Mehboob लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
Mehboob लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

कहना ही क्या - Kehna Hi Kya (K.S.Chithra, Bombay)



Movie/Album: बॉम्बे (1995)
Music By: ए.आर.रहमान
Lyrics By: महबूब
Performed By: के.एस.चित्रा

कहना ही क्या
ये नैन एक अन्जान से जो मिले
चलने लगे, मोहब्बत के जैसे ये सिलसिले
अरमां नये ऐसे दिल में खिले
जिनको कभी मैं ना जानूँ
वो हमसे, हम उनसे कभी ना मिले
कैसे मिले दिल ना जानूँ
अब क्या करें, क्या नाम लें
कैसे उन्हे मैं पुकारूँ

पहली ही नज़र में कुछ हम, कुछ तुम
हो जातें है यूँ गुम
नैनों से बरसे रिम-झिम, रिम-झिम
हमपे प्यार का सावन
शर्म थोड़ी-थोड़ी हमको, आये तो नज़रें झुक जाएँ
सितम थोड़ा-थोड़ा हमपे, शोख हवा भी कर जाये
ऐसी चली, आँचल उड़े, दिल में एक तूफ़ान उठे
हम तो लुट गये खड़े ही खड़े
कहना ही क्या...

इन होंठों ने माँगा सरगम, सरगम
तू और तेरा ही प्यार है
आँखें ढूंढे है जिसको हर दम, हर दम
तू और तेरा ही प्यार है
महफ़िल में भी तन्हां है दिल ऐसे, दिल ऐसे
तुझको खोना दे, डरता है ये ऐसे, ये ऐसे
आज मिली, ऐसी खुशी, झूम उठी दुनिया ये मेरी
तुमको पाया तो पाई ज़िन्दगी
कहना ही क्या...


किस्सा हम लिखेंगे - Kissa Hum Likhenge (Anuradha Paudwal, M.G.Sreekumar, Doli Saja Ke Rakhna)



Movie/Album: डोली सजा के रखना (1998)
Music By: ए.आर.रहमान
Lyrics By: महबूब
Performed By: अनुराधा पौडवाल, एम.जी.श्रीकुमार

किस्सा हम लिखेंगे दिल-ए-बेक़रार का
ख़त में सजा के फूल हम प्यार का
लफ़्ज़ों में लिख देंगे अपना ये हाल-ए-दिल
देखेंगे क्या जवाब आता है फिर यार का

दिल का दीवानापन कहता है ये सजन
क़दमों में आपके लुटा दूँ अपनी जाँ
जान हमारी हो, जाँ से भी प्यारी हो
आपके प्यार की तो दिल में है जगह
दिल में ही बसा के रखना तुम सदा
हम तो ना छोड़ेंगे ये साथ कभी दिलदार का
किस्सा हम लिखेंगे...

चंदा सा चेहरा जब आता है याद जब
दिन में भी छा जाता है रात का समाँ
रातें बेहाल है, सोना मुहाल है
आँखों में आप हैं जी, नींदें हैं कहाँ
मेरी भी निगाहों का अब सुन ले सवाल
पूछती हैं कब आयेगा फिर मौक़ा तेरे दीदार का
किस्सा हम लिखेंगे...


ढोली तारो ढोल बाजे - Dholi Taaro Dhol (Hum Dil De Chuke Sanam)



Movie/Album: हम दिल दे चुके सनम (1999)
Music By: इस्माईल दरबार
Lyrics By: महबूब
Performed By: कविता कृष्णामूर्ति, विनोद राठोड, करसन सरगाथिया

हे खा ना ना ना ना खनखना....
झनननन झंझनाट झांझर बाजे रे आज, टनननन टनटनाट मंजीरा बाजे
खनननन खनखनाक गोरी के कंगना आज, छनननन छ्ननाक पायल संग बाजे
सर पर चुनर ओढ़े निकलेगी आज राधे, लहरा, लहरा के गोपियों संग
कान्हां भी पीछे पीछे, टाँग कोई खींचे खींचे, मुरली से बरसाएगा सुर तरंग
धरती और वो गगन, झूमेंगे संग संग, सब पे चढ़ेगा आज प्रेम रंग
रंगीं गुलाल होगा, सोचो क्या हाल होगा, नाचेंगे प्रेम रोगी दम दमा दम दम
धम धम धातीलाल धातीलाल धिरकिट धिरकिट धिलाल
बाजे मृदंग धनाधन, धन धनाधन बाजे
छम छम छम छम छ्माक, झांझर झमझमाक
घुँघरू घम घम घमाक, चमक चम चमाके
हे बाजे रे बाजे रे बाजे रे बाजे रे, ढोल बाजे

हे बाजे रे बाजे रे बाजे रे
ढोली तारो ढोल बाजे, ढोल बाजे, ढोल बाजे, ढोल
के ढम ढम बाजे ढोल
कि ढोली तारो ढोल बाजे, ढोल बाजे, ढोल बाजे, ढोल
तो ढम ढम बाजे ढोल
हे हे, छोरी बड़ी अनमोल, मीठे मीठे इसके बोल
आँखें इसकी गोल गोल, गोल गोल, तो ढम ढम बाजे ढोल
हाँ हाँ छोरा छोरा है नटखट, बोले है पटपट
अरे छेड़े मुझे बोले ऐसे बोल, तो ढम ढम बाजे ढोल

रसीलो ये रूप तारो छूं लूं ज़रा
अरे ना, अरे हाँ
अरे हाँ हाँ हाँ हाँ
रात की रानी जैसे रूप मेरा, महका सा, महका सा, महका सा, महका सा
उड़ेगी महक मुझे छूना ना, तू क्यों बहका सा, बहका सा, बहका सा सा सा सा सा सा सा सा
पास आजा मेरी रानी, सुनूँ नहीं मैं दिवानी
करूँगा मैं मनमानी, मत कर शैतानी
अरे रेरेरेरे, सरे रेरेरे, परेरेरेरे
कि ढोली तारो....


निम्बुड़ा - Nimbooda (Kavita Krishnamurthy, Hum Dil De Chuke Sanam)



Movie/Album: हम दिल दे चुके सनम (1999)
Music By: इस्माईल दरबार
Lyrics By: महबूब
Performed By: कविता कृष्णामूर्ति, करसन सरगाथिया

निम्बुड़ा, निम्बुड़ा, निम्बुड़ा
निम्बुड़ा, निम्बुड़ा, निम्बुड़ा
अरे काचा काचा, छोटा छोटा, निम्बुड़ा लाई दो...
जा खेत से हरियाला निम्बूड़ा लायी दो
निम्बूड़ा, निम्बूड़ा, निम्बूड़ा

दीवानों की बुरी नज़र से बचना हो तो सुन लो
अरे खट्टो खट्टी निम्बू तेज़ छुरी से सर पे काटो
फिर छोटा छोटा निम्बुड़ा क्या जादू करेगा देखो
कि बुरी नज़र वो, खट्टी होएगी, फिर चौरस्ते पे, वो उतर गिरेगी
ओ लाई दो...

इत्ता सा है, पर है तो रसीला, निम्बुड़ा
चखा रा था बड़ा है छबीला, निम्बूड़ा
इसकी खुशबू से भी ललचा जाता है ये मन
रखदे जुबां पर दो बस, अई अई...

लेकिन चाहत में सजना सजनी को
लगती है एक दूजे की नज़र
तब उनमें अक्सर होती है मीठी तकरार
निम्बुड़ा बोले है यही प्यार
हुर्र, तो लाई दो लाई दो...
मेरी सोणी सहेलियों जा के ज़रा लाई दो, छोटा निम्बूड़ा, लाई दो
निम्बुड़ा, निम्बुड़ा...


रंगीला रे - Rangeela Re (Asha Bhosle, Rangeela)



Movie/Album: रंगीला (1996)
Music By: ए.आर.रहमान
Lyrics By:
महबूब
Performed By: आशा भोंसले, आदित्य नारायण

याई रे याई रे जोर लगा के नाचे रे
याई रे याई रे मिल के धूम मचाये रे
चल मेरे संग-संग, ले-ले दुनिया के रंग
हो जा रंगीला रे, रंग-रंग रंगीला रे

इतने चेहरों में अपने चेहरे की पहचान
बड़े-बड़े नामों में अपना भी नाम-ओ-निशाँ
जीने में फिर तो क्या बात हो
दिन नया और नई रात हो
हर घड़ी बस ख़ुशी साथ हो
याई रे...

अरे यारों मेरे पास तो आओ, मेरी मुश्क़िल दूर भगाओ
कैडबरी बोले मैं मीठा हूँ, अमूल बोले मैं मीठा हूँ
हॉर्लिक्स बोले मैं अच्छा हूँ, कॉम्प्लान बोले मैं अच्छा हूँ
क्या सबने सोचा मैं बच्चा हूँ
चॉकलेट खाने में टेंशन है, दूध पीने में टेंशन है
टेंशन टेंशन टेंशन

लानत है जी उस पर दुनिया में ही रहकर
दुनिया में जो जीने के अन्दाज़ को न जाने
माथे या हाथोँ पे, चाँद या तारों में
क़िस्मत को ढूँढे पर, ख़ुद में क्या है ये ना जाने
ख़ुद पे ही हमको यक़ीं हो
मुश्किलें राह की आसाँ हो
दोनों हाथों में ये जहां हो
याई रे...


यारों सुन लो ज़रा - Yaaron Sun Lo Zara (Udit Narayan, K.S.Chithra, Rangeela)



Movie/Album: रंगीला (1996)
Music By: ए.आर.रहमान
Lyrics By:
महबूब
Performed By: उदित नारायण, के.एस.चित्रा

यारों सुन लो ज़रा, हाँ अपना ये कहना
जीना हो तो अपुन के जैसे ही जीना
गाड़ी बंगला नहीँ ना सही ना सही
बैंक बैलेंस नहीँ ना सही ना सही
टीवी विडियो नहीँ ना सही ना सही
सूटिंग शर्टिंग नहीँ ना सही ना सही
इनकी हमको क्यूँ हो फ़िकर
जी लो जैसे मस्त कलंदर

यारों सुन लो ज़रा, हाँ अपना भी कहना
जीना हो तो अपुन के जैसे ही जीना
गाड़ी बंगला अगर हो तो क्या बात है
बैंक बैलेंस से रंगीन दिन-रात है
टीवी विडियो अगर है तो क्या है मज़ा
ड्रेसिंग-वेसिंग से कुछ और ही ठाठ है
इनकी कर लो कुछ तो कदर
यारों थोड़ा जाओ सुधर
यारों सुन लो ज़रा...

हमको देखो हम हैँ यारा अपनी मर्ज़ी के राजा
दुनिया बोले तो मज़ा है, ना कहो ख़ुद को राजा
नाम अपुन का मुन्ना भाई
हम करें वो जो दिल में समाई
अरे धंदा किया ना किया क्या फ़िकर
कौन आया गया दुनिया में क्या ख़बर
इस दुनिया से तुम जो रहे बेख़बर
कहीं दुनिया तुम्हें ना भुलाये
यारों सुन लो ज़रा...

कल का क्या है किसने देखा हम तो आज में जीते हैं
जिनमें हिम्मत है नहीं वो ऐसी बातें करते हैं
इसकी तो तुम बात ना करना
हमको दादा सब कहते हैं
अरे शेरों के जैसा है अपना जिगर
ऊँचा ही रहा है सदा अपना सर
सर से ज्यादा ऊँची रहे ये नज़र
आसमां फिर तो सर को झुकाये
यारों सुन लो ज़रा...


प्यार ये जाने कैसा - Pyar Ye Jaane Kaisa (Kavita, Suresh, Rangeela)



Movie/Album: रंगीला (1996)
Music By: ए.आर.रहमान
Lyrics By:
महबूब
Performed By: कविता कृष्णमूर्ति, सुरेश वाडकर

प्यार ये जाने कैसा है
क्या कहें ये कुछ ऐसा है
कभी दर्द ये देता है, कभी चैन ये देता है
कभी ग़म देता है, कभी ख़ुशी देता है

दिन तो गुज़रता है जिसके ख़यालों में
रातें गुज़रती हैं उसकी ही यादों में
वक़्त मिलन का आये तो बागों में
झूमें बहारें फूलों की गलियों में
भँवरों की टोली आये
कलियों पे वो मंडलाए
डर ये ख़िज़ां का भी दिल से मिटाये
प्यार ये जाने कैसा है...

आँखों पे छाये ये सपना बन के तो
कोई पराया आये अपना बन के
चलते-चलते राहों की धूप में
साथी मिल जाये कोई साया बन के
मंज़िल आये न आये
या कोई तूफ़ाँ आये
दिलवालों को ये जीना सिखाये
प्यार ये जाने कैसा है...


कभी नीम नीम कभी शहद शहद - Kabhi Neem Neem Kabhi Shahad Shahad (Madhushree, Yuva)



Movie/Album: युवा (2004)
Music By: ए.आर.रहमान
Lyrics By: महबूब
Performed By: मधुश्री, ए.आर.रहमान

कभी नीम-नीम, कभी शहद-शहद
कभी नरम-नरम, कभी सख्त-सख्त
मोरा पिया, मोरा पिया, मोरा पिया
नज़रों के तीर में बसा है प्यार
जब भी चला है वो दिल के पार
लज्जा से मरे रे ये जिया, पिया...

शोंधा की ये लाली मुख चमकाये
सोंधी-सोंधी ख़ुश्बू मन बहकाये
ज़ुल्फ़ों की रैना फिर क्यूँ ना छाये
हो चाँद-सितारे, देखेंगे सारे
लज्जा से मरे रे ये जिया, पिया...
कभी नीम-नीम, कभी शहद-शहद...

बोईरागी मन तेरा, है साहेब जी
मेरे सीने में है क़ैद वो अब जी
प्रीत की रखो लाज, ऐ मेरे रब जी
हो रुसवा हुई तो, दुनिया हँसी तो
लज्जा से मरे रे ये जिया, पिया...
कभी नीम-नीम, कभी शहद-शहद...


मुझे रंग दे - Mujhe Rang De (Asha Bhosle, Takshak)



Movie/Album: तक्षक (1999)
Music By: ए.आर.रहमान
Lyrics By: महबूब
Performed By: आशा भोंसले

मुझे रंग दे, हाँ रंग दे
हाँ अपनी प्रीत विच रंग दे

मैं बण के सवेरा जाग उठी
मैं जाग उठी, जी जाग उठी
मैं बण के मोरणी नाच उठी
मैं नाच उठी, चन्नो नाच उठी
तेरे नैना, मेरे नैना
मेरे नैनो में रंग दे
हाँ रंग दे...

तेरे सपनों के आँगन में चम-चम चलूँ
मैं चलूँ, मैं चलूँ, तेरे संग-संग चलूँ
आजा-आजा वे आजा, तू बन के हवा
तेरे सद के जावां, तेरे वारे जावां
मुझे रंग दे, मुझे रंग दे...

मैं भी तनहाँ हूँ, तू भी है तनहाँ कहीं
मैं अधूरी यहाँ, तू अधूरा कहीं
एक आहट सी होती है मुझको यहाँ
तू कहाँ है, कहाँ है, कहाँ है, कहाँ
मुझे ले चल, तू ले चल, तू ले चल, वहाँ
जहाँ तक आसमां, आसमां, आसमां
हो मोहब्बत की दुनिया नशेमन जहाँ
मुझे ले चल...
मुझे रंग दे...


हम्मा हम्मा - Humma Humma (Remo Fernandes, Bombay)



Movie/Album: बॉम्बे (1995)
Music By: ए.आर.रहमान
Lyrics By: महबूब
Performed By: रेमो फर्नान्डेस

एक हो गए हम और तुम
तो उड़ गयी नींदें रे
और खनकी पायल मस्ती में
तो कंगन खनके रे
हम्मा हम्मा, हम्मा हम्मा हम्मा

ए पहली बार मिले
तुमपे दम ये निकले
तुमपे ये जवानी धीरे-धीरे
मद्धम मचले रे
हम्मा हम्मा...

खिली चांदनी जैसा ये बदन, जाना मिला तुमको
मन में सोचा था जैसा रूप तेरा, आया नज़र हमको
सितम खुली-खुली सनम गोरी-गोरी ये बाहें करती है यूँ
हमें तुमने जब गले लगाया तो, खो ही गए हम तो
हम्मा हम्मा...

खुली ज़ुल्फ़ में, तेरी आँखों में, मदहोश हो गए
गोरे गाल पे, भीगे होंठ पे, यारा फ़िदा हो गए
सनम प्यार में, भीगी रात में, प्यास जगाते रहे
ख़तम न हो सनम, प्यार का मौसम, चाहत बढ़ती रहे
हम्मा हम्मा...


कुची कुची रकमा - Kuchi Kuchi Rakkamma (G.V.Prakash, Kavita Krishnamurthy, Udit Narayan, Bombay)



Movie/Album: बॉम्बे (1995)
Music By: ए.आर.रहमान
Lyrics By: महबूब
Performed By: कविता कृष्णामूर्ति, उदित नारायण, जी.वी. प्रकाश

कुची कुची रकमा सुन लो तुम
अच्छी अच्छी गुड़िया दे दो तुम
सारा जहां सो गया, चाँद कहीं खो गया
कुची कुची रकमा
अच्छी अच्छी गुड़िया

कुची कुची रकमा पास आओ ना
एक अच्छी अच्छी गुड़िया दे दो ना
सारा जहां सो गया, चाँद कहीं खो गया
कुची कुची रकमा
अच्छी अच्छी गुड़िया

कुची कुची रकमा पास आये ना
एक प्यारी-प्यारी गुड़िया ना दे ना
सारा जहां सोया नहीं, चाँद कहीं खोया नहीं
कुची कुची रकमा

नाचे मोर पानी में छम-छम
गाये कोयल दिल चाहे सरगम
चाहे खिलती कली शबनम
हे अब एक बेटी चाहें हम
ऐसे मत कहो कुछ भी तुम
नज़र फेर लो हमसे तुम
बहुत हसीं ये नज़ारे हैं
बस इनको देखो तुम
आया प्यार का ये मौसम
राग मिलन का छेड़े हम
डाल-डाल पे फूल खिले
खाली पड़े हैं क्यूँ सावन के झूले
बस दे दे एक कुड़ी
बस रहो दूर यूँ हीं
पास आ के तुझसे तो दूर रहा जाये ना
कुची कुची रकमा...

तेरे बिना दिन रात भी क्या
तेरे बिना ये जीवन क्या
तू नहीं तो मैं कुछ भी नहीं
पर ज़िद बोलो ये क्या
और यही बस चाहूँ मैं
तुझसी इक हसीं गुड़िया मिले
तू है रात दिवाली की
वो ईद का चाँद लगे
बहुत प्यारा है तेरा ख्याल
तेरे ख्याल का क्या कहना
पर ज़िद अब ये दिल से निकाल
ये हम ना मानेंगे चाहे कुछ कर ले
छोड़ दे आस ये
दिल ना तोड़िए
तेरी ऐसी मीठी-मीठी बातों में हम आये ना
कुची कुची रकमा...


द हम्मा सॅान्ग - The Humma Song (Jubin Nautyal, Shashaa Tirupati, Badshah, OK Jaanu)



Movie/Album: ओके जानू (2017)
Music By: ए.आर.रहमान
Lyrics By: महबूब, बादशाह
Performed By: जुबिन नौत्याल, शाषा तिरूपती, बादशाह, तनिष्क बागची

इक हो गये हम और तुम
हम्मा, हम्मा, हम्मा
तो उड़ गई नींदे रे
हे हम्मा

इक हो गये हम और तुम
तो उड़ गई नींदे रे
और खनकी पायल मस्ती में तो
कंगन खनके रे

ये पहली बार मिले
तुम पे ये दम निकले
हमपे ये जवानी धीरे-धीरे मद्धम मचले रे
हम्मा, हम्मा, हम्मा, हम्मा, हम्मा
हे हम्मा, हम्मा, हम्मा, हम्मा, हम्मा

मुझे डर इस बात का है बस
के कहीं ना ये रात निकल जाए
मेरे इतने भी पास तू आ मत
कहीं मेरे हाथों से ना बात निकल जाए
बोलूँगा सच मैं जो दे तू इजाज़त
सबर भी अब करने लगा बगावत
ज़ुल्फ़ें हैं ज़ालिम और आँखें है आफ़त
लगता है होने वाली है कयामत
मत तड़पा ऐसे तू, ना कर नाइंसाफ़ी
जो गलती करने वाला हूँ मैं
उसके लिए पहले से ही माँगता हूँ माफ़ी

खिली चाँदनी जैसा ये बदन
जानम मिला तुमको
मन में सोचा था जैसा रूप तेरा
आया नज़र हमको
सितम खुली-खुली ये
सनम गोरी-गोरी
बाँहें करती हैं यूँ
हमें तुमने जब गले लगाया तो
खो ही गये हम
हम्मा, हम्मा, हम्मा, हम्मा, हम्मा
हे हम्मा, हम्मा, हम्मा, हम्मा, हम्मा
इक हो गये हम और तुम
हम्मा, हम्मा, हम्मा
तो उड़ गई नींदे रे
हे हम्मा


All lyrics are property and copyright of their owners. All the lyrics are provided for educational purposes only. Copyright © Lyrics In Hindi | Powered by Blogger Design by ronangelo | Blogger Theme by NewBloggerThemes.com