Toilet: Ek Prem Katha लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
Toilet: Ek Prem Katha लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

हँस मत पगली - Hans Mat Pagli (Sonu, Shreya, Toilet: Ek Prem Katha)



Movie/Album: टॉयलेट: एक प्रेम कथा (2017)
Music By: विक्की प्रसाद
Lyrics By: सिद्धार्थ-गरिमा
Performed By: सोनू निगम, श्रेया घोषाल

जबसे मिला हूँ तुझसे, मुस्कुराता रहता हूँ
जो भी मिलता है मुझसे, सुनाता फिरता हूँ
दूर रहना इस मायाजाल से
वर्ना तेरा जीना दुश्वार हो जाएगा
हँस मत पगली प्यार हो जाएगा
हँस मत पगली...

मैं तो ये सोचता था, सोचता था बेवज़ह
ख़्वाबों की खिड़की थी बन्द, अब इश्क होगा भी क्या
तुझसे यूँ थोड़ा खुल गया हूँ मैं
यूँ तेरी आँखों में घुल गया हूँ मैं
जैसे पानी में चन्दन हुआ
दिल अब कुछ भी करने को तैयार हो जाएगा
हँस मत पगली...

जैसे नदिया मेैं आजकल, बलखाती चलती हूँ
तेरी नज़र से दर्पण, देखकर निकलती हूँ
सजी रहूँ तेरे ख्याल से, तो हर दिन जैसे त्यौहार हो जाएगा
हँस मत पगले...

तूने खोला मेरा आसमाँ, एक चाँद रौशन हुआ
खाली सा था मन मेरा, तारों का आँगन हुआ
बातो में तेरी खो गयी हूँ, बदला मौसम या मैं नयी हूँ
कैसे दूर रहूँ तेरे ख्याल से
अब हर पल तेरा इन्तजार हो जाएगा
हँस मत पगली...
हँस मत पगले...


All lyrics are property and copyright of their owners. All the lyrics are provided for educational purposes only. Copyright © Lyrics In Hindi | Powered by Blogger Design by ronangelo | Blogger Theme by NewBloggerThemes.com