Mashaal लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
Mashaal लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

देखो होली आई रे - Dekho Holi Aayi Re (Kishore, Mahendra, Lata, Mashaal)



Movie/Album: मशाल (1984)
Music By: हृदयनाथ मंगेशकर
Lyrics By: जावेद अख्तर
Performed By: किशोर कुमार, महेंद्र कपूर, लता मंगेशकर

ओ होली आई, होली आई देखो होली आई रे
खेलो खेलो रंग है
कोई अपने संग है
भीगा भीगा अंग है
ओ होली आई रे...
बहकी बहकी चाल है
चेहरा नीला लाल है
दीवाने क्या हाल है
मस्तों पर है मस्ती छाई
देखो होली आई रे...

जो लाये रंग जीवन में
उसे होली में पाया है
बताऊँ क्या तुम्हें यारों
किसे मैंने बुलाया है
या मत बुला, या बता दे दिल की बातें
ना छुपा दुनिया से चोरी है क्या
ये लड़की है या काली माई
देखो होली आई रे...

यही दिन था यही मौसम
ज़ुबान जब हमने खोली थी
कहाँ अब खो गए वो दिन
की जब अपनी भी होली थी
तुम हो तो हर रात दिवाली
हर दिन मेरी होली है
अरे ये क्या चक्कर है भाई
देखो होली आई रे...

हमारा कौन दुनिया में
यहाँ जो है पराया है
मगर अपना लगा कोई
ये ऐसा कौन आया है
इतना क्या मजबूर है
दिल क्यों गम से चूर है
तु ही सबसे दूर है
दिलों के पास बहुत ले आई
देखो होली आई रे...


ऊपर गगन विशाल - Upar Gagan Vishal (Manna Dey, Mashaal)



Movie/Album: मशाल (1950)
Music By: एस.डी.बर्मन
Lyrics By: कवि प्रदीप
Performed By: मन्ना डे

ऊपर गगन विशाल
नीचे गहरा पाताल
बीच में धरती वाह मेरे मालिक
तूने किया कमाल
अरे वाह मेरे मालिक
क्या तेरी लीला
तूने किया कमाल
ऊपर गगन विशाल...

एक फूँक से रच दिया तूने
सूरज अगन का गोला
एक फूँक से रचा चन्द्रमा
लाखों सितारों का टोला
तूने रच दिया पवन झखोला
ये पानी और ये शोला
ये बादल का उड़न खटोला
जिसे देख हमारा मन डोला
सोच-सोच हम करें अचम्भा
नज़र न आता एक भी खम्बा
फिर भी ये आकाश खड़ा है
हुए करोड़ों साल मालिक
तूने किया कमाल
ऊपर गगन विशाल...

तूने रचा एक अद्भुत प्राणी
जिसका नाम इंसान
जिसकी नन्हीं जान के भीतर
भरा हुआ तूफ़ान
इस जग में इनसान के दिल को
कौन सका पहचान
इसमें ही शैतान बसा है
इसमें ही भगवान
बड़ा ग़ज़ब का है ये खिलौना
इसकी नहीं मिसाल
मालिक तूने किया कमाल
ऊपर गगन विशाल...

चारों तरफ इक इंद्रजाल सा
तूने रचा विधाता
तू हम सबके बीच बसा है
फिर क्यूँ नज़र न आता
पत्ता-पत्ता लता लता
पूछ रहे सब तेरा पता
कहाँ छुपा है ये तो बता
सामने आजा, अब न सता
एक बार तो झलक दिखा जा
कर जा हमें निहाल
मालिक तूने किया कमाल
ऊपर गगन विशाल...


फुटपाथों के हम - Footpathon Ke Hum (Suresh Wadkar, Anup Jalota, Hariharan, Shailendra Singh, Mashaal)



Movie/Album: मशाल (1984)
Music By: हृदयनाथ मंगेशकर
Lyrics By: जावेद अख्तर
Performed By: अनूप जलोटा, हरिहरन, सुरेश वाडकर, शैलेंद्र सिंह

फुटपाथों के हम रहने वाले
रातों ने पाला हम वो उजाले
आकाश सर पे पैरों तले
है दूर तक ये ज़मीं
और तो अपना कोई नहीं
फूटपाथों के हम...

कोई नहीं ना सही, हम क्यूँ आँसू बहाएँ
दुनिया जले तो जले, हम तुम मस्ती मे गाएँ
गम से निकल, भूल के चल, क्या होगा कल
अपना वही, इस पल मे जो है यहीं
और तो अपना कोई नहीं...

माँ नहीं बाप नहीं, जैसे जीयें पाप नहीं
ना कोई घर ना कोई दर, है पास क्या जिसका हो डर
ना मंज़िल है, ना साहिल है, हम हैं दिल है
ये दिल हमें, ले जाए चाहे कहीं
और तो अपना कोई नहीं...

हो बचपन में खेले गम से, निर्धन घरों के बेटे
फूलों की सेज नहीं, काँटों पे हम हैं लेटे
भूखे रहें, सौ गम सहें, दिल ये कहे
रोटी जहाँ, है स्वर्ग अपना वहीं
और तो अपना कोई नहीं...


मुझे तुम याद करना - Mujhe Tum Yaad Karna (Lata Mangeshkar, Kishore Kumar, Mashaal)



Movie/Album: मशाल (1984)
Music By: हृदयनाथ मंगेशकर
Lyrics By: जावेद अख्तर
Performed By: लता मंगेशकर, किशोर कुमार

मुझे तुम याद करना और मुझको याद आना तुम
मैं इक दिन लौट के आऊँगा, येे मत भूल जाना तुम
मुझे तुम याद करना...

अकेली होगी तुम देखो कहीं ऐसा ना हो जाए
जो अब होठों पे है मुस्कान वो मुस्कान खो जाए
ज़रा लोगों से मिलना तुम, ज़रा हँसना-हँसाना तुम
मगर तुम लौट के आओगे, ये मत भूल जाना तुम
मुझे तुम याद करना...

अगर लड़की तुम्हें कोई मिले जो खूबसूरत हो
तुम्हारी दोस्ती की शायद उसको भी ज़रूरत हो
अगर वो पास आए, मुस्कुराए मुस्कुराना तुम
मगर मैं लौट के आऊँगा, ये मत भूल जाना तुम
मुझे तुम याद करना...


ज़िन्दगी आ रहा हूँ - Zindagi Aa Raha Hoon (Kishore Kumar, Mashaal)



Movie/Album: मशाल (1984)
Music By: हृदयनाथ मंगेशकर
Lyrics By: जावेद अख्तर
Performed By: किशोर कुमार

लिए सपने निगाहों में
चला हूँ तेरी राहों में
ज़िन्दगी आ रहा हूँ मैं...

कई यादों के चेहरे हैं, कई किस्से पुराने हैं
तेरी सौ दास्तानें हैं, तेरे कितने फसाने हैं
मगर इक वो कहानी है, जो अब मुझको सुनानी है
ज़िंदगी आ रहा हूँ मैं...

मेरे हाथों की गर्मी से, पिघल जाएँगी ज़ंजीरें
मेरे कदमों की आहट से, बदल जाएँगी तक़दीरें
उम्मीदों के दीये ले कर, ये सब तेरे लिए ले कर
ज़िंदगी आ रहा हूँ मैं...

कभी तुझको गिला मुझसे, कभी मुझको शिकायत है
मगर फिर भी तुझे मेरी, मुझे तेरी ज़रूरत है
मैं ये इक़रार करता हूँ, मैं तुझसे प्यार करता हूँ
ज़िन्दगी आ रहा हूँ मैं...


All lyrics are property and copyright of their owners. All the lyrics are provided for educational purposes only. Copyright © Lyrics In Hindi | Powered by Blogger Design by ronangelo | Blogger Theme by NewBloggerThemes.com