Kranti लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
Kranti लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

ज़िन्दगी की न टूटे लड़ी - Zindagi Ki Na Toote (Lata, Nitin Mukesh, Kranti)



Movie/Album: क्रांति (1981)
Music By: लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल
Lyrics By: संतोष आनंद
Performed By: लता मंगेशकर, नितिन मुकेश

ज़िन्दगी की ना टूटे लड़ी
प्यार कर ले घड़ी दो घड़ी
लम्बी-लम्बी उमरिया को छोड़ो
प्यार की इक घड़ी है बड़ी
प्यार कर ले घड़ी दो घड़ी
ज़िन्दगी की ना...

उन आँखों का हँसना भी क्या
जिन आँखों में पानी न हो
वो जवानी, जवानी नहीं
जिसकी कोई कहानी न हो
आँसू हैं ख़ुशी की लड़ी
प्यार कर ले...

मितवा तेरे बिना, लागे ना रे जियरा
आज से अपना वादा रहा
हम मिलेंगे हर एक मोड़ पर
दिल की दुनिया बसायेंगे हम
ग़म की दुनिया का डर छोड़ कर
जीने मरने की किसको पड़ी
प्यार कर ले...

लाख गहरा हो सागर तो क्या
प्यार से कुछ भी गहरा नहीं
दिल की दीवानी हर मौज पर
आसमानों का पहरा नहीं
टूट जायेगी, हर हथकड़ी
प्यार कर ले...


चना जोर गरम - Chana Jor Garam (Md.Rafi, Lata Mangeshkar, Kishore Kumar, Nitin Mukesh, Kranti)



Movie/Album: क्रांति (1981)
Music By: लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल
Lyrics By: संतोष आनंद
Performed By: लता मंगेशकर, किशोर कुमार, मोहम्मद रफ़ी, नितिन मुकेश

दुनिया के हों लाख धरम पर अपना एक करम
चना जोर गरम
चना जोर गरम, बाबू मैं लाई मज़ेदार
चना जोर गरम
चना जोर गरम, बाबू मैं लाया मज़ेदार
चना जोर गरम

मेरा चना बना है आला
जिसमें डाला गरम-मसाला
इसको खाएगा दिलवाला
चना जोर गरम...

मेरा चना खा गया गोरा
खा के बन गया तगड़ा घोड़ा
मैंने पकड़ के उसे मरोड़ा
मार के टंगड़ी उसको तोड़ा
चना जोर गरम...

मेरे चने की आँख शराबी, शराबी
इसके देखो गाल गुलाबी, गुलाबी
इसका कोई नहीं जवाबी
जैसे कोई कुड़ी पंजाबी
नाचे छनन-छनन, नाचे छनन-छनन
कोठे चढ़ के तैनू पुकाराँ सुन ले मेरे बलम
चना ज़ोर गरम...

मेरा चना खा गए गोरे, गोरे
जो गिनती में थे थोड़े
फिर भी मारें हमको कोड़े
लाखों कोड़े टूटे फिर भी टूटा न दम-खम
चना ज़ोर गरम...

मेरा चना है अपनी मर्ज़ी का
ये दुश्मन है ख़ुदगर्ज़ी का
सर क़फ़न बाँध के निकला है
दीवाना है ये पगला है
अपनों से नाता जोड़ेगा
ग़ैरों के सर को फोड़ेगा
अपना ये वचन निभाएगा
माटी का कर्ज़ चुकाएगा
मिट जाने को मिट जाएगा
आज़ाद वतन कर जाएगा
न तो चोरी है, न तो डाका है
बस ये तो एक धमाका है
धमाके में आवाज़ भी है
एक सोज़ भी है, एक साज़ भी है
समझो तो बात ये साफ़ भी है
और न समझो तो राज़ भी है
अपनी धरती अपना है गगन
ये मेरा है, मेरा है वतन
इस पर जो आँख उठाएगा
ज़िन्दा दफ़नाया जाएगा
मेरा चना है..


All lyrics are property and copyright of their owners. All the lyrics are provided for educational purposes only. Copyright © Lyrics In Hindi | Powered by Blogger Design by ronangelo | Blogger Theme by NewBloggerThemes.com