Hasrat Jaipuri लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
Hasrat Jaipuri लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

तेरी जुल्फों से जुदाई - Teri Zulfon Se Judai (Md.Rafi)



Movie/Album: जब प्यार किसी से होता है (1961)
Music By: शंकर जयकिशन
Lyrics By: हसरत जयपुरी
Performed By: मो.रफ़ी

तेरी ज़ुल्फ़ों से जुदाई तो नहीं माँगी थी
क़ैद माँगी थी, रिहाई तो नहीं माँगी थी

मैंने क्या ज़ुल्म किया, आप खफ़ा हो बैठे
प्यार माँगा था, खुदाई तो नहीं माँगी थी
क़ैद माँगी थी...

मेरा हक़ था तेरी आंखों की छलकती मय पर
चीज़ अपनी थी, पराई तो नहीं माँगी थी
क़ैद माँगी थी...

अपने बीमार पे, इतना भी सितम ठीक नहीं
तेरी उल्फ़त में, बुराई तो नहीं माँगी थी
क़ैद माँगी थी...

चाहने वालों को कभी, तूने सितम भी ना दिया
तेरी महफ़िल से, रुसवाई तो नहीं माँगी थी
क़ैद माँगी थी...


जिया ओ जिया - Jiya O Jiya (Md.Rafi)



Movie/Album: जब प्यार किसी से होता है (1961)
Music By: शंकर जयकिशन
Lyrics By: हसरत जयपुरी
Performed By: मो.रफ़ी

जिया ओ, जिया ओ जिया कुछ बोल दो
अरे ओ, दिल का पर्दा खोल दो
जब प्यार किसी से होता है
तो दर्द सा दिल में होता है
तुम एक हसीन हो लाखों में
भला पा के तुम्हें कोई खोता है
जिया ओ जिया...

नज़रों से कितने तीर चले
चलने दो जिगर पर झेलेंगे
इन प्यार की उजली राहों पर
हम जान की बाज़ी खेलेंगे
इन दो नैनों के सागर में
कोई दिल की नैया डुबोता है
जिया ओ जिया...

तुम भी तो इस आग में जलते हो
चेहरे से बयां हो जाता है
हर बात पे आहें भरते हो
हर बात पे दिल थर्राता है
जब दिल पे छुरियां चलती हैं
तो चैन से कोई सोता है
जिया ओ जिया...


सौ साल पहले - Sau Saal Pehle (Md.Rafi)



Movie/Album: जब प्यार किसी से होता है (1961)
Music By: शंकर जयकिशन
Lyrics By: हसरत जयपुरी
Performed By: मो.रफ़ी

सौ साल पहले, मुझे तुमसे प्यार था
आज भी है और कल भी रहेगा
सदियों से तुझसे मिलने, जिया बेक़रार था
आज भी है और कल भी रहेगा

तुम रूठा ना करो
मेरी जाँ मेरी जान निकल जाती है
तुम हँसती रहती हो
तो इक बिजली सी चमक जाती है
मुझे जीते जी ओ दिलबर, तेरा इंतज़ार था
आज भी है और..

इस दिल के तारों में
मधुर झनकार तुम्हीं से है
और ये हसीन जलवा
ये मस्त बहार तुम्हीं से है
दिल तो मेरा सनम, तेरा तलबगार था
आज भी है और...

इन प्यार की राहों में
कहो तो अब दिल को लुटा दूँ मैं
ओ चाँदी के क़दमों में
धड़कते दिल को बिछा दूँ मैं
तुझे मेरे जीवन पर सदा इख़्तियार था
आज भी है और...


दिल का भंवर करे - Dil Ka Bhanwar Kare (Md.Rafi)



Movie/Album: तेरे घर के सामने (1963)
Music By: एस.डी.बर्मन

Lyrics By: हसरत जयपुरी
Performed By: मो.रफ़ी

दिल का भंवर करे पुकार
प्यार का राग सुनो
प्यार का राग सुनो रे

फूल तुम गुलाब का, क्या जवाब आपका
जो अदा है, वो बहार है
आज दिल की बेकली, आ गई ज़बान पर
बात ये है, तुमसे प्यार है
दिल तुम्हीं को दिया रे, प्यार का राग सुनो रे
दिल का भंवर...

चाहे तुम मिटाना, पर न तुम गिराना
आँसू की तरह निगाह से
प्यार की उँचाई, इश्क़ की गहराई
पूछ लो हमारी आह से
आसमाँ छू लिया रे, प्यार का राग सुनो रे
दिल का भंवर...

इस हसीन उतार पे, हम न बैठे हार के
साया बन के साथ हम चले
आज मेरे संग तो, गूँजे दिल की आरज़ू
तुझसे मेरी आँख जब मिले
जाने क्या कर दिया रे, प्यार का राग सुनो
दिल का भंवर...

आप का ये आँचल, प्यार का ये बादल
फिर हमें ज़मीं पे ले चला
अब तो हाथ थाम लो, इक नज़र का जाम दो
इस नये सफ़र का वस्ता
तुम मेरे साक़िया रे, प्यार का राग सुनो रे
दिल का भंवर...


देखो रूठा ना करो - Dekho Rootha Na Karo (Md.Rafi, Lata Mangeshkar)



Movie/Album: तेरे घर के सामने (1963)
Music By: एस.डी.बर्मन

Lyrics By: हसरत जयपुरी
Performed By: मो.रफ़ी, लता मंगेशकर

देखो रूठा ना करो, बात नज़रों की सुनो
हम न बोलेंगे कभी, तुम सताया ना करो
देखो रूठा ना करो...

चेहरा तो लाल हुआ, क्या क्या हाल हुआ
इस अदा पर तेरी, मैं तो पागल हुआ
तुम बिगड़ने जो लगो,  और भी हंसीं लगो
हम न बोलेंगे कभी, तुम सताया ना करो
देखो रूठा ना करो...

जान पर मेरी बनी, आपकी ठहरी हंसी
हाय मैं जान गई, प्यार की चिकनागरी
दिल जलाने के लिये, ठंडी आहें न भरो
देखो रूठा ना करो...

तेरी खुशबू ने मेरे, होश भी छीन लिये
है खुशी आज हमें, तेरे पहलू में गिरे
दिल की धड़कन पे ज़रा, फूल सा हाथ रखो
हम न बोलेंगे कभी...

क्या कहेगा ये समां, इन राहों का धुँआ
लाज आए मुझे, मुझको लाए हो कहाँ
हम तुम्हें मान गए, तुम बड़े वो हो हटो
देखो रूठा ना करो...


तेरे घर के सामने - Tere Ghar Ke Samne (Md.Rafi, Lata Mangeshkar)



Movie/Album: तेरे घर के सामने (1963)
Music By: एस.डी.बर्मन

Lyrics By: हसरत जयपुरी
Performed By: मो.रफ़ी, लता मंगेशकर

तेरे घर के सामने
इक घर बनाऊंगा, तेरे घर के सामने
दुनिया बसाऊंगा, तेरे घर के सामने
इक घर बनाऊंगा...

घर का बनाना कोई, आसान काम नहीं
दुनिया बसाना कोई, आसान काम नहीं
दिल में वफ़ायें हों तो, तूफ़ां किनारा है
बिजली हमारे लिये, प्यार का इशारा है
तन मन लुटाऊंगा, तेरे घर के सामने
दुनिया बसाऊंगा, तेरे घर के सामने...

कहते हैं प्यार जिसे, दरिया है आग का
या फिर नशा है कोई, जीवन के राग का
दिल में जो प्यार हो तो, आग भी फूल है
सच्ची लगन जो हो तो, पर्बत भी धूल है
तारे सजाऊंगा, तेरे घर के सामने
दुनिया बसाऊंगा, तेरे घर के सामने...

कांटों भरे हैं लेकिन, चाहत के रास्ते
तुम क्या करोगे देखें, उल्फत के वास्ते
उल्फत में ताज़ छूटे, ये भी तुम्हें याद होग
उल्फत में ताज़ बने, ये भी तुम्हें याद होग
मैं भी कुछ बनाऊंगा (हूँ) तेरे घर के सामने (देखें)
दुनिया बसाऊंगा, तेरे घर के सामने...


कौन है जो सपनों में आया - Kaun Hai Jo Sapnon Mein Aaya (Md.Rafi, Jhuk Gaya Aasman)



Movie/Album: झुक गया आसमान (1968)
Music By: शंकर जयकिशन
Lyrics By: हसरत जयपुरी
Performed By: मो.रफ़ी

कौन है जो सपनों में आया
कौन है जो दिल में समाया
लो झुक गया आसमां भी
इश्क़ मेरा रंग लाया
ओ प्रिया...

ज़िन्दगी के हर इक मोड़ पे मैं
गीत गाता चला जा रहा हूँ
बेखुदी का ये आलम न पूछो
मंजिलों से बढ़ा जा रहा हूँ
कौन है जो सपनों...

सज गई आज सारी दिशाएं
खुल गईं आज जन्नत की राहें
हुस्न जबसे मेरा हो गया है
मुझपे पड़ती हैं सबकी निगाहें
कौन है जो सपनों...

जिस्म को मौत आती है लेकिन
रूह को मौत आती नहीं है
इश्क़ रौशन है, रौशन रहेगा
रौशनी इसकी जाती नहीं है
कौन है जो सपनों...


उनसे मिली नज़र के मेरे - Unse Mili Nazar Ke Mere (Jhuk Gaya Aasman, Lata Mangeshkar)



Movie/Album: झुक गया आसमान (1968)
Music By: शंकर जयकिशन
Lyrics By: हसरत जयपुरी
Performed By: लता मंगेशकर

उनसे मिली नज़र के मेरे होश उड़ गये
ऐसा हुआ असर के मेरे होश उड़ गये
उनसे मिली नज़र...

जब वो मिले मुझे पहली बार
उनसे हो गईं आँखें चार
पास ना बैठे पल भर वो
फिर भी हो गया उनसे प्यार
इतनी थी बस ख़बर के मेरे होश उड़ गये
उनसे मिली नज़र...

उनकी तरफ़ दिल खिंचने लगा
बढ़ के कदम फिर रुकने लगा
काँप गई मैं जाने क्यूँ
अपने आप दम घुटने लगा
छाये वो इस कदर के मेरे होश उड़ गये
उनसे मिली नज़र...

घर मेरे आया वो मेहमान
दिल में जगाये सौ तूफ़ान
देख के उनकी सूरत को
हाय रह गई मैं हैरान
तड़पूँ इधर उधर के मेरे होश उड़ गये
उनसे मिली नज़र...


रे माम्मा रे माम्मा - Re Mama Re Mama Re (Md.Rafi, Andaz)



Movie/Album: अंदाज़ (1971)
Music By: शंकर जयकिशन
Lyrics By: हसरत जयपुरी
Performed By: मो.रफ़ी

सुन लो सुनाता हूँ तुमको कहानी
रूठो ना हमसे ओ गुड़ियों की रानी
रे माम्मा रे माम्मा रे
रे माम्मा रे माम्मा रे

हम तो गए बाज़ार में लेने को आलू
आलू वालू कुछ न मिला पीछे पड़ा भालू
रे माम्मा रे माम्मा...

हम तो गए बाज़ार में लेने को लट्टू
लट्टू वट्टू कुछ न मिला पीछे पड़ा टट्टू
रे माम्मा रे माम्मा...

हम तो गए बाज़ार में लेने को रोटी
रोटी वोटी कुछ न मिली पीछे पड़ी मोटी
रे माम्मा रे माम्मा...


दिल उसे दो जो जां दे दे - Dil Use Do Jo Jaan De De (Asha, Rafi, Andaz)



Movie/Album: अंदाज़ (1971)
Music By: शंकर जयकिशन
Lyrics By: हसरत जयपुरी
Performed By: आशा भोंसले, मो.रफ़ी

दिल उसे दो जो जां दे दे
जां उसे दो जो दिल दे दे

ये प्यार के नज़ारे हैं देख लो जिधर
अब नाचती है दुनिया खुशी का है असर
लो खत्म हुआ है ये आज का सफ़र
अब होगी सुहानी वो कल की सहर
दिल उसे दो जो जां...

जो सोचते रहोगे तो कुछ न मिलेगा
जो चुपके रहोगे तो काम न बनेगा
जो दिल में जलोगे तो अरमां रहेगा
जो बढ़ते चलोगे तो रास्ता मिलेगा
दिल उसे दो जो जां...

वो गुंचा नहीं है जो खिलना न जाने
वो बाद-ए-सबा क्या जो चलना न जाने
वो बिजली नहीं जो चमकना न जाने
वो इन्सां नहीं जो तड़पना न जाने
दिल उसे दो जो जां...


ज़िन्दगी एक सफ़र है सुहाना - Zindagi Ek Safar Hai Suhana (Kishore Kumar, Andaz)



Movie/Album: अंदाज़ (1971)
Music By: शंकर जयकिशन
Lyrics By: हसरत जयपुरी
Performed By: किशोर कुमार

ज़िन्दगी एक सफ़र है सुहाना
यहाँ कल क्या हो किसने जाना

चाँद तारों से चलना है आगे
आसमानों से बढ़ना है आगे
पीछे रह जायेगा ये ज़माना
यहाँ कल क्या हो...
ज़िन्दगी एक सफ़र...

हँसते गाते जहाँ से गुज़र
दुनिया की तू परवाह ना कर
मुस्कुराते हुए दिन बिताना
यहाँ कल क्या हो...
ज़िन्दगी एक सफ़र...

मौत आनी है आयेगी इक दिन
जान जानी है जाएगी इक दिन
ऐसी बातों से क्या घबराना
यहाँ कल क्या हो...
ज़िन्दगी एक सफ़र...


है ना बोलो बोलो - Hai Na Bolo Bolo (Rafi, Suman, Sushma, Pratibha, Andaz)



Movie/Album: अंदाज़ (1971)
Music By: शंकर जयकिशन
Lyrics By: हसरत जयपुरी
Performed By: सुमन कल्यानपुर, मो.रफ़ी, सुषमा श्रेष्ठ. प्रतिभा

है ना बोलो बोलो
पापा को मम्मी से
मम्मी को पापा से
प्यार है, प्यार है

पापा मम्मी मिलते हैं
चुपके-चुपके हँसते हैं
जाने क्या-क्या कहते हैं
बातें करते रहते हैं
है ना बोलो बोलो...

मम्मी तेरी अच्छी है
कितनी भोली-भाली है
पापा भी तो अच्छे हैं
कितने प्यारे-प्यारे हैं
है ना बोलो बोलो...
मुन्नी बोलो बोलो
दीपू बोलो बोलो...

है ना बोलो बोलो
पापा को दीपू से
मम्मी को मुन्नी से
प्यार है, प्यार है...


ओ महबूबा - O Mehbooba (Mukesh, Sangam)



Movie/Album: संगम (1964)
Music By: शंकर जयकिशन
Lyrics By: हसरत जयपुरी
Performed By: मुकेश

ओ महबूबा
तेरे दिल के पास ही है मेरी मंज़िल-ए-मक़्सूद
वो कौन सी महफ़िल है जहाँ तू नहीं मौजूद
ओ महबूबा...

किस बात से नाराज़ हो, किस बात का है ग़म
किस सोच में डूबी हो तुम, हो जायेगा संगम
ओ महबूबा...

गुज़रूँ मैं इधर से कभी, गुज़रूँ मैं उधर से
मिलता है हर इक रासता, जा कर तेरे दर से
ओ महबूबा...

बाहों के तुझे हार मैं पहनाऊँगा इक दिन
सब देखते रह जायेंगे, ले जाऊँगा इक दिन
ओ महबूबा...


हम तुझसे मोहब्बत कर के - Hum Tujhse Mohabbat Kar Ke (Mukesh, Awaara)



Movie/Album: आवारा (1951)
Music By: शंकर जयकिशन
Lyrics By: हसरत जयपुरी
Performed By: मुकेश

हम तुझसे मुहब्बत कर के सनम
रोते भी रहे, हँसते भी रहे

है दिल की लगी क्या तुझको खबर
इक दर्द उठा थर्रायी नज़र
खामोश थे हम इस ग़म की क़सम
रोते भी रहे, हँसते भी रहे...

ये दिल जो जला इक आग लगी
आँसू जो बहे बरसात हुई
बादल की तरह आवारा थे हम
रोते भी रहे, हँसते भी रहे...


ऐसा मौका फिर कहाँ मिलेगा - Aisa Mauka Fir Kahan Milega (Md.Rafi, An Evening In Paris)



Movie/Album: ऐन इवनिंग इन पैरिस (1967)
Music By: शंकर जयकिशन
Lyrics By: हसरत जयपुरी
Performed By: मो.रफ़ी

अजी ऐसा मौका फिर कहाँ मिलेगा
हमारे जैसा दिल कहाँ मिलेगा
आओ तुमको दिखलाता हूँ
पैरिस की एक रंगीं शाम
देखो देखो देखो देखो देखो
An Evening in Paris

देखो ये परियों की टोली
मीठी मीठी जिनकी बोली
क्या क्या दिल पर रंग जमाए
जलवों की ये आँख मिचौली
अजी ऐसा मौका...

हाथों में हाथों को डाले
फिरते हैं आशिक़ निराले
ढूँढो यहाँ तुम भी साथी
मिल जाएंगे हुस्न वाले
अजी ऐसा मौका...

अपने दिल का दामन भर लो
मर जाओगे प्यार कर लो
कल का सपना किसने देखा
इन राहों से आज गुज़र लो
अजी ऐसा मौका...


अकेले अकेले कहाँ जा रहे हो - Akele Akele Kahan Ja Rahe Ho (Md.Rafi, An Evening In Paris)



Movie/Album: ऐन इवनिंग इन पेरिस (1967)
Music By: शंकर जयकिशन
Lyrics By: हसरत जयपुरी
Performed By: मो.रफ़ी

अकेले अकेले कहाँ जा रहे हो
हमें साथ ले लो जहाँ जा रहे हो
अकेले अकेले कहाँ...

कोई मिट रहा है, तुम्हें कुछ पता है
तुम्हारा हुआ है, तुम्हें कुछ पता है
ये क्या माज़रा है, तुम्हें कुछ पता है
अकेले अकेले कहाँ...

तड़पता ना छोड़ो, मेरी जान हो तुम
ये मुखड़ा ना मोड़ो, मेरी जान हो तुम
मेरा दिल ना तोड़ो, मेरी जान हो तुम
अकेले अकेले कहाँ...

कोई रोक लेगा, तो फिर क्या करोगे
कदम थाम लेगा, तो फिर क्या करोगे
खुशामद करेगा, तो फिर क्या करोगे
अकेले अकेले कहाँ...


दीवाने का नाम तो पूछो - Deewane Ka Naam To Poocho (Md.Rafi, An Evening In Paris)



Movie/Album: ऐन इवनिंग इन पैरिस (1967)
Music By: शंकर जयकिशन
Lyrics By: हसरत जयपुरी
Performed By: मो.रफ़ी

दीवाने का नाम तो पूछो
प्यार से देखो, काम तो पूछो
चाहे फिर न मिलना
दीवाने का नाम...

गुस्सा छोड़ो, बात तो मानो
इस बन्दे को अपना जानो
दूर से धोखा हो सकता था
पास हूँ अब तो अब पहचानो
दीवाने का नाम तो पूछो...

हट गया आखिर भरम का साया
अब समझा मैं, अब याद आया
ख़्वाब में तुमको, अक़्सर देखा
आज मुजस्सिम सामने आया
दीवान का नाम तो पूछो...

ये पैरिस की शाम सुहानी
प्यार की नगरी, रूप की रानी
बन के रहेगा कोई अफ़साना
छिड़ के रहेगी कोई कहानी
दीवाने का नाम तो पूछो...


आसमान से आया फ़रिश्ता - Aasmaan Se Aaya Farishta (Md.Rafi, An Evening In Paris)



Movie/Album: ऐन इवनिंग इन पैरिस (1967)
Music By: शंकर जयकिशन
Lyrics By: हसरत जयपुरी
Performed By: मो.रफ़ी, शर्मीला टैगोर

आसमान से आया फ़रिश्ता
प्यार का सबक सिखलाने
दिल में है तसवीर यार की
लाया हूँ वो दिखलाने
कहो प्यार है तुम से (जा जा)
ओ जाना कहो प्यार है तुम से (जा जा जा)

सीखो, ज़रा सीखो, अंदाज़ प्यार का हमसे तुम
कर लो, अजी कर लो, इक़रार प्यार का हमसे तुम
आसमान से आया फ़रिश्ता...

दिलबर तेरी ख़ातिर, मैं चाँद छोड़ कर आया हूँ
देने नज़राना, मैं अपने प्यार को लाया हूँ
आसमान से आया फ़रिश्ता...

साया हूँ मैं तेरा, तेरे साथ-साथ ही आऊँगा
आशिक़ हूँ मैं तेरा, बाहों से बाँध ले जाऊँगा
आसमान से आया फ़रिश्ता...


ओ मेरे शाह-ए-खूबाँ - O Mere Shah-e-Khubaan (Md.Rafi, Lata Mangeshkar, Love In Tokyo)



Movie/Album: लव इन टोक्यो (1966)
Music By: शंकर जयिकशन
Lyrics By: हसरत जयपुरी
Performed By: मो.रफ़ी, लता मंगेशकर

ओ मेरे शाह-ए-खूबाँ, ओ मेरी जान-ए-जनाना
तुम मेरे पास होते हो, कोई दूसरा नहीं होता

कब खयालों की धूप ढलती है
हर क़दम पर शमा सी जलती है
मेरा साया जिधर भी जाता है
तेरी तसवीर साथ चलती है
ओ मेरे शाह-ए-खूबाँ...

तुम हो सहरा में, तुम गुलिस्ताँ में
तुम हो ज़र्रों में, तुम बियाबां में
मैंने तुमको कहाँ-कहाँ देखा
छुपके रहते हो तुम रग-ए-जाँ में
ओ मेरे शाह-ए-खूबाँ...

मेरी आँखों की जुस्तजू तुम हो
इल्तजा तुम हो, आरज़ू तुम हो
मैं किसी और को तो क्या जानूं
मेरी उल्फ़त की आबरू तुम हो
ओ मेरे शाह-ए-खूबाँ...


रुख़ से ज़रा नक़ाब - Rukh Se Zara Naqaab (Md.Rafi, Mere Huzoor)



Movie/Album: मेरे हुज़ूर (1968)
Music By: शंकर जयिकशन
Lyrics By: हसरत जयपुरी
Performed By: मो.रफ़ी

अपने रुख़ पर निगाह करने दो
खूबसूरत गुनाह करने दो
रुख़ से परदा हटाओ जान-ए-हया
आज दिल को तबाह करने दो

रुख़ से ज़रा नकाब उठा दो, मेरे हुजूर
जलवा फिर एक बार दिखा दो, मेरे हुजूर

वो मरमरी से हाथ, वो महका हुआ बदन
टकराया मेरे दिल से, मोहब्बत का एक चमन
मेरे भी दिल का फूल खिला दो, मेरे हुजूर
रुख़ से ज़रा नकाब...

हुस्न-ओ-जमाल आपका शीशे में देखकर
मदहोश हो चुका हूँ मैं, जलवों की राह पर
गर हो सके तो होश में ला दो, मेरे हुजूर
रुख़ से ज़रा नकाब...

तुम हमसफ़र मिले हो मुझे इस हयात में
मिल जाए जैसे चाँद कोई सूनी रात में
जाओगे तुम कहाँ ये बता दो, मेरे हुजूर
रुख़ से ज़रा नक़ाब...


All lyrics are property and copyright of their owners. All the lyrics are provided for educational purposes only. Copyright © Lyrics In Hindi | Powered by Blogger Design by ronangelo | Blogger Theme by NewBloggerThemes.com