Swanand Kirkire लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
Swanand Kirkire लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

गुस्ताख दिल - Gustakh Dil (Amit Trivedi, Shilpa Rao, English Vinglish)



Movie/Album: इंग्लिश विन्ग्लिश (2012)
Music By: अमित त्रिवेदी
Lyrics By: स्वानंद किरकिरे
Performed By: अमित त्रिवेदी, शिल्प राव

गुस्ताख दिल, दिल में मुश्किल, मुश्किल में दिल
गुस्ताख दिल, थोड़ा संगदिल, थोड़ा बुजदिल
दर्द के दर पे, ठहरा है क्यूँ
सज़ा-सज़ा ये खुद को क्यूँ देता नहीं
हँसने की धुन में, रोता है क्यूँ
सही क्या, गलत क्या, ये कुछ भी समझता नहीं
गुस्ताख दिल...

है बर्फ सी सांसों में, आँखों में धुआं-धुआं
ये हर पल क्यूँ, खेले है, ग़म का, ख़ुशी का, जुआ-जुआ
ये उम्मीदों भरा, ये खुद से ही डरा
सुलझे धागों में, उलझा है क्यूँ
सलाहें-सलाहें ये खुद की भी सुनता नहीं
गुस्ताख दिल...

क्यूँ बातों ही बातों में फिसलती है, ज़ुबां-ज़ुबां
किसी शय ना, ठहरती है, बहकती है, निगाह निगाह
ये कैसे कब हुआ, ये कह दूँ क्यूँ हुआ
गिरता नहीं तो, संभालता है क्यूँ
झुकाए-झुकाए ये मगरूर झुकता नहीं
गुस्ताख दिल...


धाक धूक - Dhak Dhuk (Amit Trivedi, English Vinglish)



Movie/Album: इंग्लिश विन्ग्लिश (2012)
Music By: अमित त्रिवेदी
Lyrics By: स्वानंद किरकिरे
Performed By: अमित त्रिवेदी

पिया बिन दिल लगे ना
एक पल को मन मा लागे ठेस
कैसे जाऊं मैं पराये देस
पिया मोरे निठुरा, पिया न समझे
मन का ये संदेस
कैसे जाऊं मैं पराये देस
जियरा जियरा
जियरा धाक धूक होए
खामखां खामखां
खामखां धाक धूक होए
जियरा धाक धूक होए

कभी दिल धड़के, बायीं आँख फड़के
तु न हमें भूल जाए रे
तुझे दिल जाने, पूरा पहचाने
नैना ये फिसल ना जाए रे
सहमी सी पलकें, मोती एक छलके
के तेरा ज़िक्र जब भी आये
थोड़ी फ़िक्र छू के जाए
हाय होये हाय
जियरा धाक धूक...

ये दिन रातें, तीखी तेरी बातें
क्या करे जो याद आये रे
तेरे ताने बाने, छूने के बहाने
दिल को बड़ा सताए रे
क्यों न हमें रोके, एक बार टोके
के तेरा ज़िक्र जब भी आये
थोड़ी फ़िक्र छू के जाए
हाय होये हाय
जियरा धाक धूक...


रूठे ख़्वाबों को मना लेंगे - Roothe Khwabon Ko Mana Lenge (Amit Trivedi)



Movie/Album: काई पो छे (2013)
Music By: अमित त्रिवेदी
Lyrics By: स्वानंद किरकिरे
Performed By: अमित त्रिवेदी

रूठे ख़्वाबों को मना लेंगे
कटी पतंगों को थामेंगे
हो हो है जज़्बा, हो हो है जज़्बा
सुलझा लेंगे उलझे रिश्तों का मांझा

सोयी तकदीरें जगा देंगे
कल को अम्बर भी झुका देंगे
हो हो है जज़्बा, हो हो है जज़्बा
सुलझा लेंगे उलझे रिश्तों का मांझा

हो हो बर्फीली आँखों में
पिघला सा देखेंगे हम कल का चेहरा
हो हो पथरीले सीने में
उबला सा देखेंगे हम लावा गहरा
अगन लगी, लगन लगी
टूटे ना टूटे ना जज़्बा ये टूटे ना
मगन लगी, लगन लगी
कल होगा क्या
कह दो किसको है परवाह
रूठे ख़्वाबों को मना लेंगे..


मोन्टा रे - Monta Re (Swanand Kirkire, Amitabh Bhattacharya, Lootera)



Movie/Album: लूटेरा (2013)
Music By: अमित त्रिवेदी
Lyrics By: अमिताभ भट्टाचार्य
Performed By: स्वानंद किरकिरे, अमिताभ भट्टाचार्य

कागज़ के दो पंख लेके, उड़ा चला जाए रे
जहाँ नहीं जाना था ये, वहीँ चला हाय रे
उमर का ये ताना-बाना समझ ना पाए रे
जुबां पे जो मोह-माया, नमक लगाये रे
के देखे ना, भाले ना, जाने ना दाये रे
दिशा हारा कैमोन बोका, मोन्टा रे! (Foolish Mind Has Lost Its Direction)

फ़तेह करे किले सारे, भेद जाए दीवारें
प्रेम कोई सेंध लागे
अगर मगर बारी बारी, जिया को यूँ उछाले
जिया नहीं गेंद लागे
माटी को ये चंदन सा, माथे पे सजाये रे
जुबां पे जो मोह-माया...


गिव मी सम सनशाइन - Give Me Some Sunshine (Suraj Jagan, Sharman Joshi)




Movie/Album: 3 इडियट्स (2009)


Music By: शांतनु मोइत्रा


Lyrics By: स्वानंद किरकिरे


Performed By: सूरज जगन, शर्मन जोशी


सारी उम्र हम, मर मरके जी लिए


इक पल तो अब हमें जीने दो, जीने दो





सारी उम्र हम मर मरके जी लिए


इक पल तो अब हमें जीने दो, जीने दो


Give me some sunshine, give me some rain


Give me another chance, I wanna grow up once again



कंधों को किताबों के बोझ ने झुकाया


रिश्वत देना तो खुद पापा ने सिखाया


99 पर्सेंट मार्क्स लाओगे तो घड़ी, वरना छड़ी


लिख लिखकर पढ़ा हाथों पर Alpha Beta Gamma का छाला


Concentrated H2So4 ने पूरा, पूरा बचपन जला डाला


बचपन तो गया, जवानी भी गयी


इक पल तो अब हमें जीने दो, जीने दो


सारी उम्र हम मर मर के...




हुई मैं परिणीता - Hui Main Parineeta (Shreya Ghoshal, Sonu Nigam, Parineeta)



Movie/Album: परिणीता (2005)
Music By: शांतनु मोइत्रा
Lyrics By: स्वानंद किरकिरे
Performed By: सोनू निगम, श्रेया घोषाल

होंठ तेरे मय के प्याले, कजरारे नैना तेरे
माथे पर सिन्दूरी सुबह, ज़ुल्फ़ों में रैना बसे

सांसें ये तेरी है, धड़कन भी तेरी है
जीवन ये तेरा हुआ
तेरे ही छूने से तन मन सजा मेरा
हुई मैं परिणीता

जिया डोले, हौले हौले
क्यूँ ये डोले जानूँ ना
जिया डोले...


धिनक धिनक धा - Dhinak Dhinak Dha (Rita Ganguly, Parineeta)



Movie/Album: परिणीता (2005)
Music By: शांतनु मोइत्रा
Lyrics By: स्वानंद किरकिरे
Performed By: रीता गांगुली

ओ मौसी किस्से देनी
ओ किस्से खट्टे मीठे
ओ किस्से मोटे मोटे
ओ किस्से खोटे खोटे
ओये ख़तम ही नहीं होते

सुनो सुनो दुल्हन की और दुल्हे की कहानी
धिनक धिनक धा
दूल्हा थोड़ा एंवई था, दुल्हन थी सायानी
धिनक धिनक धा
दूर देस से आई थी वो रूप की रानी
धिनक धिनक धा
जल भुन जावे सास ननदिया, कुढ़े जेठानी
धिनक धिनक धा
कैसे हुआ मिलन, मौसी हमें बता
अरे शादी की रात का, किस्सा हमें सुना
बताओ न मौसी

दुल्हन को क्या सूझी जाने थी वो दीवानी
धिनक धिनक धा
अरे रूठ के कुण्डी बंद कर बैठी, एक न मानी
धिनक धिनक धा
दुल्हे को कुण्डी ठोक ठोक याद आ गयी नानी
धिनक धिनक धा
अरे सर को खुजाये सोचे बेचारा ख़तम कहानी
धिनक धिनक धा
ओ मेरी जाने-जां, ऐसे सितम न ढा
इतना मुझे बता, मेरी खता है क्या

फिर दोस्तो ने दुल्हे को समझाया
क्या समझाया?
अरे मीठी मीठी बाते कर
सच्चे झूठे वादे कर गधे
तब मानेगी तेरी रानी
दूल्हा बोला चंदा तारे लाऊंगा रानी
धिनक धिनक धा
अरे दुल्हन बोली क्यों करती हो बात पुरानी
धिनक धिनक धा
दूल्हा बोला नाम तेरे कर दूँ ज़िन्दगानी
धिनक धिनक धा
दुल्हन बोली डूब मरो चुल्लू भर पानी
धिनक धिनक धा
फिर कैसे हुआ मिलन, मौसी हमें बता
अरे शादी की रात का किस्सा हमें सुना

फिर वो आया मेरे पास
मैंने कहा, अरे गधे तारों का आचार डालेगा
या चार पाँच पापड़ तलेगा
मैंने उसके कान में फूंका मंतर
दूल्हा पहुंचा दरवाजे पर
और पता है क्या बोला
क्या बोला मौसी?

सोना चाँदी ले आया हूँ ओ मेरी रानी
धिनक धिनक धा
दुल्हन बोली, आधी ही मैं खोलू चिटकनी
धिनक धिनक धा
हीरे मोती भी लाया हूँ ओ मेरी रानी
धिनक धिनक धा
दुल्हन ने फिर झट से खोली ड़ी पूरी चिटकनी
धिनक धिनक धा
ओ मेरे राजा बोली, जल्दी भीतर आ
ओ मेरे राजा, जल्दी भीतर आ
ऐसे ना तरसा, ओ मेरे रजा

फिर क्या हुआ मौसी
कुण्डी बंद और बत्ती गुल
फिर बताओ बताओ मौसी बताओ
फिर बताऊँ


रात हमारी तो - Raat Hamari To (Swanand Kirkire, K.S.Chithra, Parineeta)



Movie/Album: परिणीता (2005)
Music By: शांतनु मोइत्रा
Lyrics By: स्वानंद किरकिरे
Performed By: स्वानंद किरकिरे, के.एस.चित्रा

रतिया कारी कारी रतिया
रतिया अंधियारी रतिया
रात हमारी तो, चाँद की सहेली है
कितने दिनों के बाद, आई वो अकेली है
चुप्पी की बिरहा है, झींगुर का बाजे साथ

रात हमारी तो, चांद की सहेली है
कितने दिनो के बाद, आई वो अकेली है
समझा के बाती भी कोई बुझा दे आज
अंधेरे से जी भर के, करनी है बातें आज
अँधेरा रूठा है, अँधेरा बैठा है
गुमसुम सा कोने में बैठा है
रात हमारी तो, चांद की सहेली है...

अंधेरा पागल है, कितना घनेरा है
चुभता है, डसता दस्ता है, फिर भी वो मेरा है
उसकी ही गोदी में, सर रख के सोना है
उसकी ही बाहों में, चुपके से रोना है
आँखों से काजल बन, बहता अंधेरा आज
रात हमारी तो, चांद की सहेली है...


सूना सूना मन का आँगन - Soona Soona Mann Ka Aangan (Sonu Nigam, Shreya Ghoshal, Parineeta)



Movie/Album: परिणीता (2005)
Music By: शांतनु मोइत्रा
Lyrics By: स्वानंद किरकिरे
Performed By: सोनू निगम, श्रेया घोषाल

सूना, सूना मन का आंगन
ढूंढे पायल की वो छन छन
सूनी, सूनी मन की सरगम
ढूंढे गीत तेरे हमदम
मन में शाम हो या सवेरा
लागा तेरी ही यादों का डेरा
तुने बंधन क्यों ये तोड़ा
तुने काहे को मुँह मोड़ा
कहो ना, कहो ना, कहो ना

फूल फूल भंवरा डोले
मन में गूंजे तेरी याद
बाग़ में पपीहा बोले
पिहू पिहू पियू कहाँ

कैसी काटे सूनी रातें
कहो ना, कहो ना
कैसे भूले बीती बातें
कहो ना, कहो ना
कैसे थामें फिर तेरा दामन
कैसे महके मन का ये आंगन
कैसे भूलें प्रीत तेरी साजन
कैसे बांधे टूटा ये बंधन
मन में शाम हो या सवेरा...


कैसी पहेली ज़िन्दगानी - Kaisi Paheli Zindagani (Sunidhi Chauhan, Parineeta)



Movie/Album: परिणीता (2005)
Music By: शांतनु मोइत्रा
Lyrics By: स्वानंद किरकिरे
Performed By: सुनिधि चौहान

नयी नहीं ये बातें, ये बातें है पुरानी
कैसी पहेली है ये, कैसी पहेली ज़िन्दगानी
थामा हाँ रोका इसको, किसने, हाँ ये तो बहता पानी
कैसी पहेली है ये, कैसी पहेली ज़िन्दगानी
ला ला ला...
पी ले इसे इसमें नशा
जिसने पिया वो गम में भी हँसा
पल में हँसाए और पल में रुलाये ये कहानी
कैसी पहेली है ये, कैसी पहेली ज़िन्दगानी
थामा हाँ रोका इसको...
आँखों मे गर सपना नया, आँसू तेरा इक मोती है बना
सूनी डगर में जैसे, सूनी, ये छाँव हो सुहानी
कैसी पहेली है ये...


कस्तो मज़ा है - Kasto Maza Hai (Sonu Nigam, Shreya Ghoshal, Parineeta)



Movie/Album: परिणीता (2005)
Music By: शांतनु मोइत्रा
Lyrics By: स्वानंद किरकिरे
Performed By: सोनू निगम, श्रेया घोषाल

कस्तो मज़ा है ले लैईमा
रमयलो ऊ काली ओराली

ये हवाएँ गुनगुनाएँ पूछे तू है कहाँ
तू है फूलों में कलियों में
या मेरे ख़्वाबों की गलियों में
ये हवाएँ....

धरती सजी, अम्बर सजा, जैसे कोई सपना
इसमें हो घर, ओ हमसफ़र, तेरा मेरा अपना
सूना तेरे बिना ख़्वाबों का ये मकां
आ भी जाओ, आओ ना
कस्तो मज़ा है ले लैईमा...

ओ रे पिया, सुन बोले जिया, दिल में यूँ ही रहना
ख़ुशी मेरे ग़म, सारे तुझसे सनम, तू ही दिल का गहना
ख़्वाबों की राहों पर खुशियों का कारवाँ
आ भी जाओ, आओ ना
कस्तो मज़ा है ले लैईमा...


पियू बोले पिया बोले - Piyu Bole Piya Bole (Sonu Nigam, Shreya Ghoshal, Parineeta)



Movie/Album: परिणीता (2005)
Music By: शांतनु मोइत्रा
Lyrics By: स्वानंद किरकिरे
Performed By: सोनू निगम, श्रेया घोषाल

You are mine, Say you're mine
What do you think?

पियू बोले, पिया बोले, क्या ये बोले, जानूँ ना
जिया डोले, हौले हौले, क्यों ये डोले जानूँ ना

Not bad, अब ये सुनो

दिल की जो बातें हैं, बातें जो दिल की हैं
दिल ही में रखना पिया
लब तो ना खोलूँ मैं, खोलूँ ना लब तो पर
आँखों से सब कह दिया
पियू बोले, पिया बोले...

इक नदी से मैंने पूछा, इठला के चल दी कहाँ
दूर तेरे पी का घर है, बलखा के चल दी कहाँ
थोड़ा वो घबराई, थोड़ा सा शरमाई
उछली यहाँ से वहाँ
सागर से मिलने का, उसका जो सपना था
मेरी ही तरह पिया
जिया डोले, हौले हौले...

मैंने पूछा इक घटा से, इतरा के चल दी कहाँ
प्यास की भरी ज़मीं है, बरसों भी तरसाओ ना
थोड़ा वो गुर्राई, थोड़ा सा थर्राई
गरजी यहाँ फिर वहाँ
प्रीत लुटाती फिर, झम झम झम बरसी वो
तेरी ही तरह पिया
पियू बोले पिया बोले...


जानूँ ना - Jaanu Na (Swanand Kirkire, Sonu Nigam, Eklavya)



Movie/Album: एकलव्य (2007)
Music By: शांतनु मोइत्रा
Lyrics By: स्वानंद किरकिरे
Performed By: सोनू निगम, स्वानंद किरकिरे

जानूँ ना, मैं जानूँ ना
जनम मरण का भेद है क्या
मैं जानूँ ना

जानूँ ना, मैं जानूँ ना
धरम अधरम का भेद है क्या
मैं जानूँ ना

जानूँ ना, जानूँ ना
मैं काठ का पुतला कुछ भी जानूँ ना
जानूँ ना, मैं जानूँ ना
ये खेल है कैसा रब का, जानूँ ना


चंदा रे चंदा रे - Chanda Re Chanda Re (Hamsika Iyer, Eklavya)



Movie/Album: एकलव्य (2007)
Music By: शांतनु मोइत्रा
Lyrics By: स्वानंद किरकिरे
Performed By: हंसिका अय्यर

चंदा रे चंदा रे धीरे से मुसका 
हौले से हौले से पलकों में छुप जा
चंदा रे चंदा रे...

हौले से हौले से छन छन छन छन छन छना
बादल के झूले पे खन खन खन खन खन खना
हौले से हौले से, बादल के झूले पे मुसका
चंदा रे चंदा रे...

अरे लुका छिपी खेले चंदा तारों के संग
कौन थामे डोरी, तू है किसकी पतंग
चंदा ओ रे चंदा, तेरा कैसा गुरूर
हँस दे ज़रा सा, बरसा दे तू नूर
चंदा रे चंदा रे...


तु किसी रेल सी गुज़रती है - Tu Kisi Rail Si Guzarti Hai (Swanand Kirkire, Masaan)



Movie/Album: मसान (2015)
Music By:
इंडियन ओशन
Lyrics By:
वरुण ग्रोवर (प्रेरित: दुष्यंत कुमार)
Performed By: स्वानंद किरकिरे

तू किसी रेल सी गुज़रती है
मैं किसी पुल सा थरथराता हूँ
तू भले रत्ती भर ना सुनती हो
मैं तेरा नाम बुदबुदाता हूँ
किसी लम्बे सफर की रातों में
तुझे अलाव सा जलाता हूँ

काठ के ताले हैं, आँख पे डाले हैं
उनमें इशारों की चाबियाँ लगा
रात जो बाकी है, शाम से ताकी है
नीयत में थोड़ी खराबियाँ लगा
मैं हूँ पानी के बुलबुले जैसा
तुझे सोचूँ तो फूट जाता हूँ
तू किसी रेल सी गुज़रती है
मैं किसी पुल सा थरथराता हूँ


शुभारम्भ - Shubhaarambh (Shruti Pathak, Divya Kumar, Kai Po Che)



Movie/Album: काई पो छे (2013)
Music By: अमित त्रिवेदी
Lyrics By: स्वानंद किरकिरे, श्रुति पाठक
Performed By: श्रुति पाठक, दिव्या कुमार

रंगी पर उड़ आवे
खुशियों संग लावे
हरखाये हइयो हाय हाय

आशा नी किरणों विखराए
उमंगें वी छलकाए
मन हळवे थी गुनगुनाए
हाय हाय हाय हाय...

हे शुभारंभ, हो शुभारंभ, मंगल बेला आई
सपनों की डेहरी पे दिल की बाजी रे शहनाई
शहनाई, शहनाई...

ख़्वाबों के बीज, कच्ची ज़मीं पे
हमको बोना है
आशा के मोती, साँसों की माला
हमें पिरोना है
अपना बोझ हाँ मिल के साथी, हमको ढोना है
शहनाई...

रास रचील्यो, साज़ सजिल्यो
शुभ घड़ी छे आवी
आजा आजा टमटमाता
शमणा ओ जलावी
ओ लावी...
रंगी पर उड़ आवे
खुशियों संग लावे...

हाँ मज़ा है ज़िन्दगी, नशा है ज़िन्दगी
धीरे-धीरे चढ़ेगी, हो
दुआ दे ज़िन्दगी, बता दे ज़िन्दगी
बात अपनी बनेगी, हो
ख़्वाबों के बीज...
हे रंग लो म्हाराना ए थाई थाई
हे शुभारंभ हो शुभारंभ...


तू मेरा अफ़साना - Tu Mera Afsana (Shreya, Papon, Bobby Jasoos)



Movie/Album: बॉबी जासूस (2014)
Music By: शांतनु मोइत्रा
Lyrics By: स्वानंद किरकिरे
Performed By: श्रेया घोषाल, पैपॉन

तू मेरा अफ़साना, तू मेरा पैमाना
तू मेरी आदत, इबादत है तू
तू मेरा मुस्काना, तू मेरा घबराना
तू मेरी गुस्ताखी, माफ़ी भी तू
तू मेरी रग-रग में, तू मेरी नस-नस में
तू मेरी जाँ है और तू मेरी रूह
तू ही जुनूं भी है, तू ही नशा भी है
तू ही दुआ मेरी, सजदा भी तू
तू मेरा अफ़साना...

अर्ज़ियाँ दे रहा है दिल, आओ
सुन लो कुछ कह रहा है दिल, आओ
आहटें कुछ नई सी जागी है
मौसिकी इक नई है, सुन जाओ
अर्ज़ियाँ दे रहा...

जागी सी आँखों को
दे दो ना पलकों की चादर ज़रा
रूखे से होठों को
दे दो ना साँसों की राहत ज़रा
तन्हाँ सी रातों को
दे दो ना ख़्वाबों की सोहबत ज़रा
ख्वाहिशें ये कहे
दे दो ना अपनी सी उल्फत ज़रा
रंजिशें भूल कर चले, आओ
अर्जियां दे रहा है...

बिन तेरे ज़िन्दगी
यूँ ही बेवजह बेमानी लगे
बिन तेरे ज़िन्दगी
जैसे अधूरी कहानी लगे
बिन तेरे बस्तियाँ
क्यूँ दिल की सूनी वीरानी लगे
बिन तेरे ज़िन्दगी
क्यों खुद ही खुद से बेगानी लगे
मर्ज़ियाँ मोड़ कर चले आओ
अर्ज़ियाँ दे रहा है...
तू मेरा अफ़साना...


मुझे क्या बेचेगा रुपैया - Mujhe Kya Bechega Rupaiya (Sona Mohapatra, Satyamev Jayate)



Movie/Album: सत्यमेव जयते (2012)
Music By: राम संपत
Lyrics By: स्वानंद किरकिरे
Performed By: सोना मोहपात्रा

बाबुल प्यारे सजन सखारे
सुन ओ मेरी मैय्या
बोझ नहीं मैं किसी के सर का
ना मझदार में नैय्या
पतवार बनूँगी, लहरों से लडूंगी
अरे मुझे क्या बेचेगा रुपैय्या
हो अरे मुझे क्या बेचेगा रुपैया

कल बाबा की ऊँगली को थामी चली थी
कल बाबा की लाठी भी बन जाऊँगी
अम्मा तेरे घरौंदे की चिड़िया हूँ मैं
दाना लेकर ही वापस घर आऊँगी
जिसकी फितरत में है रत समायी नहीं
जिसको दौलत से ज़्यादा मैं भाई नहीं
ऐसे साजन की मुझको ज़रूरत नहीं
ना कहने का सुन लो मुहूरत यही
अकेली चलूँगी, किस्मत से मिलूँगी
अरे मुझे क्या बेचेगा...

दिल से दिल के तार तो जुड़े नहीं
दो रस्मों पे दौलत ये काहे बहे
हम तो प्यार की ख्वाहिश में रिश्ते बुनें
तो रिश्तों में लालच हम काहे सहे
क्या शादी के आगे ज़िन्दगी नहीं
जो शादी हिसाबों की केवल है बही
ऐसी शादी की मुझको ज़रूरत नहीं
ना कहने का सुन लो मुहूरत यही
सुबह से खिलूँगी, रतिया से भरूँगी
अरे मुझे क्या बेचेगा...


नवराई माझी - Navraai Maajhi (Sunidhi, Swanand, Natalie, Neelambari, English Vinglish)



Movie/ Album: इंग्लिश विंग्लिश (2012)
Music By: अमित त्रिवेदी
Lyrics By: स्वानंद किरकिरे
Performed By: सुनिधि चौहान, स्वानंद किरकिरे, नताली डी लुशियो, नीलाम्बरी किरकिरे

नवराई माझी लाडाची-लाडाची ग
आवड़ हिला चंद्राची चंद्राची ग
नवराई माझी नवसाची-नवसाची ग
अप्सरा ज(स)शी इंद्राची-इंद्राची ग
नवराई माझी...

बौराई चली शरमाती, घबराती वो
पिया के घर इठलाती, बलखाती वो
सुरमई नैना छलकाती-छलकाती वो
पिया के घर भरमाती, सकुचाती वो

चुनर में इसकी, सितारे
सारे चमकीले, चमकीले, चमकीले
कंगन में इसके, बहारें
पाजेब हरियाले, हरियाले, हरियाले
नवराई माझी...

सुनियो जी इसको रखियो जतन से
ओ बड़ी नाज़ुक है, नाज़ुक है, नाज़ुक
कली ये अनमोल, कली ये अनमोल
आओ जी आओ, ठुमका लगाओ
ज़रा बहको जी, बहको जी, बहको
खुशियों के बाजे ढोल, खुशियों के बाजे ढोल

आँखों में इसके इशारे
बड़े नखरीले, नखरीले, नखरीले
सपनों के लाखों नज़ारें
सारे रंगीले, रंगीले, रंगीले
बौराई चली शरमाती, घबराती वो
पिया के घर...


सपनों का शहर हो - Sapno Ka Shehar Ho (Alka Yagnik, Sehar)



Movie/ Album: सहर (2005)
Music By: डैनियल बी. जॉर्ज
Lyrics By: स्वानंद किरकिरे, नीलांजना किशोर
Performed By: अलका याग्निक

सपनों का शहर हो
खुशियों भरा सफ़र हो
कोई डर ना हो
कब आएगी सहर वो

कैसे कटेगी ग़म की काली लंबी रात
बुझे नहीं मन में जलती आशा की वो बात
सपनों का शहर हो...

थकी-थकी आँखों का रुपहला ये ख़्वाब
ख़त्म तो होगी कभी इनकी तलाश
सपनों का शहर हो...


All lyrics are property and copyright of their owners. All the lyrics are provided for educational purposes only. Copyright © Lyrics In Hindi | Powered by Blogger Design by ronangelo | Blogger Theme by NewBloggerThemes.com