Ghanshyam Vasvani लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
Ghanshyam Vasvani लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

हाथों में मेहँदी रचाई - Haathon Mein Mehndi Rachaai (Asha Bhosle, Kunwara Badan)



Movie/Album: कुँवारा बदन (1973)
Music By: घनश्याम वसवानी
Lyrics By: राजेन्द्र कृष्ण
Performed By: आशा भोंसले

हाथों में मेहँदी रचाई जाएगी
माथे पे बिंदिया सजाई जाएगी
राजा के सहरे से, रानी के घूँघट की
आज रात जोड़ी मिलाई जाएगी

अँखियों में खेल रही आशा मिलन की
बरसों से आस थी जिया को इसी दिन की
दिल की मुराद पाई, आई वो घड़ी आई
डोली दुल्हन की उठाई जाएगी
हाथों में मेहँदी रचाई...

फूलों की सेज पर सजना से मेल होगा
सोचो ज़रा गोरी कैसा प्यार भरा खेल होगा
झूमेंगी तन की कलियाँ
महकेंगी मन की गलियाँ
नजरिया न पिया से मिलाई जाएगी
हाथों में मेहँदी रचाई...

बाबुल का घर छूट रहा है
कैसा बंधन टूट रहा है
गोदी में खिलाया जिसने
डोली में बिठाया उसने
जो अपनी सी हो के, पराई जाएगी
हाथों में मेहँदी रचाई...


All lyrics are property and copyright of their owners. All the lyrics are provided for educational purposes only. Copyright © Lyrics In Hindi | Powered by Blogger Design by ronangelo | Blogger Theme by NewBloggerThemes.com