Manna Dey लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
Manna Dey लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

चुनरी संभाल गोरी - Chunri Sambhal Gori (Manna Dey, Lata Mangeshkar)



Movie/Album: बहारों के सपने (1967)
Music By: आर.डी.बर्मन
Lyrics By: मजरूह सुल्तानपुरी
Performed By: मन्ना डे, लता मंगेशकर

चुनरी सम्भाल गोरी, उड़ी चली जाए रे
मार न दे डंक कहीं, नज़र कोई हाय
देख देख पग न फिसल जाए रे

फिसलें नहीं चल के, कभी दुख की डगर पे
ठोकर लगे हँस दें, हम बसने वाले, दिल के नगर के
अरे, हर कदम बहक के सम्भल जाए रे!

किरणें नहीं अपनी, तो है बाहों का सहारा
दीपक नहीं जिन में, उन गलियों में है हमसे उजाले
अरे, भूल ही से चाँदनी खिल जाए रे!

पल छिन पिया पल छिन, अँखियों का अंधेरा
रैना नहीं अपनी, पर अपना होगा कल का सवेरा
अरे, रैन कौन सी जो न ढल जाए रे!


ए भाई ज़रा देख के चलो - Ae Bhai Zara Dekh Ke Chalo (Manna Dey, Mera Naam Joker)



Movie/Album: मेरा नाम जोकर (1970)
Music By: शंकर-जयकिशन
Lyrics By: शैलेन्द्र
Performed By: मन्ना डे

ए भाई, ज़रा देख के चलो
आगे ही नहीं, पीछे भी
दायें ही नहीं, बायें भी
ऊपर ही नहीं, नीचे भी
ए भाई...

तू जहाँ आया है
वो तेरा
घर नहीं, गली नहीं, गाँव नहीं
कूचा नहीं, बस्ती नहीं, रस्ता नहीं
दुनिया है
और प्यारे
दुनिया ये सरकस है
और सरकस में
बड़े को भी, छोटे को भी, खरे को भी
खोटे को भी, दुबले भी, मोटे को भी
नीचे से ऊपर को, ऊपर से नीचे को
आना-जाना पड़ता है

और रिंग मास्टर के कोड़े पर
कोड़ा जो भूख है
कोड़ा जो पैसा है
कोड़ा जो क़िस्मत है
तरह-तरह नाच के दिखाना यहाँ पड़ता है
बार-बार रोना और गाना यहाँ पड़ता है
हीरो से जोकर बन जाना पड़ता है

गिरने से डरता है क्यों, मरने से डरता है क्यों
ठोकर तू जब तक न खाएगा
पास किसी ग़म को न जब तक बुलाएगा
ज़िन्दगी है चीज़ क्या नहीं जान पायेगा
रोता हुआ आया है, रोता चला जाएगा
ए भाई ज़रा देख के...

क्या है करिश्मा, कैसा खिलवाड़ है
जानवर आदमी से ज़्यादा वफ़ादार है
खाता है कोड़ा भी, रहता है भूखा भी
फिर भी वो मालिक पे करता नहीं वार है
और इनसान ये
माल जिसका खाता है
प्यार जिस से पाता है, गीत जिस के गाता है
उसके ही सीने में भौंकता कटार है
ए भाई ज़रा देख के...

हाँ बाबू, ये सरकस है शो तीन घंटे का
पहला घंटा बचपन है
दूसरा जवानी है
तीसरा बुढ़ापा है

और उसके बाद
माँ नहीं, बाप नहीं
बेटा नहीं, बेटी नहीं
तू नहीं मैं नहीं
ये नहीं, वो नहीं
कुछ भी नहीं रहता है
रहता है जो कुछ वो
ख़ाली-ख़ाली कुर्सियाँ हैं
ख़ाली-ख़ाली तम्बू है
ख़ाली-ख़ाली घेरा है
बिना चिड़िया का बसेरा है
ना तेरा है, ना मेरा है


कसमें वादे प्यार वफ़ा सब - Kasme Waade Pyar Wafa Sab (Manna Dey, Upkar)



Movie/Album: उपकार (1967)
Music By: कल्याणजी-आनंदजी
Lyrics By: इन्दीवर
Performed By: मन्ना डे

कसमें वादे प्यार वफ़ा सब
बातें हैं बातों का क्या
कोई किसी का नहीं ये झूठे
नाते हैं नातों का क्या
कसमें वादे प्यार वफ़ा...

होगा मसीहा सामने तेरे
फिर भी न तू बच पायेगा
तेर अपना खून ही आखिर
तुझको आग लगायेगा
आसमान में उड़ने वाले
मिट्टी में मिल जायेगा
कसमें वादे प्यार वफ़ा...

सुख में तेरे साथ चलेंगे
दुख में सब मुख मोड़ेंगे
दुनिया वाले तेरे बनकर
तेरा ही दिल तोड़ेंगे
देते हैं भगवान को धोखा
इन्सां को क्या छोड़ेंगे
कसमें वादे प्यार वफ़ा...

काम अगर ये हिन्दू का है
मंदिर किसने लूटा है
मुस्लिम का है काम अगर ये
खुदा का घर क्यूँ टूटा है
जिस मज़हब में जायज़ है ये
वो मज़हब तो झूठा है
कसमें वादे प्यार वफ़ा...


नीला पीला हरा गुलाबी - Neela Peela Hara Gulaabi (Lata, Manna, Mahendra, Aap Beeti)



Movie/Album: आप बीती (1976)
Music By: लक्ष्मीकां-प्यारेलाल
Lyrics By: आनंद बक्षी
Performed By: लता मंगेशकर, महेंद्र कपूर, मन्ना डे

नीला, पीला, हरा, गुलाबी, कच्चा-पक्का रंग
रंग डाला मेरा अंग-अंग
राम दुहाई छोड़ कलाई
ओए मामा
ओ मेरे मामा क्या बाजू मेरा तोड़ेगा

आगे-पीछे, ऊपर-नीचे
कोई कितना दौड़ेगा
बहादुर नहीं छोड़ेगा, बहादुर नहीं छोड़ेगा
नीला पीला हरा गुलाबी...

अरे छेड़छाड़ मत करना, करके होली का बहाना
आज का दिन है प्यार का दिन
कोई मार न मुझसे खाना
कुर्ता ढील, तंग पैजामा, गुस्सा रहने दे रे मामा
हाथ मिला ले प्रेम की रेखा
तुमने दुनिया में क्या देखा
अरे तुमने देखे प्रेम के नाटक
हमने देखी जंग
रंग डाला, मेरा अंग-अंग
नीला पीला हरा गुलाबी...

रंग वाले से रंग करवाओ
तो वो माँगे पैसे
मुफ़्त में हमने रंग डाले हैं
मुखड़े कैसे कैसे
दर्पन देखो तो दीवानी, अरे सूरत न जाये पहचानी
तू कोई बदमाश है पक्का
मारा मुझको ज़ोर से धक्का
मैं गिर पड़ी ज़मीं पे जैसे
कट के गिरे पतंग
रंग डाला, मेरा अंग-अंग
राम दुहाई, छोड़ कलाई...


होली रे होली रंगों की डोली - Holi Re Holi Rangon Ki Doli (Asha, Manna Dey, Paraya Dhan)



Movie/Album: पराया धन (1971)
Music By: आर.डी.बर्मन
Lyrics By: आनंद बक्षी
Performed By: आशा भोंसले, मन्ना डे

होली रे होली
रंगों की डोली
आई तेरे घर पे
मस्तों की टोली
मुख ना छुपा
ओ रानी/राजा सामने आ

जान ना पहचान
अरे मैं तेरा मेहमान
काहे मारी पिचकारी
तूने बेईमान
फागुन की बहार, एक शर्मीली नार
नहीं समझे रे प्यार की बोली
होली रे होली...

फेंकूं मैं गुलाल
के डालूं रंग लाल
आगे आगे राधा दौड़े
पीछे नन्दलाल
काहे करे तंग
मैं ना खेलूं तेरे संग
भीगा मेरा अंग अंग
भीगी चोली
होली रे होली...

नैना मत जोड़
तु बैय्याँ मेरी छोड़
मर जाऊं मैं ना मानूं
चुड़ियां न तोड़
अरे हो जा रज़ामंद
मुझे कर ले पसंद
कर खिड़की ना बंद
हमजोली
होली रे होली...


आई आई रे होली - Aayi Aayi Re Holi (Asha Bhosle, Manna Dey, Aabroo)



Movie/Album: आबरू (1968)
Music By: सोनिक ओमी
Lyrics By: जी.एल.रावल
Performed By: आशा भोंसले, मन्ना डे

आई आई रे होलीओ रंग लायी रे होली
ओ नाचो नाचो
बहारें संग लायी रे होली

होंठ गुलाबी, नैन शराबी
मस्त जवानी छायी है
मुखड़े से जो बच गयी लाली
वो फूलों पे आई है

आज मेरे घर साजन आये
देख जिसे चंदा शरमाये
कहीं लगे न चाँद की नजरिया
बड़ी दुश्मन है जुल्मी नजरिया
हाय मैं तो रख लूँगा सारी उमरिया
प्यार में ऐसा शाम ना करना
राधा को बदनाम ना करना
मेरी कोरी है लाज की चुनरिया
हाय रंग डालो ना मुझपे सांवरिया
मैं तो आई हूँ रंग में तेरे हो के बावरिया
आज मेरे घर सजन आये
देख जिसे चंदा शरमाये

युग युग से है साथ हमारा
तु है नदिया मैं हूँ किनारा
भारत की चले रंग की धारा
तुझ बिन सूनी मेरी बांसुरिया
प्यार में ऐसे शाम ना करना...

मर मर जाऊं लाज की मारी
ताने देंगी सखियाँ सारी
है गुलाल रंग झूमें नर नारी
क्यूँ रंग डारी मेरी चुनरिया
आज मेरे घर साजन आये...

तु है राधा मेरी, मैं तेरा मोहन
टूटे ना ये प्यार का बंधन
होली आई है गले लगा लो सजना
आज मुझको तुम अपना बना लो सजना


ना चाहूँ सोना चांदी - Na Chaahun Sona Chandi (Manna Dey, Shailendra Singh, Bobby)



Movie/Album: बॉबी (1973)
Music By: लक्ष्मीकांत प्यारेलाल
Lyrics By: आनंद बक्षी
Performed By: मन्ना डे, शैलेन्द्र सिंह

न चाहूँ सोना चांदी, न चाहूँ हीरा मोती
ये मेरे किस काम के
न मांगूँ बंगला बाड़ी, न मांगूँ घोड़ा-गाड़ी
ये तो हैं बस नाम के
देता है दिल दे, बदले में दिल के
घे घे घे घे घे, दे रे साहिबा
प्यार में सौदा नहीं

न जानूं मुल्ला काज़ी, न जानूं काबा कशी
मैं तो हूँ प्रेम पियासा रे
मेरे सपनों की रानी, होगी तुमको हैरानी
मैं तो तेरा दीवाना रे
देती है दिल...


सांझ ढली दिल की लगी - Saanjh Dhali Dil Ki Lagi (Manna Dey, Asha Bhosle, Kala Bazar)



Movie/Album: काला बाज़ार (1960)
Music By: एस.डी.बर्मन
Lyrics By: शैलेन्द्र
Performed By: आशा भोंसले, मन्ना डे

साँझ ढली दिल की लगी, थक चली पुकार के
आजा, आजा, आ भी जा
क्या दू तुझे पहले से मैं, बैठी हूँ दिल हार के
जा जा जा जा, जा तू जा

ज़िद पे आ गया है दिल के आज यूँ ना लौटना
मेरी सुनो लौट जाओ, छोड़ दो ये बचपना
चार दिन की जिंदगी में दिन है दो बहार के
आजा, आजा.. ..

कैसे कहू, कैसी उलझनों में मेरी जान है
हा को ना समझ गये, ये प्यार की ज़ुबांन है
काटने हैं हमको दिन किसी के इंतजार के
जा जा जा जा, जा तू जा

सुन तो ले के मेरे दिल का तुझसे क्या सवाल है
कुछ ना कर सकूँगी मैं किसी का तो मलाल है
दिल ना तोड़, चाहे बोल दो ही बोल प्यार के
आजा, आजा.. ..


उसको नहीं देखा हमने कभी - Usko Nahin Dekha Humne Kabhi (Mahendra Kapoor, Manna Dey, Daadi Maa)



Movie/Album: दादी माँ (1966)
Music By: रौशन
Lyrics By: मजरूह सुल्तानपुरी
Performed By: महेंद्र कपूर, मन्ना डे, उषा मंगेशकर

उसको नहीं देखा हमने कभी
पर इसकी ज़रुरत क्या होगी
ऐ माँ, ऐ माँ तेरी सूरत से अलग
भगवान की सूरत क्या होगी, क्या होगी
उसको नहीं देखा हमने कभी

इनसान तो क्या देवता भी
आँचल में पले तेरे
है स्वर्ग इसी दुनिया में
क़दमों के तले तेरे
ममता ही लुटाये जिसके नयन
ऐसी कोई मूरत क्या होगी
ऐ माँ, ऐ माँ तेरी सूरत...

क्यों धूप जलाए दुखों की
क्यों गम की घटा बरसे
ये हाथ दुआओं वाले
रहते हैं सदा सर पे
तू है तो अँधेरे पथ में हमें
सूरज की ज़रुरत क्या होगी
ऐ माँ, ऐ माँ तेरी सूरत...

कहते हैं तेरी शान में जो
कोई ऊँचे बोल नहीं
भगवान के पास भी माता
तेरे प्यार का मोल नहीं
हम तो यही जानें तुझसे बड़ी
संसार की दौलत क्या होगी
ऐ माँ, ऐ माँ तेरी सूरत...


तुम गगन के चन्द्रमा हो - Tum Gagan Ke Chandrama Ho (Lata Mangeshkar, Manna Dey, Sati Savitri)



Movie/Album: सती सावित्री (1964)
Music By: लक्ष्मीकांत प्यारेलाल
Lyrics By: भरत व्यास
Performed By: लता मंगेशकर, मन्ना डे

तुम गगन के चंद्रमा हो, मैं धरा की धूल हूँ
तुम प्रलय के देवता हो, मैं समर्पित फूल
तुम हो पूजा, मैं पुजारी, तुम सुधा, मैं प्यास हूँ

तुम महासागर की सीमा, मैं किनारे की लहर
तुम महासंगीत के स्वर, मैं अधूरी साजपर
तुम हो काया, मैं हूँ छाया, तुम क्षमा मैं भूल हूँ
तुम गगन के चंद्रमा हो...

तुम उषा की लालिमा हो, भोर का सिंदूर हो
मेरे प्राणों की हो गुंजन, मेरे मन की मयूर हो
तुम हो पूजा मैं पुजारी, तुम सुधा मैं प्यास हूँ
तुम गगन के चंद्रमा हो...


शाम ढले जमुना किनारे - Shaam Dhale Jamuna Kinaare (Manna Dey, Lata Mangeshkar, Pushpanjali)



Movie/Album: पुष्पांजलि (1970)
Music By: लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल
Lyrics By: आनंद बक्षी
Performed By: मन्ना डे, लता मंगेशकर

शाम ढले जमुना किनारे, किनारे
आजा राधे आजा तोहे श्याम पुकारे
कभी रुके, कभी चले, राधा चोरी-चोरी
पिया कहे आ, पिया कहे नहीं गोरी
शाम ढले जमुना...

राधा शरमाये, मनवा घबराये
पनिया भरने को, जाये ना जाये
खड़ी सोचे बृजबाला बृज में है होरी
कान्हा रंग देंगे मोहे हाय बरजोरी
लोग करेंगे ये इशारे, इशारे
आजा राधे आजा...

कोई कहे श्याम से, न बांसुरी बजाये
चैन किसी का वो चितचोर न चुराये
डगमग डोले जिया की नईया
चले जब पुरवैया, छेड़े बंसी कन्हैया
जादू भरे नैना डारे, नैनवा की डोरी
सोये सारा जग, जागे एक चकोरी
रात कटे गिन-गिन के तारे, तारे
आजा राधे आजा...

पनघट पे सखियाँ, करती है बतियाँ
मोहन से लागी, राधा की अँखियाँ
जो भी मिले, यही पूछे, सुन ओ किशोरी
गई कहाँ निन्दिया रे, बिन्दिया तोरी
राम क़सम छेड़ेंगे सारे, सारे
आजा राधे आजा...


आओ ट्विस्ट करें - Aao Twist Karein (Manna Dey, Bhoot Bangla)



Movie/Album: भूत बंगला (1965)
Music By: आर.डी.बर्मन
Lyrics By: हसरत जयपुरी
Performed By: मन्ना डे

सुनो और गौर से सुनो
अरे पहले तालियाँ तो बजाओ
आज रात का मैं आखिरी गाना गा रहा हूँ
और गाने में ये कहना चाहता हूँ
के दुनिया में कुछ करना हो तो मानो मेरी बात
आओ ट्विस्ट करें, गा उठा मौसम
ज़िन्दगी है यही
नाच उठी है ज़िन्दगानी, ओ मेरी जां
छम छमा छम, छम छमा छम
आओ ट्विस्ट करें...

परवानों, दिलवालों आओ
मस्ती के सितारों पे गा गाओ
खुशियों को महफ़िल में ला, लाओ
इतना सा कहना है आ, आओ
हे ट्विस्ट करें...

अरे क्या सोच रहे हो तुम लोग
तुम लोग रोना चाहते हो? नहीं
तुम लोग उदास रहना चाहते हो? नहीं
तुम लोग हँसना चाहते हो? हाँ


प्यार करता जा - Pyar Karta Ja (Manna Dey, Bhoot Bangla)



Movie/Album: भूत बंगला (1965)
Music By: आर.डी.बर्मन

Lyrics By: हसरत जयपुरी
Performed By: मन्ना डे

प्यार करता जा, प्यार करता जा
दिल कहता है, दिल कहता है
काँटों में भी गुल खिला
प्यार करता जा...

हम नौजवाँ, मस्ती भरे
धरती पे हम आसमान हैं
सब झूमने वाले
कौन है क्या, किसे है खबर
पहले तो हम इन्सान हैं
हम हिम्मत वाले
प्यार करता जा...

छोटा बड़ा, कोई भी हो
अपने लिए, सभी एक हैं
ये प्यार धरम है
सबसे गले, मिल के चलो
जग बेवफा, सभी नेक हैं
ये प्यार का रंग है
प्यार करता जा...

दिल की अगन, बढ़ती रहे
जलते रहें, मीठी आग में
हम प्यार के राही
गुंचा-ए-दिल, खिल ही गया
है वो असर, मेरे राग में
दिल, दिल से मिले हैं
प्यार करता जा...


जीवन चलने का नाम - Jeevan Chalne Ka Naam (Manna, Mahendra, Shyama, Shor)



Movie/Album: शोर (1972)
Music By: लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल

Lyrics By: राजकवि इंदरजीत सिंह तुलसी
Performed By: महेंद्र कपूर, मन्ना डे, श्यामा चित्तर

जीवन चलने का नाम
चलते रहो सुबह-ओ-शाम
के रस्ता कट जाएगा मितरा
के बादल छट जाएगा मितरा
के दुःख से झुकना ना मितरा
के एक पल रुकना ना मितरा
जीवन चलने का नाम...

जो जीवन से हार मानता, उसकी हो गयी छुट्टी
नाक चढ़कर कहे ज़िन्दगी, तेरी मेरी हो गयी कुट्टी
के रूठा यार मना मितरा
के यार को यार बना मितरा
ना खुद से रहो खफा मितरा
खुद ही से बने खुदा मितरा
जीवन चलने का नाम...

उजली-उजली भोर सुनाती, तुतले तुतले बोल
अन्धकार में सूरज बैठा, अपनी गठड़ी खोल
के उससे आँख लड़ा मितरा
समय से हाथ मिला मितरा
के हो जा किरण-किरण मितरा
के चलता रहे चलन मितरा
जीवन चलने का नाम...

के चली शाम के रंग महल में, तपती हुई दुपहरी
मिली गगन से साँझ की लाली, लेकर रूप सुनहरी
के रात बिखर जायेगी मितरा
के बात निखर जायेगी मितरा
के सूरज चढ़ जाएगा मितरा
काफिला बढ़ जाएगा मितरा
जीवन चलने का नाम...

हिम्मत अपना दीन धरम है, हिम्मत है ईमान
हिम्मत अल्लाह, हिम्मत वाहगुरू, हिम्मत है भगवान
के इसपे मरता जा मितरा
के सजदा करता जा मितरा
के शीश झुकाता चल मितरा
के जग पर छाता जा मितरा
जीवन चलने का नाम...

छोटा सा इक दीपक है और टीम टीम करती ज्योति
हीरे जैसी आँख से इसके टूट रहे हैं मोती
के नन्हें हाथ जुड़े मितरा, ना इसका बात मुड़े मितरा
अगर ये खो जाएगा मितरा, तो झूठा हो जाएगा मितरा
जीवन चलने का नाम...

इक दुआ बस तुझसे माँगूँ, मैं आज बिछा कर पल्ला
मेरे यार की रक्षा करना, कदम-कदम पर अल्लाह
के लब पर यही दुआ मितरा
के बिगड़ी बात बना मितरा
के बेड़ा पार लगा मितरा
तुझे तब कहूँ खुदा मितरा
तुझे तब कहें खुदा मितरा
जीवन चलने का नाम...


ओ मेरी मैना मान ले - O Meri Maina Maan Le (Manna, Usha, Pyar Kiye Jaa)



Movie/Album: प्यार किये जा (1966)
Music By: लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल
Lyrics By: राजेंद्र कृष्ण
Performed By: मन्ना डे, उषा मंगेशकर

ओ मेरी मैना, तू मान ले मेरा कहना
अरे मुश्किल हो गया रहना तेरे बिना
अई अई ओ, अई अई ओ
ओ मेरे मिट्ठू, तेरी मिट्ठी बोली
मैं सुनकर तेरी हो ली ज़ालिमा
अई अई ओ, अई अई ओ...

दिल मेरा कहे कि खिड़की में तेरी
बन के कबूतर करूँ मैं गुंटर-गूं
दाना खिलाये जो तू मुझे तो मैं
प्यारे-प्यारे हाथों को बार-बार चूमूँ
ओ मेरे कबूतर, मैं भरकर लाई झोली
पर चोंच न तूने खोली, ज़ालिमा
अई अई ओ...

बत्ती मोमबत्ती तो खिड़की में तेरे
सारी-सारी रात, मैं करती उजाला
मगर जलने का, वही जाने जो हो
प्यार में हँस-हँस के मिटने वाला
ओ मेरी मोमबत्ती, बना ले मुझे पत्ती
मैं हो गया माशारत्ती तेरे बिना
अई अई ओ...


हम भी अगर बच्चे होते - Hum Bhi Agar Bachche Hote (Asha, Rafi, Manna, Door Ki Awaz)



Movie/Album: दूर की आवाज़ (1964)
Music By: रवि
Lyrics By: शकील बदायुनी
Performed By: मो.रफ़ी, आशा भोंसले, मन्ना डे

हम भी अगर बच्चे होते
नाम हमारा होता गबलू-बबलू
खाने को मिलते लड्डू
और दुनिया कहती
हैप्पी बर्थडे टू यू
कोई लाता गुड़िया, मोटर, रेल
तो कोई लाता फिरकी, लट्टू
कोई चाबी का टट्टू
और दुनिया कहती
हैप्पी बर्थडे टू यू

कितनी प्यारी होती है ये भोली सी उमर
न नौकरी की चिन्ता, न रोटी की फिकर
नन्हें-मुन्ने होते हम तो देते सौ हुकम
पीछे-पीछे डैडी-मम्मी बन के नौकर
चॉकलेट, बिस्कुट, टॉफ़ी खाते और पीते दुद्दू
और दुनिया कहती
हैप्पी बर्थडे टू यू...

कैसे-कैसे नख़रे करते घरवालों से हम
पल में हँसते, पल में रोते, करते नाक में दम
अक्कड़-बक्कड़, लुक्का-छुप्पी, कभी छुआ-छू
करते दिन भर हल्ला-गुल्ला, दंगा और उधम
और कभी ज़िद पर अड़ जाते, जैसे अड़ियल टट्टू
और दुनिया कहती
हैप्पी बर्थडे टू यू...

अब तो ये है हाल के जब से बीता बचपन
माँ से झगड़ा, बाप से टक्कर, बीवी से अनबन
कोल्हू के हम बैल बने हैं, धोबी के गद्धे
दुनिया भर के डण्डे सर पे खायें दनादन
बचपन अपना होता तो न करते ढेँचू-ढेँचू
और दुनिया कहती
हैप्पी बर्थडे टू यू...


फूल गेंदवा न मारो - Phool Gendwa Na Maaro (Manna Dey, Dooj Ka Chand)



Movie/Album: दूज का चाँद (1964)
Music By: रोशन
Lyrics By: साहिर लुधियानवी
Performed By: मन्ना डे

अजी फुल गेन्दवा न मारो, न मारो
लगत करेजवा में चोट
दूँगी मैं दुहाई
काहे चतुर बनत
ठिठोरी करत हरजाई
फूल गेंदवा न मारो...

हे दहका हुआ ये अंगारा, अंगारा
दहका हुआ ये अंगारा
जो गेन्दवा कहलाये है
अजी तन पर जहाँ गिरे पापी
वहीं दाग़ पड़ जाये है
अंग-अंग मोरा पीर करे
और करके कहे
फुल गेन्दवा न मारो...

रुक जाओ, रुक जाओ
रुक जाओ, रुक जाओ
रुक जाओ
ना सताओ मोहे जुलमी बलम, ओ बलम
मान जाओ बिनती अबला की
देखो-देखो अब दूँगी दुहाई
काहे चतुर बनत
ठिठोरी करत हरजाई
फुल गेन्दवा न मारो
न मारो, न मारो, न

प प ध
ध ध ध, ध ध ध, ध नि ध
प म ग प म
ग म ग रे स
सं स सं स सं स
फुल गेन्दवा न मारो
न मारो -३
लगत करेजवा में चोट
करेजवा में चोट, करेजवा में चोट
सं गं, गं रें, रें सं
सं मं, मं गं, गं रें, रें सं
सं नि नि नि, सं ध ध ध, सं प प
प सं प सं प सं प सं
प नि म
फुल गेन्दवा न -३
न मारो -३
अरे फुल गेन्दवा न मारो...


जिसका कोई नहीं - Jiska Koi Nahi (Kishore Kumar, Manna Dey, Lawaaris)



Movie/Album: लावारिस (1981)
Music By: कल्याणजी-आनंदजी
Lyrics By: अनजान
Performed By: किशोर कुमार, मन्ना डे

किशोर कुमार
एक दिन किसी फ़कीर ने एक बात कही थी
अब जाके दिल ने माना, माना वो बात सही थी

जिसका कोई नहीं, उसका तो ख़ुदा है यारों
मैं नहीं कहता, किताबों में लिखा है यारों
जिसका कोई नहीं...

हम तो क्या हैं वो फरिश्तों को आज़माता है
बना कर हमको मिटाता है, फिर बनाता है
आदमी टूट के सौ बार जुड़ा है यारों
जिसका कोई नहीं...

कब तलक हमसे ये तक़दीर भला रूठेगी
इन अंधेरों से उजाले की किरण फूटेगी
ग़म के दामन में कहीं चैन छुपा है यारों
जिसका कोई नहीं...

इम्तेहानों का यहाँ दौर यूँ ही चलता है
आँधियों में भी उम्मीदों का दीया जलता है
कल की उम्मीद पे इंसान जिया है यारों
जिसका कोई नहीं...

मन्ना डे
जिसका कोई नहीं, उसका तो ख़ुदा है यारों
मैं नहीं कहता, किताबों में लिखा है यारों
जिसका कोई नहीं...

जिसने पैदा किया दुनिया में वही पालेगा
हमको हर मोड़ पे हर ज़ुल्म से बचा लेगा
अपने बन्दों से कहाँ कब वो जुदा है यारों
जिसका कोई नहीं...

ज़ुल्म इंसान का जब हद से गुज़र जाता है
वो किसी और ही सूरत में पास आता है
अनगिनत रूप में वो हमको मिला है यारों
जिसका कोई नहीं...


ऊपर गगन विशाल - Upar Gagan Vishal (Manna Dey, Mashaal)



Movie/Album: मशाल (1950)
Music By: एस.डी.बर्मन
Lyrics By: कवि प्रदीप
Performed By: मन्ना डे

ऊपर गगन विशाल
नीचे गहरा पाताल
बीच में धरती वाह मेरे मालिक
तूने किया कमाल
अरे वाह मेरे मालिक
क्या तेरी लीला
तूने किया कमाल
ऊपर गगन विशाल...

एक फूँक से रच दिया तूने
सूरज अगन का गोला
एक फूँक से रचा चन्द्रमा
लाखों सितारों का टोला
तूने रच दिया पवन झखोला
ये पानी और ये शोला
ये बादल का उड़न खटोला
जिसे देख हमारा मन डोला
सोच-सोच हम करें अचम्भा
नज़र न आता एक भी खम्बा
फिर भी ये आकाश खड़ा है
हुए करोड़ों साल मालिक
तूने किया कमाल
ऊपर गगन विशाल...

तूने रचा एक अद्भुत प्राणी
जिसका नाम इंसान
जिसकी नन्हीं जान के भीतर
भरा हुआ तूफ़ान
इस जग में इनसान के दिल को
कौन सका पहचान
इसमें ही शैतान बसा है
इसमें ही भगवान
बड़ा ग़ज़ब का है ये खिलौना
इसकी नहीं मिसाल
मालिक तूने किया कमाल
ऊपर गगन विशाल...

चारों तरफ इक इंद्रजाल सा
तूने रचा विधाता
तू हम सबके बीच बसा है
फिर क्यूँ नज़र न आता
पत्ता-पत्ता लता लता
पूछ रहे सब तेरा पता
कहाँ छुपा है ये तो बता
सामने आजा, अब न सता
एक बार तो झलक दिखा जा
कर जा हमें निहाल
मालिक तूने किया कमाल
ऊपर गगन विशाल...


दीवारों का जंगल - Deewaron Ka Jungle (Manna Dey, Deewaar)



Movie/Album: दीवार (1975)
Music By: राहुल देव बर्मन
Lyrics By: साहिर लुधियानवी
Performed By: मन्ना डे

दीवारों का जंगल जिसका
आबादी है नाम
बाहर से चुप-चुप लगता है
अंदर है कोहराम

दीवारों के इस जंगल में
भटक रहे इंसान
अपने-अपने उलझें
दामन झटक रहे इंसान
अपनी विपदा छोड़ के
आए कौन किसी के काम
बाहर से चुप-चुप...

सीने खाली आँखें सूनी
चेहरों पर हैरानी
जितने घने हंगामे इसमें
उतनी घनी वीरानी
रातें कातिल, सुबहें मुजरिम
मुल्ज़िम है हर शाम
बाहर से चुप-चुप...


All lyrics are property and copyright of their owners. All the lyrics are provided for educational purposes only. Copyright © Lyrics In Hindi | Powered by Blogger Design by ronangelo | Blogger Theme by NewBloggerThemes.com