Nau Do Gyarah लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
Nau Do Gyarah लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

क्या हो फिर जो दिन - Kya Ho Phir Jo Din (Geeta Dutt, Asha Bhosle, Nau Do Gyarah)



Movie/Album: नौ दो ग्यारह (1957)
Music By: एस.डी.बर्मन
Lyrics By: मजरूह सुल्तानपुरी
Performed By: गीता दत्त, आशा भोंसले

क्या हो फिर जो दिन रंगीला हो
रेत चमके, समुन्दर नीला हो
और आकाश गीला-गीला हो
क्या हो फिर जो दिन...

आह! फिर तो बड़ा मज़ा होगा
अम्बर झुका-झुका होगा
सागर रुका-रुका होगा
तूफां छुपा-छुपा होगा

क्या हो फिर जो चंचल घाटी हो
होठों पे मचलती बातें हो
सावन हो, भरी बरसातें हो

आह! फिर तो बड़ा मज़ा होगा
कोई-कोई फिसल रहा होगा
कोई-कोई संभल रहा होगा
कोई-कोई मचल रहा होगा

क्या हो फिर जो दुनिया सोती हो
और तारों भरी खामोशी हो
हर आहट पे धड़कन होती हो

आह! फिर तो बड़ा मज़ा होगा
दिल-दिल मिला-मिला होगा
तन-मन खिला-खिला होगा
दुश्मन जला-जला होगा


All lyrics are property and copyright of their owners. All the lyrics are provided for educational purposes only. Copyright © Lyrics In Hindi | Powered by Blogger Design by ronangelo | Blogger Theme by NewBloggerThemes.com