Lootera लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
Lootera लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

संवार लूं - Sawaar Loon (Lootera, Monali Thakur)



Movie/Album: लूटेरा (2013)
Music By: अमित त्रिवेदी
Lyrics By: अमिताभ भट्टाचार्य
Performed By: मोनाली ठाकुर


हवा के झोंके आज मौसमों से रूठ गए
गुलों की शोखियाँ जो भँवरे आके लूट गए
बदल रही है आज ज़िन्दगी की चाल ज़रा
इसी बहाने क्यूँ ना मैं भी दिल का हाल ज़रा
संवार लूं, हाय संवार लूं

बरामदे पुराने हैं नयी सी धुप है
जो पलके खटखटा रहा है किसका रूप है
शरारतें करे जो ऐसे भूलके हिजाब
कैसे उसको नाम से, मैं पुकार लूं
संवार लूं, संवार लूं…

ये सारी कोयलें बनी हैं आज डाकिया
कुहू-कुहू में चिट्ठियां पढ़े मजाकिया
इन्हें कहो की ना छुपाये
किसने है लिखा बताए
उसकी आज मैं नज़र उतार लूं
संवार लूं, संवार लूं…



मोन्टा रे - Monta Re (Swanand Kirkire, Amitabh Bhattacharya, Lootera)



Movie/Album: लूटेरा (2013)
Music By: अमित त्रिवेदी
Lyrics By: अमिताभ भट्टाचार्य
Performed By: स्वानंद किरकिरे, अमिताभ भट्टाचार्य

कागज़ के दो पंख लेके, उड़ा चला जाए रे
जहाँ नहीं जाना था ये, वहीँ चला हाय रे
उमर का ये ताना-बाना समझ ना पाए रे
जुबां पे जो मोह-माया, नमक लगाये रे
के देखे ना, भाले ना, जाने ना दाये रे
दिशा हारा कैमोन बोका, मोन्टा रे! (Foolish Mind Has Lost Its Direction)

फ़तेह करे किले सारे, भेद जाए दीवारें
प्रेम कोई सेंध लागे
अगर मगर बारी बारी, जिया को यूँ उछाले
जिया नहीं गेंद लागे
माटी को ये चंदन सा, माथे पे सजाये रे
जुबां पे जो मोह-माया...


मनमर्ज़ियाँ - Manmarziyan (Amit Trivedi, Amitabh Bhattacharya, Shilpa Rao, Lootera)



Movie/Album: लूटेरा (2013)
Music By: अमित त्रिवेदी
Lyrics By: अमिताभ भट्टाचार्य
Performed By: अमिताभ भट्टाचार्य, अमित त्रिवेदी, शिल्पा राव

यूँ तो सोलह सावन आये गये
गौर नहीं किया हमने
भीगा मन का आँगन इस मर्तबा
क्या जाने क्या किया तुमने

दिल में जागी, इश्क वाली
मनमर्ज़ियाँ, मनमर्ज़ियाँ
ज़िद्द की मारी, भोली भाली
मनमर्ज़ियाँ, मनमर्ज़ियाँ

अब तलक से, कुछ अलग सी
मनमर्ज़ियाँ, मनमर्ज़ियाँ
हम ज़मीन पे, तो फलक से
मनमर्ज़ियाँ, मनमर्ज़ियाँ

सिक्कों जैसे, है उछाली
मनमर्ज़ियाँ, मनमर्ज़ियाँ
ज़िद्द की मारी, भोली भाली
मनमर्ज़ियाँ, मनमर्ज़ियाँ

बे-अदब सी, पर गज़ब सी
मनमर्ज़ियाँ, मनमर्ज़ियाँ
होश खोया, पर संभाली
मनमर्ज़ियाँ, मनमर्ज़ियाँ


ज़िन्दा हूँ यार - Zinda Hoon Yaar (Amit Trivedi, Lootera)



Movie/Album: लूटेरा (2013)
Music By: अमित त्रिवेदी
Lyrics By: अमिताभ भट्टाचार्य
Performed By: अमित त्रिवेदी

मुझे छोड़ दो मेरे हाल पे
जिंदा हूँ यार, काफी है

हवाओं से जो माँगा हिस्सा मेरा
तो बदले में हवा ने सांस दी
अकेलेपन से छेड़ी जब गुफ्तगू
मेरे दिल ने आवाज़ दी
मेरे हाथों, हुआ जो किस्सा शुरू
उसे पूरा तो करना है मुझे
कब्र पर मेरे सर उठा के खड़ी हो ज़िन्दगी
ऐसे मरना है मुझे
कुछ माँगना बाक़ी नहीं
जितना मिला काफी है
जिंदा हूँ यार...


शिकायतें - Shikayatein (Amitabh Bhattacharya, Mohan Kannan, Lootera)



Movie/Album: लूटेरा (2013)
Music By: अमित त्रिवेदी
Lyrics By: अमिताभ भट्टाचार्य
Performed By: अमिताभ भट्टाचार्य, मोहन कन्नन

शिकायतें मिटाने लगी
<सुबह बेदाग़ है, सुबह बेदाग़ है>
जो बर्फ को गलाने लगी
<कहीं तो आग है, कहीं तो आग है>

ना उड़ने की इस दफा ठानी
परिंदों ने भी वफ़ा जानी
अँधेरे को बाहों में लेके
उजाले ने घर बसाया है
चुराया था जो चुकाया है
शिकायतें मिटाने लगी...

<एक जीत तू है, एक हार मैं हूँ
हार जीत जोड़े, जो तार मैं हूँ>

बताएँ बिन गलतियां गिनाएँ
सितारे जब भी सदा सुलाएँ
लुटेरों को बागबां बनाएँ
नसीबों की बात है

ज़मीर की कहानी है ये
<यही बैराग है, यही बैराग है>
शिकायतें मिटाने लगी...


All lyrics are property and copyright of their owners. All the lyrics are provided for educational purposes only. Copyright © Lyrics In Hindi | Powered by Blogger Design by ronangelo | Blogger Theme by NewBloggerThemes.com