Kaalia लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
Kaalia लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

जहाँ तेरी ये नज़र है - Jahan Teri Ye Nazar Hai (Kishore Kumar)



Movie/Album: कालिया (1981)
Music By: आर.डी.बर्मन
Lyrics By: मजरूह सुल्तानपुरी
Performed By: किशोर कुमार

जहाँ तेरी ये नज़र है, मेरी जाँ मुझे ख़बर है
बच न सका कोई, आये कितने
लम्बे हैं मेरे हाथ इतने
देख इधर यार, ध्यान किधर है
जहाँ तेरी ये नज़र है...

क्यों नहीं जानी, तू ये समझता
काम नहीं ये, है तेरे बस का
कुकुड़ु कुकू!
होश में आ जा, ध्यान किधर है
जहाँ तेरी ये नज़र है...

मेरी तरफ़ जो उठा है तन के
कट के वही हाथ गिरा बदन से
सामने आये किसका जिगर है
जहाँ तेरी ये नज़र है...

चाल ये बन्दा ऐसी भी चल जाये
बन्द हो मुट्ठी और चीज़ निकल जाये
ये भी करिश्मा देख इधर है
जहाँ तेरी ये नज़र है...


दिल तो देते नहीं - Dil To Dete Nahin (Asha Bhosle, Kaalia)



Movie/Album: कालिया (1981)
Music By: राहुल देव बरमन
Lyrics By: मजरूह सुल्तानपुरी
Performed By: आशा भोंसले

दिल तो देते नहीं
कहते हो सवाल अच्छा है
वो अलग बाँध के रखा है
जो माल अच्छा है
दिल तो देते नहीं...

जब दिल माँगा कह देते हो, ये क्या नादानी है
भोलेपन के दिन हैं अभी, उठती जवानी है
कहीं खो जायेगा, खो जायेगा, कहीं खो जायेगा
चीज़ ये अनमोल है, चीज़ ये अनमोल है
आपका ख्याल अच्छा है
वो अलग बाँध के रखा है...

दिल में लाखों कसमें खा कर, जब-जब हम आते हैं
हो, झूठा वादा करते हो, हम मान जाते हैं
जब चाहा सनम, चाहा सनम, जब चाहा सनम
हमको बहला दिया, हमको बहला दिया
यार ये कमाल अच्छा है
वो अलग बाँध के रखा है...


All lyrics are property and copyright of their owners. All the lyrics are provided for educational purposes only. Copyright © Lyrics In Hindi | Powered by Blogger Design by ronangelo | Blogger Theme by NewBloggerThemes.com