Jubin Nautiyal लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
Jubin Nautiyal लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

ज़िन्दगी कुछ तो बता - Zindagi Kuch To Bata (Jubin, Rahat, Rekha, Bajrangi Bhaijaan)



Movie/Album: बजरंगी भाईजान (2015)
Music By:
प्रीतम चक्रवर्ती
Lyrics By: नीलेश मिश्रा
Performed By: जुबिन नौटियाल, प्रीतम, राहत फ़तेह अली खान, रेखा भरद्वाज

इक दिन मोहब्बत ओढ़ कर
इक दिन गली के मोड़ पर
तेरी हथेली पर लिखूं
मेरा नाम, तेरे नाम पर
फिर तु तक़ल्लुफ़ छोड़ कर
फिर तु झुका कर के नज़र
रखना मेरे काँधे पे सर
ज़िन्दगी
कुछ तो बता ज़िन्दगी
अपना पता ज़िन्दगी

तारों भरी इक रात में, तेरे ख़त पढ़ेंगे साथ में
कोरा जो पन्ना रह गया, एक कांपते से हाथ में
थोड़ी शिक़ायत करना तू, थोड़ी शिक़ायत मैं करूँ
नाराज़ बस ना होना तू ज़िन्दगी
कुछ तो बता ज़िन्दगी
अपना पता ज़िन्दगी...

(तू है तो मैं हूँ, तू है तो मैं हूँ
तू है तो फ़लक, तू है तो ज़मीं)

कोई रस्ता, कोई डगर
कोई निशाँ तो दे मुझे
कुछ तो बता ज़िन्दगी
ज़िन्दगी


एक मुलाक़ात हो - Ek Mulaqat Ho (Jubin Nautiyal, Sonali Cable)



Movie/Album: सोनाली केबल (2014)
Music By: अमजद-नदीम
Lyrics By: समीर
Performed By: जुबिन नौटियाल

एक मुलाकात हो, तू मेरे पास हो
जीने की वजह तुम बनो, तुम बनो
बन के तू रहबर, मुझको मिला है
तू मिल गया, मैं मुकम्मल हुआ
एक मुलाकात ज़रूरी, है ज़रूरी, जीने के लिए
हाँ मुलाक़ात ज़रूरी...

तेरे बिन लम्हां खाली सा लगता है
चेहरा तेरा अपना सा लगता है
तू मिल जाए मिल जाए ये जहां
सजदों में खुदा से माँगा है जाने-जां
बन के तू रहबर...

मैं तुझे चूम लूँ, चाहत सी होती है
पास तू जो रहे, राहत सी होती है
चल प्यार की नई शुरुआत हो
कुछ ना कहें पर सारी बात हो
बन के तू रहबर...

हर पल दिल में अधूरापन सा है
भटके तन्हाँ बंजारा जीवन है
मैं हूँ क्या बस, एक आधा आसमां
ना रख पाऊँ, फासला दर्मियाँ
बन के तू रहबर...


याद है ना - Yaad Hai Na (Arijit Singh, Jubin Nautiyal, Raaz Reboot)



Movie/Album: राज़ रीबूट (2016)
Music By: जीत गांगुली
Lyrics By: कौसर मुनीर
Performed By: अरिजीत सिंह, जुबिन नौटियाल

वो मेरे आने पे खिल जाना तेरा
वो मेरे जाने पे चिढ़ जाना तेरा
वो मेरे छूने पे छिल जाना तेरा
याद है ना...

वो पास आने पे पिघल जाना तेरा
बूँद-बूँद मुझपे बरस जाना तेरा
तिल-तिल मुझको वो तरसाना तेरा
याद है ना...

होंठों से पलकों को खोलना
पलकों पे दर्दों को तोलना
दर्दों को चादर में छोड़ना
जो तेरे तकिये पे नींदें थी पड़ी
जो तेरी नींदों में रातें थी ढली
जो तेरी रातों में साँसें थी चली
याद है ना...

आजा ना फिर से चाँद तले
मैं और तू एक साथ जलें
मैं और तू एक साथ बुझे
वो मेरे आने पे...


काबिल हूँ - Kaabil Hoon (Jubin Nautiyal, Palak Muchhal)



Movie/Album: काबिल (2017)
Music By: राजेश रोशन
Lyrics By: नासिर फ़राज़
Performed By: जुबिन नौटियाल, पलक मुछाल

तेरे-मेरे सपने सभी
बंद आँखों के ताले में है
चाबी कहाँ ढूंढें बता
वो चाँद के प्याले में है
फिर भी सपने कर दिखाऊँ सच तो
कहना बस ये ही
मैं तेरे काबिल हूँ या
तेरे काबिल नहीं

ये शरारतें, ये मस्तियाँ
अपना यही अंदाज़ है
समझाएँ क्या, कैसे कहें
जीने का हाँ इसमें राज़ है
धड़कन कहाँ ये धड़कती है
दिल में तेरी आवाज़ है
अपनी सब खुशियों का अब तो ये आगाज़ है
तेरे-मेरे सपने सभी...

सागर की रेत पे दिल को जब
ये बनायेंगी मेरी उँगलियाँ
तेरे नाम को ही पुकार के
खनकेंगी मेरी चूड़ियाँ
तुझमें अदा ऐसी है आज
उड़ती हों जैसे तितलियाँ
फीकी अब ना होंगी कभी ये रंगीनियाँ
तेरे-मेरे सपने सभी...

Sad Version
तेरे साथ ही इस आग में
मेरे सपने वो सब जल गए
गुज़रे जो पल तेरे साथ में
मेरे अपने वो सब जल गए
उड़ती ये राख अब अरमानों की
मुझसे पूछे यही
मैं तेरे काबिल हूँ या
तेरे काबिल नहीं


बावरा मन - Bawara Mann (Jubin Nautiyal, Neeti Mohan, Jolly LLB 2)



Movie/Album: जॉली एलएलबी २ (2017)
Music By:
चिरंतन भट्ट
Lyrics By: जुनैद वसी
Performed By: जुबिन नौटियाल, नीति मोहन

बावरा मन राह ताके तरसे रे
नैना भी मल्हार बन के बरसे रे
आधे से अधूरे से, बिन तेरे हम हुए
फीका लगे है मुझको सारा जहां
बावरा मन राह ताके...

ये कैसी ख़ुशी है, जो मोम सी है
आँखों के रस्ते हँस के पिघलने लगी
मन्नत के धागे, ऐसे हैं बाँधे
टूटे ना रिश्ता जुड़ के तुझसे कभी
सौ बलाएँ ले गया तू सर से रे
नैना ये मल्हार...

मैं कागज़ की कश्ती, तू बारिश का पानी
ऐसा है तुझे अब ये रिश्ता मेरा
तू है तो मैं हूँ, तू आए तो बह लूँ
आधी है दुनिया मेरी तेरे बिना
जी उठी सौ बार तुझपे मर के रे
नैना भी मल्हार...


किसी से प्यार हो जाए - Kisi Se Pyar Ho Jaaye (Jubin Nautiyal, Kaabil)



Movie/Album: काबिल (2017)
Music By: राजेश रोशन
Lyrics By: मनोज मुन्तशिर
Performed By: जुबिन नौटियाल

ज़रा-ज़रा नींद भी अजनबी सी हो गयी
ज़रा-ज़रा चैन से दुश्मनी सी हो गयी
तुम मिले खो गया है खुद का ही पता
क्या करूँ क्या नहीं, कुछ बस में ना रहा
समझूँ कैसे कोई ही समझाए
दिल क्या करे जब किसी से
किसी को प्यार हो जाये
जाने कहाँ कब किसी को
किसी से प्यार हो जाये

ऊँची-ऊँची दीवारों सी, इस दुनिया की रस्में
ना कुछ तेरे बस में जाना, ना कुछ मेरे बस में
तुम मिले खो गया...

जैसे पर्बत पे घटा झुकती है
जैसे सागर से लहर उठती है
ऐसे किसी चेहरे पे निगाह रुकती है
रोक नहीं सकती नज़रों को, दुनिया भर की कसमें
तुम मिले खो गया...


इक वारी आ - Ik Vaari Aa (Arijit Singh, Jubin, Raabta)



Movie/Album: राबता (2017)
Music By: प्रीतम चक्रवर्ती
Lyrics By: अमिताभ भट्टाचार्य
Performed By: अरिजीत सिंह, जुबिन नौटियाल

इक वारी आ भी जा यारा
इक वारी आ
राह तकूँ मैं बेचारा
इक वारी आ
ढल रही शाम है, दिल तेरे नाम है
इसकी आदत बनी है तेरी यारियाँ
चाँद हूँ मैं, तू है तारा
इक वारी आ...

ये इश्क़ की इन्तेहाँ, लेने लगी इम्तेहाँ
हद से गुज़रने लगी हैं मेरी चाहतें
धड़कन की बेताबियाँ, करने लगी इल्तेजा
लग जा गले से ज़रा तो मिले राहतें
बस तुझे चाहना, इक यही काम है
काम आने लगी सारी बेकारियाँ
उसपे समां भी है प्यारा
इक वारी आ...

अरिजीत
है प्यार तो कई दफ़ा किया
तुझसे नहीं किया तो क्या किया
तेरा मेरा ये वास्ता
है इस ज़िन्दगी की दास्ताँ
या फिर कोई हमारा पहले से है राबता
तो इक वारी आ, आ भी जा...

जुबिन
है प्यार तो कई दफ़ा किया
तुझसे नहीं किया तो क्या किया
हुआ है मेरे जिस्म का हर रुआ
जिस दिन से तेरा छुआ
मान मेरा यकीं, मैं मुझसे बेहतर हुआ
तो इक वारी आ, आ भी जा...


द हम्मा सॅान्ग - The Humma Song (Jubin Nautyal, Shashaa Tirupati, Badshah, OK Jaanu)



Movie/Album: ओके जानू (2017)
Music By: ए.आर.रहमान
Lyrics By: महबूब, बादशाह
Performed By: जुबिन नौत्याल, शाषा तिरूपती, बादशाह, तनिष्क बागची

इक हो गये हम और तुम
हम्मा, हम्मा, हम्मा
तो उड़ गई नींदे रे
हे हम्मा

इक हो गये हम और तुम
तो उड़ गई नींदे रे
और खनकी पायल मस्ती में तो
कंगन खनके रे

ये पहली बार मिले
तुम पे ये दम निकले
हमपे ये जवानी धीरे-धीरे मद्धम मचले रे
हम्मा, हम्मा, हम्मा, हम्मा, हम्मा
हे हम्मा, हम्मा, हम्मा, हम्मा, हम्मा

मुझे डर इस बात का है बस
के कहीं ना ये रात निकल जाए
मेरे इतने भी पास तू आ मत
कहीं मेरे हाथों से ना बात निकल जाए
बोलूँगा सच मैं जो दे तू इजाज़त
सबर भी अब करने लगा बगावत
ज़ुल्फ़ें हैं ज़ालिम और आँखें है आफ़त
लगता है होने वाली है कयामत
मत तड़पा ऐसे तू, ना कर नाइंसाफ़ी
जो गलती करने वाला हूँ मैं
उसके लिए पहले से ही माँगता हूँ माफ़ी

खिली चाँदनी जैसा ये बदन
जानम मिला तुमको
मन में सोचा था जैसा रूप तेरा
आया नज़र हमको
सितम खुली-खुली ये
सनम गोरी-गोरी
बाँहें करती हैं यूँ
हमें तुमने जब गले लगाया तो
खो ही गये हम
हम्मा, हम्मा, हम्मा, हम्मा, हम्मा
हे हम्मा, हम्मा, हम्मा, हम्मा, हम्मा
इक हो गये हम और तुम
हम्मा, हम्मा, हम्मा
तो उड़ गई नींदे रे
हे हम्मा


तेरे लिए - Tere Liye (Jubin Nautiyal, Sunidhi Chauhan, Fitoor)



Movie/Album: फ़ितूर (2016)
Music By: अमित त्रिवेदी
Lyrics By: स्वानंद किरकिरे
Performed By: जुबिन नौटियाल, सुनिधि चौहान

मैंने पूछा ये दिल से
मैं क्यों हूँ जहां में
एक धड़कन बोली तेरे लिये
मैंने यादें तराशी
और ख़्वाब बना दी
नयी दुनिया बसा दी तेरे लिये
तेरे लिये, तेरे लिए...

जो मैं कहता हूँ, जो सुनता हूँ
जो सहता हूँ, तेरे लिये
मैं गिरता हूँ, संभलता हूँ
फिर चलता हूँ, तेरे लिये

कोई दर्द हूँ गहरा
कोई अक्स हूँ पिसरा
मैं क्या हूँ बता दे, तेरे लिये
यादों का चेहरा
कोई ख़्वाब सुनहरा
मैं क्या हूँ बता दे, तेरे लिये
तेरे लिये, तेरे लिए...

मैं खोया-सा इक लम्हां हूँ
बस इस पल हूँ तेरे लिये
मैं आवारा बादल हूँ
बस इस पल हूँ तेरे लिये

मेरे हर मर्ज़ की तू ही दवा है
हुई है जो क़ुबूल वो दुआ है
ये उल्फ़त है या कोई नशा है
जिसे छूना चाहे तू वो धुआँ है
तेरे लिये, तेरे लिए...


All lyrics are property and copyright of their owners. All the lyrics are provided for educational purposes only. Copyright © Lyrics In Hindi | Powered by Blogger Design by ronangelo | Blogger Theme by NewBloggerThemes.com