n apanaa banaake mukh phero naa, phero naa
prem Dagariyaa ba.Dii dukhadaa_ii re ...

lataa:
kaanhaa baa.Nsuriyaa kaahe bajaa_ii bin sune rahaa nahii.n jaaye re

sudhaa:
miiThii nazar kaahe milaa_ii bin dekhe rahaa nahii.n jaaye re

lataa:
bin sune rahaa nahii.n jaaye re

sudhaa:
o bin dekhe rahaa nahii.n jaaye re




बाँध प्रीति फूल डोर - baa.Ndh priiti phuul Dor


बाँध प्रीति फूल डोर, मन लेके चित्चोर
दूर जाना ना, दूर जाना ना ...

मन की किवाड़ खोल, मीत मेरे अनमोल
भूल जाना ना, भूल जाना ना ...

कैसे सहूँ विछोहन, मन में रमा है मोहन
रूठ जाना ना, रूठ जाना ना ...

baa.Ndh priiti phuul Dor, man leke chit_chor
duur jaanaa naa, duur jaanaa naa ...

man kii kivaa.D khol, miita mere anamol
bhuul jaanaa naa, bhuul jaanaa naa ...

kaise sahuu.N vichhohan, man me.n ramaa hai mohan
ruuTh jaanaa naa, ruuTh jaanaa naa ...




बलमा माने ना - balamaa maane naa


बलमा माने ना
बैरी चुप न रहे
लागी मन की कहे
पा के अकेली मुझे
मोरी बहियाँ धरे

जब जब पलटूं गागर भर के आ~
लट रह जाये मुख पे बिखर के
बात करे ऐसी दिल वाला
तड़पे और तड़पाये
बलमा माने न ...

घूँघट डारूं नैन चुराऊँ
घबराहट में राह न पाऊँ
वो बाँका रसिया मतवाला
सुने न मोरी अपनी ही कहे
बलमा माने न ...

balamaa maane naa
bairii chup na rahe
laagii man kii kahe
paa ke akelii mujhe
morii bahiyaa.N dhare

jab jab palaTuu.n gaagar bhar ke aa~
laT rah jaaye mukh pe bikhar ke
baat kare aisii dil vaalaa
ta.Dape aur ta.Dapaaye
balamaa maane na ...

ghuu.NghaT Daaruu.n nain churaauu.N
ghabaraahaT me.n raah na paauu.N
vo baa.Nkaa rasiyaa matavaalaa
sune na morii apanii hii kahe
balamaa maane na ...




बहे न कभी नैन से नीर - bahe na kabhii nain se niir


बहे न कभी नैन से नीर
उठी हो चाहे दिल में पीर
बाँवरे यही प्रीत की रीत

आशायें मिट जायें तो मिट जायें
दिल की आहें कभी न बाहर आयें
भरी हो होंठों पर मुस्कान
न कोई ले दिल को पहचान
इसी में है रे तेरी जीत
बाँवरे यही प्रीत की रीत

दीपक जले भवन में रहे पतंगा बन में
प्रीत खींच कर लायी उसे जलाया क्षण में
जलन का उसे कहाँ था होश
प्यार का चढ़ा हुआ था जोश
गा रही दुनियाँ उसकी गीत
बाँवरे यही प्रीत की रीत

bahe na kabhii nain se niir
uThii ho chaahe dil me.n piir
baa.Nvare yahii priit kii riit

aashaaye.n miT jaaye.n to miT jaaye.n
dil kii aahe.n kabhii na baahar aaye.n
bharii ho ho.nTho.n par muskaan
na koii le dil ko pahachaan
isii me.n hai re terii jiit
baa.Nvare yahii priit kii riit

diipak jale bhavan me.n rahe pata.ngaa ban me.n
priit khii.nch kar laayii use jalaayaa kshaN me.n
jalan kaa use kahaa.N thaa hosh
pyaar kaa cha.Dhaa huaa thaa josh
gaa rahii duniyaa.N usakii giit
baa.Nvare yahii priit kii riit




बहाए चाँद ने आँसू, ज़माना चाँदनी समझा - bahaae chaa.Nd ne aa.Nsuu, zamaanaa chaa.Ndanii samajhaa


बहाए चाँद ने आँसू, ज़माना चाँदनी समझा - २
किसी के दिल से हूक उठी, तो कोई रागिनी समझा - २

छुपाया किस तरह ग़म को, ज़माने की निगाहों से - २
ज़माने की निगाहों से
मेरा ग़म देखने वाला, मेरे ग़म को खुशी समझा
बहाए चाँद ने ...

चमन को छोड़कर मैंने, गुज़ारी ज़िंदगी ऐसे - २
गुज़ारी ज़िंदगी ऐसे
के जो काँटा नज़र आया, उसी को मैं कली समझा
बहाए चाँद ने ...

bahaae chaa.Nd ne aa.Nsuu, zamaanaa chaa.Ndanii samajhaa - 2
kisii ke dil se huuk uThii, to koii raaginii samajhaa - 2

chhupaayaa kis tarah Gam ko, zamaane kii nigaaho.n se - 2
zamaane kii nigaaho.n se
meraa Gam dekhane vaalaa, mere Gam ko khushii samajhaa
bahaae chaa.Nd ne ...

chaman ko chho.Dakar mai.nne, guzaarii zi.ndagii aise - 2
guzaarii zi.ndagii aise
ke jo kaa.NTaa nazar aayaa, usii ko mai.n kalii samajhaa
bahaae chaa.Nd ne ...




बड़ी मुश्किल है, खोया मेरा दिल है - ba.Dii mushkil hai, khoyaa meraa dil hai


(बड़ी मुश्किल है, खोया मेरा दिल है
कोई उसे ढूँढ के लाए न -२
जाके कहा मैं रपट लिखाऊँ, कोई बतलाए न
मैं रोऊँ या हँसूँ, करूँ मैं क्या करूँ -२) -२

(दीवानगी की हद से, आगे गुज़र न जाऊँ
आँखों मैं उसका चहरा, कैसे उसे दिखलाऊँ) -२

वो है, सब से हसीं, वैसा, कोई भी नहीं
मेरे खुदा, उसकी अदा, है बड़ी कातिल
मुझे नहीं पता, छाया है क्या नशा
मैं रोऊँ या हँसूँ, करूँ मैं क्या करूँ

(सपनों में आने वाली, बाहों में कब आएगी
इतने दिनों तक मुझको, ऐसे वो तड़पाएगी) -२

देखूँ, मुड़के जिधर, पाए, वही नज़र
मेरी डगर, मेरा सफ़र, वो मेरी मंज़िल
दीवाना है समा, जागे हैं अर्मां
मैं रोऊँ या हँसूँ, करूँ मैं क्या करूँ

बड़ी मुश्किल है, खोया मेरा दिल है ...

(ba.Dii mushkil hai, khoyaa meraa dil hai
koii use Dhuu.NDh ke laae na -2
jaake kahaa mai.n rapaT likhaauu.N, koii batalaae na
mai.n rouu.N yaa ha.Nsuu.N, karuu.N mai.n kyaa karuu.N -2) -2

(diivaanagii kii had se, aage guzar na jaauu.N
aa.Nkho.n mai.n usakaa chaharaa, kaise use dikhalaauu.N) -2

vo hai, sab se hasii.n, vaisaa, koii bhii nahii.n
mere khudaa, usakii adaa, hai ba.Dii kaatil
mujhe nahii.n pataa, chhaayaa hai kyaa nashaa
mai.n rouu.N yaa ha.Nsuu.N, karuu.N mai.n kyaa karuu.N

(sapano.n me.n aane vaalii, baaho.n me.n kab aaegii
itane dino.n tak mujhako, aise vo ta.Dapaaegii) -2

dekhuu.N, mu.Dake jidhar, paae, vahii nazar
merii Dagar, meraa safar, vo merii ma.nzil
diivaanaa hai samaa, jaage hai.n armaa.n
mai.n rouu.N yaa ha.Nsuu.N, karuu.N mai.n kyaa karuu.N

ba.Dii mushkil hai, khoyaa meraa dil hai ...




बड़े हैं दिल के काले - ba.De hai.n dil ke kaale


बड़े हैं दिल के काले
हाँ यही नीली सी आँखों वाले
सूरत बुरी हो
बुरा नहीं दिल मेरा
ना हो यक़ीन आज़मा ले

मेरी जान वाह वाह वाह ...
मेरी जान वाह वाह वाह वाह
बड़े है ...

जैसे भले हो सब है खबर
शेर-ओ-शरारत की ये नज़र
आँखों में आँखें डालके हम
हो गये अब तो जाने जिगर
हाँ हमको बड़े बड़े ढूँढ के हारे
ढूँढ ही लाएंगे दिल के सहारे
आप किसीके भी हैं, वाह जी वाह
खुल जायेगा हाल तुम पे दिल-ए-बेक़रार का
नैनो से नैन मिलाके देखो तो ज़रा

रोक भी लो अब अपनी ज़ुबान
वरना क़यामत होगी यहाँ
हम भी क़यामत से नहीं कम
जाओगे बचके दूर कहाँ
हाँ यहीं तो थे अभी आप किधर गये
समझो हमें हम जान से गुज़र गये
जीतेजी मर गये, वाह जी वाह
मरना मेरी ज़िंदगी है दीवाना हूँ प्यार का
तुम भी एक दिन आज़माँ के देखो तो ज़रा

ba.De hai.n dil ke kaale
haa.N yahii niilii sii aa.Nkho.n vaale
suurat burii ho
buraa nahii.n dil meraa
naa ho yaqiin aazamaa le

merii jaan vaah vaah vaah ...
merii jaan vaah vaah vaah vaah
ba.De hai ...

jaise bhale ho sab hai khabar
sher-o-sharaarat kii ye nazar
aa.Nkho.n me.n aa.Nkhe.n Daalake ham
ho gaye ab to jaane jigar
haa.N hamako ba.De ba.De Dhuu.NDh ke haare
Dhuu.NDh hii laae.nge dil ke sahaare
aap kisiike bhii hai.n, vaah jii vaah
khul jaayegaa haal tum pe dil-e-beqaraar kaa
naino se naina milaake dekho to zaraa

rok bhii lo ab apanii zubaan
varanaa qayaamat hogii yahaa.N
ham bhii qayaamat se nahii.n kam
jaaoge bachake duur kahaa.N
haa.N yahii.n to the abhii aap kidhar gaye
samajho hame.n ham jaan se guzar gaye
jiitejii mar gaye, vaah jii vaah
maranaa merii zi.ndagii hai diivaanaa huu.N pyaar kaa
tum bhii ek din aazamaa.N ke dekho to zaraa




बादल चाँदी बरसाये रुनझुन रुनझुन - baadal chaa.Ndii barasaaye runajhun runajhun


बादल चाँदी बरसाये रुनझुन रुनझुन
बूँदों के साज़ बजाये रुनझुन रुनझुन
पानी अपनी पायल धरती पर झनकाये रुनझुन रुनझुन

पापी है पपीहा देखो शोर करे बन में
हूक़ सी उठे सीने में आग लगे मन में
पगली पुरवाई गाये रुनझुन रुनझुन
भीगे और नाचे जाये रुनझुन रुनझुन
पानी अपनी पायल धरती पर ...

बगिया में भँवरे आये पेड़ो पर भँवरे आये
डाली पर चिड़्याँ आयीं लहरों में लहरें आये
जारे कागा जाके कहदे तू मेरे साजन से
सब आये अब तू भी आजा आ मिल जा बिरहन से
बरखा हर दिन आ जाये, हर दिन बस ये दोहराये
पानी अपनी पायल धरती पर ...

baadal chaa.Ndii barasaaye runajhun runajhun
buu.Ndo.n ke saaz bajaaye runajhun runajhun
paanii apanii paayal dharatii par jhanakaaye runajhun runajhun

paapii hai papiihaa dekho shor kare ban me.n
huuq sii uThe siine me.n aag lage man me.n
pagalii puravaa_ii gaaye runajhun runajhun
bhiige aur naache jaaye runajhun runajhun
paanii apanii paayal dharatii par ...

bagiyaa me.n bha.Nvare aaye pe.Do par bha.Nvare aaye
Daalii par chi.Dyaa.N aayii.n laharo.n me.n lahare.n aaye
jaare kaagaa jaake kahade tuu mere saajan se
sab aaye ab tuu bhii aajaa aa mil jaa birahan se
barakhaa har din aa jaaye, har din bas ye doharaaye
paanii apanii paayal dharatii par ...




बाबुल मोरा, नैहर छूटो ही जाए - baabul moraa, naihar chhuuTo hii jaae


बाबुल मोरा, नैहर छूटो ही जाए
बाबुल मोरा, नैहर छूटो ही जाए

चार कहार मिल, मोरी डोलिया सजावें - ४
मोरा अपना बेगाना छुटो जाए
बाबुल मोरा ...

आँगना तो पर्बत भयो और देहरी भयी बिदेश
जे बाबुल घर आपना मैं पीया के देश
बाबुल मोरा ...

बाबुल मोरा, नैहर छूटो ही जाए
बाबुल मोरा, नैहर छूटो ही जाए

baabul moraa, naihar chhuuTo hii jaae
baabul moraa, naihar chhuuTo hii jaae

chaar kahaar mil, morii Doliyaa sajaave.n - 4
moraa apanaa begaanaa chhuTo jaae
baabul moraa ...

aa.Nganaa to parbat bhayo aur deharii bhayii bidesh
je baabul ghar aapanaa mai.n piiyaa ke desh
baabul moraa ...

baabul moraa, naihar chhuuTo hii jaae
baabul moraa, naihar chhuuTo hii jaae




अश्कों ने जो पाया है - ashko.n ne jo paayaa hai


अश्कों ने जो पाया है वो गीतों में दिया है
इस पर भी सुना है कि ज़माने को गिला है

जो तार से निकली है वो धुन सब ने सुनी है
जो साज़ पे गुज़री है वो किस दिल को पता है
अश्कों ने जो पाया है ...

हम फूल हैं औरों के लिये लाये हैं खुशबू
अपने लिये ले दे के बस इक दाग़ मिला है
अश्कों ने जो पाया है ...

ashko.n ne jo paayaa hai vo giito.n me.n diyaa hai
is par bhii sunaa hai ki zamaane ko gilaa hai

jo taar se nikalii hai vo dhun sab ne sunii hai
jo saaz pe guzarii hai vo kis dil ko pataa hai
ashko.n ne jo paayaa hai ...

ham phuul hai.n auro.n ke liye laaye hai.n khushabuu
apane liye le de ke bas ik daaG milaa hai
ashko.n ne jo paayaa hai ...




यूँ तो मिलने को हम मिले हैं बहोत - Yun to milane ko ham mile hain (Faasle)


यूँ तो मिलने को हम मिले हैं बहोत
दरमियाँ फिर भी फासले हैं बहोत

तू मिली भी तो चंद पल के लिए
तुझ से ऐ जिन्दगी, गिले हैं बहोत

एक, दो यादे और तनहाई
प्यार करने के ये सिले हैं बहोत

आँख के आईने में देखो तो
दूर तक फूल से खिले हैं बहोत

Yun to milane ko ham mile hain bahot
Daramiyaan fir bhi faasale hain bahot

Tu mili bhi to chnd pal ke lie
Tujh se ai jindagi, gile hain bahot

Ek, do yaade aur tanahaai
Pyaar karane ke ye sile hain bahot

Ankh ke aine men dekho to
Dur tak ful se khile hain bahot




यूँ तो हमने लाख हसीं देखे हैं, तुमसा नहीं देखा - yuu.N to hamane laakh hasii.n dekhe hai.n, tumasaa nahii.n dekhaa


यूँ तो हमने लाख हंसीं देखे हैं
तुमसा नहीं देखा
हो, तुमसा नहीं देखा

उफ़ ये नज़र उफ़ ये अदा
कौन न अब होगा फ़िदा
ज़ुल्फ़ें हैं या बदलियां
आँखें हैं या बिजलियां
जाने किस किसकी आएगी सज़ा
यूँ तो हमने लाख हंसीं देखे हैं ...

तुम भी हंसीं रुत भी हंसीं
आज ये दिल बस में नहीं
रास्ते ख़ामोश हैं
धड़कने मदहोश हैं
पिये बिन आज हमे चढ़ा हैं नशा
यूँ तो हमने लाख हंसीं देखे हैं ...

तुम न अगर बोलोगे सनम
मर तो नहीं जाएंगे हम
क्या परी या हूर हो
इतनी क्यूँ मग़रूर हो
मान के तो देखो कभी किसीका कहा
यूँ तो हमने लाख हंसीं देखे हैं ...

yuu.N to hamane laakh ha.nsii.n dekhe hai.n
tumasaa nahii.n dekhaa
ho, tumasaa nahii.n dekhaa

uf ye nazar uf ye adaa
kaun na ab hogaa fidaa
zulfe.n hai.n yaa badaliyaa.n
aa.Nkhe.n hai.n yaa bijaliyaa.n
jaane kis kisakii aaegii sazaa
yuu.N to hamane laakh ha.nsii.n dekhe hai.n ...

tum bhii ha.nsii.n rut bhii ha.nsii.n
aaj ye dil bas me.n nahii.n
raaste Kaamosh hai.n
dha.Dakane madahosh hai.n
piye bin aaj hame cha.Dhaa hai.n nashaa
yuu.N to hamane laakh ha.nsii.n dekhe hai.n ...

tum na agar bologe sanam
mar to nahii.n jaae.nge ham
kyaa parii yaa huur ho
itanii kyuu.N maGaruur ho
maan ke to dekho kabhii kisiikaa kahaa
yuu.N to hamane laakh ha.nsii.n dekhe hai.n ...




यूँ सजा चाँद कि छलका तेरे अंदाज़ का रंग - yuu.N sajaa chaa.Nd ki chhalakaa tere a.ndaaz kaa ra.ng


यूँ सजा चाँद कि छलका तेरे अंदाज़ का रंग
यूँ फ़िज़ा महकी कि बदला मेरे हमराज़ का रंग

साया-ए-चश्म में हैराँ रुख़-ए-रोशन का जमाल
सुर्ख़ी-ए-लब में परेशाँ तेरी आवाज़ का रंग

बे-पिये हूँ कि अगर लुत्फ़ करो आख़िर-ए-शब
शीशा-ओ-मय में ढले सुबह के आग़ाज़ का रंग

जब घुले रंग भी थे अपने लहू के दम से
दिल ने लय बदली तो मद्धम हुआ हर साज़ का रंग

yuu.N sajaa chaa.Nd ki chhalakaa tere a.ndaaz kaa ra.ng
yuu.N fizaa mahakii ki badalaa mere hamaraaz kaa ra.ng

saayaa-e-chashm me.n hairaa.N ruK-e-roshan kaa jamaal
surKii-e-lab me.n pareshaa.N terii aawaaz kaa ra.ng

be-piye huu.N ki agar lutf karo aaKir-e-shab
shiishaa-o-may me.n Dhale subah ke aaGaaz kaa ra.ng

jab ghule ra.ng bhii the apane lahuu ke dam se
dil ne lay badalii to maddham hu_aa har saaz kaa ra.ng




यूँ रह रह कर हमें तरसाये - yuu.N rah rah kar hame.n tarasaaye


यूँ न रह रह कर हमें तरसाये
आये आ जाये आ जाये

फिर वही दानिस्ता ठोकर खाये
फिर मेरी आग़ोश में गिर जाये

मेरी दुनिया मुन्तज़िर है आपकी
अपनी दुनिया चोड़ कर आ जाये

ये हवा `सागर' ये हल्की चाँदनी
जी में आता है यहीं मर जाये

yuu.N na rah rah kar hame.n tarasaaye
aaye aa jaaye aa jaaye

phir vahii daanistaa Thokar khaaye
phir merii aaGosh me.n gir jaaye

merii duniyaa muntazir hai aapakii
apanii duniyaa cho.D kar aa jaaye

ye havaa `saagar' ye halkii chaa.Ndanii
jii me.n aataa hai yahii.n mar jaaye




यूँही तुम मुझसे बात करती हो - yuu.Nhii tum mujhase baat karatii ho


र: यूँही तुम मुझसे बात करती हो
या कोई प्यार का इरादा है
ल: अदाएं दिल की जानता ही नहीं
मेरा हमदम भी कितना सादा है

र: रोज़ आती हो तुम ख़यालों में (२)
ज़िंदगी में भी मेरी आ जाओ
बीत जाए न ये सवालों में
इस जवानी पे कुछ तरस खाओ
ल: हाल-ए-दिल समझो सनम (२)
मुँह से न कहेंगे हम
हमारी भी कोई मर्यादा है, यूँही तुम...

र: बन गई हो मेरी सदा के लिये
या मुझे यूँ ही तुम बनाती हो
ल: कहीं बाहों में न भर लूँ तुमको
क्यों मेरे हौसले बढ़ाती हो
र: हौसले और करो, फ़ासले दूर करो
पास आते न डरो
दिल न तोड़ेंगे अपना वादा है, यूँही तुम...

र: भोलेपन में है वफ़ा की खुशबू
इसपे सब कुछ न क्यूँ लुटाऊँ मैं
ल: मेरा बेताब दिल ये कहता है
तेरे साए से लिपट जाऊँ मैं
र: मुझसे ये मेल तेरा (२)
न हो इक खेल तेरा
ये करम मुझपे कुछ ज़ियादा है, यूँही तुम...



ra: yuu.Nhii tum mujhase baat karatii ho
yaa koii pyaar kaa iraadaa hai
la: adaae.n dil kii jaanataa hii nahii.n
meraa hamadam bhii kitanaa saadaa hai

ra: roz aatii ho tum Kayaalo.n me.n (2)
zi.ndagii me.n bhii merii aa jaao
biit jaae na ye savaalo.n me.n
is javaanii pe kuchh taras khaao
la: haal-e-dil samajho sanam (2)
mu.Nh se na kahe.nge ham
hamaarii bhii koii maryaadaa hai, yuu.Nhii tum...

ra: ban ga_ii ho merii sadaa ke liye
yaa mujhe yuu.N hii tum banaatii ho
la: kahii.n baaho.n me.n na bhar luu.N tumako
kyo.n mere hausale ba.Dhaatii ho
ra: hausale aur karo, faasale duur karo
paas aate na Daro
dil na to.De.nge apanaa vaadaa hai, yuu.Nhii tum...

ra: bholepan me.n hai vafaa kii khushabuu
isape sab kuchh na kyuu.N luTaauu.N mai.n
la: meraa betaab dil ye kahataa hai
tere saae se lipaT jaauu.N mai.n
ra: mujhase ye mel teraa (2)
na ho ik khel teraa
ye karam mujhape kuchh ziyaadaa hai, yuu.Nhii tum...





यूँ नींद से वो जान-ए-चमन, जाग उठी है - yuu.N nii.nd se vo jaan-e-chaman, jaag uThii hai


यूँ नींद से वो जान-ए-चमन जाग उठी है
परदेस मैं फिर याद-ए-वतन जाग उठी है
यूँ नींद से वो जान-ए-चमन...

फिर याद हमें आये हैं सावन के वो झूले
वो भूल गये हमको, उन्हें हम नहीं भूले
उन्हे हम नहीं भूले
इस दर्द के कांटों की चुभन जाग उठी है
परदेस में फिर याद-ए-वतन, जाग उठी है

हम लोग सयाने सही, दीवाने हैं लेकिन
बेगाने बहुत अच्छे हैं, बेगाने हैं लेकिन
बेगाने हैं लेकिन
बेगानो में अपनों की लगन, जाग उठी है
परदेस में फिर याद-ए-वतन जाग उठी है

इस शहर से था अच्छा बहुत अपना वो गाँव
पनघट है यहाँ कोई ना पीपल की वो छाँव
पश्चिम में वो पूरब की पवन जाग उठी है
परदेस में फिर याद-ए-वतन जाग उठी है

यूँ नींद से वो जान-ए-चमन...

yuu.N nii.nd se vo jaan-e-chaman jaag uThii hai
parades mai.n phir yaad-e-vatan jaag uThii hai
yuu.N nii.nda se vo jaana-e-chamana...

phira yaada hame.n aaye hai.n saavana ke vo jhuule
vo bhuula gaye hamako, unhe.n ham nahii.n bhuule
unhe hama nahii.n bhuule
isa darda ke kaa.nTo.n kii chubhana jaaga uThii hai
paradesa me.n phira yaada-e-vatana, jaaga uThii hai

hama loga sayaane sahii, diivAne hai.n lekina
begaane bahuta achchhe hai.n, begaane hai.n lekina
begaane hai.n lekina
begaano me.n apano.n kii lagana, jaaga uThii hai
paradesa me.n phira yaada-e-vatana jaaga uThii hai

is shahar se thaa achchhaa bahut apanaa vo gaa.Nv
panaghaT hai yahaa.N koii naa piipal kii vo chhaa.Nv
pashchim me.n vo puurab kii pavan jaag uThii hai
parades me.n phir yaad-e-vatan jaag uThii hai

yuu.N nii.nda se vo jaana-e-chamana...




यूँही दिल ने चाहा था रोना रुलाना - yuu.Nhii dil ne chaahaa thaa ronaa rulaanaa


यूँही दिल ने चाहा था रोना रुलाना
तेरी याद तो बन गई इक बहाना

हमें भी नहीं इल्म, हम जिस पे रोए
वो बीती रुतें हैं के आता ज़माना -२

ग़म-ए-दिल है और ग़म-ए-ज़िंदगी भी
न इसका ठिकाना न उसका ठिकाना -२

कोई किसपे तड़पे, कोई किसपे रोए
इधर दिल जला है, उधर आशियाना -२

yuu.Nhii dil ne chaahaa thaa ronaa rulaanaa
terii yaad to ban ga_ii ik bahaanaa

hame.n bhii nahii.n ilm, ham jis pe roe
vo biitii rute.n hai.n ke aataa zamaanaa -2

Gam-e-dil hai aur Gam-e-zi.ndagii bhii
na isakaa Thikaanaa na usakaa Thikaanaa -2

koii kisape ta.Dape, koii kisape roe
idhar dil jalaa hai, udhar aashiyaanaa -2




यूँ न थी मुझसे बेरुख़ी पहले - yuu.N na thii mujhase beruKii pahale


यूँ न थी मुझसे बेरुख़ी पहले
तुम तो ऐसे न थे कभी पहले

जिसमें शामिल तुम्हारी मर्ज़ी थी
हमने चाही वही ख़ुशी पहले

हमने तुमसे यही तो सीखा था
दुश्मनी बाद दोस्ती पहले

जब तलक वो न था तो ऐ 'राही'
कितनी आसाँ थी ज़िंदगी पहले

yuu.N na thii mujhase beruKii pahale
tum to aise na the kabhii pahale

jisame.n shaamil tumhaarii marzii thii
hamane chaahii wahii Kushii pahale

hamane tumase yahii to siikhaa thaa
dushmanii baad dostii pahale

jab talak wo na thaa to ai 'raahii'
kitanii aasaa.N thii zi.ndagii pahale




All lyrics are property and copyright of their owners. All the lyrics are provided for educational purposes only. Copyright © Lyrics In Hindi | Powered by Blogger Design by ronangelo | Blogger Theme by NewBloggerThemes.com