Kaala Bazaar लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
Kaala Bazaar लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

खोया खोया चाँद - Khoya Khoya Chand (Md. Rafi, Kaala Bazaar)



Movie/Album: काला बाज़ार (1960)
Music By: एस.डी.बर्मन
Lyrics By: शैलेन्द्र
Performed By: मो.रफ़ी

खोया खोया चाँद, खुला आसमान
आँखों में सारी रात जायेगी
तुम को भी कैसे नींद आयेगी

मस्ती भरी, हवा जो चली
खिल खिल गयी ये दिल की कली
दिल की गली में है खलबली
कि उनको तो बुलाओ
ख़ोया खोया चाँद...

तारे चले, नज़ारे चले
संग संग मेरे वो सारे चले
चारों तरफ इशारे चले
किसी की तो हो जाओ
खोया खोया चाँद...

ऐसी ही रात, भीगी सी रात
हाथो में हाथ, होते वो साथ
कह लेते उनसे दिल की ये बात
अब तो ना सताओ
खोया खोया चाँद...

हम मिट चले हैं जिनके लिए
बिन कुछ कहे वो चुप चुप रहे
कोई ज़रा ये उनसे कहे
ना ऐसे आजमाओ
खोया खोया चाँद...


सांझ ढली दिल की लगी - Saanjh Dhali Dil Ki Lagi (Manna Dey, Asha Bhosle, Kala Bazar)



Movie/Album: काला बाज़ार (1960)
Music By: एस.डी.बर्मन
Lyrics By: शैलेन्द्र
Performed By: आशा भोंसले, मन्ना डे

साँझ ढली दिल की लगी, थक चली पुकार के
आजा, आजा, आ भी जा
क्या दू तुझे पहले से मैं, बैठी हूँ दिल हार के
जा जा जा जा, जा तू जा

ज़िद पे आ गया है दिल के आज यूँ ना लौटना
मेरी सुनो लौट जाओ, छोड़ दो ये बचपना
चार दिन की जिंदगी में दिन है दो बहार के
आजा, आजा.. ..

कैसे कहू, कैसी उलझनों में मेरी जान है
हा को ना समझ गये, ये प्यार की ज़ुबांन है
काटने हैं हमको दिन किसी के इंतजार के
जा जा जा जा, जा तू जा

सुन तो ले के मेरे दिल का तुझसे क्या सवाल है
कुछ ना कर सकूँगी मैं किसी का तो मलाल है
दिल ना तोड़, चाहे बोल दो ही बोल प्यार के
आजा, आजा.. ..


All lyrics are property and copyright of their owners. All the lyrics are provided for educational purposes only. Copyright © Lyrics In Hindi | Powered by Blogger Design by ronangelo | Blogger Theme by NewBloggerThemes.com