Chupke Chupke लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
Chupke Chupke लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

अब के सजन सावन में - Ab Ke Sajan Saawan Mein (Lata Mangeshkar)



Movie/Album: चुपके चुपके (1975)
Music By: एस.डी.बर्मन
Lyrics By: आनंद बक्षी
Performed By: लता मंगेशकर

अब के सजन सावन में
आग लगेगी बदन में
घटा बरसेगी, मगर तरसेगी नज़र
मिल न सकेंगे दो मन
एक ही आँगन में
अब के सजन सावन...

दो दिलों के बीच खड़ी कितनी दीवारें
कैसे सुनूँगी मैं पिया प्रेम की पुकारें
चोरी चुपके से तुम लाख करो जतन, सजन
मिल न सकेंगे दो मन...

इतने बड़े घर में नहीं एक भी झरोंखा
किस तरह हम देंगे भला दुनिया को धोखा
रात भर जगाएगी ये मस्त-मस्त पवन, सजन
मिल न सकेंगे दो मन..

तेरे मेरे प्यार का ये साल बुरा होगा
जब बहार आएगी तो हाल बुरा होगा
कांटे लगाएगा ये फूलों भरा चमन, सजन
मिल न सकेंगे दो मन...


बाग़ों में कैसे ये फूल - Bagon Mein Kaise Ye Phool (Lata Mangeshkar, Mukesh, Chupke Chupke)



Movie/Album: चुपके चुपके (1975)
Music By: सचिन देव बर्मन
Lyrics By: मजरूह सुल्तानपुरी
Performed By: लता मंगेशकर, मुकेश

बागों में कैसे ये फूल खिलते हैं, हो खिलते हैं
खिलते हैं भँवरों से जब फूल मिलते हैं, हो मिलते हैं
हो हो हो बागों में

रंगीली रुत आ के रंग देती है इनको
नहीं तुम सी कोई गोरी, चूम लेती है इनको
फूलों को, फूलों को होंठो से
रंगरूप मिलते हैं, हो मिलते हैं
हो हो हो बागों में

मौसम बहारों के लगते हैं क्यों प्यारे
हँसते हैं, रोते हैं, कलियों के संग सारे
कलियों के, कलियों के खिलने से
दिल भी खिलते हैं, हो खिलते हैं
बागो में

अच्छा अब तुम बोलो ऐसा कब होता है
बड़े वो हो मत छेड़ो ऐसा तब होता है
जब तेरे, जब तेरे नैनों से
मेरे नैन मिलते हैं, हो मिलते हैं
बागो में कैसे ये फूल...


चुपके चुपके चल री - Chupke Chupke Chal Ri (Lata Mangeshkar, Chupke Chupke)



Movie/Album: चुपके चुपके (1975)
Music By: सचिन देव बर्मन
Lyrics By: आनंद बक्षी
Performed By: लता मंगेशकर

चुपके चुपके चल री पुरवैया
बाँसुरी बजाए रे
रास रचाये दैया रे दैया
गोपियों संग कन्हैया
चुपके चुपके चल...

पागल पवन से कैसे कोई बोले
गोरी के मुख से घुँघटा न खोले
डोले हौले से मन की नैया
गोपियों संग कन्हैया
चुपके चुपके चल...

ये क्या हुआ मुझको क्या है ये पहेली
ऐसे जैसे के कोई राधा की सहेली
मैं भी ढूँढू कदम की छैंया
गोपियों संग कन्हैया
चुपके चुपके चल...

ऐसे समय पे कोई चुप भी रहे कैसे
बाँध लिए रुत ने पग में घुँघरु जैसे
नाचे मन ता-थैया ता-थैया
गोपियों संग कन्हैया
चुपके चुपके चल...


सा रे गा मा - Sa Re Ga Ma (Md.Rafi, Kishore Kumar, Chupke Chupke)



Movie/Album: चुपके चुपके (1975)
Music By: सचिन देव बर्मन
Lyrics By: आनंद बक्षी
Performed By: मोहम्मद रफ़ी, किशोर कुमार

चल शुरू हो जा
सा आ आ आ आ आ
अरे बस बस बस
बस सा पे रुक गया? आगे बढ़
रे... रे के आगे क्या है
गा... अरे वाह! वाह! वाह! वाह!
वाह! वाह! क्या गले में तासीर है
ये बात है तो मा
चल वापस आजा अपनी जगह पे
सा रे गा मा आहा
मा सा रे गा वाह! वाह!
गा सा रे मा ओहो!
मा गा रे सा ओह ओह ओह !

सा रे गा मा, मा सा रे गा
गा सा रे मा, मा गा रे सा
पा धा पा मा मा पा मा गा
रे पा मा मा गा रे सा
सा रे गा मा, मा सा रे गा
गा सा रे मा, मा गा रे सा

गीत पहले बना था, या बनी थी ये सरगम
एक ही साथ हुआ था दो दिलो का ये संगम
प्यार का ये तराना ज़माना सुन ले
सा रे गा मा, वन टू थ्री फोर
सा रे गा मा, मा सा रे गा
गा सा रे मा, मा गा रे सा

जैसे दिल मिलते हैं, वैसे सुर मिलते हैं
फूल तब गीतों के, होंठो पे खिलते हैं
तुम तानना दिम तानना ज़माना सुन ले
सा रे गा मा, वन टू थ्री फोर
सा रे गा मा, मा सा रे गा
गा सा रे मा, मा गा रे सा
सा रे गा मा, मा सा रे गा
गा सा रे मा, मा गा रे सा
मा गा रे सा, मा गा रे सा
मा गा रे सा, मा गा रे सा
मा गा रे सा, मा गा रे सा


All lyrics are property and copyright of their owners. All the lyrics are provided for educational purposes only. Copyright © Lyrics In Hindi | Powered by Blogger Design by ronangelo | Blogger Theme by NewBloggerThemes.com