Veer लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
Veer लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

सलाम आया - Salaam Aaya (Roop Kumar Rathod, Shreya Ghoshal, Veer)



Movie/Album: वीर (2010)
Music By: साजिद-वाजिद
Lyrics By: गुलज़ार
Performed By: रूप कुमार राठौड़, श्रेया घोषाल, सुजैन डीमेलो

दबी-दबी साँसों में सुना था मैंने
बोले बिना मेरा नाम आया
पलकें झुकीं और उठने लगीं तो
हौले से उसका सलाम आया
दबी-दबी साँसों में

जब बोले वो जब बोले
उसकी आँख में रब बोले
पास-पास ही रहना तुम
आँख-आँख में कहना तुम
देखा तुम्हें तो आराम आया
दबी-दबी साँसों में...

रोज़ ही दिल की आग उठाकर
हाथ पे लेकर चलना है
तेरे बिना, बिना तेरे बूँद-बूँद
अब रात रात भर जलना है
तू मिले ना मिले, ये हसीं सिलसिले
वक़्त के सख्त हैं अब ये कटते नहीं
तेरे बिना साँस भी चलती है
तेरे बिना दिल भी धड़कता है
याद नहीं था याद आया
दबी-दबी साँसों में...

दिन की तरह तुम सर पे आना
शाम के जैसे ढलना तुम
ख्वाब बिछा रखे हैं राह में
सोच-समझ कर चलना तुम
नींद की छाँव से, तुम दबे पाँव से
यूँ गये वो निशाँ अब तो मिटते नहीं
तेरे लिए चाँद भी रुकता है
तेरे लिए ओस ठहरती है
याद नहीं था याद आया
दबी-दबी साँसों में....
सलाम आया, सलाम आया


सुरीली अखियों वाले - Surili Akhiyon Wale (Rahat Fateh Ali Khan, Suzanne D'Mello, Veer)



Movie/Album: वीर (2010)
Music By: साजिद-वाजिद
Lyrics By: गुलज़ार
Performed By: राहत फ़तेह अली ख़ान, सुजैन डीमेलो

सुरीली अँखियों वाले, सुना है तेरी अँखियों से
बहती है नींदें और नींदों में सपने
कभी तो किनारों पे, उतर मेरे सपनों से
आ जा ज़मीन पे और मिल जा कहीं पे
मिल जा कहीं, समय से परे
समय से परे मिल जा कहीं
तू भी अँखियों से कभी मेरी अँखियों की सुन
सुरीली अँखियों वाले...

जाने तू कहाँ है
उड़ती हवा पे तेरे पैरों के निशाँ देखे
ढूँढा है ज़मीं पे
छाना है फ़लक पे, सारे आसमाँ देखे
मिल जा कहीं, समय से परे...

ओट में छुप के देख रहे थे
चाँद के पीछे-पीछे थे
सारा जहां देखा, देखा न आँखों में
पलकों के नीचे थे
आ चल कहीं, समय से परे
समय से परे, चल दे कहीं
तू भी अखियों से कभी...


मेहरबानियाँ - Meherbaniyan (Sonu Nigam, Veer)



Movie/Album: वीर (2010)
Music By: साजिद-वाजिद
Lyrics By: गुलज़ार
Performed By: सोनू निगम

कितने रंग आते जाते हैं
आपके दो रुख़सारों पर
एक हया का रंग गुलाबी
धूप चढ़ी कोहसारों पर
कितने रंग आते जाते हैं
आपके दो रुखसारों पर
हर इक अदा मासूम है
हर इक अदा मेहरबाँ
मेहरबानियाँ, हाय मेहरबानियाँ
अजी मेहरबानियाँ, बड़ी मेहरबानियाँ
मेहरबानियाँ...

रात की बात है, बात है मेरे ख्वाब की
आधी रात को हाँ ज़रा-ज़रा सा हल्का, ज़रा-ज़रा छलका
आसमाँ पे रात को, आप थे या पूरा चाँद था
आधी रात को हाँ ज़रा-ज़रा सा हल्का, ज़रा-ज़रा छलका
कितने रंग आते जाते हैं...
मेहरबानियाँ...

किसको होश है, होश है किसको इश्क में
दिल मदहोश है, रे बढ़े आँख कहीं, रे बढ़े पाँव कहीं
मदहोशी में होश है, आप हैं मेरे सामने
अरे मुझको थाम लो ज़रा, रे पड़े आँख कहीं, रे पड़े पाँव कहीं
अरे कितने रंग आते जाते हैं...
मेहरबानियाँ...


All lyrics are property and copyright of their owners. All the lyrics are provided for educational purposes only. Copyright © Lyrics In Hindi | Powered by Blogger Design by ronangelo | Blogger Theme by NewBloggerThemes.com