Papon लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
Papon लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

कौन मेरा - Kaun Mera (Chaitra, Sunidhi, Papon, Special 26)



Movie/Album: स्पेशल २६ (2013)
Music By: एम.एम.क्रीम
Lyrics By: इरशाद कामिल
Performed By: चैत्रा अम्बदिपुदी, सुनिधि चौहान, पैपॉन

Male:
कौन मेरा, मेरा क्या तु लागे
क्यूँ तू बांधे, मन के मन से धागे
बस चले ना क्यूँ मेरा तेरे आगे
कौन मेरा...

ढूंढ ही लोगे मुझे तुम हर जगह अब तो
मुझको खबर है
हो गया हूँ तेरा जब से मैं हवा में हूँ
तेरा असर है
तेरे पास हूँ एहसास में, मैं याद में तेरी
तेरा ठिकाना बन गया अब सांस में मेरी
कौन मेरा...

Female:
कौन मेरा, मेरा क्या तु लागे?
क्यूँ तू बांधे, मन के मन से धागे
बस चले ना क्यूँ मेरा तेरे आगे
कौन मेरा...

छोड़ कर ना तु कहीं भी
दूर अब जाना, तुझको कसम है
साथ रहना जो भी है तु
झूठ या सच है, या भरम है
अपना बनाने का जतन कर ही चुके अब तो
बैय्याँ पकड़ कर आज चल, मैं दूं बता सबको
कौन मेरा...


मोह मोह के धागे - Moh Moh Ke Dhaage (Papon, Monali Thakur, Dum Laga Ke Haisha)



Movie/Album: दम लगा के हईशा (2015)
Music By: अनु मलिक
Lyrics By:
वरुण ग्रोवर
Performed By: पैपॉन, मोनाली ठाकुर

ये मोह मोह के धागे तेरी उँगलियों से जा उलझे
कोई टोह टोह ना लागे, किस तरह गिरह ये सुलझे
है रोम रोम एक तारा, जो बादलों में से गुज़रे

तु होगा ज़रा पागल तूने मुझको है चुना
कैसे तूने अनकहा, तूने अनकहा सब सुना
तु दिन सा है, मैं रात
आना दोनों मिल जाए शामों की तरह
ये मोह मोह के धागे...

के ऐसा बेपरवाह मन पहले तो ना था
चिट्ठियों को जैसे मिल गया, जैसे इक नया सा पता
खाली राहें, हम आँख मूंदें जाएँ
पहुंचे कहीं तो बेवजह
ये मोह मोह के धागे...

के तेरी झूठी बातें मैं सारी मान लूँ
आँखों से तेरे सच सभी, सब कुछ अभी जान लूँ
तेज है धारा, बहते से हम आवारा
आ थम के साँसे ले यहाँ
ये मोह मोह के धागे...


हमनवा - Humnava (Papon, Hamari Adhuri Kahani)



Movie/Album: हमारी अधूरी कहानी (2015)
Music By: मिथुन
Lyrics By: सईद कादरी
Performed By: पैपॉन

ऐ हमनवा मुझे अपना बना ले
सुखी पड़ी दिल की इस ज़मीं को भीगा दे
हूँ अकेला ज़रा हाथ बढ़ा दे
सूखी पड़ी दिल की इस ज़मीं को भीगा दे

कबसे मैं दर-दर फिर रहा
मुसाफिर दिल को पनाह दे
तु आवारगी को मेरी आज ठहरा दे
हो सके तो थोड़ा प्यार जता दे
सूखी पड़ी दिल की इस ज़मीं को भीगा दे

मुरझाई सी शाख पे दिल की फूल खिलते हैं क्यों
बात गुलों की, ज़िक्र महक का, अच्छा लगता है क्यों
उन रंगों से तूने मिलाया
जिनसे कभी मैं मिल ना पाया
दिल करता है तेरा शुक्रिया
इसी बहाने तु ला दे
दिल का सूना बंजर महका दे
सूखी पड़ी...

वैसे तो मौसम गुज़रे हैं ज़िन्दगी में कई
पर अब ना जाने क्यों मुझे वो लग रहे हैं हसीं
तेरे आने पर जाना मैंने
कहीं ना कहीं ज़िन्दा हूँ मैं
जीने लगा हूँ मैं अब ये फ़िज़ाएं
चेहरे को छूती हवाएँ
इनकी तरह दो क़दम तो बढ़ा ले
सूखी पड़ी...


तु जो मिला - Tu Jo Mila (KK, Javed Ali, Papon, Bajrangi Bhaijaan)



Movie/Album: बजरंगी भाईजान (2015)
Music By: प्रीतम चक्रवर्ती
Lyrics By:
मयूर पुरी, कौसर मुनि
Performed By: के.के, जावेद अली, पैपॉन

आशियाना मेरा (तेरा), साथ तेरे (मेरे) है ना
ढूंढते तेरी गली, मुझको घर मिला
आब-ओ-दाना मेरा (तेरा), हाथ तेरे (मेरे) है ना
ढूंढते तेरा खुदा, मुझको रब मिला
तु जो मिला, लो हो गया मैं काबिल
तु जो मिला, तो हो गया सब हासिल
मुश्किल सही (तु जो मिला), (हाँ) आसां हुई मंजिल
क्योंकि तु धड़कन, मैं दिल

के.के.

रूठ जाना तेरा, मान जाना मेरा
ढूंढते तेरी हँसी, मिल गई ख़ुशी
राह हूँ मैं तेरी, तू है तो मेरी
ढूंढते तेरे निशाँ, मिल गई खुदी
तु जो मिला, लो गया मैं काबिल...

जावेद अली



देखना न मुड़ के, जा चली जा उड़ के
जा तुझे फूल सी, ना लगे नज़र
नींद तेरी दे जा, नींद मेरे ले जा
जा कि तेरी रात को, मिल गई सहर
तु जो मिला...




पैपॉन
फिक्रें सभी धुआँ हुई, फरकों से दिल डरता नहीं
चाहा तुझे इस तरह, चाहत से दिल भरता नहीं
तु जो मिला
सीधी लगे तिरछी डगर, चलने से दिल थकता नहीं
मीठा लगे ऐसा सफ़र, रुकने को दिल करता नहीं
तु जो मिला...



जियें क्यूँ - Jiyein Kyun (Papon, Dum Maaro Dum)



Movie/Album: दम मारो दम (2011)
Music By: प्रीतम चक्रबर्ती
Lyrics By: जयदीप साहनी
Performed By: पैपॉन

न आये हो, न आओगे, न फ़ोन पे बुलाओगे
न शाम की करारी चाय, लबों से यूँ पिलाओगे
न आये हो, न आओगे, न दिन ढले सताओगे
न रात की नशीली बाय से, नींद में जगाओगे
गए तुम गए हो क्यूँ, रात बाकी है
गए तुम गए हो क्यूँ, साथ बाकी है
गए तुम गए, हम थम गए, हर बात बाकी है
गए क्यूँ, तो जियें क्यूँ

न आये हो, न आओगे, न दूरियाँ दिखाओगे
न थाम के वो जोश में, यूँ होश से उड़ाओगे
न आये हो, न आओगे, न झूठ से सुनाओगे
न रूठ के सिरहाने में, रिमोट को छुपाओगे
गए तुम गए हो क्यूँ...

आँख भी थम गयी, ना थकी
रात भी न बंटी, ना कटी
रात भी छेड़ती, मारती
नींद भी लुट गयी, छिन गई
रात भी ना सही, ना रही
रात भी लाज़मी, ज़ाल्मी
गए तुम गए हो क्यूँ...
न आये हो...


खुमार - Khumaar (Papon, Coke Studio MTV)



Movie/Album: कोक स्टूडियो एम्.टी.वी. (2013)
Music By:
पैपॉन
Lyrics By: वैभव मोदी
Performed By: पैपॉन

सलवटों पे लिखी, करवटें इक हज़ार
धीमी आँच पे जैसे, घुलता रहे मल्हार
मूंदी आँखों में महका सा
बीती रात का ये खुमार
मूंदी आँखों में महका

कैसे काटूँ बैरी, दोपहरी
आवे ना क्यूँ रैना
कैसे मैं, काटूँ रे
दोपहरी, बैरी
कैसे मैं, काटूँ रे
मोसे ना, बोले रे, हरजाई
पल छिन गिन गिन, हारूं मैं
हसरतों ने किया, रुख्सतों से क़रार
थामे आँचल तेरा, करती है इंतज़ार
कैसे काटूँ...

मुद्दतों सा लगे/चले, हर इक लम्हा
आहटों ने किया है, जीना भी दुश्वार
मूंदी आँखों में महका सा
बीती रात का ये खुमार


तू मेरा अफ़साना - Tu Mera Afsana (Shreya, Papon, Bobby Jasoos)



Movie/Album: बॉबी जासूस (2014)
Music By: शांतनु मोइत्रा
Lyrics By: स्वानंद किरकिरे
Performed By: श्रेया घोषाल, पैपॉन

तू मेरा अफ़साना, तू मेरा पैमाना
तू मेरी आदत, इबादत है तू
तू मेरा मुस्काना, तू मेरा घबराना
तू मेरी गुस्ताखी, माफ़ी भी तू
तू मेरी रग-रग में, तू मेरी नस-नस में
तू मेरी जाँ है और तू मेरी रूह
तू ही जुनूं भी है, तू ही नशा भी है
तू ही दुआ मेरी, सजदा भी तू
तू मेरा अफ़साना...

अर्ज़ियाँ दे रहा है दिल, आओ
सुन लो कुछ कह रहा है दिल, आओ
आहटें कुछ नई सी जागी है
मौसिकी इक नई है, सुन जाओ
अर्ज़ियाँ दे रहा...

जागी सी आँखों को
दे दो ना पलकों की चादर ज़रा
रूखे से होठों को
दे दो ना साँसों की राहत ज़रा
तन्हाँ सी रातों को
दे दो ना ख़्वाबों की सोहबत ज़रा
ख्वाहिशें ये कहे
दे दो ना अपनी सी उल्फत ज़रा
रंजिशें भूल कर चले, आओ
अर्जियां दे रहा है...

बिन तेरे ज़िन्दगी
यूँ ही बेवजह बेमानी लगे
बिन तेरे ज़िन्दगी
जैसे अधूरी कहानी लगे
बिन तेरे बस्तियाँ
क्यूँ दिल की सूनी वीरानी लगे
बिन तेरे ज़िन्दगी
क्यों खुद ही खुद से बेगानी लगे
मर्ज़ियाँ मोड़ कर चले आओ
अर्ज़ियाँ दे रहा है...
तू मेरा अफ़साना...


सुन री बावली - Sun Ri Baavli (Papon, Lakshmi)



Movie/Album: लक्ष्मी (2014)
Music By: तपस रेलिया
Lyrics By: मनोज यादव
Performed By: पैपॉन

सुन री बावली तू अपने लिए
खुद ही मांग ले दुआ
कोई तेरा ना होना
बेज़ार सा नज़र आए जोतेरे सामने तेरा मसीहा
वो तेरा ना होना
तन का कमरा, मन की कोठी
साँसों का खेल खिलौना
केश में सूरज खोंस के चलना
कभी कोई रात मेरे ना
सुन री बावली...

हो टूटे तारे उठा ले
उनसे चंदा बना ले
थाम आँचल का कोना उसे आसमां बना ले
धूप है डोली, छाँव है दुल्हन
खुद से प्रीत छोड़ ना
केश में सूरज खोंस के चलना
कभी कोई रात मेरे ना
सुन री बावली...

हो उड़ जाना जब
उड़ने का मन हो
भरोसे राय का लेनातू ही तेरा हौसला हो
लिखने दे जो भी लिखता है लम्हा
उसके हाथ रोक ना
केश में सूरज खोंस के चलना
कभी कोई रात मेरे ना
सुन री बावली...


बुल्लेया - Bulleya (Papon, Sultan)



Movie/Album: सुल्तान (2016)
Music By: विशाल- शेखर
Lyrics By: इरशाद कामिल
Performed By: पैपॉन

कुछ रिश्तों का नमक ही दूरी होता है
ना मिलना भी बहुत ज़रूरी होता है

दम दम, दम दम तू मेरा
दम दम, दम दम मेरा हर

तू बात करे या ना मुझसे
चाहे आँखों का पैग़ाम ना ले
पर ये मत कहना, अरे ओ पगले
मुझे देख ना तू, मेरा नाम ना ले
तुझसे मेरा दीन धरम है
मुझसे तेरी खुदाई
तू बोले तो बन जाऊँ मैं
बुल्लेशाह सौदाई
मैं भी नाचूँ
मैं भी नाचूँ मनाऊँ सोणे यार को
चलूँ मैं तेरी राह बुलेया
मैं भी नाचूँ रिझाऊँ सोणे यार को
करूँ न परवाह बुलेया

मेरा महरम तू, मरहम तू
मेरा हमदम हर दम तू....

माना अपना इश्क़ अधूरा
दिल ना इसपे शर्मिंदा है
पूरा हो के खत्म हुआ सब
जो है आधा वो ही ज़िंदा है
हो बैठी रहती है उम्मीदें
तेरे घर की दहलीज़ों पे
जिसकी न परवाज़ खत्म हो
दिल ये मेरा वही परिंदा है
बख्शे तू जो प्यार से मुझको
तो हो मेरी रिहाई
तू बोले तो...

तू याद करे या ना मुझको
मेरे जीने में अंदाज़ तेरा
सर आँखों पर हैं तेरी नाराज़ी
मेरी हार में है कोई राज़ तेरा
शायद मेरी जान का सदका
माँगे तेरी जुदाई
तू बोले तो...

कुछ रिश्तों का नमक ही दूरी होता है
ना मिलना भी बहुत ज़रूरी होता है


All lyrics are property and copyright of their owners. All the lyrics are provided for educational purposes only. Copyright © Lyrics In Hindi | Powered by Blogger Design by ronangelo | Blogger Theme by NewBloggerThemes.com