Sandeep Nath लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
Sandeep Nath लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

सुन रहा है ना तू - Sun Raha Hai Na Tu (Aashiqui 2, Ankit Tiwari, Shreya Ghoshal)



Movie/Album: आशिकी २ (2013)
Music By:अंकित तिवारी
Lyrics By: संदीप नाथ
Performed By: अंकित तिवारी, श्रेया घोषाल

अपने करम की कर अदाएं
यारा...
मुझको इरादे दे
कसमें दे, वादे दे
मेरी दुआओं के इशारों को सहारे दे
दिल को ठिकाने दे
नए बहाने दे
ख़्वाबों की बारिशों को मौसम के पैमाने दे
अपने करम की कर अदाएं
कर दे इधर भी तू निगाहें

सुन रहा है ना तू
रो रहा है ना तू
सुन रहा है ना तू
क्यूँ रो रहा हूँ मैं

मंजिलें रुसवा हैं
खोया है रास्ता
आये ले जाए
इतनी सी इल्तेजा
ये मेरी ज़मानत है
तू मेरी अमानत है
अपने करम की...
सुन रहा है ना तू...

वक़्त भी ठहरा है
कैसे क्यूँ ये हुआ
काश तू ऐसे आये
जैसे कोई दुआ
तू रूह की राहत है
तू मेरी इबादत है
अपने करम की...
सुन रहा है ना तू...


कुछ तो हुआ है - Kuch To Hua Hai (Ankit Tiwari, Tulsi Kumar, Singham Returns)



Movie/Album: सिंघम रिटर्न्स (2014)
Music By: अंकित तिवारी
Lyrics By: संदीप नाथ, अभेन्द्र कुमार उपाध्याय
Performed By: अंकित तिवारी, तुलसी कुमार

रातों को अपनी पलकों से
ख़्वाब सजाने दो
फिर ख़्वाबों को आँखों से
नींद चुराने दो
ख़ामोशियाँ रखती हैं
अपनी भी एक जुबां
ख़ामोशी को चुपके से
सब कह जाने दो

कुछ तो हुआ है (ये क्या हुआ)
जो ना पता है (ये जो हुआ)
कुछ तो हुआ है
समझो कुछ समझो ना

जो कदम कदम चलूँ
तुझे ही तय करूँ मैं
साँसें बुनकर तुझे ओढ़ लूं
तू ख्याल सा मिला है
जिसको गिन सकूँ मैं
आदतों में तुझे जोड़ लूं
तुझसे रौशन, रातें सारी
तुझपे ही ख़तम बातें सारी
ख़ामोशियाँ रखती हैं...

तुझे एक बार प्यार से
जो छू सकूँ मैं
वक़्त को फिर वहीँ रोक दूँ
फिर दिल मचल के गर
हदों को भूल जाए
धडकनों का सफ़र छोड़ दूँ
तूने दी है सारी खुशियाँ
तू है तो है मेरी दुनिया
ख़ामोशियाँ रखती हैं...


सुन ले ज़रा - Sun Le Zara (Arijit Singh, Singham Returns)



Movie/Album: सिंघम रिटर्न्स (2014)
Music By: अंकित तिवारी
Lyrics By: संदीप नाथ, अभेन्द्र कुमार उपाध्याय
Performed By: अरिजीत सिंह

दर पे तेरे अाके, मैं खड़ा सिर झुका के 
कर दे करम, अपना धरम मैं निभाऊं
ओ रहनुमा
मेरी दुआ, है इल्तेजा
सुन ले ज़रा, सुन ले ज़रा
सुन ले ज़रा, सुन ले ज़रा
मेरी दुआ...

हर पल दिल में है शोले जलते हुए
खुदको बचाऊँ मैं कैसे पिघलते हुए
ठहरे हुए मेरे कदम
चल ना पाऊं ओ रहनुमा
मेरी दुआ, है इल्तेजा
सुन ले ज़रा...

कर लूं मैं पूरे ख़ुद से जो वादे मेरे
अब तू दिखा दे राहें मैं सदके तेरे
दिल में मेरे कितने भरम
क्या बताऊँ ओ रहनुमा
मेरी दुआ, है इल्तेजा
सुन ले ज़रा...


यारा रे - Yaara Re (KK, Roy)



Movie/Album: रॉय (2015)
Music By: अंकित तिवारी
Lyrics By: संदीप नाथ
Performed By: के.के.

अजनबी कहें, के अपना कहें
अब क्या कहें, क्या ना कहें
इशारे भी चुप हैं, ज़ुबां ख़ामोश है
सदा गुमसुम सी है, तन्हां आगोश है
यारा रे, यारा रे
क्यों फासलों में भी तू यारा रे
यारा रे, यारा रे

तू छूट कर, क्यों छूटा नहीं
कुछ तो जुदा है अभी
मैं टूट कर, क्यों टूटा नहीं
जीने में है तू कहीं
इशारे भी चुप हैं...
यारा रे, यारा रे...

है हर घड़ी, वो तिश्नगी
जो एक पल भी ना बुझी
है ज़िन्दगी चलती हुई
पर ये ज़िन्दगी ही नहीं
इशारे भी चुप हैं...
यारा रे, यारा रे...


यहाँ ज़िन्दगी एक अलग ज़िन्दगी है - Yahan Zindagi Ek Alag Zindagi Hai (Shaan, Shabab, Sagarika, Page 3)



Movie/ Album: पेज 3 (2005)
Music By: शमीर टंडन
Lyrics By: अजय झिंगरन, संदीप नाथ
Performed By: शान, शबाब सबरी, सागरिका

यहाँ ज़िन्दगी, एक अलग ज़िन्दगी है
यहाँ ख्वाईशें, आसमां से बड़ी है
यहाँ ज़िन्दगी, एक अलग ज़िन्दगी है...

इरादें यहाँ पर समंदर से गहरे
ना कोई फिक्र, ना कहीं कोई पहरे
यहाँ ज़िन्दगी...

यहाँ हर जगह मौज है, मस्तियाँ है
यहाँ पर ज़माने की सब हस्तियाँ हैं
यहाँ दिल नए रूप में है मचलते
यहाँ चाँद-सूरज ना इक पल को ढलते
यहाँ ज़िन्दगी...


कितने अजीब रिश्ते हैं - Kitne Ajeeb Rishte Hain (Lata Mangeshkar, Suresh Wadkar, Page 3)



Movie/Album: पेज 3 (2005)
Music By: शमीर टंडन
Lyrics By: संदीप नाथ
Performed By: लता मंगेशकर, सुरेश वाडकर

कितने अजीब रिश्ते हैं यहाँ पे
दो पल मिलते हैं, साथ-साथ चलते हैं
जब मोड़ आये तो, बच के निकलते हैं
कितने अजीब रिश्ते हैं...

यहाँ सभी अपनी ही धुन में दीवाने हैं
करे वही जो अपना दिल ठीक माने है
कौन किसको पूछे, कौन किसको बोले
सबके लबों पर अपने तराने हैं
ले जाये नसीब किसको कहाँ पे
कितने अजीब रिश्ते हैं...

ख्वाबों की ये दुनिया है, ख्वाबों में ही रहना है
राहें ले जाये जहाँ संग-संग चलना है
वक़्त ने हमेशा यहाँ नए खेल खेले हैं
कुछ भी हो जाये यहाँ, बस खुश रहना है
मंज़िल लगे करीब सबको यहाँ पे
कितने अजीब रिश्ते हैं...

Slow
ठोकर भी खाना है, चलते भी जाना है
वादा किया तो वो, किसको निभाना है
यहाँ सबको सारे दाँव आज़माने हैं
सभी एक दूजे से ज़्यादा सयाने हैं
कितने अजीब रिश्ते हैं...


All lyrics are property and copyright of their owners. All the lyrics are provided for educational purposes only. Copyright © Lyrics In Hindi | Powered by Blogger Design by ronangelo | Blogger Theme by NewBloggerThemes.com