Tulsi Kumar लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
Tulsi Kumar लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

कुछ तो हुआ है - Kuch To Hua Hai (Ankit Tiwari, Tulsi Kumar, Singham Returns)



Movie/Album: सिंघम रिटर्न्स (2014)
Music By: अंकित तिवारी
Lyrics By: संदीप नाथ, अभेन्द्र कुमार उपाध्याय
Performed By: अंकित तिवारी, तुलसी कुमार

रातों को अपनी पलकों से
ख़्वाब सजाने दो
फिर ख़्वाबों को आँखों से
नींद चुराने दो
ख़ामोशियाँ रखती हैं
अपनी भी एक जुबां
ख़ामोशी को चुपके से
सब कह जाने दो

कुछ तो हुआ है (ये क्या हुआ)
जो ना पता है (ये जो हुआ)
कुछ तो हुआ है
समझो कुछ समझो ना

जो कदम कदम चलूँ
तुझे ही तय करूँ मैं
साँसें बुनकर तुझे ओढ़ लूं
तू ख्याल सा मिला है
जिसको गिन सकूँ मैं
आदतों में तुझे जोड़ लूं
तुझसे रौशन, रातें सारी
तुझपे ही ख़तम बातें सारी
ख़ामोशियाँ रखती हैं...

तुझे एक बार प्यार से
जो छू सकूँ मैं
वक़्त को फिर वहीँ रोक दूँ
फिर दिल मचल के गर
हदों को भूल जाए
धडकनों का सफ़र छोड़ दूँ
तूने दी है सारी खुशियाँ
तू है तो है मेरी दुनिया
ख़ामोशियाँ रखती हैं...


तू है की नहीं - Tu Hai Ki Nahin (Ankit Tiwari, Tulsi Kumar, Roy)



Movie/Album: रॉय (2015)
Music By: अंकित तिवारी
Lyrics By: अभेन्द्र कुमार उपाध्याय
Performed By: अंकित तिवारी, तुलसी कुमार

मुझसे ही आज मुझको मिला दे
देखूँ आदतों मैं तू है की नहीं
हर साँस से पूछ के बता दे
इनके फासलों में तू है की नहीं
मैं आस पास तेरे और मेरे पास
तू है की नहीं, तू है की नहीं
तू है कि नहीं, तू है कि नहीं

दौड़ते हैं ख्वाब जिनपे रास्ता वो तू लगे
नींद से जो आँख का है वास्ता वो तू लगे
तू बदलता वक़्त कोई खुशनुमा सा पल मेरा
तू वो लम्हा जो ना ठहरे, आने वाला कल मेरा
मैं आस पास तेरे और मेरे पास
तू है की नहीं...

इन लबों पे जो हँसी है, इनकी तू ही है वजह
बिन तेरे मैं कुछ नहीं हूँ, मेरा होना बेवजह
धूप तेरी ना पड़े तो, धुंधला सा मैं लगूं
आके साँसें दे मुझे तू, ताकि ज़िन्दा मैं रहूँ
मैं आस पास तेरे और मेरे पास
तू है की नहीं...


तेरे बिन नहीं लागे जिया - Tere Bin Nahin Laage Jiya (Uzair Jaswal, Tulsi Kumar, Alam Khan, Ek Paheli Leela)



Movie/Album: एक पहेली लीला (2015)
Music By: उज़ैर जसवाल, अमाल मलिक
Lyrics By: कुमार
Performed By: उज़ैर जसवाल, तुलसी कुमार, आलम खान

ये रातें अब नहीं धड़कती
दिन भी सांस नहीं लेते
अब तो आ जाओ मेरे सोणेया
बातें रह गयी ज़रूरी मेरे लबों पे अधूरी
आके सुन जाओ मेरे सोणेया
तेरे बिन नहीं लागे जिया
तेरे बिन अब तो आजा पिया
तेरे बिन नहीं लागे जिया

पहले जैसे मौसम भी आते नहीं हैं
बारिशों में पहले जैसी बातें नहीं हैं
सूखे सूखे अल्फ़ाज़ (जज़्बात)
खाली खाली मेरे हाथों की
लकीरें बुलावे सोणेया
तेरे बिन नहीं लागे जिया...

चाँद भी वही है, वही है सितारे
तेरे बाद फीके फीके लगते हैं सारे
आजा दे के तू सवेरे, कर जा दूर ये अँधेरे
तेरी दूरी तड़पावे सोणेया
तेरे बिन नहीं लागे जिया...


सोच ना सके - Soch Na Sake (Arijit Singh, Tulsi Kumar, Airlift)



Movie/Album: एयरलिफ्ट (2016)
Music By: अमाल मलिक
Lyrics By: कुमार
Performed By: अरिजीत सिंह, तुलसी कुमार

तेनु इतना मैं प्यार करां
इक पल विच सौ बार करां
तू जावे जे मैनू छड्ड के
मौत दा इंतज़ार करां 

के तेरे लिए दुनिया छोड़ दी है
तुझपे ही सांस आके रुके
मैं तुझको कितना चाहता हूँ
ये तू कभी सोच ना सके

कुछ भी नहीं है ये जहां
तू है तो है इसमें ज़िन्दगी
अब मुझको जाना है कहाँ
के तू ही सफ़र है आख़िरी

के तेरे बिना जीना मुमकिन नहीं
न देना कभी मुझको तू फ़ासले
मैं तुझको कितना चाहती हूँ
ये तू कभी सोच ना सके

आँखों की है ये ख्वाहिशें
के चेहरे से तेरे ना हटे
नींदों में बस तेरे
ख़्वाबों ने ली है करवटें
के तेरी ओर मुझको ले के चले
ये दुनिया भर के सब रास्ते
मैं तुझको कितना चाहता हूँ
ये तू कभी सोच ना सके


सलामत - Salamat (Arijit Singh, Tulsi Kumar, Sarbjit)



Movie/Album: सरबजीत (2016)
Music By: अमाल मलिक
Lyrics By:
रश्मि विराग
Performed By: अरिजीत सिंह, तुलसी कुमार

चाहे मैं रहूँ जहां में, चाहे तू ना रहे
तेरे-मेरे प्यार की उमर सलामत रहे
चाहे ये ज़मीं, ये आसमां रहे ना रहे
तेरे-मेरे प्यार की उमर सलामत रहे

डर है तुझे मैं खो ना दूं
मिले जो ख़ुदा तो बोल दूं
मैं दो जहां का क्या करूं, तू बता
तू जो मेरे पास है
मुझको न कोई प्यास है
मेरी मुक़म्मल हो गयी हर दुआ
चाहे मेरे जिस्म में, ये जाँ रहे ना रहे
तेरे-मेरे प्यार की...

तेरे टुकड़ों में जी रहे
तुम जो मिले तो जुड़ गए
पंख लगा के उड़ चला, मन मेरा
तुझमें मैं हूँ, मुझमें तू
और है सांसें रूबरू
कुछ भी नहीं अब दोनों के दरमियाँ
चाहे उस चाँद में, चमक रहे ना रहे
तेरे-मेरे प्यार की...


मेरे रश्के कमर - Mere Rashke Qamar (Rahat Fateh Ali Khan, Tulsi Kumar, Baadshaho)



Movie/Album: बादशाहो (2017)
Music By: तनिष्क बागची
Lyrics By: मनोज मुन्तशिर, फ़ना बुलंद शहरी
Performed By: राहत फ़तेह अली खान

राहत फ़तेह अली खान
ऐसे लहरा के तू रूबरू आ गयी
धड़कने बेतहाशा तड़पने लगीं
तीर ऐसा लगा, दर्द ऐसा जगा
चोट दिल पे वो खायी, मज़ा आ गया
मेरे रश्के क़मर
मेरे रश्के क़मर, तूने पहली नज़र
जब नज़र से मिलाई मज़ा आ गया

जोश ही जोश में, मेरी आगोश में
आ के तू जो समाई, मज़ा आ गया
मेरे रश्के क़मर...

रेत ही रेत थी मेरे दिल में भरी
प्यास ही प्यास थी ज़िन्दगी ये मेरी
आज सेहराओं में इश्क के गाँव में
बारिशें घिर के आई, मज़ा आ गया
मेरे रश्के क़मर...

ना अनजान हो गया हम फ़ना हो गए
ऐसे तू मुस्कुरायी, मज़ा आ गया
मेरे रश्क-ए-क़मर..
बर्फ सी गिर गई, काम ही कर गई
आग ऐसी लगाई, मज़ा आ गया

तुलसी कुमार
यूँ लगा कोयलें, जब लगीं कूकने
जैसे छलनी किया हमको बन्दूक ने
हूख उठने लगी हँसते-हँसते मेरी
आँख यूँ डबडबाई, मज़ा आ गया
तूने रश्के कमर, कह दिया जब मुझे
ज़िन्दगी मुस्कुराई, मज़ा आ गया
उफ़ ये दीवानगी, आशिकी ने तेरी
ख़ाक ऐसी उड़ाई, मज़ा आ गया
मेरे रश्के कमर...

ऐसे लहरा के तू रूबरू आ गया
धड़कने बेतहाशा तड़पने लगीं
तीर ऐसा लगा, दर्द ऐसा जगा
चोट दिल पे वो खायी, मज़ा आ गया
तूने रश्के क़मर
तूने रश्के क़मर, कह दिया जब मुझे
ज़िन्दगी मुस्कुराई, मज़ा आ गया
सांवली शाम में, रंग से भर गए
थाम ली जब कलाई, मज़ा आ गया
मेरे रश्के कमर...


तुम जो आये - Tum Jo Aaye (Rahat Fateh Ali Khan, Tulsi Kumar, Once Upon A Time In Mumbaai)



Movie/Album: वन्स अपॉन अ टाईम इन मुम्बई (2010)
Music By: प्रीतम चक्रवर्ती
Lyrics By: इरशाद कामिल
Performed By: राहत फ़तेह अली ख़ान, तुलसी कुमार

पाया मैंने पाया तुम्हें, रब ने मिलाया तुम्हें
होंठों पे सजाया तुम्हें, नगमें सा गाया तुम्हें
पाया मैंने, पाया तुम्हें, सबसे छुपाया तुम्हें
सपना बनाया तुम्हें, नींदों में बुलाया तुम्हें

तुम जो आए ज़िन्दगी में बात बन गई
इश्क मज़हब, इश्क मेरी ज़ात बन गई

तुम जो आए ज़िन्दगी में बात बन गई
सपने तेरी चाहतों के, देखती हूँ अब कई
दिन है सोना और चांदी रात बन गई
तुम जो आए ज़िन्दगी में बात बन गई

चाहतों का मज़ा, फासलों में नहीं
आ छुपा लूँ तुम्हें हौसलों में कहीं
सबसे ऊपर लिखा है तेरे नाम को
ख्वाहिशों से जुड़े सिलसिलों में कहीं
ख्वाहिशें मिलने की तुमसे, रोज़ होती है नई
मेरे दिल की जीत मेरी मात बन गई
तुम जो आए ज़िन्दगी...

ज़िन्दगी बेवफा है ये माना मगर
छोड़कर राह में जाओगे तुम अगर
छीन लाऊँगा मैं आसमां से तुम्हें
सूना होगा ना ये, दो दिलों का नगर
रौनके हैं दिल के दर पे, धड़कने हैं सुरमई
मेरी किस्मत भी तुम्हारे, साथ बन गई
तुम जो आए ज़िन्दगी...

केवल राहत फ़तेह
ऐसा मैं सौदाई हुआ, धड़कनें भी अपनी तो
लगती हैं तेरी आहटें
माँगी न खुदाई मैंने, माँगा न ज़माना भी
माँग ली है तेरी चाहतें
ख्वाहिशें मिलने की तुमसे, रोज़ होती है नई
मेरे दिल की जीत मेरी मात बन गई
तुम जो आए ज़िन्दगी...

तेरे बिना फीकी सी थी मेरी ज़िन्दगानी ये
तेरे संग मीठी हो गई
आता-जाता खुशियों के मैं गले लग जाता हूँ
दुनिया भी लगती है नई
रौनके हैं दिल के दर पे, धड़कने हैं सुरमई
मेरी किस्मत भी तुम्हारे, साथ बन गई
तुम जो आए ज़िन्दगी...


मुझे तेरी आँखों की - Mujhe Teri Aankhon Ki (Tulsi Kumar, Hanif Shaikh, Paathshaala)



Movie/Album: पाठशाला (2010)
Music By: हानिफ़ शेख़
Lyrics By: हानिफ़ शेख़
Performed By: तुलसी कुमार, हानिफ़ शेख़

मुझे तेरी आँखों की गहराई में डूबने दे
मुझे तेरी बाहों की जन्नत में खोने दे
तेरे बिना ये जीवन जैसे सूना सपना
तेरे बिना तुझको हर पल ढूंढे ये दिल मेरा
मुझे तेरी आँखों की...

न न नहीं जाना प्यार क्या
नहीं जाना होता है ये इन्तेज़ार क्या
तेरी आँखों ने सब कुछ कहा
क्यूँ ना कहे तेरी ज़ुबां
माना माना मैंने प्यार है
कैसे छाया देखो मुझपे खुमार है
मेरे संग जमीं और आसमां
फिर क्यूँ है खोयी मेरी हर दिशा
मुझे तेरी आँखों की...

तेरी बिना, तेरे बिना हर पल लगे सुना सा
इक तुझसे ही बनता मेरा जहां प्यारा प्यारा
दे दो ना मुझको वो हर ख़ुशी
हाँ कहता है मुझसे ये दिल मेरा
मुझे तेरी आँखों की...

हर ज़र्रे में हर जगह में महसूस करती हूँ मैं
इक तुझको ही, हाँ तुझको ही महफूज़ रखती हूँ मैं
ख्यालो में दिल में मेरी साँसों में
गुनगुनाती हूँ तुझको हर बात में
मुझे तेरी आँखों की...


लुक छुप जाना - Luk Chhup Jaana (Tulsi Kumar, KK, Action Replayy)



Movie/Album: ऐक्शन रिप्ले (2010)
Music By: प्रीतम चक्रबर्ती
Lyrics By: इरशाद कामिल
Performed By: तुलसी कुमार, के के

लुक छुप जाना नज़र को मिलाना

तू हैं जहाँ-जहाँ मैं हूँ वहाँ-वहाँ
तेरे बिना मेरी बिसात ही क्या हैं
लुक छुप जाना...
तू है अदा-अदा मैं हूँ फ़िदा-फ़िदा
जाने वफ़ा तेरी तो बात ही क्या है
लुक छुप जाना...
ओ हसीं ज़रा मेरे लग जा गले गले गले गले
आजा छुप जा मेरी पलकों तले तले तले तले

तू है सुबह-सुबह माँगी कोई दुआ
पूरी करे खुदा मुराद है मेरी
लुक छुप जाना नज़र को मिलाना
तेरा करूँ ज़िक्र ना हो कोई फ़िक्र
खोया रहूँ सदा मैं याद में तेरी
लुक छुप जाना नज़र को मिलाना
ओ हसीं ज़रा मेरे लग जा गले गले गले गले
आजा छुप जा मेरी पलकों तले तले तले तले

आज मेरी बाहों में समा जा
तू ज़माने को दिखा जा, तेरा प्यार मेरा है
मैं ही तेरी आँखों में बसा हूँ
तेरी बाहों में कसा हूँ, मेरा प्यार तेरा है
अनकही कोई दिल में हसरत पले पले पले पले
जलने दे जहां को जो हम-तुम मिले मिले मिले मिले
ओ हसीं ज़रा...


All lyrics are property and copyright of their owners. All the lyrics are provided for educational purposes only. Copyright © Lyrics In Hindi | Powered by Blogger Design by ronangelo | Blogger Theme by NewBloggerThemes.com