Dangal लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
Dangal लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

नैना - Naina (Arijit Singh, Dangal)



Movie/Album: दंगल (2016)
Music By: प्रीतम चक्रबर्ती
Lyrics By: अमिताभ भट्टाचार्य
Performed By: अरिजीत सिंह

झूठा जग रैन बसेरा
सांचा दर्द मेरा
मृग-तृष्णा सा मोह पिया
नाता मेरा-तेरा

नैना, जो साँझ ख्वाब देखते थे नैना
बिछड़ के आज रो दिए हैं यूँ
नैना, जो मिल के रात जागते थे नैना
सहर में पलकें मीचते हैं यूँ
जुदा हुए कदम
जिन्होंने ली थी ये कसम
मिल के चलेंगे हरदम
अब बाँटते हैं ये ग़म
भीगे नैना, जो खिड़कियों से झाँकते थे नैना
घुटन में बंद हो गए है यूँ

साँस हैरान है, मन परेशान है
हो रही सी क्यूँ रुआंसा ये मेरी जान है
क्यूँ निराशा से है, आस हारी हुई
क्यूँ सवालों का उठा सा दिल में तूफ़ान है
नैना, थे आसमान के सितारे नैना
ग्रहण में आज टूटते हैं यूँ
नैना, कभी जो धूप सेकते थे नैना
ठहर के छाँव ढूँढते हैं यूँ
जुदा हुए कदम...


गिलहरियाँ - Gilehriyaan (Jonita Gandhi, Dangal)



Movie/Album: दंगल (2016)
Music By: प्रीतम चक्रबर्ती
Lyrics By: अमिताभ भट्टाचार्य
Performed By: जोनिता गाँधी

रंग बदल-बदल के क्यूँ चहक रहे हैं दिन दुपहरियाँ
मैं जानूँ ना, जानूँ ना, जानूँ ना, जानूँ ना
क्यूँ फुदक-फुदक के धड़कनों की चल रही गिलहरियाँ
मैं जानूँ ना, जानूँ ना, जानूँ ना, जानूँ ना
रंग बदल-बदल के...

क्यूँ ज़रा सा मौसम सरफिरा है
या मेरा मूड मसखरा है, मसखरा है
जो ज़ायका मन-मानियों का है
वो कैसा रस भरा है
मैं जानूँ ना, जानूँ ना, जानूँ ना

क्यूँ हज़ारों गुलमोहर सी
भर गयी है ख्वाहिशों की टहनियाँ
मैं जानूँ ना, जानूँ ना, जानूँ ना, जानूँ ना
क्यूँ फुदक-फुदक के...

इक नयी सी दोस्ती, आसमां से हो गयी
ज़मीन मुझसे जल के, मुँह बना के बोले
तू बिगड़ रही है
ज़िन्दगी भी आज कल, गिनतियों से लूम के
गणित के आंकड़ों के साथ
एक-आधा शेर पढ़ रही है
मैं सही ग़लत के पीछे छोड़ के चली कचहरियाँ
मैं जानूँ ना, जानूँ ना, जानूँ ना, जानूँ ना
क्यूँ फुदक-फुदक के...


All lyrics are property and copyright of their owners. All the lyrics are provided for educational purposes only. Copyright © Lyrics In Hindi | Powered by Blogger Design by ronangelo | Blogger Theme by NewBloggerThemes.com