Rampur Ka Laxman लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
Rampur Ka Laxman लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

रामपुर का बासी हूँ - Rampur Ka Baasi Hoon (Kishore Kumar, Rampur Ka Laxman)



Movie/Album: रामपुर का लक्ष्मण (1972)
Music By: आर.डी.बर्मन
Lyrics By: मजरूह सुल्तानपुरी
Performed By: किशोर कुमार

रामपुर का बासी हूँ मैं लक्ष्मण मेरा नाम
सीधी-सादी बोली मेरी सीधा-सादा काम
ओ पर हूँ बड़ा अलबेला, सौ के बराबर अकेला
रामपुर का वासी...

रुकना-झुकना मैं क्या जानूँ ऐ भाई
हो यार की यारी मुझको यहाँ तलक़ लाई
अरे खेल तमाशा मुझको मत समझो प्यारो
हो अभी तो परदा उठने में देर है यारों
तुम देखोगे, उस रोज़ मुझे मैं अपनी जान पे जिस दिन खेला
रामपुर का बासी...

प्यार-मोहब्बत में वैसे तो ढीला हूँ
हो लेकिन दिल का मैं भी बड़ा रंगीला हूँ
अरे आँखों-आँखों ही में जिन पे लहराऊँ
ओ इन होंठों की लाली उतार ले जाऊँ
कर दूँ पागल होए, कोई गाँव की गोरी या कोई शहरी लैला
रामपुर का बासी...

सूट पहन के तुम देखो नक़ली सपना
हो मेरी धोती-कुरते पे सोचकर हँसना
अरे खद्दर की छाया में भारत जागा है
इस लाठी से अंग्रेज़ डर के भागा है
ये अंग्रेज़ी, फ़ैशन-वैशन मैं क्या जानूँ, मैं हूँ भारत का छैला
रामपुर का वासी...


सांवला रंग है मेरा - Sanwla Rang Hai Mera (Asha Bhosle, Rampur Ka Laxman)



Movie/Album: रामपुर का लक्ष्मण (1972)
Music By: आर.डी.बर्मन
Lyrics By: मजरूह सुल्तानपुरी
Performed By: आशा भोंसले

हो सांवला रंग है मेरा, रेशमी अंग है मेरा
काला काला जादू है ऐसा मेरी नज़र में
हाय रे चाहे कहीं पर मारू कटारी लगे जिगर में
अरे रे रे देखो देखो बचो जरा
साँवला रंग है मेरा...

मेरी अदा में मस्तानी लेहर भी है
लेकिन इनमें थोड़ा थोड़ा ज़हर भी है
जिसने जिसने देखा जलवा हाय रे
जिसने जिसने देखा जलवा मेरी अदाओं का
कोई बचा और कोई मर गया
हाँ सांवला रंग है मेरा...

मेरे नशे में दिलवाला चूर रहे
जिसको जीवन प्यारा है वो दूर रहे
बुरा नहीं गुस्सा ही मेरा है रे
बुरा नहीं गुस्सा ही मेरा, मेरा तो प्यार भी
कभी कभी ग़ज़ब भी डर गया
हा सांवला रंग है मेरा...

देखो मुझपे ऐसे जो मुसकाओगे
ऐसा चक्कू मारूँगी रह जाओगे
कहती हूँ मैं मुझे ना छूना
कहती हूँ मैं मुझे ना छूना, मेरा हाथ छोड़ दो
अच्छा हुआ छू के मुझे डर गया
हा सांवला रंग है मेरा...


गुम है किसी के प्यार में - Gum Hai Kisi Ke Pyar Mein (Kishore, Lata, Rampur Ka Laxman)



Movie/Album: रामपुर का लक्ष्मण (1972)
Music By: आर.डी.बर्मन
Lyrics By: मजरूह सुल्तानपुरी
Performed By: किशोर कुमार, लता मंगेशकर

गुम है किसी के प्यार में दिल सुबह शाम
पर तुम्हें लिख नहीं पाऊं, मैं उसका नाम, हाय राम

सोचा है एक दिन मैं उससे मिल के
कह डालूँ अपने, सब हाल दिल के
और कर दूँ जीवन उसके हवाले
फिर छोड़ दे चाहे अपना बना ले
मैं तो उसका रे, हुआ दीवाना
अब तो जैसा भी, मेरा हो अंजाम
गुम है किसी के...

चाहा है तुमने, जिस बावरी को
वो भी सजनवा, चाहे तुम्हीं को
नैना उठाए, तो प्यार समझो
पलकें झुका दे तो, इकरार समझो
रखती है कबसे, छुपा छुपा के
अपने होठों में, पिया तेरा नाम
गुम है किसी के...


All lyrics are property and copyright of their owners. All the lyrics are provided for educational purposes only. Copyright © Lyrics In Hindi | Powered by Blogger Design by ronangelo | Blogger Theme by NewBloggerThemes.com