Junaid Wasi लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
Junaid Wasi लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

बावरा मन - Bawara Mann (Jubin Nautiyal, Neeti Mohan, Jolly LLB 2)



Movie/Album: जॉली एलएलबी २ (2017)
Music By:
चिरंतन भट्ट
Lyrics By: जुनैद वसी
Performed By: जुबिन नौटियाल, नीति मोहन

बावरा मन राह ताके तरसे रे
नैना भी मल्हार बन के बरसे रे
आधे से अधूरे से, बिन तेरे हम हुए
फीका लगे है मुझको सारा जहां
बावरा मन राह ताके...

ये कैसी ख़ुशी है, जो मोम सी है
आँखों के रस्ते हँस के पिघलने लगी
मन्नत के धागे, ऐसे हैं बाँधे
टूटे ना रिश्ता जुड़ के तुझसे कभी
सौ बलाएँ ले गया तू सर से रे
नैना ये मल्हार...

मैं कागज़ की कश्ती, तू बारिश का पानी
ऐसा है तुझे अब ये रिश्ता मेरा
तू है तो मैं हूँ, तू आए तो बह लूँ
आधी है दुनिया मेरी तेरे बिना
जी उठी सौ बार तुझपे मर के रे
नैना भी मल्हार...


सौ बरस - Sau Baras (Tia Bajpai, Haunted - 3D)



Movie/Album: हॉन्टेड - ३डी (2011)
Music By: चिरंतन भट्ट
Lyrics By: जुनैद वासी
Performed By: तिया बाजपेयी

सौ बरस गुज़रे रात हुए, सौ बरस गुज़रे दिन हुए
सौ बरस हुए चाँद दिखे, सौ बरस गुज़रे बिन जिये
क्यूँ पल ठहरता है ये, क्यूँ वक्त बदलता नहीं है
ये राह सूनी है क्यूँ, क्यूँ कोई निकलता नहीं है
सौ बरस गुज़रे साँस लिये, सौ बरस गुज़रे बिन जिये

पलके हैं ख़्वाबों से खाली, दिल है के बंद कोई घर
कभी रंग थे नैनों में, कभी दिल को लगते थे पर
वो रात सहेली मेरी, सब तारे चुरा ले गयी है
वो दिन जो था मेरा, अब वो भी मेरा नहीं है
है ख़फा मुझसे यार मेरे, क्या पता कब ये फिर मिले

हम तो चरागों से जल के, बैठे हैं उम्मीद में
क्या जाने ये किसका, रहे इंतज़ार हमें
कोई छू ले मुझे, क्यूँ आख़िर ये लगता है दिल को
साँसे बंद हैं तो क्या, अभी भी धड़कता है दिल तो
ये तड़प कोई ना सुने, नासमझ यूँ ही दिल है ये
सौ बरस गुज़रेे रात हुए, सौ बरस गुज़रे दिन हुए


मुझे दे दे हर ग़म तेरा - Mujhe De De Har Gham Tera (Chirantan Bhatt, Haunted - 3D)



Movie/Album: हॉन्टेड - ३डी (2011)
Music By: चिरंतन भट्ट
Lyrics By: जुनैद वासी
Performed By: चिरंतन भट्ट

तू ही हाँ वो गैर है, जो के अपना लगा
माँगूँ तेरी खैर मैं, अब तो अपनी जगह
मैं तो करूँ रब से दुआ
मुझे दे दे हर ग़म तेरा
मेरी खुशियों का वास्ता
मुझे दे दे हर ग़म तेरा

तेरे इन हाथों की लकीरें तु मिला मेरे
इन हाथों की लकीरों से हाँ मिलती हैं सभी
कैसे ना मिलती तू अब मुझे
जो लिखा मेरी किस्मत में नसीबों में हाँ तू तो है वही
तू ही हाँ वो दर्द है जो सुकूँ है मेरा
मै तो करूँ रब से...

तू ही है साँसो का हमसफ़र या है ज़िन्दगी
जो जीने को कहती है हाँ तू ही है वही
ख़ुशी जो छा गयी ग़म पर
अब तो हर कहीं जो रौनक सी रहती है हाँ तू तो है वही
तू है हाँ वो पैर मैं जिसका हूँ रास्ता
मै तो करूँ रब से...


तेरा ही बस होना चाहूँ - Tera Hi Bas Hona Chaahoon (Jojo, Najam Sheraz, Haunted - 3D)



Movie/Album: हॉन्टेड 3डी (2011)
Music By: चिरंतन भट्ट
Lyrics By: जुनैद वासी
Performed By: जोजो, नजम शेराज़

ख़ुदा को दिख रहा होगा
ना दिल तुझसे जुदा होगा
तेरी तकदीर में मुझको
वो अब तो लिख रहा होगा
तेरा ही बस होना चाहूँ, तेरे दर्द में रोना चाहूँ
तेरे दिल के इन ज़ख्मों पे, मरहम मैं होना चाहूँ
तेरा ही बस होना...

कर ले कुबूल खुदाया मेरे सजदे
अब तो नसीब में मेरे उसे लिख दे

तू फिर ना सोया होगा, शायद फिर रोया होगा
आँसूू मेरी पलकों पे, यूँ ही न आया होगा
दे ना मुझको आवाज़ें, या सुन मेरी फ़रियादें
घेरे है मुझको यादें बिन तेरे
तुझे ही बस पाना चाहूँ, ख़ुद को मैं खोना चाहूँ
तेरे दिल के इन ज़ख्मों...

दिल ने इबादत की है, तेरी बस चाहत की है
लिख आया अर्ज़ियों में, तुझ बिन जीना नहीं है
मुझमें अब मैं कहाँ हूँ, तुझमें रहने लगा हूँ
मैं तो बस जी रहा हूँ बिन तेरे
तुझे ख्वाब में देखना चाहूँ, तेरे साँस में खोना चाहूँ
तेरे दिल के इन ज़ख्मों...


जानिया - Jaaniya (Siddharth Basroor, Haunted - 3D)



Movie/Album: हॉन्टेड - ३डी (2011)
Music By: चिरंतन भट्ट
Lyrics By: जुनैद वासी
Performed By: सिद्धार्थ बसरूर

दिल सुनता है, तेरी सदा, आ रूबरू अब तो ज़रा
बेचैन सी मेरी ज़िन्दगी, सुन कर तेरी ये दास्ताँ
जीना मेरा आसान कर, तू मिल के ये एहसान कर
कहीं खो गया चैन-ओ-सुकूँ, तेरे दर्द को अब जान कर
जानिया ओ जानिया, बस रोए दिल मेरा
आँसू पलकों पे नहीं हैं बेवजह, दिल है गमज़दा जानिया

तुझे पा लिया, या खो दिया इस बात पर दिल रो दिया
के चाह कर तू न आ सके, तू वक्त है गुज़रा हुआ
तुझे रख लिया इन यादों ने, इक फूल सा किताबों में
इस दिल में तू रहेगा सदा, और महकेगा इन साँसों में

रातों मे तू जल जाता है, चेहरेे में तू ढल जाता है
तारा है तू मुझमें टूटा सा
नींदों से जगा देता है, पलकों को भिगो देता है
दरिया है तू मुझमें डूबा सा
हर वक्त ख्वाबों की तरह, तू आता रहा
जानिया ओ जानिया, दिन क्या रात क्या
आहट हो कोई लगता है सदा, के तू है वहाँ जानिया
जानिया ओ जानिया...


All lyrics are property and copyright of their owners. All the lyrics are provided for educational purposes only. Copyright © Lyrics In Hindi | Powered by Blogger Design by ronangelo | Blogger Theme by NewBloggerThemes.com