Rajendra Krishan लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
Rajendra Krishan लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

आई दिवाली आई कैसे उजाले लाई - Aayi Diwali Aayi Kaise Ujaale Laayi (Asha Bhosle)



Movie/Album: खजांची (1951)
Music By:
मदन मोहन
Lyrics By:
राजिंदर कृष्ण
Performed By: आशा भोंसले

आई दिवाली आई, कैसे उजाले लायी
घर-घर खुशियों के दीप जले

सूरज को शरमाये ये, चरागों की क़तारें
रोज़ रोज़ कब आती हैं, उजाले की ये बहारें
आरी सखी. आरी सखीआज रात सखी बालम से
दिल जीते या दिल हारे
आई दिवाली आई...

रह-रह के फूटी फुलझड़ियाँ, लागे मेले रंगों के
कदम-कदम पे तीर चले हैं, जागे भाग पतंगों के
आरी सखी, आरी सखीआज रात को खुल के खेलें
हम भी खेल उमंगों के
आई दिवाली आई...


चली चली रे पतंग - Chali Chali Re Patang (Lata Mangeshkar, Md.Rafi, Bhabhi)



Movie/Album: भाभी (1957)
Music By:
चित्रगुप्त
Lyrics By:
राजिंदर कृषण
Performed By: मो.रफ़ी, लता मंगेशकर

चली-चली रे पतंग मेरी चली रे
चली बादलों के पार, हो के डोर पे सवार
सारी दुनिया ये देख-देख जली रे
चली-चली रे पतंग...

यूँ मस्त हवा में लहराए
जैसे उड़न खटोला उड़ा जाए
ले के मन में लगन, जैसे कोई दुल्हन
चली जाए रे सांवरिया की गली रे
चली-चली रे पतंग...

रंग मेरी पतंग का धानी
है ये नील गगन की रानी
बांकी-बांकी है उठान, है उमर भी जवान
लागे पतली कमर बड़ी भली रे
चली-चली रे पतंग...

छूना मत देख अकेली
है साथ में डोर सहेली
है ये बिजली की तार, बड़ी तेज़ है कतार
देगी काट के रख, दिलजली रे
चली-चली रे पतंग...


लूटे कोई मन का नगर - Loote Koi Mann Ka Nagar (Manhar Udhas, Lata, Abhimaan)



Movie/Album: अभिमान (1973)
Music By: एस.डी.बर्मन
Lyrics By: राजिंदर कृषण
Performed By: लता मंगेशकर, मनहर उदास

लूटे कोई मन का नगर बन के मेरा साथी
कौन है वो, अपनों में कभी, ऐसा कहीं होता है
ये तो बड़ा धोखा है
लूटे कोई मन का...

यहीं पे कहीं है, मेरे मन का चोर
नज़र पड़े तो बइयाँ दूँ मरोड़
जाने दो, जैसे तुम प्यारे हो
वो भी मुझे प्यारा है, जीने का सहारा है
देखो जी तुम्हारी यही बतियाँ, मुझको हैं तड़पातीं
लूटे कोई मन का...

रोग मेरे जी का, मेरे दिल का चैन
साँवला सा मुखड़ा, उसपे कारे नैन
ऐसे को, रोके अब कौन भला
दिल से जो प्यारी है, सजनी हमारी है
का करूँ मैं बिन उसके, रह भी नहीं पाती
लूटे कोई मन का...


भाई बत्तूर - Bhai Battoor (Lata Mangeshkar, Padosan)



Movie/Album: पड़ोसन (1968)
Music By:
आर.डी.बर्मन
Lyrics By:
राजिंदर कृष्ण
Performed By: लता मंगेशकर

भाई बत्तूर, भाई बत्तूर, अब जायेंगे कितनी दूर
नाजुक नाजुक मेरी जवानी, चलने से मजबूर
भाई बत्तूर...

डर लगे क्या होगा, पीछे कोई चोर लगा होगा
छोटी उमरिया सफ़र बड़ा, मैं थक कर हो गई चूर
भाई बत्तूर...

अंगड़ाई जब आये, हुस्न मेरा क्यों इतराए
आई न देखो और सोचूं क्या, हो गयी मैं मगरूर
भाई बत्तूर...

चाल चालूँ इठलाके, बिन सोचे, बलखाके
छाई जवानी ऐसे जैसे नदिया हो भरपूर
भाई बत्तूर...


ओ रात के मुसाफिर - O Raat Ke Musafir (Md.Rafi, Lata Mangeshkar, Miss Mary)



Movie/Album: मिस मेरी (1957)
Music By: हेमंत कुमार
Lyrics By: राजेन्द्र कृष्ण
Performed By: मो.रफ़ी, लता मंगेशकर

ओ रात के मुसाफिर, चंदा ज़रा बता दे
मेरा कसूर क्या है, तू फ़ैसला सुना दे

है भूल कोई दिल की, आँखों की या खता है
कुछ भी नहीं तो मुझको, फिर क्यो कोई खफा है
मंजूर है वो मुझको, जो कुछ भी तू सज़ा दे
मेरा कसूर क्या है...

दिल पे किसी को अपने काबू नहीं रहा है
ये राज़ मेरे दिल से, आँखों ने ही कहा है
आँखों ने जो है देखा, दिल किस तरह भूला दे
मेरा कसूर क्या है...

ओ चाँद आसमां के, दमभर ज़मीं पे आ जा
भूला हुआ है राही, तू रास्ता दिखा जा
भटकी हुई है नैय्या, साहिल इसे दिखा दे
मेरा कसूर क्या है...


देखा ना हाय रे - Dekha Na Haay Re (Kishore Kumar, Bombay to Goa)



Movie/Album: बॉम्बे टू गोवा (1972)
Music By:
आर.डी.बर्मन
Lyrics By: राजिंदर कृष्ण
Performed By: किशोर कुमार

देखा न हाय रे, सोचा न हाय रे, रख दी निशाने पे जान
कदमों में तेरे निकले मेरा दम, है बस यही अरमाँ

मिट जायेंगे मर जायेंगे, काम कोई कर जायेंगे
मर के भी चैन ना मिले, तो जायेंगे यारों कहाँ
देखा ना हाय रे...

क़ातिल है कौन, कहा नहीं जाये, चुप भी तो रहा नहीं जाये
बुलबुल है कौन, कौन सैय्याद, कुछ तो कहो रे मेरी जाँ
देखा ना हाए रे...

घर से चले खाके क़सम, छोड़ेंगे पीछा ना हम
सर पे कफ़न बांधे हुए, आया दीवाना यहाँ
देखा ना हाए रे...


तुम हो हसीं कहाँ के - Tum Ho Haseen Kahan Ke (Md.Rafi, Asha Bhosle, Sharabi)



Movie/Album: शराबी (1964)
Music By: मदन मोहन
Lyrics By: राजिंदर कृष्ण
Performed By: मो.रफ़ी, आशा भोंसले

तुम हो हसीं कहाँ के
हम चाँद आसमां के
हाय हाय गरूर इतना
हाँ हाँ हुज़ूर इतना
उफ़ ये अदा, हाय ये नशा
हा हा हा

करते हो बात बढ़-बढ़ के दिन जो शबाब के ठहरे
क्या तीर मेरी नज़रों के दिल में जनाब के ठहरे
उफ़ ये ग़ज़ब, हाय हाय ये ढप
हाय हाय हाय
तुम हो हसीं कहाँ के...

ओये होए ये चाल का जादू, डर है ज़मीं ना फट जाए
सीने को थाम कर रखो, दिल न जगह से हट जाए
उफ़ ये अकड़, हाय ये पकड़
हाय हाय हाय
तुम हो हसीं कहाँ के...

क्या रब जो हुस्न वालों को कैसा मिजाज़ देता है
जीवन में सेज फूलों की, मरने पे ताज देता है
हाय ये गुमां, जाए कहाँ
हाय हाय हाय
तुम हो हसीं कहाँ के...


जाओ जी जाओ देखे हैं बड़े - Jaao Ji Jaao Dekhe Hain Bade (Asha Bhosle, Md.Rafi, Sharabi)



Movie/Album: शराबी (1964)
Music By: मदन मोहन
Lyrics By: राजिंदर कृष्ण
Performed By: आशा भोंसले, मो.रफ़ी

जाओ जी जाओ, देखे हैं बड़े
तुम जैसे चोर लुटेरे
किसी सँवार के
सीना उभार के लगाये
हसीनों की गलियों के फेरे
जाओ जी जाओ...

तेरी गलियाँ जो प्यार से बुलाये
तु ही बोल दिल वाले क्यूँ न आये
ज़रा दिल को संभाल, बुरा कर देगा हाल
आहें भरेगा तु शाम सवेरे
जाओ जी जाओ, देखे हैं बड़े...

मर-मर के मिला है दर तेरा
जाओ करते हो क्यों पीछा मेरा
करो जाने की न बात, यहीं दिन-यहीं रात
मेरा प्यार लगाए डेरे
जाओ जी जाओ, देखे हैं बड़े...

प्यार करने में कौन सी है चोरी
ऐसी चोरी से तो अच्छी सीनाज़ोरी
कभी सुबह, कभी शाम, तुझे दे के सलाम
कर लेंगे ये चोर लुटेरे
जाओ जी जाओ, देखे हैं बड़े...


सजना साथ निभाना - Sajna Saath Nibhana (Asha Bhosle, Md.Rafi, Doli)



Movie/Album: डोली (1969)
Music By: रवि
Lyrics By: राजिंदर कृष्ण
Performed By: आशा भोंसले, मो.रफ़ी

सजना साथ निभाना, सजना साथ निभाना
साथी मेरी बहारों के राह में छोड़ न जाना
सजना साथ निभाना...

आ के चला जाए ज़माना जो बहार का
फूल मुरझाये ना तेरे-मेरे प्यार का
आज के वादे सजना
आज की बातें सजना
भूल न जाना
सजना साथ निभाना...

वैसे तो हजारों नज़ारे मेरी राह में
एक बस तू ही समाया है निगाहों में
प्यार की रस्में सजना
प्यार की कसमें सजना
भूल न जाना...

किसने साथ निभाया, किसने साथ निभाया
दिल को एक खिलौना समझा
खेला और ठुकराया
किसने साथ निभाया...

कहाँ के ये वादे, ये कसमें कहाँ की
कहाँ है वो दुनिया, ये बातें हैं जहां की
झूठी नगरी, झूठे जोगी
प्रीत भी सच्ची कैसे होगी
अच्छा ढोंग रचाया
किसने साथ निभाया...


सौ बरस की ज़िन्दगी से - Sau Baras Ki Zindagi Se (Asha Bhosle, Md.Rafi, Sachaai)



Movie/Album: सच्चाई (1969)
Music By: शंकर जयकिशन
Lyrics By: राजिंदर कृषण
Performed By: आशा भोंसले, मो.रफ़ी

सौ बरस की ज़िन्दगी से अच्छे हैं
प्यार के दो चार दिन
ज़िन्दगी की हर ख़ुशी से अच्छे हैं
प्यार के दो चार दिन

प्यार ही से ये ज़मीं है, प्यार ही से आसमां
प्यार का लेकर सहारा, चल रहा है ये जहां
प्यार शबनम, प्यार शोला
प्यार ही बाद-ए-सबा
फूल कलियाँ चाँद तारे
सब मोहब्बत के निशाँ
सौ बरस की ज़िन्दगी से...

ये मुहब्बत दो दिलों का, खूबसूरत राज़ है
दिल की धड़कन जिसकी सरगम, है यही वो ताज़ है
चाहे भँवरे का हो नगमा
या पपीहे की सदा
प्यार कहते हैं जिसे हम
एक ही आवाज़ है
सौ बरस की ज़िन्दगी से...


आओ तुम्हें मैं प्यार सिखा दूँ - Aao Tumhein Main Pyar Sikha Doon (Lata, Rafi, Upaasna)



Movie/Album: उपासना (1971)
Music By: कल्याणजी-आनंदजी
Lyrics By: राजिंदर कृष्ण
Performed By: लता मंगेशकर, मो.रफ़ी

प्यार सिखा दूँ, सिखला दो ना
आओ तुम्हें मैं प्यार सिखा दूँ, सिखला दो ना
प्रेम नगर की डगर दिखा दूँ, दिखला दो ना
दिल की धड़कन क्या होती है
ये अनजाना राज़ बता दूँ, बतला दो ना
आओ तुम्हें मैं प्यार...

पहले धीरे से पलकों की तिलमन ज़रा गिरा लो
कैसे, ऐसे
अब अपने रुखसारों पर ये ज़ुल्फ़ ज़रा बिखरा लो
हूँ ऐसे, हाँ ऐसे
देखो मुझको डर लागे, देखो मुझको डर लागे
जान क्या होगा आगे
सबर करो तो समझा दूँ, समझा दो ना
आओ तुम्हें मैं प्यार...

छोड़ के बेगानापन अब तुम मेरे पास आ जाओ
आ गई, लो आ गई
भूल के सारी दुनिया, इन बाहों में खो जाओ
ना ना ना ना, ना बाबा ना
प्यार नहीं होता ऐसे, प्यार नहीं होता ऐसे
होता है फिर वो कैसे
ठहरो तुमको समझा दूँ, समझा दो ना
आओ तुम्हें मैं प्यार...

फूल की खुशबू, पवन की सूरत कभी आँख से देखी
नहीं तो
तन तो देखा, मन की मूरत, कभी आँख से देखी
नहीं नहीं
प्यार नहीं कोई वासना, प्यार नहीं कोई वासना
ये तो एक उपासना
समझे? नहीं समझे?
आओ तुम्हें मैं समझा दूँ...


किसको प्यार करूँ - Kisko Pyar Karoon (Md.Rafi, Tumse Achcha Kaun Hai)



Movie/Album: तुमसे अच्छा कौन है (1969)
Music By: शंकर-जयकिशन
Lyrics By: राजेंद्र कृष्ण
Performed By: मो.रफ़ी

किस किस-किस
किसको प्यार करूँ
कैसे प्यार करूँ
तू भी है, ये भी है
वो भी है, हाय!
किसको प्यार करूँ...

मेरे लिए तो हो गयी मुश्किल
कैसे बाँटूँ एक मेरा दिल
किसको प्यार करूँ...

देखूँ जिधर मैं, शोले ही शोले
दिल है आखिर, कैसे न डोले हाय
किसको प्यार करूँ...

इक-इक सूरत, प्यार की मूरत
सबको लेकिन, मेरी ज़ुरूरत
किसको प्यार करूँ...


ओ मेरी मैना मान ले - O Meri Maina Maan Le (Manna, Usha, Pyar Kiye Jaa)



Movie/Album: प्यार किये जा (1966)
Music By: लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल
Lyrics By: राजेंद्र कृष्ण
Performed By: मन्ना डे, उषा मंगेशकर

ओ मेरी मैना, तू मान ले मेरा कहना
अरे मुश्किल हो गया रहना तेरे बिना
अई अई ओ, अई अई ओ
ओ मेरे मिट्ठू, तेरी मिट्ठी बोली
मैं सुनकर तेरी हो ली ज़ालिमा
अई अई ओ, अई अई ओ...

दिल मेरा कहे कि खिड़की में तेरी
बन के कबूतर करूँ मैं गुंटर-गूं
दाना खिलाये जो तू मुझे तो मैं
प्यारे-प्यारे हाथों को बार-बार चूमूँ
ओ मेरे कबूतर, मैं भरकर लाई झोली
पर चोंच न तूने खोली, ज़ालिमा
अई अई ओ...

बत्ती मोमबत्ती तो खिड़की में तेरे
सारी-सारी रात, मैं करती उजाला
मगर जलने का, वही जाने जो हो
प्यार में हँस-हँस के मिटने वाला
ओ मेरी मोमबत्ती, बना ले मुझे पत्ती
मैं हो गया माशारत्ती तेरे बिना
अई अई ओ...


ये खामोशियाँ ये तन्हाईयाँ - Ye Khamoshiyaan Ye Tanhaiyaan (Rafi, Asha, Yeh Rastey Hain Pyar Ke)



Movie/Album: ये रास्ते हैं प्यार के (1963)

Music By: रवि
Lyrics By: राजिंदर कृष्ण
Performed By: मो.रफ़ी, आशा भोंसले

ये खामोशियाँ, ये तन्हाईयाँ
मोहब्बत की दुनिया है कितनी जवाँ
ये खामोशियाँ, ये तन्हाईयाँ...

ये सर्दी का मौसम बदन काँपे थर-थर
ये है बर्फ का ढेर या संगमरमर
बना लें ना क्यों अपनी जन्नत यहाँ
ये खामोशियाँ, ये तन्हाईयाँ...

ये ऊँचे पहाड़ों के मगरूर साये
ये कहते हैं उनको नज़र तो मिलाए
फ़रिश्ते भी हैं इस जगह, बेज़ुबां
ये खामोशियाँ, ये तन्हाईयाँ...

न पर्दा है कोई, न है कोई चिलमन
जहाँ पाँव रख दें, है फिसलन ही फिसलन
कदम छोड़ते जा रहे हैं निशाँ
ये खामोशियाँ, ये तन्हाईयाँ...


हाथों में मेहँदी रचाई - Haathon Mein Mehndi Rachaai (Asha Bhosle, Kunwara Badan)



Movie/Album: कुँवारा बदन (1973)
Music By: घनश्याम वसवानी
Lyrics By: राजेन्द्र कृष्ण
Performed By: आशा भोंसले

हाथों में मेहँदी रचाई जाएगी
माथे पे बिंदिया सजाई जाएगी
राजा के सहरे से, रानी के घूँघट की
आज रात जोड़ी मिलाई जाएगी

अँखियों में खेल रही आशा मिलन की
बरसों से आस थी जिया को इसी दिन की
दिल की मुराद पाई, आई वो घड़ी आई
डोली दुल्हन की उठाई जाएगी
हाथों में मेहँदी रचाई...

फूलों की सेज पर सजना से मेल होगा
सोचो ज़रा गोरी कैसा प्यार भरा खेल होगा
झूमेंगी तन की कलियाँ
महकेंगी मन की गलियाँ
नजरिया न पिया से मिलाई जाएगी
हाथों में मेहँदी रचाई...

बाबुल का घर छूट रहा है
कैसा बंधन टूट रहा है
गोदी में खिलाया जिसने
डोली में बिठाया उसने
जो अपनी सी हो के, पराई जाएगी
हाथों में मेहँदी रचाई...


जहाँ तू है वहाँ फिर - Jahaan Tu Hai Wahan Phir (Md.Rafi, Aao Pyar Karen)



Movie/Album: आओ प्यार करें (1964)
Music By: उषा खन्ना
Lyrics By: राजेंद्र कृष्ण
Performed By: मोहम्मद रफ़ी

बहार-ए-हुस्न तेरी, मौसम-ए-शबाब तेरा
कहाँ से ढूँढ के लाए कोई जवाब तेरा
ये सुबह भी तेरे रुखसार की झलक ही तो है
के नाम ले के निकलता है आफ़ताब तेरा

जहाँ तू है वहाँ फिर चाँदनी को कौन पूछेगा
तेरा दर हो तो जन्नत की गली को कौन पूछेगा
जहाँ तू है…

कली हो हाथ में ले कर, बहारों को न शरमाना
ज़माना तुझको देखेगा कली को कौन पूछेगा
जहाँ तू है वहाँ फिर...

फ़रिश्तों को पता देना, न अपनी रहगुज़ारों का
वो क़ाफ़िर हो गए तो बन्दगी को कौन पूछेगा
जहाँ तू है वहाँ फिर...

किसी को मुस्कुरा के ख़ूबसूरत मौत ना देना
क़सम है ज़िन्दगी की, ज़िन्दगी को कौन पूछेगा
जहाँ तू है वहाँ फिर...


दिलबर दिलबर - Dilbar Dilbar (Md.Rafi, Aao Pyaar Karen)



Movie/Album: आओ प्यार करें (1964)
Music By: उषा खन्ना
Lyrics By: राजेंद्र कृष्ण
Performed By: मोहम्मद रफ़ी

दिलबर दिलबर ओ दिलबर
हय्या हबी ओ दिलबर
तेरा शबाब उफ़ उफ़
आँखे शराब उफ़ उफ़
दीवाना तेरा हूँ इक जाम पीला दे
दिलबर दिलबर...

हुस्न-ओ-जमाल हाय तौबा
मस्ताना चाल हाय तौबा
जुल्फों के जाल हाय तौबा
आँख के डोरे ये गुलाबी
जिनसे बहारें हैं शराबी
क्यूँ ना दिलों की हो ख़राबी
दिलबर दिलबर...

दिल का करार तेरे दम से
आँखें ना फेर ऐसे हमसे
आजा बाहों में मेरी छमसे
फूलों में तुझे मैं बिठा दूँ
चाँद सितारे तुझे ला दूँ
जुरों की मल्लिका बना दूँ
दिलबर दिलबर...

सूरत पे मेरी तू ना जाना
दिल तो है प्यार का ख़ज़ाना
जिसको है तुझपे लुटाना
अल्लाह का नाम ज़रा ले ले
हँस के सलाम ज़रा ले ले
प्यार से काम ज़रा ले ले
दिलबर दिलबर...


तुम्हीं हो माता - Tumhi Ho Mata (Lata Mangeshkar, Main Chup Rahungi)



Movie/Album: मैं चुप रहूँगी (1962)
Music By: चित्रगुप्त
Lyrics By: राजिंदर कृष्ण
Performed By: लता मंगेशकर

तुम्हीं हो माता, पिता तुम्हीं हो
तुम्हीं हो बंधू, सखा तुम्हीं हो
तुम्हीं हो माता...

तुम्हीं हो साथी, तुम्हीं सहारे
कोई ना अपना सिवा तुम्हारे
तुम्हीं हो नैय्या, तुम्हीं खेवैय्या
तुम्हीं हो बंधू...

जो खिल सके ना वो फूल हम हैं
तुम्हारे चरणों की धूल हम हैं
दया की दृष्टी सदा ही रखना
तुम्हीं हो बंधू...


एक सुनहरी शाम थी - Ek Sunehri Shaam Thi (Lata Mangeshkar, Aao Pyar Karen)



Movie/Album: आओ प्यार करें (1964)
Music By: उषा खन्ना
Lyrics By: राजेंद्र कृष्ण
Performed By: लता मंगेशकर

एक सुनहरी शाम थी
बहकी-बहकी ज़िन्दगी
राह में हम-तुम मिले
मेरी पलकों के तले
आशियाँ तेरा बन गया
एक सुनहरी शाम...

दो कदम मिलकर चले तो
फासले कम हो गये
प्यार ने दुनिया बदल दी
क्या से क्या हम हो गये
शोले शबनम हो गये
एक सुनहरी शाम थी...

शाम तो अब तक वही है
रंग है लेकिन जुदा
जाने किस वादी में अपना
काफ़िला गुम हो गया
फिर है दिल तन्हाँ मेरा
एक सुनहरी शाम थी...


राधा ना बोले - Radha Na Bole (Lata Mangeshkar, Azaad)



Movie/Album: आज़ाद (1955)
Music By: सी. रामचंद्र
Lyrics By: राजेंद्र कृष्ण
Performed By: लता मंगेशकर

ना बोले, ना बोले, ना बोले रे
घूँघट के पट ना खोले रे
राधा ना बोले, ना बोले, ना बोले रे

राधा की लाज भरी अँखियों के डोरे
देखोगे कैसे अब गोकुल के छोरे
देखो मोहन का मनवा डोले रे
राधा ना बोले...

याद करो जमुना किनारे, साँवरिया
फोड़ी थी राधा की काहे गगरिया
इस कारण ना तुम संग बोले रे
राधा ना बोले...

रूठी हुई यूँ ना मानेगी छलिया
चरणों में राधा के रख दो मुरलिया
बात बन जायेगी हौले-हौले रे
राधा ना बोले...


All lyrics are property and copyright of their owners. All the lyrics are provided for educational purposes only. Copyright © Lyrics In Hindi | Powered by Blogger Design by ronangelo | Blogger Theme by NewBloggerThemes.com