Chinmayi Sripada लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
Chinmayi Sripada लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

देखो आई होली - Dekho Aayi Holi (Mangal Pandey)



Movie/Album: मंगल पांडे (1973)
Music By: ए.आर.रहमान
Lyrics By: जावेद अख्तर
Performed By: आमिर खान, चिन्मयी, उदित नारायण, मधुश्री, श्रीनिवास

होली है!
होली आई, रंग फूट पड़े
ये छलक छलक, वो ढलक ढलक
फिर बाजे घुँघरू ढोल बड़े

ये छलक छलक, वो धमक धमक
सब निकले हैं पी पी के घड़े
ये लपक लपक, वो धुमक धुमक
छम छम नाचे परियों की धुनें
ये थिरक थिरक, वो मटक मटक

ये छलक छलक, वो ढलक ढलकये छलक छलक, वो धमक धमक
ये लपक लपक, वो धुमक धुमक
ये थिरक थिरक, वो मटक मटक

देखो आई होली, रंग लायी होली
चली पिचकारी उड़ा है गुलाल
होली की है घटा, मन झूम उठा
रंग छलके हैं नीले हरे लाल
रंग रेली में रंग खेलूंगी, रंग जाऊँगी
रंग गहरे हैं, अबके साल
अब हमें कोई रोके नहीं, अब हमें कोई टोके नहीं
अब होने दो हो जो भी हाल
देखो आई होली...

भीगी चोली चुनरी भी गीली हुई
सजनाजी देखो मैं रंगीली हुई
थोड़ी थोड़ी तू जो नशीली हुई
पतली कमर लचकीली हुई
मन क्यों ना बहके, तन क्यों न दहके
तुम रह रह के, मत फेंको ये नज़रों का जाल
अब हमें कोई रोके नहीं, अब हमें कोई टोके नहीं
अब होने दो हो जो भी हाल
 

देखो आई होली...
आज हुआ एक सा कमाल
रंग ऐसे उड़े देखने में लगे, कोई रंगे हवाओं के बाल

चांदी की थाल से लेके गुलाल
अब राधा से खेलेंगे होली मुरारी
राधा भी नटखट है, पलटी वो झटपट है

मारे कन्हैया को है पिचकारी
देखने वाले तो दंग हुए हैं
के होली में दोनों जो संग हुए हैं
तो राधा काँन्हा एक रंग हुए हैं
कौन है राधा, कौन है काँन्हा
कौन ये समझा, कौन ये जाना

होली में जो सजनी से नयन लड़े

थामी हैं कलाई के बात बढ़े
तीर से जैसे मेरे मन में गड़े

तेरी ये नजरिया जो मुझपे पड़े
जो ये रास रचे, जो ये धूम मचे, कोई कैसे बचे
हमसे पूछो ना तुम ये सवाल
अब हमें कोई रोके नहीं, अब हमें कोई टोके नहीं
अब होने दो हो जो भी हाल
देखो आई होली...



मस्त मगन - Mast Magan (Arijit Singh, Chinmayi Sripada, 2 States)



Movie/Album: २ स्टेट्स (2014)
Music By: शंकर एहसान लॉय
Lyrics By: अमिताभ भट्टाचार्य
Performed By: अरिजीत सिंह, चिन्मयी श्रीपद

इश्क़ की धूनी रोज़ जलाए
उठता धुंआ तो कैसे छुपाए
हो अँखियाँ करे जी हज़ूरी
मांगे है तेरी मंज़ूरी
कजरा सियाही, दिन रंग जाए
तेरी कस्तूरी रैन जगाए
मन मस्त मगन, मन मस्त मगन
बस तेरा नाम दोहराए
मन मस्त मगन...
चाहे भी तो भूल ना पाए
मन मस्त मगन, मन मस्त मगन
तेरा नाम दोहराए...

जोगिया जोग लगा के, वखरा रोग लगा के
इश्क़ की धूनी रोज़ जलाए
उठता धुंआ तो कैसे छुपाए
मन मस्त मगन...

ओढ़ के धानी रीत की चादर
आया तेरे शहर में राँझा तेरा
दुनिया ज़माना, झूठा फ़साना
जीने मरने का वादा सांचा मेरा
हो शीश-महल ना मुझको सुहाए
तुझ संग सुखी रोटी भाए
मन मस्त मगन...


सुईयां सुईयां सी - Sooiyan Sooiyan Si (Arijit, Chinmayi, Guddu Rangeela)



Movie/Album: गुड्डू रंगीला (2015)
Music By: अमित त्रिवेदी
Lyrics By: इरशाद कामिल
Performed By: अरिजीत सिंह, चिन्मयी श्रीपद

दिल मर्द ज़ात है, बदमाश बात है
सोचो क्या, सोचूँ मैं
सर्दी की रात है, एक आग साथ है
सोचो क्या, सोचूँ मैं
दो लफ़्ज़ों की चिंगारियां, होठों से ना छोड़ो
यूँ बेशर्मी की राह पे, बातों को ना मोड़ो हाय
हो तन में सुईयां सुईयां सी, सुईयां सुईयां सी
अब तो लगी चुभने
हो तन में सुइयां सुइयां सी, सूइयां सूइयां सी
लगी लगी चुभने

तुझे बहती हवा जो सहलाए रे, हाय
दिल जल के धुआँ हो जाए रे
मैं तो खुद से खफ़ा हूँ
मेरी जवानी तेरे ज़रा भी क्यूँ ना
काम आये रे, हाय रे
तरसाए रे, हाय रे
यूँ गलत पते पे चिट्ठियाँ, भेजो ना नैनों की
तुझे महंगा पड़ेगा जो ये, हरकत ना तूने रोकी
हो तन में सुईयां सुईयां सी...

बदमाश साथ है, आगे हवालात है
सोचो क्या, सोचूँ मैं
सर्दी की रात है, एक आग साथ है
सोचो क्या, सोचूँ मैं


साहेबां - Sahebaan (Chinmayi Sripada, Shahid Mallya, Guddu Rangeela)



Movie/Album: गुड्डू रंगीला (2015)
Music By: अमित त्रिवेदी
Lyrics By: इरशाद कामिल
Performed By: चिन्मयी श्रीपद, शाहिद माल्या

मेरा है जो भी तू, साहेबा
था भी तू, है भी तू

चलते चलते उड़ना चाहूँ तुमको लेकर
तुमको ले लूं इस दुनिया से खुद को देकर
मेरा है जो भी तू साहेबां...

जब तक मैं तेरा ना हुआ था
जैसे की हारा सा जुआ था
माटी ये मेरी हुई सोना
तूने जब आँखों से छुआ था
तेरा गहना पहना, तेरे हो के रहना
झूठा है वो इश्का, जिसकी कोई तह ना
तुमसा मैं हुबहू
मेरा है जो भी तू साहेबां...


मय्या मय्या - Mayya Mayya (Chinmayi, Keerthi, Maryem, Guru)



Movie/Album: गुरु (2007)
Music By: ए.आर.रहमान
Lyrics By: गुलज़ार
Performed By: चिन्मयी, कीर्ति सागठिया, मरियम टोलर

तू नील समंदर है
मैं रेत का साहिल हूँ
आग़ोश में ले ले
मैं देर से प्यासी हूँ

एक सौदा रात का, एक कौड़ी चाँद की
चाहे तो चूम ले, तू थोडी चाँद की
एक सौदा रात का...
एक चाँद की कश्ती में, चल पार उतरना है
तू हलके हलके खेना, दरिया न छलके
मय्या मय्या, गुलाबी तारे चुन ले, सारे चुन
मय्या मय्या, कि जिस्मों की परतों में दर्दों के मारे चुन ले
मय्या मय्या, गुलाबी...

जब नील समंदर जागे, आग़ोश में ले कर साहिल
लहराता है और मस्ती में महताब का चेहरा चूमता है
मैं सीने में तेरी साँसे भर लेती हूँ
करवट-करवट, मैं तुझसे लिपटकर, रात बसर कर लेती हूँ

मइया मइया मइया मइया
सीने से मेरे, उठता है धुआँ
माइया माइया माइया माइया
दीवार पे क्या लिखता है धुआँ
धीमा धीमा धीमा धुआँ
हर बार ये क्या कहता है धुआँ?
मई-मई-मइया
अरे-एहे-एहे-एहे-एहे
मई-मई-मइया
अरे-एहे-एहे-एहे-एहे
एक सौदा रात का, एक कौड़ी चाँद की
चाहे तो चूम ले, तू थोडीकी
एक मेघ की कश्ती में, चल पार उतरना है
तू हलके हलके कहना, दरिया न छलके
मय्या मय्या...

वालीडा वालीडा वालीडा मारा वालीडा वालीडा मारा
अरे वालीडा वालीडा मारा वालीडा वालीडा वाली
झरमर झरमर वरसे, झरमर झरमर वरसे मेहुलो (मय्या मय्या)
झरमर झरमर वरसे, झरमर झरमर वरसे मेहुलो (मय्या मय्या)
ए जी रे, ए जी रे...
झरमर वरसे...
मई-मई-मइया
मई-मई-मइया
मय्या मय्या


All lyrics are property and copyright of their owners. All the lyrics are provided for educational purposes only. Copyright © Lyrics In Hindi | Powered by Blogger Design by ronangelo | Blogger Theme by NewBloggerThemes.com