Viju Shah लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
Viju Shah लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

टिप टिप बरसा पानी - Tip Tip Barsa Paani (Udit Narayan, Alka Yagnik, Mohra)



Movie/Album: मोहरा (1994)
Music By: विजू शाह
Lyrics By: आनंद बक्षी
Performed By: उदित नारायण, अलका याग्निक

टिप-टिप बरसा पानी, पानी ने आग लगाई
आग लगी दिल में तो, दिल को तेरी याद आई
तेरी याद आई तो, जल उठा मेरा भीगा बदन
मेरे बस में नहीं मेरा मन, मैं क्या करूँ

न न न न न नाम तेरा मेरे लबों पे आया था
मैंने बहाने से तुम्हें बुलाया था
झूम कर आ गया सावन, मैं क्या करूँ
टिप-टिप बरसा पानी...

डू डू डू डू डू डूबा दरिया में, खड़ा मैं साहिल पर
तू बिजली बनकर गिरी मेरे दिल पर
चली ऐसी ये पागल पवन, मैं क्या करूँ
टिप-टिप बरसा पानी...


सुबह से लेकर शाम तक - Subah Se Lekar Shaam Tak (Sadhna Sargam, Udit Narayan, Mohra)



Movie/Album: मोहरा (1994)
Music By: विजू शाह
Lyrics By: आनंद बक्षी
Performed By: उदित नारायण, अलका याग्निक

सुबह से लेकर शाम तक, शाम से लेकर रात तक
रात से लेकर सुबह तक, सुबह से फिर शाम तक
मुझे प्यार करो
शहर से लेकर गाँव तक, धूप से लेकर छाँव तक
सर से लेकर पांव तक, दिल की सभी वफ़ाओं तक
मुझे प्यार करो

और पिया कुछ भी कर लो, लेकिन रखना याद
कुछ शादी से पहले, कुछ शादी के बाद
प्यार में अब इतनी शर्तें कौन रखेगा याद
क्या शादी से पहले, क्या शादी के बाद
हो पास से लेकर दूर तक, दूर से लेकर पास तक
इन होंठों की प्यास तक, धरती से आकाश तक
मुझे प्यार करो...

ऐसा कैसे हो सकता है पूरा पूरा प्यार
या खुल के इकरार करो तुम, या खुल के इन्कार
मेरे गले में डाल के बाहें कर लो बातें चार
इसके आगे करना पड़ेगा तुमको इन्तज़ार
सागर के इस आर से, सागर के उस पार तक
नज़रों की दीवार तक, प्यार से लेकर प्यार तक
मुझे प्यार करो...


ऐ काश कहीं ऐसा होता - Ae Kaash Kahin Aisa Hota (Kumar Sanu, Mohra)



Movie/Album: मोहरा (1994)
Music By: विजू शाह
Lyrics By: आनंद बक्षी
Performed By: कुमार सानू

ऐ काश कहीं ऐसा होता, के दो दिल होते सीने में
इक टूट भी जाता इश्क में तो, तकलीफ न होती जीने में
ऐ काश कहीं ऐसा होता...

सच कहते हैं लोग के पी कर रंज नशा बन जाता है
कोई भी हो रोग ये दिल का, दर्द दवा बन जाता है
आग लगी हो इस दिल में तो, हर्ज़ है क्या फिर पीने में
ऐ काश कहीं ऐसा होता...

भूल नहीं सकता ये सदमा, याद हमेशा आएगा
किसी ने ऐसा दर्द दिया जो, बरसों मुझे तड़पाएगा
भर नहीं सकते ज़ख्म ये दिल के, कोई साल महीने में
ऐ काश कहीं ऐसा होता...


सात समुन्दर पार - Saat Samundar Paar (Sadhana Sargam, Vishwatma)



Movie/Album: विश्वात्मा (1992)
Music By: विजू शाह
Lyrics By: आनंद बक्शी
Performed By: साधना सरगम

सात समुन्दर पार
मैं तेरे पीछे-पीछे आ गयी
ओ, ज़ुल्मी मेरी जाँ
तेरे क़दमों के नीचे आ गयी
सात समुन्दर पार...

ना रस्ता मालूम ना तेरा नाम पता मालूम
कैसे मेरे प्यार ने तुझको ढूँढा क्या मालूम
सीधी तेरे पास
मैं अँखियाँ मीचे-मीचे आ गयी
सात समुन्दर पार...

मैंने अपने चौबारे से दी तुझको आवाज़
नीचे गली में खड़ा रहा तू ऐसा था नाराज़
तू ऊपर न आया
तो मैं खुद ही नीचे आ गयी
सात समुन्दर पार...

मैंने तेरी यादों के ज़ुल्फों में लगाये फूल
आगे तेरी मर्ज़ी तू कर ना कर मुझे कबूल
छोड़ के मैं अपने
बाबुल के बाग़-बगीचे आ गयी
सात समुन्दर पार...


दिल ले गई तेरी बिंदिया - Dil Le Gayi Teri Bindiya (Udit Narayan, Sapna Mukherjee, Amit Kumar, Mohd. Aziz, Vishwatma)



Movie/Album: विश्वात्मा (1992)
Music By: विजू शाह
Lyrics By: आनंद बक्षी
Performed By: उदित नारायण, सपना मुख़र्जी, अमित कुमार, मोहम्मद अज़ीज़

दिल ले गयी तेरी बिंदिया
याद आ गया मुझको इंडिया
मैं कहीं भी रहूँ इस जहान में
मेरा दिल है हिंदुस्तान में

तू ले गया मेरी निंदिया
याद आ गया मुझको इंडिया
बस जा मेरे जी जान में
मेरा घर है हिंदुस्तान में

हम दोनों हिन्दुस्तानी
ये अपनी प्रेम कहानी
इक दूजे को दे बैठे
हम दिल ओ दिलबर जानी
इक प्यार भरी मुस्कान में
मैं कहीं भी रहूँ...

जो बात है तेरे दिल में
वो बात है मेरे दिल में
होठों पर आ ना जाये
ये बात भरी महफ़िल में
इस बात को रखना ध्यान में
बस जा मेरे जी जान में...

नैनों से नैन मिला दूँ
परदेस में देस दिखा दूँ
कुर्बान तेरे हो जाऊँ
दिल क्या मैं जान गँवा दूँ
तेरी चाहत के इम्तहान में
मैं कहीं भी रहूँ...


चीज़ बड़ी है मस्त - Cheez Badi Hai Mast (Udit Narayan, Neha Kakkar, Machine)



Movie/Album: मशीन (2017)
Music By: विजू शाह
Lyrics By: शब्बीर अहमद, आनंद बक्षी
Performed by: उदित नारायण, नेहा कक्कड़

कलियों जैसा हुस्न जो पाया
हर अदा में नूर है आया
साथ मेरे और सतहत्तर घायल
ब्लेम दूँ रब को क्यूँ ऐसा बनाया
तेरा जिससे पड़ गया पाला
अच्छे को गलत कर डाला
तेरा, नहीं तेरा कोई दोष-दोष
तेरा हुस्न ही ज़बरदस्त-दस्त
तू चीज़ बड़ी है मस्त-मस्त
तू चीज़ बड़ी है मस्त
तू चीज़ बड़ी है मस्त-मस्त
मैं चीज़ बड़ी हूँ मस्त

नहीं तुझको कोई होश-होश
उसपर जोबन का जोश-जोश
नहीं तेरा, नहीं तेरा कोई दोष-दोष
मदहोश है तू हर वक़्त, वक़्त
तू चीज़ बड़ी है मस्त-मस्त...

हो अँखियाँ फ़रेबी शैतानी हैं
इश्क में तेरे मर जानी है
कितना कोई खुद को बचाए
आग दिलों में लग जानी है
जादू ऐसा कर डाला
ना होश किसी ने सँभाला
तेरा, नहीं तेरा कोई दोष-दोष
तेरा हुस्न ही ज़बरदस्त दस्त
तू चीज़ बड़ी है मस्त-मस्त...


All lyrics are property and copyright of their owners. All the lyrics are provided for educational purposes only. Copyright © Lyrics In Hindi | Powered by Blogger Design by ronangelo | Blogger Theme by NewBloggerThemes.com