Sayeed Quadri लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
Sayeed Quadri लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

जिया धड़क धड़क जाए - Jiya Dhadak Dhadak Jaaye (Rahat Fateh Ali Khan, Kalyug)



Movie/Album: कलयुग (2005)
Music By:
फैज़ल रफ़ी, रोहैल हयात
Lyrics By: सईद कादरी
Performed By: राहत फ़तेह अली खान

तुझे देख देख सोना, तुझे देख कर है जगना
मैंने ये जिंदगानी, संग तेरे बितानी
तुझमें बसी है मेरी जान हाय
जिया धड़क धड़क, जिया धड़क धड़क, जिया धड़क धड़क जाए

कबसे है दिल में मेरे, अरमां कई अनकहे
इनको तू सुन ले आजा, चाहत के रंग चढ़ा जा
कहना कभी तो मेरा मान हाय
जिया धड़क धड़क...

लगता है ये क्यों मुझे, सदियों से चाहूँ तुझे
मेरे सपनो में आ के, अपना मुझको बना के
मुझपे तू कर एहसान हाय
जिया धड़क धड़क...


हमनवा - Humnava (Papon, Hamari Adhuri Kahani)



Movie/Album: हमारी अधूरी कहानी (2015)
Music By: मिथुन
Lyrics By: सईद कादरी
Performed By: पैपॉन

ऐ हमनवा मुझे अपना बना ले
सुखी पड़ी दिल की इस ज़मीं को भीगा दे
हूँ अकेला ज़रा हाथ बढ़ा दे
सूखी पड़ी दिल की इस ज़मीं को भीगा दे

कबसे मैं दर-दर फिर रहा
मुसाफिर दिल को पनाह दे
तु आवारगी को मेरी आज ठहरा दे
हो सके तो थोड़ा प्यार जता दे
सूखी पड़ी दिल की इस ज़मीं को भीगा दे

मुरझाई सी शाख पे दिल की फूल खिलते हैं क्यों
बात गुलों की, ज़िक्र महक का, अच्छा लगता है क्यों
उन रंगों से तूने मिलाया
जिनसे कभी मैं मिल ना पाया
दिल करता है तेरा शुक्रिया
इसी बहाने तु ला दे
दिल का सूना बंजर महका दे
सूखी पड़ी...

वैसे तो मौसम गुज़रे हैं ज़िन्दगी में कई
पर अब ना जाने क्यों मुझे वो लग रहे हैं हसीं
तेरे आने पर जाना मैंने
कहीं ना कहीं ज़िन्दा हूँ मैं
जीने लगा हूँ मैं अब ये फ़िज़ाएं
चेहरे को छूती हवाएँ
इनकी तरह दो क़दम तो बढ़ा ले
सूखी पड़ी...


कहो ना कहो - Kaho Na Kaho (Amir Jamal, Murder)



Movie/Album: मर्डर (2004)
Music By: अनु मलिक
Lyrics By: सईद क़ादरी
Performed By: आमिर जमाल

कहो ना कहो
ये आँखें बोलती हैं
ओ सनम, ओ सनम, ओ मेरे सनम
मोहब्बत के सफ़र में ये सहारा है
वफ़ा के साहिलों का ये किनारा है
कहो न कहो...
बादलों से ऊँची उड़ान उनकी
सबसे अलग पहचान उनकी
उनसे है प्यार की कहानी मंसूब
आती जाती साँसों की रवानी मंसूब

कहो ना कहो
ये आँखें बोलती हैं
ओ सनम, ओ सनम, ओ मेरे सनम
मोहब्बत के सफ़र में तू हमारा है
अँधेरे रास्तों का तू सितारा है
तू ही जीने का सहारा है
मेरी मौजों का किनारा है
मेरे लिए ये जहां है तू
तुझे मेरे दिल ने पुकारा है

कहो ना कहो
ये साँसें बोलती हैं
ओ सनम, ओ सनम, ओ मेरे सनम
लबों पे नाम तेरे बस हमारा है
ये तेरा दिल भी जाना अब हमारा है
ख्वाबों में तुझको संवारा है
जज़्बों में अपने उतारा है
मेरी ये आँखें जिधर देखें
तेरा ही तेरा नज़ारा है


भीगे होंठ तेरे - Bheege Honth Tere (Kunal Ganjawala, Murder)



Movie/Album: मर्डर (2004)
Music By: अनु मलिक
Lyrics By: सईद क़ादरी
Performed By: कुनाल गांजावाला

भीगे होंठ तेरे, प्यासा दिल मेरा
लगे अब्र सा, मुझे तन तेरा
जम के बरसा दे, मुझ पर घटायें
तू ही मेरी प्यास, तू ही मेरा जाम
कभी मेरे साथ, कोई रात गुज़ार
तुझे सुबह तक मैं करूँ प्यार
वो ओ ओहो...

साँसें आँच तेरी, तन आग तेरा
छीने नींद मेरी, लूटे चैन मेरा
काला जादू करे, लंबे बाल तेरे
आखें झील तेरी, डोरे लाल तेरे
कभी मेरे साथ...

आँखें कह रही, जो ना हम कहें
उसे सुन ले तू, जो ना लब कहें
तू ना सोए आज, मैं ना सोऊँ आज
तुझे देखूँ आज, तुझ में खोऊँ आज
कभी मेरे साथ...


मर जाएँ - Mar Jaayen (Atif Aslam, Loveshhuda)



Movie/Album: लवशुदा (2016)
Music By: मिथुन
Lyrics By:
सैय्यद क़ादरी
Performed By: आतिफ असलम

हर लम्हां देखने को
तुझे इंतज़ार करना
तुझे याद कर के अक्सर
रातों में रोज़ जगना
बदला हुआ है कुछ तो
दिल इन दिनों ये अपना

काश वो पल पैदा ही न हो
जिस पल में नज़र तू न आये
गर कहीं ऐसा पल हो
तो उस पल में मर जाएँ
मर जाएँ, मर जाएँ
मर जायें, हो मर जायें

तुझसे जुदा होने का तसव्वुर
एक गुनाह सा लगता है
जब आता है भीड़ में अक्सर
मुझको तन्हाँ करता है
ख़्वाब में भी जो देख ले ये
रात की नींदें उड़ जाएँ
मर जाएँ, मर जाएँ...

अक्सर मेरे हर एक पल में
क्यूँ ये सवाल सा रहता है
तुझसे मेरा ताल्लुक है ये कैसा
आख़िर कैसा रिश्ता है
तुझको न जिस दिन हम देखें
वो दिन क्यूँ गुज़र ही न पाए
मर जाएँ, मर जाएँ...

Reprise
मैंने जिसे चाहा ही नहीं
वो शख्स क्यूँ अच्छा लगता है
क्यूँ हर लम्हां उसकी तमन्ना
दिल ये हरदम करता है
हो अपने दिल की सुलझन उलझन को
कैसे भला सुलझाएँ
मर जाएँ, मर जाएँ...

तू न मिले जिस रोज़ वो दिन
कब आसानी से कटता है
दिल का धड़कना, साँस का चलना
एक सज़ा सा लगता है
दिल ही जाने बगैर तेरे
हम कैसे जी पाएँ
मर जाएँ, मार जाएँ...


जी हुज़ूरी - Ji Huzoori (Mithoon, Deepali, Ki & Ka)



Movie/Album: की एंड का (2016)
Music By: मिथुन
Lyrics By: सईद क़ादरी
Performed By: मिथुन, दीपाली साठे

मेरी हर ख़ुशी में, हो तेरी ख़ुशी
मोहब्बत में ऐसा, ज़रूरी नहीं
तू जब मिलना चाहे, ना मिल सकूँ
ना मिलना मेरा कोई दूरी नहीं

मोहब्बत है ये जी हुज़ूरी नहीं

मेरी हर ख़ुशी में हो तेरी ख़ुशी
मोहब्बत में ऐसा ज़रूरी नहीं
तू जब मिलना चाहे ना मिल सकूँ
ना मिलना मेरा कोई दूरी नहीं
मोहब्बत है ये जी हुजूरी...

ग म प म ग, ग म प म ग, ग म प म ग
नि नि नि ध प म ग
ग म प म ग, ग म प म ग, ग म प म ग
नि प

मुझको एहसास है पर मैं कहता नहीं
मोहब्बत है ये जी हुजूरी नहीं
पास पहले के जितना मैं रहता नहीं
मोहब्बत है ये जी हुजूरी नहीं
ये तकाज़ा है मेरे हालात का
लेना देना है नहीं, कुछ भी जज़्बात का
ये सच बात तुझसे मैं कह रहा
ना आई है इनमें ज़रा भी कमी
मोहब्बत है ये जी हुज़ूरी...

तुझको मनाना मुझे तो आता नहीं
मोहब्बत है ये जी हुज़ूरी नहीं
पर ये नहीं के तुझे मैं चाहता नहीं
मोहब्बत है ये जी हुज़ूरी नहीं
वक़्त बदला है ज़रा सा, मैं वो ही हूँ जान-ए-जां
कैसे तुझको बात मैं ये, समझाऊँ साथिया
कैसे खुश तुझे रखूँ नहीं पता
पर चाहता हूँ तेरे लबों पे हँसी
मोहब्बत है ये जी हुज़ूरी...


बातें ये कभी ना - Baatein Ye Kabhi Na (Arijit Singh, Palak Muchhal, Khamoshiyan)



Movie/Album: खामोशियाँ (2015)
Music By: जीत गांगुली
Lyrics By: सईद कादरी
Performed By: अरिजीत सिंह, पलक मुछाल

बातें ये कभी ना तू भूलना
कोई तेरे खातिर है जी रहा
जाए तू कहीं भी ये सोचना
कोई तेरे खातिर है जी रहा
तू जहाँ जाए महफ़ूज़ हो
दिल मेरा माँगे बस ये दुआ
बातें ये कभी ना...

हमदर्द है, हमदम भी है
तू साथ है तो ज़िन्दगी
तू जो कभी दूर रहे
ये हमसे हो जाए अजनबी
तुझसे मोहब्बत करते हैं जो
कैसे करें हम उसको बयाँ
बातें ये कभी ना...

जागी भी है, रोई भी है
आँखें ये रातों में मेरे
क्यों हर घड़ी मिल के तुझे
लगती रहे बस तेरी कमी
हम तो ना समझे तुम ही कहो
क्यों तुमको पा के तुमसे जुदा
बातें ये कभी ना...


बाख़ुदा तुम्हीं हो - Baakhuda Tumhi Ho (Atif, Alka, Kismat Konnection)



Movie/ Album: किस्मत कनेक्शन (2008)
Music By: प्रीतम चक्रवर्ती
Lyrics By: सईद क़ादरी
Performed By: आतिफ़ असलम, अलका याग्निक

तुम्हीं एहसासों में
तुम्हीं जज़्बातों में
तुम्हीं लम्हातों में
तुम्हीं दिन-रातों में

बाख़ुदा तुम्हीं हो, हर जगह तुम्हीं हो
हाँ, मैं देखूँ जहाँ जब, उस जगह तुम्हीं हो
ये जहां तुम्हीं हो, वो जहां तुम्हीं हो
इस ज़मीँ से फ़लक के दरमियाँ तुम्हीं हो
तुम ही हो बेशुबा, तुम ही हो
तुम ही हो मुझमें हाँ, तुम ही हो
तुम ही हो, तुम ही हो

कैसे बताएँ तुम्हें और किस तरह ये
कितना तुम्हें हम चाहते हैं
साया भी तेरा दिखे, तो पास जा के
उसमें सिमट हम जाते हैं
रास्ता तुम्हीं हो, रहनुमा तुम्हीं हो
जिसकी ख़्वाहिश है हमको, वो पनाह तुम्हीं हो
तुम ही हो बेशुबा...

कैसे बताएँ तुम्हें, शब में तुम्हारे
ख़्वाब हसीं जो आते हैं
कैसे बताएँ तुम्हें, लम्स वो सारे
जिस्म को जो महकाते हैं
इब्तिदा तुम्हीं हो, इंतिहा तुम्हीं हो
तुम हो जीने का मक़सद, और वजह तुम्हीं हो
बाख़ुदा तुम्हीं हो...


माहिया - Mahiya (Suzanne D'Mello, Annie Khalid, Awarapan)



Movie/Album: आवारापन (2007)
Music By: प्रीतम चक्रवर्ती
Lyrics By: सईद क़ादरी
Performed By: सुज़ैन डी'मेलो, एनी खालिद

सुज़ैन डी'मेलो
समवेयर आउट देअर, आइ नो, देअर इज़ समवन
हू'ज़ वैटिंग जस्ट फॉर मी, माहिया
ही'ज़ गोन्ना सेट मी फ्री, माहिया

जिसकी आँखों में मेरी ही नमी हो
कोई तो है वो यार, माहिया
करूँ मैं इंतज़ार, माहिया
जिसके जीने में मेरी ही कमी हो
रहे जो बेक़रार, माहिया
हो मुझपे निसार, माहिया
जिसकी हर बात मुझसे जुड़ी हो
चाहे जो बेशुमार, माहिया
वफ़ा से वफ़ादार, माहिया

हाउ हैव आइ स्टार्टेड क्रेविंग ए फैंटसी?
व्हाई कान्ट यू बी अ पार्ट ऑफ़ माय रियलिटी?

उसको ले ज़िन्दगी के ख़्वाब मैं बुनूँ
चमकीले रंग सारे उनमें भरूँ
उसको अक्सर ख़यालों में सोचा
कहीं तो है वो यार, माहिया
वो मेरा दिलदार, माहिया
समवेयर आउट देअर...

आइ नो देट ही'ज़ गोन्ना बी माय डेस्टिनी
इट्स ऑल अ पार्ट ऑफ़ क्युपिड्स कोन्स्पिरसी

कबसे उसके आने की मैं राह तकूँ
सबसे छुपा के उसे दिल में रखूँ
मेरे दिल ने तराशा उसे जैसा
मिलेगा वही यार, माहिया
है मुझे ऐतबार, माहिया
समवेयर आउट देअर...
जिसकी आँखों में...

एनी खालिद (रीमिक्स)
माहिया
आइ विश यू कुड सी योरसेल्फ द वे आइ सी यू
यू शाइन जस्ट लाइक अ स्टार, माहिया
'कोज़ यू'र माय ओन्ली प्यार, माहिया

मैंने तुझको ही दिल में बसाया
तू ही है मेरा प्यार, माहिया
तू ही है मेरा प्यार, माहिया
तूने ऐसी अदा से मुझे देखा
दिल हो गया निसार, माहिया
तू ही है मेरा प्यार, माहिया

व्हाई डोन्ट यू टेल मी, माही पुट माय माइन्ड एट ईज़
हाउ डू यू विश टु सी द लॉयल्टी इन मी?
अपनी वफ़ा का इकरार क्या करूँ?
मर जाऊँ, तुझको जो दिल से जुदा करूँ
तूने ऐसी अदा से...

माहिया, यौर आईज़ सेट माय सोल ओन फायर
आइ फेल्ट जस्ट लाइक अ रोज़, माहिया
व्हेन आइ वॉज़ इन योर आर्म, माहिया

आइ कान्ट इमेजिन लाइफ विदाऊट यू वेयर आइ'ड बी
आ'म योर लेडी, आइ गो वेयरवेर यू टेक मी
तेरे बग़ैर जीने की ख़्वाहिश नहीं
मैं तेरे साथ हूँ, ले चल मुझको कहीं
तूने ऐसी अदा से...
माहिया, योर आईज़...

आइ डोन्ट केयर वेयर वि गो, स्टे ओर व्हॉट वि डू
आ'ल टेक योर पेन, किस इट अवे, 'कोज़ आइ लव यू
जैसे भी में रखोगे, मैं रहूँ
दुःख भी मिले तो प्यार में हँस के सहूँ
तूने ऐसी अदा से...


तुझको भुलाना - Tujhko Bhulana (Roshni Baptist, Sangeet Haldipur, Murder 2)



Movie/Album: मर्डर २ (2011)
Music By: संगीत हल्दीपुर, सिद्धार्थ हल्दिपुर
Lyrics By: सईद कादरी
Performed By: रौशनी बैप्टिस्ट, संगीत हल्दीपुर

तुझको भुलाना, आँसू ना लाना
अब आ गया
तुझको भुलाना, आँसू ना लाना और मुस्कुराना
अब आ गया, अब आ गया
यादों से तेरी, दामन छुड़ाना, दिल ना दुखाना
अब आ गया, अब आ गया

सुन बेवफा ये, तय कर लिया
रह लेंगे हम तेरे बिन
है अब दर्द भी क्या है हमको भला
रात आ गयी है
तेरे मेरे दरमियाँ का जो है फ़ासला
यादों से तेरी, दामन छुड़ाना, दिल ना दुखाना
अब आ गया

दिल के मकाँ से, तू जा चुका
इसमें नहीं तू अब रहा
मेरी दुआ में, तू अब कहाँ
तू अजनबी है
तूने इनमें रहने का है हक खो दिया
तुझको भुलाना...


All lyrics are property and copyright of their owners. All the lyrics are provided for educational purposes only. Copyright © Lyrics In Hindi | Powered by Blogger Design by ronangelo | Blogger Theme by NewBloggerThemes.com