Diljale लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
Diljale लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

हो नहीं सकता - Ho Nahin Sakta (Udit Narayan, Diljale)



Movie/Album: दिलजले (1996)
Music By: अनु मलिक
Lyrics By: जावेद अख्तर
Performed By: उदित नारायण

हो नहीं सकता, हो नहीं सकता
किसी के इश्क़ में खुद को मिटा लूँ
हो नहीं सकता, हो नहीं सकता...
किसी की याद में नींदें उड़ा लूँ
हो नहीं सकता, हो नहीं सकता...
मेरे ख़्वाबों में जो लड़की है
सचमुच हो नहीं सकती
किसी को भी मैं बाहों में बसा लूँ
हो नहीं सकता, हो नहीं सकता...

इस दिल के कागज़ पे, ख़्वाबों के रंगों से
झलकी जो तस्वीर है
होठों में कलियाँ हैं, आँखों में सागर है
ज़ुल्फों में ज़ंजीर है
दिलनशीं है वो, वो नाजनीं
सारी दुनिया में सबसे हसीं
जो है तस्वीर इस दिल में, कहीं वो मिल नहीं सकती
और उसके बिन कहीं दिल मैं लगा लूँ
हो नहीं सकता...

सपनों के दर्पण में, पलकों की चिलमन में
मेरे मन में रहती है जो
रंगत है खुशबू है, नगमा है जादू है
क्या कहना कैसी है वो
मेरे ख़्वाबों की मूरत है वो
क्या कहें कैसी सूरत है वो
जिसे दिल ढूँढे दुनिया में, कहीं हो ही नहीं सकती
तो फिर ये दिल की दुनिया मैं सजा लूँ
हो नहीं सकता...


जिसके आने से रंगों में - Jiske Aane Se Rangon Mein (Kumar Sanu, Diljale)



Movie/Album: दिलजले (1996)
Music By: अनु मलिक
Lyrics By: जावेद अख्तर
Performed By: कुमार सानू

जिसके आने से रंगों में डूब गई है शाम
सोच रहा हूँ किससे पूछूँ, उस लड़की का नाम
जिसके आने से...

रंग है सोना, रूप है चांदी, आँखें हैं नीलम
होंठ हैं कलियाँ, दाँत हैं मोती, ज़ुल्फ़ें हैं रेशम
जैसे ग़ज़ल है, जैसे कँवल है, जैसे छलकता जाम
सोच रहा हूँ...

पलकों की छाँव, साँस की खुशबू, बाहों का संदल
माथे का सूरज, तन के उजाले, चाल की ये हलचल
जिस्म सुनहरा, चाँद सा चेहरा, दिल के लिए आराम
सोच रहा हूँ...

हुस्न की मलिका, रूप की रानी, ख़्वाबों की शहज़ादी
जबसे मिली है, दिल में हुई है, ख़्वाबों की आबादी
जिसके लिए मैं, इस दुनिया में, ले लूँ हर इल्ज़ाम
सोच रहा हूँ...


मेरा मुल्क मेरा देश - Mera Mulk Mera Desh (Aditya, Kumar, Kavita, Diljale)



Movie/Album: दिलजले (1996)
Music By: अनु मलिक
Lyrics By: जावेद अख्तर
Performed By: आदित्य नारायण, कुमार सानू, कविता कृष्णामूर्ति

कुमार सानू, आदित्य नारायण

मेरा मुल्क, मेरा देश, मेरा ये वतन
शांति का उन्नति का प्यार का चमन
इसके वास्ते निसार है मेरा तन, मेरा मन
ऐ वतन, ऐ वतन, ऐ वतन
जानेमन जानेमन जानेमन
मेरा मुल्क मेरा देश...

इसकी मिट्टी से बने, तेरे मेरे ये बदन
इसकी धरती तेरे-मेरे वास्ते गगन
इसने ही सिखाया हमको जीने का चलन
इसके वास्ते निसार है...

अपने इस चमन को स्वर्ग हम बनायेंगे
कोना-कोना अपने देश का सजायेंगे
जश्न होगा ज़िन्दगी का होंगे सब मगन
इसके वास्ते निसार है...

कविता कृष्णामूर्ति

मेरा मुल्क मेरा देश मेरा ये वतन
शांति का उन्नति का प्यार का चमन
इसके वास्ते निसार है मेरा तन, मेरा मन
ऐ वतन ऐ वतन ऐ वतन
जानेमन जानेमन जानेमन

कल के सारे वादे आज टूटने लगे
हाथ में जो हाथ थे, वो छूटने लगे
काश लौट आये पहले जैसा अपनापन
ऐ वतन...


शाम है धुआँ धुआँ - Shaam Hai Dhuaan Dhuaan (Ajay Devgn, Poornima, Diljale)



Movie/Album: दिलजले (1996)
Music By: अनु मलिक
Lyrics By: जावेद अख्तर
Performed By: अजय देवगन, पूर्णिमा

शाम है धुआँ धुआँ
जिस्म का रुआँ रुआँ
उलझी-उलझी साँसों से
बहकी-बहकी धड़कन से
कह रहा है आरज़ू की दास्ताँ
शाम है धुआँ धुआँ...

आरज़ू झूठ है, कहानी है
आरज़ू का फरेब खाना नहीं
खुश जो रहना हो ज़िन्दगी में तुम्हें
दिल किसी से कभी लगाना नहीं

मेरे दिल पे जो लिखा है, वो तुम्हारा नाम है
मेरी हर नज़र में जाना, तुमको सलाम है
मुझको तुमसे प्यार है, प्यार है
गूंजते हैं मेरे प्यार से ये ज़मीन आसमां
शाम है धुआँ धुआँ...

क्यों बनाती हो तुम रेत के ये महल
जिनको एक रोज़ खुद ही मिटाओगी तुम
आज कहती हो इस दिलजले से प्यार है तुम्हें
कल मेरा नाम तक भूल जाओगी तुम

तुम्हें क्यों यकीन नहीं है, के मैं प्यार में हूँ गुम
हो मेरे ख़्वाबों में तुम्हीं हो, मेरे दिल में तुम ही तुम
मुझको तुमसे प्यार है, प्यार है
प्यार में निसार हो गए मेरे जिस्म और जान
शाम है धुंआ...

एक पल में जो आकर गुज़र जाता है
ये हवा का वो झोंका है और कुछ नहीं
प्यार कहती है ये सारी दुनिया जिसे
एक रंगीन धोखा है और कुछ नहीं


All lyrics are property and copyright of their owners. All the lyrics are provided for educational purposes only. Copyright © Lyrics In Hindi | Powered by Blogger Design by ronangelo | Blogger Theme by NewBloggerThemes.com